फोरलेन प्रभावितों ने डीसी को सुनाई दो टूक,... मध्य प्रदेश                         100                5.06 रुपए  बिजली कंपनी के प्रस्ताव पर फैसला सुनाने का अधिकार विनियामक आयोग को है। पिछले वर्ष राज्य सरकार ने दर की समीक्षा के बाद अनुदान देने की घोषणा की थी। उसी के तर्ज पर इस बार भी बिजली दर की समीक्षा करते हुए अनुदान पर निर्णय लिया जाएगा। बैठक में सरकारी दफ्तरों में एलईडी बल्बों का इस्तेमाल अनिवार्य करने पर भी सहमती बनी. बिजली कंपनियों को निर्देश दिया गया कि वे प्रदेश के सभी जिलों में सस्ती दरों पर एलईडी बल्ब उपलब्ध कराएं. -घरेलू एवं गैर घरेलू उपभोक्ताओं की टेलीस्कोपिक दरें लागू रहेंगी। मध्य प्रदेश                         100                5.06 रुपए  पॉलिटिक्स पंचायत चुनाव: प. बंगाल में भाजपा को सुप्रीम कोर्ट से झटकाराहुल के 'मिथ्याग्रह' का राजघाट पर हुआ पर्दाफाश : भाजपाकांग्रेस का देशभर में अनशन शुरूभाजपा ने डाली कांग्रेस नेताओं की रेस्त्रां की फोटोप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीजापुर दौरे के पहले नक्सलियों ने किए सीरियल ब्लास्टजीतू को स्वर्ण, मेहुली-अपूर्वी ने भी जीते पदकभारत के दो विकेटकीपर बल्लेबाज़ों की होगी भिड़ंतचारा घोटाले मामले में 37 दोषी करार, पांच बरीकातिल की गिरफ्तारी को लेकर मारवाड़ी कॉलेज के छात्र छात्राओं ने किया सड़क जाममुख्यमंत्री स्टार प्रचारकों की लिस्ट में बिहार में बढ़ने वाली है बिजली की कीमत, लेकिन सरकार ने इनको दी है बड़ी राहत बोकारो : भाई-बहन को बंधक बनाए रखने के मामले में... आयोग के अध्यक्ष ने बताया : आयोग  के दिशा निर्देशों का पालन नहीं करने के कारण झारखंड राज्य बिजली वितरण  निगम पर दो फीसदी पेनाल्टी लगायी है.  हनुमानगढ़ बिज़नेस related story CrazyFreelancer जन समूह Add new comment जल शब्दकोश लेकिन, अगर आपने गलती से "Block" सिलेक्ट किया था या फिर भविष्य में आप नोटिफिकेशन पाना चाहते हैं तो नीचे दिए निर्देशों का पालन करें । Български език 0 ऑडिट (लेखा परीक्षा) की समय पर तैयारी करनी चाहिए। बिहार एवं झारखंड सतर्कता प्रकोष्ठ से सम्पर्क करें शहरी क्षेत्र Sep 27, 2017 Saturday, 04 Aug, 1.59 pm घरेलू सिलेंडर 66 रुपए महंगा चौथा सवाल –  क्या मुफ्त बिजली कनेक्शन के साथ उपयोग के लिए मुफ्त बिजली भी शामिल है? DIGI Singing Star Audition नीदरलैंड में जल्द शुरू होगा दुनिया का पहला समुद्र में तैरता डेयरी फार्म, रोबोट निकालेंगे गायों का दूध 17 mins सैमसंग गैलेक्सी ए 6 प्लस 64जीबी (ब्लैक, 4 जीबी रैम) शिक्षा विभाग को पता नहीं: 17 अगस्त अवकाश है | MP NEWS महाराष्‍ट्र ☰ केरल: बाढ़-बारिश से 9 दिन में 324 लोगों की मौत, 2 लाख से ज्यादा राहत शिविरों में; मोदी करेंगे हवाई सर्वे 12 mins 10. हाइक ने लांच की Hike ID, बिना नंबर के भी कर सकेंगे चैट सर्वाधिक खोजे गए CONGRESS ENTANGLE VIRBHADRA पोर्टल के बारे में   ⁄  City News electricity जल गुणवत्ता उज्जैन 19 जुलाई। मध्यप्रदेश के लाखों श्रमिक और बीपीएल वर्ग की जिंदगी में छाया अंधेरा अब दूर होने जा रहा है। पहले सौभाग्य योजना फिर अब सरल बिजली बिल और मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम में उन्हें सस्ती दर पर बिजली मुहैया करवाने के साथ बकाया बिजली बिल से भी मुक्ति दिलाई जा रही है। सौभाग्य योजना से अब तक जहाँ 17 लाख से अधिक घरों को बिजली कनेक्शन दिये गये, वही एक जुलाई से लागू दोनों नई योजनाओं ने पंजीकृत श्रमिकों और बिजली बिल के बकायादार बीपीएल श्रेणी के गरीबों की जिंदगी को रोशन कर दिया है। Save Electricity Hindi NewsMetroLucknowDevelopmentElectrical Regulatory Commission New Electricity Rate In Uttar Pradesh Oppo के अपकमिंग स्मार्टफोन में मिलेगा कॉर्निंग Gorilla Glass 6 बिजली कंपनी लाई नया पंखा, 28 वॉट बिजली लेगा यह सीलिंग फैन AAP J&K‏ @AAPJammuKashmr 18 Aug 2015  Loading ... © 2018 All Right Reserved radarnews.in AAPVerified account 700 करोड़ का चूना लगाने वाली विश्वामित्र इंडिया कंपनी के MD को पुलिस ने किया गिरफ्तार बिहार : वैशाली जिले में प्रखंड प्रमुख की हत्या, स्थानीय लोगों ने किया जोरदार हंगामा बिहार में आम आदमी को लगेगा बिजली का झटका, नयी दर 1 अप्रैल से होंगी प्रभावी पॉलिटिक्स ऑनलाइन पाठ्यक्रम मनोरंजन8 डीईआरसी की बैठक में बिजली की नई दरें तय की गईं.  डीआईआरसी ने बिजली कनेक्शन पर फिक्स चार्ज बढ़ा दिया है.2 kV के कनेक्शन पर फिक्स चार्ज 20 रुपये से से बढ़ाकर 125 रुपये और 2kv से 5kv तक कनेक्शन पर यह चार्ज 35 रुपये से बढ़ाकर 140 रुपये किया गया है. 41 Views झारखंड छात्र मोर्चा विनोबा भावे विस्वविद्यालय सचिव सरकारी डिफॉल्टरों के लिए बिजली विभाग की सरचार्ज माफी योजना आवेदन करें केरल: बाढ़-बारिश से 3 लाख से ज्यादा बेघर, मई से अब तक 324 की मौत; मोदी कुछ देर में करेंगे हवाई सर्वे 2 mins News in Pictures ​ UPA राज में भी चल रही थीं NDA की ये योजनाएं शासकीय योजनाएं दुर्लभ VIDEO: जब दौड़कर वाजपेयी से लिपट गए थे नरेंद्र मोदी... Mandsaur weather अजमेर में राज्यमंत्री अनिता भदेल ने किया विकास कार्यों का शुभारंभ Quick Rubric – Easily Make and Share Great-Looking Rubrics बलिया कांग्रेस झरिया विधानसभा प्रभारी आरएसओपी परियोजना विवरण एवं एफ ए क्यू कौशाम्बी बोलीविया की माली हालत खस्ता, लेकिन राष्ट्रपति ने अपने लिए 238 करोड़ रु. में बनवाया 29 मंजिला घर 22 mins सोलर पावर कंपनियों के बीच छिड़ेगी प्राइस वार वृश्चिक दिल्ली में बिजली एक रुपये प्रति यूनिट सस्ती, फिक्स चार्ज 6.5 गुना बढ़ा साइन इन करें पंजीकरण करें -A A +A A A English मध्यप्रदेश147 टीम दृष्टि MP Bhulekh मध्य प्रदेश खसरा, खतौनी, भू नक्शा ऑनलाइन नकल विवरण mpbhuabhilekh.nic.in नई दरों के अनुसार घरेलू उपभोक्ताओं को 7 से 12 प्रतिशत तक अधिक बिजली का बिल चुकाना होगा वहीं कमॢशयल उपभोक्ताओं के लिए 8.5 से 10.5 प्रतिशत तक बढ़ौतरी होगी। नई दरों के अनुसार घरेलू उपभोक्ताओं को 0-100 यूनिट तक 46 पैसे, 101-300 यूनिट तक 41 पैसे, 301-500 यूनिट तक 59 पैसे और 500 यूनिट से अधिक पर 80 पैसे प्रति यूनिट ज्यादा चुकाने होंगे।  बहन प्रियंका की सगाई अटेंड करने शूटिंग बीच में छोड़ मुंबई लौंटी परिणीत बेगूसराय में फांसी पर झूला युवक, वीडियो फेसबुक पर लाइव हो रहा था July 2, 2018 Promoted by 90 supporters राजस्थान में राहुल गांधी चुनाव से पहले करेंगे कई रोड शो,… अर्जुन कालिंदी सुभाष ठाकुर ने कहा-  अटल बिहारी वाजपेयी का हिमाचल से था विशेष लगाव तराजू में एक तरफ नमक तो दूसरी तरफ मेवा NDTVBusinessHindiMoviesCricketGood TimesFoodTechAutoAppsPrime भरपूर बिजली के सरकारी इरादे पर पानी फेर रही कोयला कंपनियां स्कूल विद्यार्थियों के लिये टिप्स नगर में 13500 उपभोक्ता है। इन पर दो करोड़ रुपए का बिल बनता है। हर बार 90 फीसदी लोग आखिरी तारीख तक बिल जमा कर देते हैं। इस बार 5 हजार लोगों ने ही बिल जमा किए। बाकी माफी के चक्कर में नहीं आए। बिल जमा करने वालों में कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो सस्ती बिजली और माफी की पात्रता रखते हैं लेकिन जानकारी नहीं होने से अथवा कनेक्शन कटने के डर से उन्होंने बिल जमा कर दिया है। अब वे पंजीयन करवाते हैं तो उन्हें जमा की राशि अगले बिल में समायोजित होकर वापस मिलेगी अथवा नहीं यह स्पष्ट नहीं है। एई नवीन ढोले ने बताया जिन्होंने राशि जमा करवा दी है, उन्हें वापस मिलेगी या समायोजन होगा, यह स्पष्ट नहीं है। Day Update बहरहाल अटल जी ने झारखंड राज्य को एक समृद्ध राज्य के रूप में बनाने का सपना देखा था। लेकिन बड़ा सवाल यह है कि जिस मकसद में झारखंड का गठन हुआ था वह पूरा हुआ या नहीं। राज्य के विकास के पैमाने को देखकर लगता है कि शायद राज्य को जिस मकसद से अलग किया गया था वह पूरा नहीं हुआ। बिजली दरों में वृद्धि करके पूर्व शिअद-भाजपा सरकार से लेकर वर्तमान कैप्टन सरकार की ओर से राज्य में बिजली सरपल्स होने के दावों की हवा स्वयं पंजाब पावरकॉम ने निकाल दी है तथा बिजली की दरें बढ़ा कर पहले ही महंगाई की मार से त्रस्त आम लोगों की मुश्किलें और बढ़ा दी हैं।    —विजय कुमार  कुमार विजय बढ़ी हुई दरों की मार सबसे ज्यादा ग्रामीण क्षेत्रों पर पड़ने वाली है. पिछली दरों के मुताबिक अभी तक ग्रामीणों क्षेत्रों में उपभोक्ताओं को 180 रुपये प्रतिमाह देना पड़ता था, जबकि किसानों को 100 रुपये प्रतिमाह देना पड़ता था. वजन: 800 ग्राम Advertisement CONNECT WITH US हाउस आवंटन नियम और फॉर्म पटना | बिजली कंपनी में 2000 पदों पर बहाली होगी। इसमें 800 पदों पर सामान्य विषय से स्नातक करने वाले आवेदन कर सकेंगे। इनके... श्रीलंका299/8(50.0) Abhishek Shrivastava [Updated:05 Nov 2015, 6:35 PM IST] अरुण पांडेय Get the app ! ट्रान्सफार्मर तथा रिऐक्टर विधानसभा में विपक्ष के नेता विजेंद्र गुप्ता ने केजरीवाल सरकार पर आरोप लगाया है कि बिजली वितरण कंपनियों से सरकार की मिलीभगत के कारण बिजली उपभोक्ताओं को सस्ती बिजली नहीं मिल पा रही है। उन्होंने कहा कि अगर सरकार चाहती तो बिजली कंपनियों की ओर से उपभोक्ताओं को भेजे जाने वाले बिल में लगभग 20 फीसद की कमी हो सकती थी। दिल्ली सरकार सिर्फ दिखावे के लिए बिजली कंपनियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की धमकी देती रहती है। 7- डिग्गी फव्वारा सिंचाई योजना.. रिपोर्ट में खुलासा: पूर्व PM मनमोहन सिंह के कार्यकाल में भारत ने हासिल की थी सर्वाधिक विकास दर बाज़ार भाव लोकसेवा ग्यारन्टी/ सीएम हेल्पलाइन सामान्य परिचय कृष्ण कुमार महतो Atal Bihari Vajpayee: अटल-आडवाणी की जोड़ी में मुरली मनोहर जोशी को क्यों नहीं घुसाते? वाजपेयी ने दिया था ऐसा जवाब ड्यू डेट से पहले बिजली बिल चुकाने पर कुल बिल का 0.5 फीसदी छूट दी जायेगी सशस्त्र सीमा बल में SI, ASI और हेड कांस्टेबल के पद पर 181 वैकेंसी Feedback Similar Posts नई दिल्ली/ब्यूरो। आप सरकार ने 400 यूनिट तक बिजली खर्च करने वाले घरेलू उपभोक्ताओं के लिए सब्सिडी जारी रखने का निर्णय लिया है। पहले की तरह 400 यूनिट तक बिजली खर्च करने वालों को आधी कीमत पर बिजली वर्तमान वित्त वर्ष में भी मिलना जारी रहेगी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में हुई दिल्ली कैबिनेट में इस आशय का निर्णय लिया गया। इससे सरकार को मौजूदा वित्त वर्ष में 1,720 करोड़ रुपए का बोझ पड़ेगा। 1:25 सिर्फ मीटर के पैसे देकर मिले बिजली कनेक्शन: उपभोक्ता परिषद खगड़िया राष्ट्रीय  कृषि विकास योजना बाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं: मार्गदर्शी निर्देश बाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं, रिपोर्टिंग प्रपत्र का प्रारूप बाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं, संशोधन बाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं विद्युत प्रदायक बदलें - सस्ता पावर कंपनी विद्युत प्रदायक बदलें - ऊर्जा रेटिंग विद्युत प्रदायक बदलें - इलेक्ट्रिक बिल पर पैसा बचाएं
Legal | Sitemap