गपशप बिज़नेस की अन्य ख़बरें काश, प्रधानमंत्री 15 अगस्त के अपने ‘आखिरी भाषण’ में सच बोलते: कांग्रेस 0 राजस्व का 16 फीसद हिस्सा कर्मचारियों पर खर्च सीतामढ़ी नवीकरणीय ऊर्जा की स्थापित क्षमता में वृद्धि कर इसके लिये 2022 तक 175 गीगावाट का  लक्ष्य रखा गया है। Quick links सराईकेला पूरे वर्ष का राजस्व संग्रह 8000 करोड़ पर पहुंचा : बिजली कंपनी के आकलन के अनुसार शनिवार को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष राजस्व संग्रह 8000 करोड़ तक पहुंच गया है। फरवरी तक यह 6700 करोड़ रुपए था और मार्च में देर शाम तक 1300 करोड़ रुपए के राजस्व संग्रह की रिपोर्ट मिल चुकी थी। जबकि पूर्व के वित्तीय वर्ष में बिजली कंपनी का राजस्व 5800 करोड़ रुपए था। बिजली कंपनी ने इस राशि में सरकार द्वारा उपभोक्ताओं को सब्सिडी मद में उपलब्ध कराए जाने वाली राशि नहीं जोड़ी है। यह राशि लगभग 3000 करोड़ रुपए है। सेनिटेशन भाषा चम्पावत प्रदेश सोशल मिडिया प्रभारी भाजयुमो फाजिल्का/फिरोजपुर इस संबंध में डीएसपी हेड क्वार्टर प्रकाश सोय ने जानकारी देते हुए बताया कि मेले में अवैध रूप से जुआ खेलवाने को लेकर लालजीराम के साला बबलू बिरुवा, कुशल तियु के अलावा मेले में फुटबॉल आयोजन समिति के अध्यक्ष सीताराम सोरेन, उपाध्यक्ष जितेंद्र बिरुवा, कोषाध्यक्ष माधवचंद्र बिरुवा सह कोषाध्यक्ष रामेश्वर बिरुवा संग्रहकर्ता दुम्बी बिरुवा के खिलाफ जुआ खेलाने का मामला दर्ज किया गया है। अटल बिहारी वाजपेयी: किसी को श्रद्धांजलि देते वक़्त हम पाखंड क्यों करने लगते हैं ‘‘इससे 85,000 से अधिक छोटे औद्योगिक उपभोक्ताओं को लाभ होगा जो 4.99 रुपए प्रति यूनिट के हिसाब से अदायगी करेंगे जबकि बड़े और दरम्याने औद्योगिक बिजली उपभोक्ता 5 रुपए प्रति यूनिट के हिसाब से अदायगी करेंगे।’’  धार्मिक स्थान मुख्य आर्थिक सलाहकार के लिए रेस हुई तेज Hindi News »Chhatisgarh »Raipur »News» New Rates Of Electricity Will Be Applicable In Chhattisgarh From April 1 पांच श्रेणियों में बांटे गये उपभोक्ता  संचला ड्रिंकिंग वाटर रंगामाटी, सिंदरी इस पोस्ट को शेयर करें WhatsApp ENGvIND: टीम इंडिया के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार के बारे में आई बड़ी अपडेट Top Ten Appliances सिंह ने कहा कि जलाशयों में सौर परियोजनाएं लगाने के लिये अधिकारियों की एक टीम भाखड़ा नांगल गयी ताकि यह पता लगाया जा सके कि वहां कितनी क्षमता की परियोजनाएं लगायी जा सकती है. अपतटीय क्षेत्र में सर्वे का काम जारी है. ‘‘ इन सब उपायों से हम 2022 तक अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में लक्ष्य से अधिक 2,00,000 मेगावाट क्षमता सृजित करने की उम्मीद कर रहे हैं.’’ उल्लेखनीय है कि सरकार ने 2022 तक अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में 1,75,000 मेगावाट बिजली उत्पादन का लक्ष्य रखा है. ONLINE SHOPPING संचरण प्रणाली अध्‍ययन @AamAadmiParty When will u learn economics ? कुंभ बिजनौर ज्यादा बिजली खर्च करने पर लगेगा करंट कोयला उद्योग समाचार हमेशा कनेक्टेड रहें क्रिकेट खबरें Twitter अमृतसर The page you requested could not be found. Use your browsers Back button to navigate to the page you have previously come from Or you could just press this neat little button: योर मनी: 15 साल में कैसे जुटाएं 5 करोड़ रुपये नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच का आरोप है कि आने वाले विधानसभा चुनावों से ठीक पहले शिवराज सरकार ने चुनावी लाभ के उद्देश्य से कमजोर तबकों के वोट बैंक को साधने के लिए यह योजना शुरू की है। इनके अनुसार बकाया बिजली बिलों की माफी का सरकार का निर्णय मनमाना है। जिससे नियमित रूप से बिजली बिल भरने आम उपभोक्ताओं पर प्रत्यक्ष-परोक्ष रूप से आर्थिक बोझ बढ़ेगा। Next articleशहरी क्षेत्र के प्रत्येक पात्र हितग्राही को आवासीय पट्टा प्रदान करें – शुक्ल उ वि औद्योगिक सेवा 4 7.97 0.50 7.47 --- 7.48 के ई आर सी 3 weeks ago रिजर्व बैंक के इस कदम से लोन लेना पड़ेगा महंगा सहयोगात्मक तथा उन्नत अनुसंधान केन्द्र (सीकार) जीपीएस नेविगेशन, कीलेस एंट्री प्रधानाध्यापक, आदिवासी उच्च विद्यालय छपरगढा Bahasa Melayu मुखिया कांडतरि पंचायत, बड़कागांव हस्तरेखा बिजली मीटर लगाने में हीला हवाली से आयोग नाराज आइपीएस अधिकारी मयंक जैन की सेवाएं समाप्त, 100 करोड़ की… Português जागरण संवाददाता, फतेहाबाद: गोरखपुर हरियाणा अणु विद्युत परियोजना द्वारा गोरखपुर गोशाला का विकास के... 0:53 Health: गर्मी के मौसम में फिट एंड फ्रैश रखेगी ग्रीन टी  power company पारेशण New Delhi, New Delhi, Delhi (रुपए प्रति यूनिट) जंजगीर-चम्पा Delhipower rateDelhi Electricity RateDERCदिल्ली सरकार के आदेश पर भारी कई मंत्री और अधिकारी, खोले रहे दफ्तर अनुवाद हेतु लेख About text formats 0 लेखापरीक्षित खातों को अंतिम रूप देने में देरी। दिल्ली कांग्रेस की बैठक पहाड़ में सब्सिडी का लाभ लेकर पिरुल से पैदा करे बिजली : सीडीओ Promoted by 85 supporters 12 Skip to content दिल्ली : वाजपेयी की हालत बेहद नाजुक, थोड़ी देर में मेडिकल बुलेटिन – बिहार के मुख्यमंत्री पहुंचे ऐम्स दिल्ली। आपके शहर की खबरें Country Code For customers of Library Profile ITMI State Of The States Conclave वजीरगंज : जदयू ने किया जीविका के तर्ज पर पंचायतों… FOLLOW US: मौसम Get the best positive stories straight into your inbox! पोस्टर अगली स्टोरी विद्युत रोधन प्रयोगशाला पीपुल्स स्पीक मैगज़ीन टेस्ट के उत्तर Ambedkar Nagar * बीएनपी परिबास ग्राहक आचरण 'लाइव' ब्लॉकचैन पेमेंट्स नरेंद्र मोदी अनुसंधान आकस्मिकता (आरसी) शादी का झांसा देकर 5 वर्ष तक दुष्कर्म आम आदमी पर गिरी 'बिजली' VIDEO: कांग्रेस की रैली में तिरंगे का अपमान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार ने उत्तर प्रदेश में बिजली की दरों में वृद्धि की घोषणा की है. राज्य सरकार की ओर से तय बिजली की नई दरों के मुताबिक 150 यूनिट तक शहरी उपभोक्ताओं को 4.90 पैसे की दर से बिल का भुगतान करना होगा. ऊर्जा लागत की तुलना करें - अधिक युक्तियों के लिए यहां क्लिक करें ऊर्जा लागत की तुलना करें - विद्युत ऊर्जा ऊर्जा लागत की तुलना करें - आज स्विच करें
Legal | Sitemap