रघुवर सरकार के इस निर्णय से आम जनता पर काफी बोझ बढ़ेगा। औसतन सभी वर्गों के उपभोक्ताओं के लिए बिजली दर में 40 प्रतिशत से अधिक बढ़ोतरी की गई है। उन्होंने कहा कि रघुवर सरकार की यह घोषणा कि घरेलू उपभोक्ताओं के लिए बढ़े हुए बिजली दर की भरपाई सरकार द्वारा प्रस्तावित सब्सिडी से की जाएगी, महज आईवाश है, यह जनता को भरमाने की बात है। आखिर क्यों 13 नंबर को सुनते ही लोग आ जाते हैं… आर एंड डी अमृतसर # state समय पर बिजली का बिल जमा करने वालों को अब ज्यादा रिबेट मिल सकती है। इस पर भी राज्य विद्युत नियामक आयोग विचार कर रहा है। समय पर बिल जमा करने वाले उपभोक्ताओं को मौजूदा समय में 0.25 प्रतिशत की रिबेट मिलती है। राज्य विद्युत नियामक आयोग इस रिबेट को बढ़ाकर 1.5 प्रतिशत करने की तैयारी कर रहा है। जल्द ही इसका ऐलान हो सकता है। News18 States ग्रामीण इलाके में बिजली दो गुने के करीब पहुंच गई है। यहां मार्च से 400 रुपये प्रति किलोवाट की दर निर्धारित कर दी गई है। ग्रामीणों को 150 से 300 यूनिट बिजली 4.50 रुपये प्रतियूनिट की दर में मिलेगी। ग्रामीण उपभोक्ताओं को 50 रुपए का फिक्स चार्ज निर्धारित किया गया है। इसके अलावा ग्रामीण उपभोक्ताओं को पहली 100 यूनिट बिजली 3 रुपये प्रतिमाह के हिसाब से मिलेगी। वहीं 100 से 150 यूनिट बिजली 3.50 रुपये में मिलेगी। जागरण संवाददाता, मोहाली : चंडीगढ़ के बाद अब मोहाली में भी सस्ते बिजली उपकरण मिलेंगे। जिनमें बल्ब से वीडियो गैलरी Electricity bill उत्तराखन्ड डीडीएसआई -168-ए प्रीपेमेंट मोड चयन के साथ एक एंट्री लेवल कम कीमत एकल चरण इलेक्ट्रिक मीटर है। यह बिल्ड-इन कॉन्टैक्टर या लोड स्विच है जो बिजली थ्रेशहोल्ड, क्रेडिट की समाप्ति और छेड़छाड़ की पूर्व निर्धारित सीमा पर डिस्कनेक्ट करता है। मीटर कम आय आवासीय वातावरण के लिए है। कम कीमत के रूप में, मीटर अभी भी सुविधाओं में अमीर है, द्वि-दिशात्मक और तटस्थ माप का समर्थन, बहु दर और टैरिफ योजनाओं, और एक इंफ्रारेड ऑप्टिकल पोर्ट के माध्यम से पूछताछ किट के साथ डेटा विनिमय। बलरामपुर More From Shivpuri बहन प्रियंका की सगाई अटेंड करने शूटिंग बीच में छोड़ मुंबई लौंटी परिणीति चोपड़ा पुंछ निदेशालय, सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा बरौनी- स्टेज एक 5.32 5.11 केंद्रीय ऊर्जा राज्य मंत्री आर.के. सिंह ने कहा कि देश में 3 करोड़ 60 लाख परिवार ऐसे थे, जिनके घर में बिजली नहीं थी। इनमें से 78 लाख परिवारों तक बिजली पहुंचा दी गई है। शेष बचे सभी घरों को इसी साल के 31 दिसम्बर तक बिजली पहुंचा दी जाएगी। केंद्र सरकार इस दिशा में तेजी से कार्य कर रही है।  समाचार » कोयला उद्योग समाचार » बिजली कंपनियों को मिलेगा सस्ता कर्ज बिज़नस ET से और यहां जाएं Chrome > Setting > Content Settings जब एक ही कक्षा में विद्यार्थी थे अटल और उनके... केरल बाढ़: पीएम मोदी ने CM संग ली समीक्षा बैठक, 500 करोड़ रुपये की मदद का ऐलान अन्य सम्बन्धित समाचार गलती कंपनियों की, भुगते जनता एक्सपर्ट कॉलम पारेशण मिर्जापुर Ad Choices स्वतंत्रता दिवस पर 25 कैदियों को रिहा किया गया 15/08/2018 यूनिट                   दर  बीडीओ बाघमारा वजन: 800 ग्राम बेगूसराय संपन्न परामर्श - डीएसडी महासचिव, जिला कांग्रेस कमिटी परावैद्युत सामग्रियाँ प्रभाग (डीएमडी) विशेष रूप से महिलाओं के लिए जीवन की बेहतर गुणवत्त Dismiss सपोर्ट द वायर ये भी पढ़ें- गांव कनेक्शन विशेष : हरिद्वार से गंगासागर तक गंगा में सिर्फ गंदगी गिरती है पीसीबी संविरचना वैसे तो उत्तर प्रदेश के करोड़ों शहरी उपभोक्तागण पहले से ही बिजली की घोर अनियमित सप्लाई, खऱाब ट्रांसफारमर के कारण लगातार विद्युत सप्लाई में बाधा आदि की गम्भीर समस्या से काफी पहले से ही झेलते आ रहे हैं, जिस कारण लगभग हर दिन प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में इसके खि़लाफ  धरना-प्रदर्शन व बिजली आफि स के घेराव की ख़बरें आती रहती हैं और इस कारण उन्हें पुलिस का डंडा तक भी खाना पड़ता है। ऐसे संकटग्रस्त उपभोक्ताओं पर मंहगी बिजली का तगड़ा झटका देना प्रदेश सपा सरकार की असंवेदनशीलता व विफ लताओं का पर्दाफाश करता है।  Website Post Akshay‏ @akash_tyagi Jun 4 टैक्स भरने वालों की संख्या बढ़ेगी Search for: जीजा करता था साली से दरिंदगी, साली ने प्रेमी के... रणविजय सिंह इसे बढ़ा कर 5.86 रुपये कर दिया गया है. आयोग ने क्रास सब्सिडी की व्यवस्था समाप्त करते हुए टैरिफ का निर्धारण किया है. इस वजह से घरेलू बिजली वर्तमान दर से 98 फीसदी महंगी हो गयी है. राज्य सरकार उपभोक्ताओं का बोझ कम करने के लिए सब्सिडी प्रदान करेगी. जून महीने से बिजली बिल के साथ ही सब्सिडी प्रदान कर दी जायेगी. यह सरकार तय करेगी कि किसको, कितनी सब्सिडी दी जायेगी. पर, यह साफ है कि सब्सिडी नकद राशि के रूप में उपभोक्ताओं के बैंक खाते में नहीं जायेगी. बिल के माध्यम से इसका लाभ दिया जायेगा.  Footer सरकारी कंपनियों को तरजीह देने से पावर सेक्टर में दिक्कत: RBI न्यूज निचोड़ At 11 AM : तीन तलाक बिल पर निर्णायक दिन हिन्‍द गजट मीटर वजन vs 326 Views संजीव रंजन उर्फ छोटू पासवान हिमाचली लाल सोने पर अमरीका के सेब का आज भी बना खतरा दुमका हरियाणा के बारे में एडमिशन अन्य खेल खबरें 1999018990खरीदे सिटी भाजपा चास प्रखंड पिंड्राजोरा मंडल, अध्यक्ष तारीख 26.01.2018 Rohini, Delhi कौशांबी Home > देश > उत्तराखंड में एक अप्रैल से बिजली महंगी   गैस और इलेक्ट्रिक बिल - ह्यूस्टन में ऊर्जा कंपनियों गैस और इलेक्ट्रिक बिल - इलेक्ट्रिक कंपनी की दरों की तुलना करें गैस और इलेक्ट्रिक बिल - गैस आपूर्तिकर्ता
Legal | Sitemap