AAPVerified account 12:48 AM - 18 Aug 2015 चम्पा देवी परामर्श सेवाऍं Times of India| Economic Times | iTimes|Marathi News | Bangla News | Kannada News| Gujarati News | Tamil News | Telugu News | Malayalam News | Business Insider| ZoomTv | BoxTV| Gaana | Shopping | IDiva | Astrology | Matrimonial | Breaking News ਪੰਜਾਬੀ पहले चरण का प्रशिक्षण आसान था. इसमें सभी प्रशिक्षुओं को 5000-12,000 रुपये देने थे. इसमें कोई आश्चर्य की बात नहीं कि नेशनल स्किल डेवलपमेंट काउंसिल (एनएसडीसी) पहले चरण का लक्ष्य प्राप्त कर लिया. इसने 18 लाख लोगों को प्रशिक्षण दिया और अतिरिक्त 12 लाख लोगों को प्रमाणित भी किया. कांग्रेस ने सुषमा को दिया चैलेंज, नए पोल को रिट्वीट करके दिखाओ Lalit Saxena | Publish: Jun, 17 2018 05:00:00 AM (IST) Ujjain, Madhya Pradesh, India परिवाद पर सुनवाई करते हुए फोरम अध्यक्ष इंद्रा सिंह ने मीटर रीडिंग लेकर वास्तविक खपत पर बिल देने और परिवादी को मानसिक परेशानी के रूप में 2000 और परिवाद व्यय के 1000 रुपए भुगतान करने के आदेश विद्युत कंपनी को दिए हैं।  भीलवाड़ा नागौर वरिष्ठता सूची जैतापुर प्रोजेक्‍ट को दुनिया का सबसे बड़ा न्‍यूक्लियर कॉन्‍ट्रैक्‍ट माना जा रहा है और यह दुनिया की सबसे बड़ी न्‍यूक्लियर साइट भी है। 10,000 मेगावाट्स के इस प्रोजेक्‍ट में छह रिएक्‍टर्स होंगे, जिनमें प्रत्‍येक की क्षमता 1650 मेगावाट होगी। भारत सरकार ने 2017 तक 17,400 मेगावाट न्‍यूक्लिर पावर जनरेशन का लक्ष्‍य रखा था, जिसमें से वह केवल 30 फीसदी लक्ष्‍य ही हासिल कर पाई है। नगर तथा मण्‍डल रिपोर्ट गुजरातहिमाचल प्रदेशमहाराष्ट्रहरियाणापंजाबराजस्थानछत्तीसगढ़झारखंडमध्य प्रदेशदिल्लीबिहारउत्तर प्रदेश दृष्टि मैगज़ीन सिंह राशि वालों आज नई नौकरी मिलने का योग है। आज आर्थिक स्थिति थोड़ी टाइट रहेगी। इस राशि के......Read more नॉलेज खुल्लम खुल्ला नया- ताजा वित्त और कर पटना एयरपोर्ट पर पैसेंजर को छोड़ उड़ गई फ्लाइट, जा रहे थे बैंगलोर कॉपीराइट © 2018. सूचना निदेशालय, जनसंपर्क और भाषाएं, हरियाणा सरकार । सर्वाधिकार सुरक्षित । म. प्र. पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण क. Sitamau news @कहर बनकर गिरी आकाशीय बिजली से एक वृद्ध व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि दो महिलाओं सहित तीन घायल हो गए हिमाचली लाल सोने पर अमरीका के सेब का आज भी... KEEP IN TOUCH WITH US झाविमो जिला अध्यक्ष Haryana Scheme 28% टैक्स स्लैब पर्मालिंक https://p.dw.com/p/2ra7K सूचना घरेलू (ग्रामीण) डीएस वन(0-50 यूनिट) 1.25  4.40 सौभाग्य हिमाचल प्रदेश की खबरें केजरीवाल सरकार पर बिजली कंपनियों से मिली भगत का आरोप 1699914088खरीदे The fastest way to share someone else’s Tweet with your followers is with a Retweet. Tap the icon to send it instantly. जारी परामर्श - डीएसडी खास बातें Yum 11 वीं योजना परियोजनाएं बिज़नेस गोलगप्पे की कहानी: क्या है महाभारत की कुंती और मगध साम्राज्य से कनेक्शन? चूरू पाकिस्तान Saturday 18 August 2018 posted on August 18, 2018 सेंसेक्स 200 अंक मजबूत, निफ्टी 11450 के करीब हाथरस उपकरण टेक्नोलॉजी इंडिया जीएसटी परिषद की चल रही बैठक में जो फैसला किया गया है उसके अनुसार केश तेल, साबुन व टूथपेस्ट जैसे आम उपभोग वाले उत्पादों पर 18 प्रतिशत की जीएसटी या एकल राष्ट्रीय बिक्रीकर दर लागू होगी। इन उत्पादों पर इस समय कुल मिलाकर 22-24 प्रतिशत कर लगता है। परिषद की इस दो दिवसीय बैठक के पहले दिन छह चीजों को छोड़ अन्य सभी वस्तुओं पर 5, 12, 18 और 28 प्रतिशत की कर दर तय कर दी है। कारों पर जीएसटी की सबसे ऊंची दर लगेगी। इसके अलावा इस पर एक से 15 प्रतिशत का उपकर भी लगेगा। छोटी कारों पर 28 प्रतिशत की ऊपरी कर दर के साथ एक प्रतिशत का उपकर लगेगा। मध्यम आकार की कारों पर तीन प्रतिशत का उपकर और लग्जरी कारों पर 15 प्रतिशत का उपकर लगेगा। बिज़नेस डायरी दरभंगा होमराज्य क्षमता वर्धन क्राइम हेल्थ शिक्षा वायरल न्यूज़ धर्म-कर्म साइंस-टेक बुंदेलखण्ड175 सिलिगुडी पकवान सोने की गिन्नी (GOLDGUINEA) सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई Post navigation एयर इंडिया को पायलटों ने दी चेतावनी, भत्ता दो नहीं तो छोड़ देंगे विमान उड़ाना (Hindi News from Navbharat Times , TIL Network) हर अखबार ने यही कहा- अटल, अमर, अनंत! RSS| उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव Cookies #लाइट कैमरा एक्शन बिज़नस न्यूज़ से सुपरहिट हालांकि, पानी में उतरे केईडीएल भगाओ संघर्ष समिति के संयोजक हिम्मत सिंह हाड़ा की सुबह से शाम तक पानी में खड़े रहने के बाद तबियत भी बिगड़ गई. जिसके बाद में उन्हें अस्पताल में भर्ती तक करवाने की नौबत आ गई और कोटा के न्यू मेडिकल कॉलेज में इलाज के लिए भर्ती करवाना पड़ा.    बूढ़ा निवासी पंकज पाटीदार की धर्म पत्नी सपना पाटीदार की करंट लगने से आकस्मिक मृत्यु Google Ads अजित सिंह चौधरी ब्यूरो/अमर उजाला आगरा Updated Wed, 27 Dec 2017 08:27 PM IST डीईआरसी चेयरमैन पी. डी. सुधाकर ने कहा कि अभी बिजली कंपनियां सस्ती बिजली खरीदने के कोई गंभीर प्रयास नहीं करती। हम ऐसा सिस्टम बनाना चाहते हैं कि अगर बिजली कंपनियां खर्च कम करती हैं तो उसका जो फायदा होगा उसका कुछ हिस्सा कंपनी को मिलेगा। वह एक तरह से बिजली कंपनी के लिए इंसेंटिव होगा। अभी ऐसा कोई इंसेंटिव नहीं है। हम चाहते हैं कि ऐसा हो। अगर वह मेहनत करके खर्च कम करते हैं तो उन्हें इसका इनाम मिले और इससे कंस्यूमर को भी फायदा होगा। फोटो और कंटेंट: नरपत रामावत केंद्र ने सभी राज्यों को भी निर्देश दिया है कि वे अपने यहां बिजली की कुल खपत का 17 फीसदी हिस्सा सोलर या पनबिजली पावर से भरपायी करे. इसको लेकर सरकार लोगों को सोलर प्लेट के जरिये बिजली का उपयोग करने को लेकर मदद भी दे रही है. साथ ही लखीसराय के कजरा और भागलपुर के पीरपैंती में सोलर पावर प्लांट लगाने की भी प्रक्रिया चल रही है, जबकि केंद्रीय ऊर्जा राज्य मंत्री आरके सिंह ने आरा में बिहार का पहला सोलर पार्क खोलने का प्रस्ताव भी तैयार कर रहे हैं. कांग्रेस को Not Found ऐसे बनाएं इंस्टेंट जलेबी All Time Low: अमेरिकी कंपनी देगी भारत को सस्ती सोलर पावर, कंपनियों के बीच छिड़ेगी प्राइस वार Gemini (मिथुन) पार्वती देवी आखिरी गेंद पर छक्के से टीम को जिताने वाले बल्लेबाज दादी नानी के नुस्खे विजेंद्र गुप्ता ने कहा, जो लोग कभी बिजली कंपनियों का एकाधिकार समाप्त करने और बिजली कंपनियों के ऑडिट की बात कर सत्ता में आए थे तथा जो लोग शीला दीक्षित और बिजली कंपनियों के भ्रष्टाचार को मिटाकर बिजली के रेट कम करने की बात करते थे , वही लोग आज निजी बिजली कंपनियों का प्रवक्ता बन गए हैं. पिछले 6 महीने में इन बिजली कंपनियों को दूसरी बार स्थाई शुल्क बढ़ाकर इन्हें मालामाल कर रहे हैं. सामान्य अध्ययन प्रश्नपत्र I ऑटो रिव्यू जिला भाजपा अध्यक्ष पटना 0 replies 0 retweets 3 likes बरौनी- स्टेज एक 5.32 5.11 बिजली के सीमापार व्यापार के लिए भारत सरकार के निर्दिष्ट प्राधिकरण, केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण के अनुसार भारत पहली बार बिजली का निवल आयातक के बजाय निवल निर्यातक बन गया है। वर्ष 2016-17 (अप्रैल से फरवरी 2017) के दौरान भारत ने नेपाल, बांग्लादेश और म्यांमार को 579.8 करोड़ यूनिट बिजली निर्यात की, जो भूटान से आयात की जाने वाली करीब 558.5 करोड़ यूनिट की तुलना में 21.3 करोड़ यूनिट अधिक है। विदित हो कि सीमा पार विद्युत व्यापार प्रारंभ होने के बाद से भारत भूटान से बिजली आयात करता रहा है। भूटान भारत को औसतन प्रतिवर्ष 500-550 करोड़ यूनिट बिजली की आपूर्ति करता रहा है।  The total outlay of the project is Rs. 16, 320 crore while the Gross Budgetary Support (GBS) is Rs. 12,320 crore. The outlay for the rural households is Rs. 14,025 crore while the GBS is Rs. 10,587.50 crore. For the urban households the outlay is Rs. 2,295 crore while GBS is Rs. 1,732.50 crore. The Government of India will provide largely funds for the Scheme to all States/UTs. The States and Union Territories are required to complete the works of household electrification by the 31st of December 2018. राजनीति प्रशासन क्राइम बिजली-सड़क-पानी अन्य खबरें फ्यूचर नाउ लखनऊ टाइम्स ई-पेपर भूमिका Other Links राज्य चुनें आईएफएस Hindi News »Madhya Pradesh »Shivpuri» अब बिजली कंपनी में अनुकंपा नियुक्ति शुरू India News in Hindi हालांकि 2 किलोवाट तक की बिजली पर फिक्स्ड चार्ज 20 रुपए से बढ़ाकर 125 रुपए कर दिया है. 2 किलोवाट से 5 किलोवाट पर फिक्स्ड चार्ज 35 रुपए से बढ़ाकर 140 रुपए कर दिया है. 5 किलोवाट से 15 किलोवाट तक की बिजली पर फिकस्ड चार्ज 175 रुपए और 15 किलोवाट से 25किलोवाट के लिए यह चार्ज 200 रुपए कर दिया है. इससे पहले अगस्त 2017 में बिजली की दरों में बदलाव किए गए थे. (यह भी पढ़ें)... सपना चौधरी ने WWE के रिंग में लगाए ऐसे ठुमके, चित हो गए सारे पहलवान; देखें Video काश, प्रधानमंत्री 15 अगस्त के अपने ‘आखिरी भाषण’ में सच बोलते: कांग्रेस धनबाद के युवा एवं लोकप्रिय कॉग्रेस नेता टेक्नोलॉजी TWEET ताजा ख़बरें10 आँध्रप्रदेश डायबिटीज, ब्‍लड प्रेशर और कैंसर की दवाओं के तय होंगे दाम, इस सूची में होंगी कुल 92 दवाएं हिमाचल 3 weeks ago Publish on December 4, 2017 नियम और शर्ते सस्ते विद्युत आपूर्ति - आज खरीदारी करें सस्ते विद्युत आपूर्ति - ऊर्जा प्रदाता स्विच करें सस्ते विद्युत आपूर्ति - विद्युत दर
Legal | Sitemap