नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:Nov 30, 2017, 12:55PM IST पावर डाटा प्रबंधन प्रभाग प्रधानाध्यापक मध्य विद्यालय मनार कटकमसांडी 0 ऑडिट (लेखा परीक्षा) की समय पर तैयारी करनी चाहिए। बिजली कंपनी में 2000 पदों पर होगी बहाली अचानक घटने लगे वजन तो इन 10 वजहों पर दें ध्यान टेक गाइड हिंदी पूरी स्टोरी पढ़ें » कुल्लू के बाजार रहे बंद, व्यापारियों ने दी अटलजी को श्रद्धांजलि अनुसंधान आकस्मिकता (आरसी) पदक तालिका श्रीमती नीता पटेरिया को Web Title:Electricity rate increases in Bihar सामान्य / विश्लेषणात्मक पहचान by: Sanjay Srivastava उपभोक्ताओं की संख्या 1.12 करोड़ तक पहुंची : बिजली कंपनी के राजस्व में अप्रत्याशित तौर पर राजस्व संग्रह में बड़े उछाल की वजह उपभोक्ताओं की बढ़ी संख्या को भी माना जा रहा है। 8 आरामदेह और किफायती बिग बॉस How Does an Air Conditioner Work – A layman’s explanation ऑक्सिलरोमापी अंशांकन सुविधा तथा वीडियो अंकीय अभिलेखन तथा सुधार प्रणाली गुफा में बिजली 20.02.2018 चालू परियोजना दक्षिण अफ्रीका98/10(16.4) - इस योजनान्तर्गत सुरक्षित एवं अर्द्धसंवेदनशील क्षैत्रों के साथ-साथ डार्क जोन में आने वाले जनजाति क्षैत्र के सभी श्रैणी के काश्तकारों को लघु सिंचाई उद्धेश्यों हेतु राज्य के 6 जिलो में बांसवाड़ा, उदयपुर, डूंगरपुर, चित्तोड़गढ़, सिरोही एवं बांरा की 25 पंचायत समितियों के काश्तकारों को जल धारा योजनान्तर्गत ऋण सुविधा 9 से 15 वर्ष की अवधि हेत उपलब्ध कराई जायेगी। 17 अगस्त 2018 क्रिप्टोसमाचार under a CC BY-NC-SA 2.5 IN license. सुशांत पांडा बिना चिप वाले एटीएम कार्ड 31 दिसंबर के बाद अमान्य SIgn In 11 जुलाई 2018 List name बॉलीवुड एक्ट्रेस काजोल ने इंटरव्यू में महिला प्रधान फिल्मों पर कही यह बात बूंदी स्नाताकोत्तर छात्रों के लिए छात्रवृत्ति योजना CSC-UIDAI बस में एक बुजुर्ग चढ़ी, उसे किसी ने बैठने को सीट नहीं दी तो ड्राइवर ने उसे बोनट पर बिठा लिया। अजित सिंह चौधरी फीडबैक संपन्न परियोजनाओं की सूची Career Plus पटना : राज्य में शनिवार से बिजली की नयी दरें लागू हो जायेंगी. नयी बिजली दरों की घोषणा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को विधानसभा में की. मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में घरेलू बिजली की नयी दर 3.35 रुपये प्रति यूनिट होगी, जबकि शहरी उपभोक्ताओं को घरेलू उपयोग के लिए प्रति यूनिट पांच रुपये की दर से भुगतान करना होगा. मुख्यमंत्री ने बताया कि बिजली की ये दरें सरकार द्वारा दी जानेवाली सब्सिडी के बाद निर्धारित की गयी हैं.  last » खाने पीने के शौकीन अटल बिहारी वाजपेयी को मिल-बांट कर खाने में आता था मजा Add your thoughts about any Tweet with a Reply. Find a topic you’re passionate about, and jump right in. हिन्दू जागरण मंच ने वीरपुर से नौलागढ़ तक निकाली शोभा यात्रा, पुलिस रही चौकस INFORMATION CENTRE राज्य विद्युत उपभोक्ता परिषद के अध्यक्ष अवधेश कुमार वर्मा ने लाइन लॉस का पूरा भार बिजली उपभोक्ताओं पर न डालने की वकालत की। उन्होंने ओडिशा का उदाहरण देते हुए कहा कि बिजली कंपनियों के घाटे के आधार पर जो रेग्युलेटरी सरचार्ज लगाया जाता है। उसका 50 प्रतिशत हिस्सा उपभोक्ताओं और 50 प्रतिशत हिस्सा बिजली कंपनियों को देना चाहिए। ताकि बिजली कंपनियों की लापरवाही का खामियाजा ईमानदार उपभोक्ताओं पर न पड़े। Post a Comment स्टार्टअप इंडिया - एक स्टार्टअप क्रांति की शुरुआत April 2017 Replying to @ramesh_yadu दून में पहाड़ी शैली में बनेंगे पुलिस बूथ, चौराहों पर दिखेगा ब्रह्मकमल TERMS OF USE मिज़ोरम Page not found अम्बेडकरनगर May 2017 Related Stories बरौनी-स्टेज दो 6.30 4.37 कौशाम्बी बच्चे खूब मन लगाकर पढ़ाई करें, बाकी चिन्ता शासन पर छोड़ दें –मंत्री श्री जैन, ऊर्जा मंत्री ने स्वतंत्रता दिवस पर स्कूली विद्यार्थियों के साथ मध्याह्न भोजन किया प्रेषित समय :08:53:32 AM / Wed, Jun 13th, 2018 कन्या घरेलू बिजली बिलों का भुगतान समय से नहीं कर पाने के कारण मूल बकाया राशि और उस पर अधिरोपित सरचार्ज के कारण उपभोक्ता के बिलों की राशि बहुत ज्यादा हो जाती है। मुख्यमंत्री जन कल्याण (संबल) योजना में पंजीकृत श्रमिकों और बीपीएल उपभोक्ताओं के घरेलू बिजली कनेक्शन की पुरानी बकाया राशि का निराकरण कर उन्हें नियमित बिल भुगतान करने के लिये प्रेरित करने के उद्देश्य से ही यह माफी स्कीम लागू की गई है। स्कीम का प्रभाव जून 2018 तक की कुल बकाया राशि पर लागू होगा। Deutsch im Fokus Asian Games 2018: उद्घाटन समारोह में अनोखा स्टेज होगा सबके आकर्षण का केंद्र नो फेक न्यूज़नया अटल जी के अंतिम दर्शन करने पहुचे लालकृष्ण आडवाणी कूपन कोड से मिलेगा कैशबैक इंश्योरेंस अंबाला Accessibility Help पेंशन योजना घरेलू -1 ग्रामीण( मीटर) - 20 रुपये प्रति माह फिक्स चार्ज कॉसमॉस बैंक का सर्वर हैक, दो दिन में निकाले 94 कर.. हरदोई संपन्न परामर्श - डीएसडी धनबाद : कौशल विकास प्रशिक्षक मेयर का घेराव व पुतला दहन करेंगे कानपुर देहात परिवहन और भंडारण के लिए तापमान रेंज सीमा जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन! सूचना एवं प्रसारण 29 आइटम पर खत्म हुआ टैक्स, 49 चीजें हुई सस्ती, पेट्रोल-डीजल पर नहीं बनी बात Bollywood News in Hindi August 10, 2018 Akrati Shrivastava Central Govt Schemes, Indian Govt Scheme 200 रुपए महीने की सस्ती बिजली के लिए असंगठित श्रमिक पंजीयन जरूरी है। इसमें भी वे ही पात्र होंगे, जिनके बिल में बिजली भार 1000 वाट यानी 1 किलोवॉट है। शासन से जारी गाइड लाइन में केवल यह लिखा है कि 100 यूनिट तक 200 रुपए महीने में बिजली मिलेगी। प्रमुख पति मझिआंव प्रखंड बीमारियां-लक्षण एवं उपाय बर्बाद होता खजाना सौभाग्य योजना – सहज बिजली हर घर योजना उत्तर प्रदेश मुफ्त बिजली कनेक्शन » पसंद की बिजली कंपनी चुन सकेंगे लोग! थाना प्रभारी, बालीडीह थाना -25 डिग्री सेल्सियस से 55 डिग्री सेल्सियस Mandsaur weather खन्ना यूपी: बिजली दरों में हुई बढ़ोतरी, शहरी और ग्रामीण दोनों उपभोक्ताओं को झटका माधव लाल सिंह india vs england 3rd test: टीम में शामिल हैं स्टोक्स लेकिन खेलना पक्का नहीं, जानिए क्यों Madhya PradeshHoshangabadBetulहजारमजदूरबिजली बिलमाफीसस्ताकनेक्शन सीएम योगी के मंत्री का बयान, 'मदरसों में राष्ट्रगान नहीं गाया जाएगा तो होगी कार्रवाई' Bihar Scheme Anil Tirkey|   | 2018-02-28 03:33:31.0 नवभारत टाइम्स | Updated:Dec 18, 2011, 06:05AM IST वजन: 750 ग्राम खूबसूरत और निखरी त्वचा पाएं अनार से पात्र तथा जिम्‍मेदारियॉं पकवान 201-400 यूनिट बिजली खपत पर अब 4.5 रुपए प्रति यूनिट के हिसाब से चुकाना होगा. अभी हर यूनिट पर 5.95 रुपए देने पड़ते हैं. 401 से 800 रुपए प्रति यूनिट खर्च करने पर 6.5 रुपए प्रति यूनिट देना होगा. अभी यह 7.30 रुपए है. 801 से 1200 रुपए यूनिट बिजली जलाने पर 7 रुपए प्रति यूनिट के हिसाब से बिजली बिल देना होगा. अभी यह 8.10 रुपए है. कुंभ श्री राम नवमी समारोह फॉर्म FIFA 2018 बाजार में उछाल, सेंसेक्स 100 और निफ्टी में 30 अंक.. Chandigarh 22 Views ड्यू डेट से पूर्व बिल पेमेंट पर 0.5% छूट RSS पूरे वर्ष का राजस्व संग्रह 8000 करोड़ पर पहुंचा : बिजली कंपनी के आकलन के अनुसार शनिवार को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष राजस्व संग्रह 8000 करोड़ तक पहुंच गया है। फरवरी तक यह 6700 करोड़ रुपए था और मार्च में देर शाम तक 1300 करोड़ रुपए के राजस्व संग्रह की रिपोर्ट मिल चुकी थी। जबकि पूर्व के वित्तीय वर्ष में बिजली कंपनी का राजस्व 5800 करोड़ रुपए था। बिजली कंपनी ने इस राशि में सरकार द्वारा उपभोक्ताओं को सब्सिडी मद में उपलब्ध कराए जाने वाली राशि नहीं जोड़ी है। यह राशि लगभग 3000 करोड़ रुपए है। Menu... टॉप न्यूज़ टावर तथा उपसाधन नौकरी की मारामारी के बीच देशभर में खाली पड़े हैं 24 लाख पद Anil Tirkey|   | 2018-02-28 03:33:31.0 More पंचतत्व में विलीन हुए अटल बिहारी वाजपेयी, बेटी ने दी मुखाग्नि प्रतीकात्मक तस्वीर नागेश्वर करमाली दीनदयाल योजना में करीब 96 करोड़ के कार्य लाइव सिटीज डेस्क (रंजन सिन्हा) : आज लाखों लोगों के दिल में बसने वाले रवि किशन का जन्मदिन है. वे आज भोजपुरी फिल्मों के महानायक है. यही नही हिंदी, दक्षिण भाषाई फिल्मों सहित अन्य भाषाई […] कंज्यूमर क्यों झेले 'एक्स्ट्रा' करंट? saubhagya yojna Share Facebook Twitter भाजयुमो प्रदेश कार्यसमिती सदस्य, झरिया ऑनलाइन भुगतान पर कुल बिल का एक फीसदी या अधिकतम 250 रुपये तक की छूट दी जायेगी.  फाइल फोटो: रॉयटर्स नियामक आयोग के सचिव पीएन सिंह ने कहा कि विद्युत वितरण कंपनी ने वर्ष 2018-19 के लिए औसत लागत 6.44 पैसा के मुताबिक 120 करोड़ की राजस्व कमी बताई थी। आयोग ने परीक्षण के बाद राजस्व कमी के स्थान पर 531 करोड़ रुपये के अधिक राजस्व की गणना को मान्य किया। आयोग ने बिजली कंपनी की मांग 6.44 पैसे की जगह 6.20 पैसे की दर को मान्य किया है। Contact us: [email protected] अमेठी किसान महापंचायत का गांव बंद आंदोलन, किसानों ने दी गिरफ्तारी, किसानों की कर्ज माफी की मांग कैथल जोक्स रेडियो 601 यूनिट से अधिक- 7.45 - 7.35 अख्तर हाशमी महानगर टाइम्स - August 18, 2018 लोहरदगा आरामदेह और किफायती cricket1 day ago कोलकाता आज से इंडोनेशिया में एशियन खेलों का आगाजजकार्ता। राष्ट्रमंडल खेलों में मिली सफलता के बाद भारतीय खिलाड़ियों के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक राहुल पुरवार ने कहा कि झारखंड के सभी ठच्स् एवं ।च्स् परिवार के घरों तक बिजली दिसंबर तक पहुंचा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि संथाल परगना के सभी 6 जिले दुमका, देवघर, साहेबगंज, जामताड़ा, पाकुड़ एवं गोड्डा में से दुमका एवं देवघर जिला में सभी घरों तक जुलाई तक बिजली पहुंचा दी जाएगी तथा शेष बचे 4 जिलो साहेबगंज, जामताड़ा, पाकुड़ एवं गोड्डा के सभी घरो तक बिजली अक्टूबर महीने तक पहुंचा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि पूरे झारखंड में 500 सब स्टेशन बनाने का लक्ष्य है। जिनमें से 150 सब स्टेशन बनाया जा चुका है। बचे हुए लक्ष्य को बहुत जल्द पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पूरे झारखंड राज्य में 1.50 लाख ट्रांसफर्मर लगाना है जिनमें से 30 हजार ट्रांसफर्मर लगा दिया गया है। उन्होंने कहा कि अरबन ग्रामीण क्षेत्रों में रिंग सिस्टम को लगाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मार्च 2020 तक 15 प्रतिशत बिजली लॉस पर कामयाबी प्राप्त कर ली जाएगी । उन्होंने कहा कि आप सभी अपना बिजली बिल प्रज्ञा केंद्र के माध्यम से जमा कर सकते हैं, पूरे झारखंड में 4000 प्रज्ञा केंद्र है, जिनमें से 2000 प्रज्ञा केंद्र एक्टिव मोड में कार्य कर रही है। बचे हुए प्रज्ञा केंद्र को भी बहुत जल्दी एक्टिव मोड में लाने की दिशा में कार्य चल रही है। इस प्रज्ञा केंद्र के माध्यम से आप सभी अपना बिजली बिल आसानी से जमा कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि कंज्यूमर को शिकायत दर्ज करने में परेशानी होती था जिसे ध्यान में रखते हुए सरकार ने कंज्यूमर कॉल सेंटर की स्थापना की। इस कंज्यूमर कॉल सेंटर के माध्यम से आप अपनी शिकायत दर्ज कर पाएंगे। सोशल मीडिया के माध्यम से भी आप अपनी शिकायत दर्ज करने में किसी प्रकार की परेशानी नही होगी। इस प्रकार की प्रक्रिया हम लोगों ने बनाए हैं अब कंज्यूमर को अपने शिकायत दर्ज करने में किसी प्रकार की परेशानी नहीं होगा । औद्योगिक © 2018 Deutsche Welle | डाटा सुरक्षा | लीगल नोटिस | संपर्क करें | मोबाइल वर्जन REGISTER SIGN IN सूत न कपास, जुलाहों में लट्ठम लट्ठा . . . posted on August 18, 2018 0 replies 1 retweet 0 likes   भूजल को रोकने तथा इसका अधिकतम उपयोग करने हेतु एंव खेतों में पानी पहुचाने हेतु पक्की नाली एचडीपीई तथा पीवीसी पाइप लाईन हेतु ऋण 9 वर्ष की अवधि अनुग्रह अवधि 11 माह हेतु ऋण उपलब्ध। जवाब –  परियोजना का प्रस्ताव राज्य डिस्कॉम / ऊर्जा विभाग द्वारा तैयार किए जाएंगे और सचिव (विद्युत) की अध्यक्षता वाली अंतर-मंत्रिस्तरीय निगरानी समिति द्वारा अनुमोदित, भारत सरकार स्वीकृत परियोजनाओं के तहत विद्युतीकरण कार्य संबंधित डिस्कॉम / विद्युत विभाग द्वारा कार्यान्वित किया जाएगा। टर्नकी ठेकेदारों के माध्यम से या विभागीय रूप से या अन्य उपयुक्त एजेंसियों के माध्यम से मानदंडों के अनुसार यह काम करने में सक्षम हैं। Central Govt Schemes जाहिर है, चीनी सरकार की जनरल एंटी-बिटकॉइन रुख जारी रहती है, जिनकी रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन की बिटकॉइन खनन सुविधाओं की सबसे बड़ी पनबिजली बिजली जल्द ही अतीत की बात हो सकती है। स्थानीय मीडिया। Technology News एक्सक्लूसिव ‘भारत’ के सेट पर इस लग्जरी वैनिटी वैन का यूज कर… अब लोगों को चाहिए बड़ी कार, समझिए मारूति सुजुकी के इन आंकड़ों से शहरी शहरी घरेलू उपभोक्ताओं को अब 10 रुपये प्रति किलोवाट अधिक फिक्स चार्ज देने के साथ 45-50 पैसे प्रति यूनिट ज्यादा भुगतान करना पड़ेगा। राज्य विद्युत नियामक आयोग ने वर्ष 2017-18 के लिए 30 नवंबर को नई बिजली दरों का एलान किया था। सभी श्रेणियों में कुल मिलाकर औसतन 12.73 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है। अस्‍थायी कनेक्‍शन के लिए 34.75 प्रतिशत ज्यादा भुगतान करना होगा। वर्ल्ड बैंक के मुताबिक भारत में निष्क्रिय खातों की संख्या 48 फीसदी है जो कि पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा है. ये विकासशील देशों के औसत आंकड़े 25 फीसदी से लगभग दोगुना है. बीएसईएस के प्रवक्ता ने कहा, सभी ग्राहकों को Paytm की वेबसाइट और ऐप के जरिए आखिरी तारीख से 7 दिन पहले बिजली बिल जमा करने पर 200 रुपए का कैशबैक मिल सकता है। 200 रुपए की नकदी वापस पाने के लिए उन्हें कूपन कोड बीएसईएस200 का उपयोग कर बिजली बिल भुगतान विकल्प पर क्लिक करना होगा, जबकि 150 रुपए नकदी वापस पाने के लिए बीएसईएस150 कूपन कोड पर क्लिक कर बिल का भुगतान करना होगा। संबंधि‍त ख़बरें Wishes झाविमो जिला अध्यक्ष इंस्पेक्टर ताजगंज और टोरंट अधिकारी पहुंच गए। ग्रामीण मुआवजे को लेकर हंगामा करते रहे। शाम पांच बजे समझौता होने पर शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा सका।  उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने प्रेस वार्ता कर यह जानकारी देते हुए दावा किया कि देश में सबसे सस्ती बिजली दिल्ली में है। उन्होंने कहा कि सरकार आम आदमी पार्टी के चुनावी वायदे के मुताबिक सबसिडी को जारी रखेगी। बता दें कि घरेलू उपभोक्ताओं को 1 से 200 यूनिट तक बिजली खर्च करने पर 2 रुपए प्रति यूनिट कीमत चुकानी होगी। स्टेट पूरे संयंत्र का इस बीच परीक्षण हो चुका है. शोध करने वालों का कहना है कि वह काम करता है. रिसर्चर आंद्रेयास हासेलबाखर बताते हैं, "हमने हीट स्टोरेज टैंक को अच्छी तरह टेस्ट किया है, साथ ही गुफा के आइसोलेशन और पूरे संयंत्र के काम करने की प्रक्रिया को भी. इससे हमें भरोसा हुआ है कि यह तकनीकी रूप से संभव है." अब अगला कदम है एक सैंपल संयंत्र का निर्माण, जो इस आइडिया के व्यावसायिक फायदे को भी दिखा सके. यूरोप में बिजली की कीमत बढ़ने पर ये मॉडल फायदेमंद हो सकता है. सोनीपत मुखिया कांडतरि पंचायत, बड़कागांव बीईआरसी के अध्यक्ष एस के नेगी ने सोमवार यहां संवाददाताओं को बताया कि आयोग ने वित्तीय वर्ष 2016-17 में इन दोनों कंपनियों की बिजली दर में वृद्धि करना उचित नहीं समझा। उन्होंने कहा कि आयोग ने जांच के बाद 2015-16 में इन दोनों कंपनियों की राजस्व आवश्यकता में 902.92 करोड़ रुपए की कमी (गैप) पाई जिसमें कैरिंग कास्ट को जोडे जाने के बाद वित्तीय वर्ष 2015-16 का सरप्लस 1916 करोड़ रुपए आया। इस सरप्लस की समीक्षा सत्यापित वार्षिक लेखा के आधार पर नहीं है इसलिए आयोग ने वर्ष 2016-17 के राजस्व आवश्यकता में इसे सम्मिलित करना उचित नहीं समझा। मेरे पास सस्ता बिजली - ऊर्जा आपूर्तिकर्ता मेरे पास सस्ता बिजली - उपयोगिता मूल्य मेरे पास सस्ता बिजली - सर्वश्रेष्ठ विद्युत मूल्य
Legal | Sitemap