महाराष्ट्र के लोगों को बिजली दर में बढ़ोतरी का झटका अगली कहानी ग्रामीण विद्युतीकरण POPULAR NEWS THIS WEEK अजमेर जिला परिषद में आयोजित हुई स्वच्छता पर कार्यशाला योगी आदित्यनाथ कोर्पोरेट फिल्म डाक बम सेवा समिति, अध्यक्ष 9 दिसंबर 2017 Dharmender Chaudhary [Updated:28 Jan 2016, 4:59 PM IST] स्विट्जरलैंड के दक्षिण में स्थित टेसिन के दो रिसर्चरों ने बिजली जमा करने की नई तकनीक निकाली है. एक बंद पड़ी सुरंग में इन रिसर्चरों ने एक कंप्रेस्ड एयर स्टोरेज बनाया है. पहाड़ों की गहराई में यहां ऊर्जा को हवा के रूप में कंप्रेस कर जमा किया जा सकता है. रिसर्चर गिव जंगानेह बताते हैं, "हमने जो आइडिया डेवलप किया है उसमें एक प्रेसर केव (दबाव वाली गुफा) की जरूरत पड़ती है और वह जरूरत यहां पूरी हुई. यह बहुत ही अच्छा समाधान था कि पहाड़ को प्रेसर केव के रूप में इस्तेमाल किया जाए और यहां सारी ऊर्जा जमा की जाए." July 11, 2018 Gujarati Videos उत्‍तराखंड में 'सौभाग्य' योजना लॉन्च, 10400 घरों की चमकेगी किस्‍मत रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने किया औंडि़हार-भटनी खण्ड के दोहरीकरण और विद्युतीकरण का शिलान्यास Math question 1 + 12 = श्री रुप नारायण झा ने कहा कि विद्य्नुत विभाग यदि अपनी लाइन लॉस को रोक लेते हैं तो विधुत दर नहीं बढाना पड़ेगा। ।ठ स्विच को बढ़ाने की अवश्यकता है। दुमका के चेंबर ऑफ कॉमर्स के पूर्व अध्यक्ष श्री सियाराम घड़िया ने कहा कि विभाग की कमी से विद्य्नुत दर बढ़ रही है, इस पर ध्यान देने की जरुरत है। विद्य्नुत की लॉस कम करने की जरुरत है। 12.50 लाख मीटर लगाने की शुरुआत बहुत अच्छी पहल है। इससे विद्य्नुत लॉस का पता चल पाएगा। जानिए ऐसा क्या करेंगे कि मिलेगा सस्ती ब्याज दर पर लोन वित्त और कर Health टेबलेट्स 433 Views up next Get Personalised Newsletters Jump to navigationJump to search ई रामेश्वर साह Groups कश्मीर को मिली शीशे से बनी विशेष ट्रेन, और मनोरम होगा वादियों का नजारा Thanks. Twitter will use this to make your timeline better. Undo #अलविदा अटल #INDvENG #रेलवे भर्ती #अनोखी #नंदन तमिलनाडु के थेनी, मदुरै में बाढ़ का अलर्ट: 8,410 लोग राहत शिविरों में IAS टॉपर टीना डाबी का हसबैंड संग 'लुंगी डांस', बिग बी के गाने पर लगाए ... सब्सक्राइब करें न्यूज़कोड का डेली न्यूज़लेटर इमरान के शपथ ग्रहण समारोह में सबसे 'ताकतवर' शख्स ने सिद्धू का किया स्वागत Timeline Sport मारपीट के आरोपी दिग्विजय सिंह ने सौंपे सभी सरकारी हथियार Offices : गढ़वाल घ) शारीरिक छेड़छाड़ स्विच शहरी उपभोक्ता घरेलू दो  प्रीलिम्स फैक्ट्स 1- नवकूपडगवैल/डगकमबोरवैल/केविटिपाइप बोरवैल योजना.. बाजार में तेजी, सैंसेक्स 284 अंक चढ़ा और निफ्टी 11470 के पार बंद Punjab Kesari संचार प्रतिनिधि कल्याण सहायता नियम फ़ोटो गैलरी ************************************************************************************ इस रिपोर्ट को अंग्रेज़ी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें. शर्मनाक : स्कूल में छात्रा से गैंगरेप 18 के खिलाफ… खबरें एक झलक में खबरें गैर घरेलू उपभोक्ता केन्द्र सरकार द्वारा बैटरी सहित 200 से 300 वाट क्षमता का सोलर पावर पैक दिया जाएगा, जिसमें हर घर को 5 एलईडी बल्ब, एक पंखा भी शामिल है। जॉब न्‍यूज इब्ने सफी: खटक रहा था जिसके दिल में एक गुलाब का जख्म Article साइट मैप VIDEO: आरएएस भर्ती के चयनित अभ्यर्थियों ने दिया धरना, नियुक्ति देने की मांग विभाग सेल्फ हेल्प सिंह ने कहा कि जलाशयों में सौर परियोजनाएं लगाने के लिये अधिकारियों की एक टीम भाखड़ा नांगल गयी ताकि यह पता लगाया जा सके कि वहां कितनी क्षमता की परियोजनाएं लगायी जा सकती है. अपतटीय क्षेत्र में सर्वे का काम जारी है. ‘‘ इन सब उपायों से हम 2022 तक अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में लक्ष्य से अधिक 2,00,000 मेगावाट क्षमता सृजित करने की उम्मीद कर रहे हैं.’’ उल्लेखनीय है कि सरकार ने 2022 तक अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में 1,75,000 मेगावाट बिजली उत्पादन का लक्ष्य रखा है. Web Title: अमेरिकी कंपनी देगी भारत को सस्ती सोलर पावर सैमसंग गैलेक्सी जे 8 2018 32जीबी (ब्लैक, 4 जीबी रैम) धनबाद : प्रेस क्लब में मिले 21 रसेल वाइपर सांप, इनका काटा पानी भी नहीं... फ़ीडबैक हजारीबाग : बुढ़वा महादेव विकास सह शांति समिति व श्रावणी... Primary Menu सिनेमा © 2009-2018 Independent News Service. All rights reserved. अन्‍य राज्‍य प्रबंधन सोलर रुफटाप को सरकार दे रही है बढ़ावा बाजार में गिरावट, सेंसेक्स 184 अंक गिरा और निफ्टी.. वहीं, शहरों इलाकों में 150 से 300 यूनिट तक 5.40 रुपए और 500 यूनिट से ज्यादा इस्तेमाल पर 5.5 पैसे प्रति यूनिट की दर से भुगतान करना होगा. बिजली की कीमतों को लेकर विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार पर सवाल किए हैं. उन्होंने कहा कि दिल्ली की केजरीवाल सरकार बिजली कंपनियों का प्रवक्ता बनकर बात कर रही है. वह बताए कि बिजली कंपनियों ने पिछले 6-7 महीनों में ऐसे कौन से बुनियादि बदलाव किए हैं जिसके चलते सरकार जनता से निजी बिजली कंपनियों को स्थाई शुल्क के रूप में भारी राशि दिला रही है. सस्ते विद्युत आपूर्ति - मुफ्त बिजली सस्ते विद्युत आपूर्ति - बिजली की कीमत सस्ते विद्युत आपूर्ति - नवीकरणीय ऊर्जा
Legal | Sitemap