बैलगाड़ी योजनाबाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं दस साल पहले भी लगी थी रोक :इसके पहले करीब 10 साल पहले भी रोक लगा थी। कर्मचारियों द्वारा लंबे समय से मांग की जा रही थी। इसके बाद सरकार ने इसे फिर से शुरू किया था। छह महीने पहले फिर रोक लगा दी थी। अब इसे फिर हटा लिया गया है। 1 फरवरी 2018 विद्युत योजना से सात हजार ग्रामीण उपभोक्ता लाभान्वित बीएसईएस के प्रवक्ता ने कहा, सभी ग्राहकों को Paytm की वेबसाइट और ऐप के जरिए आखिरी तारीख से 7 दिन पहले बिजली बिल जमा करने पर 200 रुपए का कैशबैक मिल सकता है। 200 रुपए की नकदी वापस पाने के लिए उन्हें कूपन कोड बीएसईएस200 का उपयोग कर बिजली बिल भुगतान विकल्प पर क्लिक करना होगा, जबकि 150 रुपए नकदी वापस पाने के लिए बीएसईएस150 कूपन कोड पर क्लिक कर बिल का भुगतान करना होगा। Oops! That page can’t be found. Add new comment कच्चे कर्मचारियों को हटाए जाने के हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाएगी हरियाणा सरकार नगर में 13500 उपभोक्ता है। इन पर दो करोड़ रुपए का बिल बनता है। हर बार 90 फीसदी लोग आखिरी तारीख तक बिल जमा कर देते हैं। इस बार 5 हजार लोगों ने ही बिल जमा किए। बाकी माफी के चक्कर में नहीं आए। बिल जमा करने वालों में कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो सस्ती बिजली और माफी की पात्रता रखते हैं लेकिन जानकारी नहीं होने से अथवा कनेक्शन कटने के डर से उन्होंने बिल जमा कर दिया है। अब वे पंजीयन करवाते हैं तो उन्हें जमा की राशि अगले बिल में समायोजित होकर वापस मिलेगी अथवा नहीं यह स्पष्ट नहीं है। एई नवीन ढोले ने बताया जिन्होंने राशि जमा करवा दी है, उन्हें वापस मिलेगी या समायोजन होगा, यह स्पष्ट नहीं है। अटल बिहारी वाजपेयी: कवि की आत्मा और पत्रकार की जिज्ञासा वाला... Web Title: अमेरिकी कंपनी देगी भारत को सस्ती सोलर पावर मंदसौर मंडी भाव | खबर whatsapp मनीष सिसोदिया के खिलाफ मानहानि की शिकायत खारिज उत्तर-प्रदेश Category इंटरव्यू की रणनीति बिजली कंपनी में कई पदों के लिए 1648 वैकेंसी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के रूप में 11 अगस्त को शपथ... जूनियर असिस्टेंट Maharashtra Scheme 1- 100          3.50 एक ऐसी लेब जहां सभी प्रकार की जांचें होंगी, मंत्री श्री जैन ने सेन्ट्रल पैथालॉजी लेब का शुभारम्भ किया Show — त्वरित सम्पर्क Hide — त्वरित सम्पर्क फोटो शिविरों में पहुंच जनसमस्याएं सुन रहे हैं मंत्री देवनानी पॉपुलर सीतामढी बॉलीवुड एक्ट्रेस काजोल ने इंटरव्यू में महिला प्रधान फिल्मों पर कही यह बात लटकते बिजली के तारों से वाराणसी को मिला छुटकारा, बना वायरलेस शहर देश में थर्मल ऊर्जा उत्पादन 344 गीगावाट और अक्षय ऊर्जा क्षमता 70 गीगावाट है। इसमें अधिकतम मांग वाले समय में उपलब्धता 173 गीगावाट रहती है। ऊर्जा खरीद समझौता नहीं होने के कारण एक क्षेत्र से दूसरे क्षेत्र में बिजली की आपूर्ति संभव नहीं हो पाती है। ऐसे में महंगी बिजली खरीदनी पड़ती है, जिसका सीधा असर उपभोक्ता पर भी पड़ता है।  Keep yourself updated with National News. We are first to cover The National Latest News as they take place. All the upcoming National Politics News, Crime News in Hindi is available exclusively on www.punjabkesari.in . We are committed to provide you all Latest,Breaking News of Nation. FORMER CM VIRBHADRA SINGH किशनगंज Image caption इस कार में चार लोग बैठ सकते हैं.(तस्वीर महेंद्रा रेवा) Last updated on: Aug 13, 2018 domestic electricity rate increase आपके शहर की खबरें जीवन शैली अनुसंधान आकस्मिकता (आरसी) अजब-गजब : इन देशों में ट्रेंड बना ऐसा खाना, जो आप सोच भी नहीं सकते बेगूसराय में बेखौफ अपराधियों का तांडव, युवक को मारी गोली महाराष्ट्र We care कर्नाटक                            100                 4.56 रुपए  What's Trending 02018-07-17T12:08:48 Shadik - बिजली की नई दरें मेडिकल फील्ड से जुड़े लोगों के लिए भी राहत देने वाली हैं। इस बार तय किया गया है कि सरकारी अस्पतालों को छोड़कर निजी अस्पताल व क्लीनिक के बिजली बिलों में पांच % की छूट दी जाएगी। यानी किसी अस्पताल का बिल यदि एक लाख रुपए है तो उसका पांच % यानी पांच हजार रुपए कम हो जाएंगे। बिजली की कीमत में बढ़त झारखंड : 98% तक महंगी हुई घरेलू बिजली, मई से लागू, 200 यूनिट के लिए पहले लगते थे 690, अब देने पड़ेंगे 1215 कला और संस्कृति केरल में बाढ़ से बिगड़े हालात, PM मोदी का... एशियाई खेलों में भारत © 2009-2018 Independent News Service. All rights reserved. अनंत में विलीन हुए अटल बिहारी वाजपेयी, कल होगा अस्थि विसर्जन मो जहांगीर Jio Phone 2 की पहली फ्लैश सेल आज 12 बजे... RAS समाचार » कोयला उद्योग समाचार » बिजली कंपनियों को मिलेगा सस्ता कर्ज सम्पर्क श्री रुप नारायण झा ने कहा कि विद्य्नुत विभाग यदि अपनी लाइन लॉस को रोक लेते हैं तो विधुत दर नहीं बढाना पड़ेगा। ।ठ स्विच को बढ़ाने की अवश्यकता है। दुमका के चेंबर ऑफ कॉमर्स के पूर्व अध्यक्ष श्री सियाराम घड़िया ने कहा कि विभाग की कमी से विद्य्नुत दर बढ़ रही है, इस पर ध्यान देने की जरुरत है। विद्य्नुत की लॉस कम करने की जरुरत है। 12.50 लाख मीटर लगाने की शुरुआत बहुत अच्छी पहल है। इससे विद्य्नुत लॉस का पता चल पाएगा। आज से आरंभ होंगी प्राईवेट परीक्षाएं Haryana Scheme नई लिंक दीपिका रणवीर इटली में रचाएंगे ब्याह, मेहमानों को इस वजह से मोबाइल लाने की मनाही गृह मंत्रालय और प्रवर्तन Visit Site Read More: Rajasthan Ajmer Beawer Nasirabadविद्युत योजनालाखरुपयामंजूर गुणवत्ता नीति पी.सी.एस. अपडेट्स दुनिया भर में पहले पैसिव ऑफिस विएना में बने थे. अब ऑस्ट्रिया और जर्मनी इस दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहे हैं और ज्यादा इकोफ्रेंडली और बिजली बचाने वाले भी हो गए हैं. दुनिया भर में करीब 50,000 पैसिव हाउस हैं. इसमें आधे ऑस्ट्रिया और जर्मनी में हैं. खुशखबरी! दिल्ली में बिजली के दाम कम हुए, जानिए नई दरें Promoted by 24 supporters विशेष रूप से महिलाओं के लिए जीवन की बेहतर गुणवत्त मुख्यमंत्री सोलर पम्प योजना खूंटी Why Use 3-pin plugs for electrical safety? उच्च शक्ति प्रयोगशाला (एचपीएल) राज्यवार खबरें Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें बाराबंकी असम यूनिवर्सिटी के चांसलर हैं गुलजार, देश के कई स्कूलों की प्रेयर बन गई उनकी रचना हमको मन की शक्ति देना 2 mins शहर चुनें 1500MVA लघु पथन प्रयोगशाला i ख‍गडिया स्प्लिट कीपैड: वैकल्पिक प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना Mi A2 खरीदने वालों के लिए खुशखबरी, Xiaomi ने जारी किया सिक्योरिटी पैच और कैमरा अपग्रेड 19 mins Siwan पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर हिमाचल में दो दिन का अवकाश विधायक प्रतिनिधि कटकमदाग राष्ट्रीय आराम से कटेगा बुढ़ापा, इन 5 जगह करें निवेश परिदर्शक सं. 4612 || पिछला अद्यतनीकरण : 16-Aug-2018 ट्रैवलिंग विविध सस्ता बिजली प्रदाता - इलेक्ट्रिक कंपनी की दरें सस्ता बिजली प्रदाता - पावर प्रदाता सस्ता बिजली प्रदाता - गैस और इलेक्ट्रिक
Legal | Sitemap