आल्पेन नाम की होटल चेन ने अपनी इमारतों को ऊर्जा बचाने वाली पैसिव हाउस स्टाइल में बदलना शुरू कर दिया है. अच्छे इंसुलेशन के कारण ठंड में भी हीटिंग के बिना ही काम चल जाता है और सौर पैनलों से बिजली की अधिकतर जरूरत पूरी हो जाती है. राशि Tweet On Twitter संक्षेप खबरें अधिक देखें जीपीएस नेविगेशन, कीलेस एंट्री July 17, 2018 आदेश पारित करने के बाद सरकार द्वारा उस पर विचार किया जायेगा कि किस सेक्टर में किसे राहत(सब्सिडी) देने की जरूरत है. सरकार उसे सब्सिडी अौर राहत की घोषणा करेगी. जो ज्यादा एसी चला कर अतिरिक्त उपभोग कर रहा है, उसे राहत नहीं दी जायेगी.  FOLLOW (1.2K) आत्मनिर्भर महिलाओं के लिए होगा सम्मान समारोह हमारे लाईट कनेक्शन मे सिर्फ पोल खड़े करके चले गये तार /केबल नहीं लगा रहे है pz jaldi karyvai karvae Mo.70XXX80 gav khari teh. Sedwa dist. Barmer Pakwangali 1. गैर घरेलू सेवा (एनडीएस-एक) और राजकीय सिंचाई नलकूप (आईएएस-दो) में बिना मीटर वाले उपभोक्ता श्रेणी को समाप्त कर दिया गया है। एक अप्रैल से इस श्रेणी के उपभोक्ताओं को मीटर से ही बिजली बिल दिया जाए।  Asian Games 2018: नई इबारत लिखने की कोशिश करेंगे भारतीय दल के खिलाड़ी www.bhaskar.com 28 जून 2016, 04:38 AM सस्ती बिजली देनेवाली कंपनी को ही तरजीह देगी बिहार सरकार अंटार्टिका में बर्फ से आता है खून! टेस्ट सीरीज 中文(简体) News18 Services कुंजी Hindi NewsPhotomazzaBusiness PhotogalleryDeendayal Electricity Scheme बस में एक बुजुर्ग चढ़ी, उसे किसी ने बैठने को सीट नहीं दी तो ड्राइवर ने उसे बोनट पर बिठा लिया। डीबीएन न्यूज़/मुज़फ़्फ़रपुर:-(रूपेश कुमार). आज दिनांक 29-5-2018 सुबह करीब 9 बजे से 12 बजे तक मुज़फ़्फ़रपुर जिला के गायघाट थाना क्षेत्र में जारंग हाई-स्कूल चौक जो कि NH57 के अंतर्गत आता है आज वँहा लोगो ने एस्सेल के खिलाप सड़क पे उतर कर किया हला-बोल. गायघाट प्रखंड में थम नही रहा मेंटेनेन्स के नाम पर बिजली की कटौती, कभी बिजली की आँख मिचौली, कभी घन्टो तक बिजली नही देना ये एस्सेल कम्पनी के लिए आम बात हो चुक्की है. दिनेश सिंह अर्थव्यवस्था राज्य शासन की ओर से बीपीएल उपभोक्तओं के बिल माफ करने की घोषणा से ही जून माह में बड़ी संख्या में उपभोक्ताओं ने बिल जमा नहीं किए हैं। माफी योजना का लाभ लेने के लिए उपभोक्ता बिल जमा नहीं कर रहे हैं। इस आईपीएस पर फ़िदा हुई पंजाब की महिला, मिलने की जिद पर उज्जैन आ पहुंची Who's Online : 1 भगवान नागचंद्रेश्वर के दर्शन हेतु मध्यरात्रि पट खुले CompareIndia कॉस्ट डाटा बुक के प्रावधानों के अनुसार मौजूदा समय में बीपीएल उपभोक्ताओं से कोई सिस्टम लोडिंग चार्ज नहीं लिया जाता है, जबकि एक किलोवाट तक के उपभोक्ताओं से नया कनेक्शन लेते वक्त 50 रुपये प्रति किलोवाट जमा कराया जाता था।  Business Articles साक्षात्कार प्रदेश महासचिव महिला कांग्रेस सह जिला अध्यक्ष बुद्धि जीवी मंच विचार विभाग 8- पाईप लाईन योजना.. यात्रा भाजपा जिलाकोषाध्यक्ष जमशेदपुर महानगर पिछड़ा मोर्चा पंद्रहवां सवाल –  किस तरह से, यह योजना दैनिक जीवन में लोगों के लिए उपयोगी होगी? बजाज हिंदुस्तान शुगर ने एलपीजीसीएल में अपनी हिस्सेदारी बिक्री के लिये शेयरधारकों से मंजूरी को लेकर चार अगस्त को असाधारण आम बैठक बुलायी है। कंपनी यह हिस्सेदारी समूह की ही दूसरी कंपनी बजाज एनर्जी लि. को बेचेगी।  विज्ञापन र॓ट शर्मनाक : स्कूल में छात्रा से गैंगरेप 18 के खिलाफ… खन्ना दिल्ली प्रवासी भारतीय Categories List www.jagran.com 01 मई 2018, 12:01 AM पात्र उपभोक्ता रामगढ़ महाराष्ट्र स्टेट इलेक्ट्रिसिटी डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड (MSEDCL) ने कई पदों के लिए वैकेंसी निकाली है. इच्छुक उम्मीदवार 28 सितंबर तक आवेदन कर सकते हैं.  Local News बीबीसी के बारे में Regional Party AAP Nag Panchami 2018: काल सर्प दोष से चाहते हैं मुक्ति तो ऐसे करें नाग पंचमी पर नाग की पूजा अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति प्रशिक्षण योजनाबाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं महोबा Electricity Bill युवाओं के लिए Sitemap| Contact us वन माफिया पर कसा शिकंजा, जीप से खैर के 22 मौछे बरामद सामान्य अध्ययन प्रश्नपत्र IV @AamAadmiParty ओर इसका सबूत भी होगा अ।प के पास जनरल नॉलेज मीडिया गैलरी देवनागरी कैसे टाइप करें 15 सितंबर से एक अक्टूबर तक आवेदन लिया गया था. इसकी परीक्षा 23 अक्टूबर को ली गई थी. आईटी मैनेजर के 5 पद कंपनी में काम कर रहे कर्मियों के लिए था. सभी पदों में कंपनी के नियमानुसार प्रोबेशन पीरियड रखा गया था और इसके बाद सभी कर्मचारियों की सेवा स्थाई की जाने की बात कही गई थी. पिछले साल बहाली से संबंधित विस्तृत जानकारी कंपनी की वेबसाइट www.bsphcl.bih.nic.in पर उपलब्ध कराइ गई थी. बिजली कंपनियों के घाटे की पड़ताल नहीं की गई और हर साल कंपनियां अपने घाटे को कानूनी जामा पहनाती जा रही हैं, लेकिन सरकार की लापरवाही की वजह से उनका दावा कानूनी तौर पर पुख्ता हो रहा है, क्योंकि सरकार ने घाटे को लेकर कंपनियों से न तो कोई पूछताछ की और न ही इस बारे में कोई जानकारी ही जुटाई गई, नतीजा ये हुआ कि साल दर साल कंपनियों के घाटे की फाइलें सरकार के पास जमा हो रही है और एक तरह से सरकार की मौन स्वीकृति इस घाटे को मिल रही है, अब अगर मामला कोर्ट में भी जाता है, तो यहां सरकार की लापरवाही से खुद उसका पक्ष कम हो रहा है, ऐसे में दिल्ली में टैरिफ बढ़ने की आशंका मजूबत हो रही है. VIDEO: देखते देखते सांप, बिच्छू और सेंटीपेड को जिंदा निगल गई ये मछली यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर अपनी संवेदनाएं जाहिर की और कहा कि उनका जाना राजनीति में एक महायुग का अंत है। कॅरियर-जॉब्स फीफा विश्व कप भगवान नागचंद्रेश्वर के दर्शन हेतु मध्यरात्रि पट खुले 15/08/2018 सामग्री प्रौद्योगिकी प्रभाग (एमटीडी) -25 डिग्री सेल्सियस से 85 डिग्री सेल्सियस शहरों की मौजूदा व नई बिजली दरें Back to top भारत पहुंच विश्व के इन नेताओं ने अटल जी को दी श्रद्धांजलि Paresh Agarwal‏ @semanticscorp 18 Aug 2015 Google plus vikash khalkho Best Washing Machines in India पी.सी.एस. परीक्षा जन धन खाताधारकों के लिए 15 अगस्त को बड़ी घोषणाएं .. 12वीं योजना (उप ग्रुप 6 – अनु व वि) के लिए विद्युत पर कार्यकारी ग्रुप मंत्रालय के संगठनात्मक सेटअप Terms & Conditions | Refund & Cancellation | Privacy Policy Hindi NewsMetroDelhiPower Road And Water Delhi Leave a comment डीडीयूजीजेवाई उपभोक्ताओं को सीधा लाभ india vs england 3rd test: टीम में शामिल हैं स्टोक्स लेकिन खेलना पक्का नहीं, जानिए क्यों अभिलेख ਪੰਜਾਬੀ ई पेपर ऊर्जा से जुड़े प्रमुख संस्थान Bollywood on Atalji Death Get 6 Months FREE Magazine (Current Affairs Today) Subscription Case Studies Archives आर-पार : आज़ादी मिल गई लेकिन हमारे जवानों को शहादत से आज़ादी कब मिलेगी? न्यूनतम आदेश मात्रा: 100PCS दिक्चालन सूची यों हो सकती है दिल्ली में बिजली सस्ती मेरा पैसा न्यूज़ राष्ट्रीय पर्व को मनाते हैं लेकिन राष्ट्रीयता का मतलब नहीं समझते हैं – प्रधानाध्यापक खबरें दिवाली खत्म होते ही महाराष्ट्र के लोगों को बिजली दर में बढ़ोतरी का झटका लगा है। बिजली बिल में बढ़ोतरी के लिए महाराष्ट्र विद्युत नियामक आयोग ने महावितरण को हरी झंडी दे दी है। बिल में बढ़ोतरी एक नवंबर से हुई है और अगले चार सालों तक 4 स्लैब के तहत बिजली बिल में बढ़ोतरी होगी। चालू वित्त वर्ष में 1.5 फीसदी, 2017-18 में 2 फीसदी, 2018-19 में 1.20 फीसदी और 2019-20 में 1.27 फीसदी कीमतों में बढ़ोतरी की जाएगी। फिलहाल एक यूनिट पर करीब 4 पैसे का बोझ बढ़ेगा, लेकिन चार सालों की बात करें तो ग्राहकों पर कुल 9141 करोड़ रुपये का बोझ बढ़ेगा। हिमाचल-प्रदेश Bollywood News in Hindi 12345678910 एटा मुंगेर कोई जमा के साथ सस्ता बिजली - मेरे क्षेत्र में ऊर्जा प्रदाता कोई जमा के साथ सस्ता बिजली - इलेक्ट्रिक सप्लाई कंपनी कोई जमा के साथ सस्ता बिजली - बिजली प्रदाता की तुलना करें
Legal | Sitemap