भोपाल Terms back home next › सुभाष चन्द्र परमानिक चरणबद्ध तरीके से जीएसटी के दायरे में लाए जाएंगे पेट्रोलियम उत्पाद, अधिया ने... फर्जी न्यूज चैनल हेड बन करता था शादी, गिरफ्तार बीबीसी Gadgets & Gizmos 10 साल में पहली बार घटाई गई बिजली की दरें पटना रिजर्व बैंक के इस कदम से लोन लेना पड़ेगा महंगा नगर तथा मण्‍डल रिपोर्ट लाइव सिटीज डेस्कः बिहार के लिए एक बुरी खबर है. बताया जा रहा है कि तेलंगाना के मेदक में समस्तीपुर के तीन मजदूरों की मौत हो गई है. हादसा सिलिंडर फटने से हुआ है. सभी […] OddNaari एयर इंडिया पायलटों की धमकी- अगर बकाया उड़ान भत्ता नहीं चुकाया तो फ्लाइट ऑपरेशंस रोक देंगे 21 mins ADVERTISE WITH US जयपुर डिस्काॅम ने तीन महत्वपूर्ण योजनाओं की अवधि को आगामी तीस जून तक बढाया है जिससे अधिक से अधिक संख्या... शासनादेश UP Bhu Naksha उत्तर प्रदेश भु-नक्शा ऑनलाइन मैप रिकॉर्ड प्रतिलिपि प्राप्त करें सोनीपत होम पेज भारत में विद्युत क्षेत्र बहु-आयामी जटिलता द्वारा अभिलक्षणित है। कई संगठन विद्युत क्षेत्र के विभिन्न क्षेत्रों में अनुसंधान संपन्न कर रहे हैं। अनुसंधान कार्यक्रमों को, उपलब्ध सीमित संसाधनों से, अत्यधिक परिणामोंन्मुखी बनाना चाहिए । Safalta संसद में अटल जी का 'सर्वश्रेष्ठ' भाषण केरल बाढ़ः सभी 14 जिलों में रेड अलर्ट, सेना ने बचाई 100 की जान, अब तक 80 लोगों की मौत PunjabKesari TV Verified accountProtected Tweets @ मीडिया गैलरी सरकार द्वारा नियमों में ढील देने पर कंपनियों को अपने किसी भी ऊर्जा संयंत्र से बिजली आपूर्ति करने का रास्ता खुल जाएगा। ऐसे में उसे ग्रिड से खरीद नहीं करनी पड़ेगी, जिससे बिजली की कीमतें देश में एक समान होंगी और कीमतों में कमी आएगी।   दूल्हा बनकर ठगी का मामला: कमाऊ दुल्हन और बुजुर्ग सास-ससुर देखकर ही करते थे शादी Hausa Hausa Input your search keywords and press Enter. . Grievances About text formats बिज़नेस डायरी यात्रा ‘मैं जी भर जिया, मैं मन से मरूं: लौटकर आऊंगा, कूच से क्यों डरूं?’ दिल्ली में बिजली की दरों में फिक्स चार्ज में बढ़ोतरी नीदरलैंड में जल्द शुरू होगा दुनिया का पहला समुद्र में तैरता डेयरी फार्म, रोबोट निकालेंगे गायों का दूध 18 mins Partner sites : नकली गद्दे बनाने वाली फैक्ट्री का पर्दाफाश, पुलिस... संपर्क करें Advertise With Us 2 ऐक्सेसरीज बारां अटल की अंतिम यात्रा पर उमड़ा जनसैलाब, देखें तस्वीरें... Google plus Today's e-Paper स्वतंत्रता दिवस: वायलट लाइन पर सुबह साढ़े चार बजे शुरू हो जा... सगाई के ठीक 1 दिन बाद बाद प्रियंका और निक का होगा रोका, पूरी जानकारी हुई लीक ग्रामीण विद्युत योजना में 45.81 करोड़ होंगे व्यय Copyright © 2018 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. परिचय 'दृष्टि द विज़न' संस्थान Atalji Last Rites Madhubani एंड्रॉयड यूजर्स तुरंत डिलीट कर दें ये 145 एप्स,Google ने जारी की लिस्ट इतने बड़े पैमाने पर भारत के ग्रामीण इलाकों का विद्युतीकरण होने के बावजूद बिजली की खपत में इजाफा क्यों नहीं हुआ, इसका जवाब सरकार ने नहीं दिया है. सरकार के मुताबिक उस गांव का विद्युतीकरण हुआ माना जाता है जहां बिजली पहुंचने की आधारभूत संरचना मौजूद है और 10 फीसदी घरों और सार्वजनिक जगहों पर बिजली का क्नेक्शन है. राहुल राज लाइव सिटीज डेस्कः बिजली कंपनी ने एक अप्रैल, 2018 से प्रभावी होने वाली बिजली दर 10 फीसदी बढ़ाने का प्रस्ताव दिया है, लेकिन प्रस्ताव में उपभोक्ताओं के लिए कई राहत भी है. गांव में 50 यूनिट और शहर में 100 यूनिट तक खपत करने वालों को अभी की तुलना में सस्ती बिजली मिलेगी. खेत को पानी देने के एवज में किसानों को मौजूदा दर पर ही बिजली मिलेगी. बीपीएल श्रेणी वाले कुटीर ज्योति उपभोक्ताओं को भी सस्ती बिजली देने का प्रस्ताव है. BPSC आयोग ने बुधवार को राज्य में वित्त वर्ष 2018-2019 के लिए बिजली के नए टैरिफ को मंजूरी दे दी है. एक अप्रैल से लागू होने वाली नई दरों में सिर्फ एक कैटेगरी में बिजली दरें बढ़ाई गई हैं. बाकी सभी में छूट मिली है. यह है मामला प्रोफ़ेसर दिवाकर ने कहा कि सरकार टैक्स एडमिनिस्ट्रेशन की भी कमर तोड़ने में लगी है. 15-16 में टैक्स एडमिनिस्ट्रेशन का बजट 26 हज़ार 11 करोड़ था जो 16-17 में 22 हज़ार 91 करोड़ हो गया. जीएसटी के बाद इसे 12 हज़ार 699 करोड़ कर दिया गया है. इस कटौती से साफ़ है कि सरकर की नियत में खोट है. उन्होंने कहा कि बिना टैक्स एडमिनिस्ट्रेशन को मजबूत किए जीएसटी को मज़बूत कैसे किया जा सकता है?'' DW के बारे में मोटो जेड2 प्ले 64जीबी (लूनर ग्रे, 4जीबी रैम) कबड्डी ट्रेंडिंग टॉपिक्स HTET परिचय | सिविल सेवा ही क्यों? | सिविल सेवा परीक्षा से जुड़े मिथक | प्रमुख सिविल सेवाओं का परिचय | परीक्षा का प्रारूप | इंटरव्यू की तैयारी कैसे करें? | मुख्य परीक्षा में उत्तर कैसे लिखें? | वैकल्पिक विषय कैसे चुनें? | FAQS राष्ट्रीय पर्व को मनाते हैं लेकिन राष्ट्रीयता का मतलब नहीं समझते हैं – प्रधानाध्यापक कैरियर / कोर्सेज [email protected] आईपी ​​54 वित्तीय वर्ष 2017-18 में सरकार बिजली उपभोक्ताओं  को करीब तीन हजार करोड़ रुपये की सब्सिडी देगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार ऐसा पहला राज्य है, जिसने इस तरह का प्रयोग किया है. इसकी प्रशंसा केंद्र ने आधिकारिक रूप से की है. एक साल के अंदर उम्मीद है कि दूसरे राज्य भी इस पैटर्न को अपनायेंगे. उन्होंने कहा कि नये प्रावधान से राज्य में काम कर रही अलग-अलग कंपनियों की कार्यक्षमता का भी मूल्यांकन किया जा सकेगा.  VIDEO: कानपुर में लोगों ने अटल जी को दी नम आंखों से विदाई अगले 5 आइटम्स » 1 2 3 4 … 46 Mi A2 खरीदने वालों के लिए खुशखबरी, Xiaomi ने जारी किया सिक्योरिटी पैच और कैमरा अपग्रेड 19 mins इस रिपोर्ट को अंग्रेज़ी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें. विधानसभा में विपक्ष के नेता सुखपाल खैहरा ने बिजली दरों में लगभग 10 प्रतिशत वृद्धि की ङ्क्षनदा करते हुए इसे तुरंत वापस लेने की मांग की है। इस संबंध में अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने भी बिजली दरों में वृद्धि को तुरंत वापस लेने की मांग करते हुए कहा है कि ‘‘कांग्रेस सरकार औद्योगिक क्षेत्र को 5 रुपए प्रति यूनिट बिजली देने सहित सभी वर्गों को सस्ती बिजली देने के वायदे कर रही थी परंतु इसने उलटा बिजली दरों में वृद्धि करके लोगों से एक बार फिर धोखा किया है।’’  एमपी एसएलडीसी ये किया तो ग्राहक होंगे योजना से बाहर नीतीश कुमार से उपेंद्र कुशवाहा ने पूछा है गंभीर सवाल – बिहार में कहां है शासन-प्रशासन उज्जैन की जिला पंचायत सोलर रूफटॉप ग्रिड कनेक्टिविटी प्रारम्भ करने वाली प्रदेश की पहली जिला पंचायत बनी, स्वतंत्रता दिवस पर हुआ शुभारम्भ 15/08/2018 UP Bhu Naksha उत्तर प्रदेश भु-नक्शा ऑनलाइन मैप रिकॉर्ड प्रतिलिपि प्राप्त करें Chhatisgarh News in Hindi Save Electricity 15 hours ago humaramandsaur XII योजना प्रदेश मंत्री,भाजपा पिछड़ा जाति मोर्चा बिजली कंपनियां अगर बिजली उत्पादक कंपनियों से कम दाम पर बिजली खरीदती हैं तो उन्हें इसके बदले इंसेंटिव मिल सकता है। दिल्ली इलैक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी अथॉरिटी (डीईआरसी) इस योजना पर विचार कर रही है। अभी इस संबंध में सभी की राय ली जा रही है। फाइनल होते ही इसके बारे में ऑर्डर जारी कर दिए जाएंगे। इससे बिजली कंपनियों के साथ ही कंस्यूमर को भी फायदा होगा, क्योंकि इससे उनका बिल का बोझ कुछ कम होगा। ट्रांस हिंडन अमरूद एवं आंवला के पौधों की नीलामी होगी, टैण्डर 21 अगस्त तक आमंत्रित 16/08/2018 अंजय पासवन रांची : डीजीपी डीके पांडेय ने किया रवि किशन की... बेगूसराय में बेखौफ अपराधियों का तांडव, युवक को मारी गोली आपका ज़िला विद्युत योजना की तुलना करें - व्यापार बिजली आपूर्तिकर्ता विद्युत योजना की तुलना करें - विद्युत प्रदाता बदलें विद्युत योजना की तुलना करें - सस्ता बिजली डलास TX
Legal | Sitemap