अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत अभी भी नाजुक समेत 5 बड़ी खबरें आरटीएल, कोलकत्ता प्रमुख संवाददाता, लखनऊ जब अटलजी ने लता मंगेशकर के अस्पताल का उद्घाटन करने से कर दिया था इनकार 6 mins A Contrast Most Popular अस्त हुआ अटल सितारा Information Resources हिमाचल की पहाड़ियों में सबसे ऊंची चोटी पर स्थित है काली मां का मंदिर,... घाटशिला ज़िला परिसद सदस्य लोहरदगा कैथल CIN: U74140DL2015NPL285224 SHIMLA WOMEN ACCIDENT ताजा खबरें डी०ई०ओ० पोर्टल मछली पालन रीजनल शो गोपाल सिंह BEL, बेंगलुरु में 147 पद धालभूमगढ़ अंश की जिला परिसद सदस्य इस तरह के बदलाव चीन की सरकार से व्यापक भावना को प्रतिबिंबित करेंगे, क्योंकि क्रिप्टोकाउंक्ल्यूज तेजी से बढ़ती विनियमन के साथ मिल रहे हैं < हालांकि कहानी अभी तक पुष्टि नहीं की गई है, रुचि रखने वाले पाठकों को जारी रखने के लिए जारी रखने के लिए कॉनटेलेग्राफ़ में रहना चाहिए। सराफा Health सोनिया के खिलाफ लेख पर जब अटल ने दी नसीहत पीसीबी यों का नियंत्रण विनियम योजना घरेलू उपभोक्ताओं के लिए ही है वो भी घरेलू फ्रीज, बल्ब, टीवी, पंखे के लिए हैं। एसी, हीटर योजना में ग्राहक नहीं चला सकेंगे। यदि ऐसा किया गया तो ग्राहक बिजली कनेक्शन के दायरे से बाहर हो जाएंगे और वे सरल बिल योजना का लाभ नहीं ले पाएंगे। वहीं यदि यूनिट खर्च भी सौ से ज्यादा आया तो सौ यूनिट के ऊपर के सारे खर्च का भुगतान भी बिजली ग्राहकों की ओर से किया जाएगा, यानि सात सौ के कुल बिल के बाद की पूरी रकम ग्राहकों से वसूल की जाएगी। 12-Sep-16 02:55 हजारीबाग उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के एक प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया  पावर टैरिफ सब्सिडी प्रदान करने की यह योजना 15 अगस्त, 2015 से प्रभावी होगी तथा 5 वर्ष तक की अवधि के लिए जारी रहेगी। हमें खेद हैं कि आप opt-out कर चुके हैं। आईएफएस एक तरफ घरेलू उपभोक्ताओं के लिए बिजली के दाम बढ़ाए गए हैं, वहीं पीथमपुर सेज के उद्योगों को इससे राहत दी गई है। सेज के उद्योगों को लगातार तीन साल से केवल 3 रुपए 35 पैसे प्रति यूनिट की दर से बिजली मिल रही है जो जारी रहेगी। कांग्रेस बिजली की दरें बढ़ाने का लगातार विरोध कर रही है। MEDIA ROOM Get instant insight into what people are talking about now. पासपोर्ट बनवाना हुआ आसान, जानिए नए नियम बंद करे 19 Views ग्वालियर. 25 अप्रैल 2017 को बिजली कंपनी के मुख्य महाप्रबंधक के ऑफिस में जहर खाकर जान देने वाले बिजली ठेकेदार रवींद्र सिंह जादौन की हर बात सच थी. वे खुद 9 साल बिजली कंपनी से अपने किए गए काम का पौने चार लाख रुपए मांगते रहे. सीएम से लेकर हर बिजली अधिकारी से शिकायत की लेकिन किसी ने नहीं सुनी. जब वे पूरी तरह टूट गए तो जान दे दी. अब मजिस्ट्रियल जांच रिपोर्ट में ठेकेदार के काम को होना पाया गया है और एडीएम शिवराज वर्मा ने बिजली कंपनी के मुख्य महाप्रबंधक को ठेकेदार के कार्य का पैसा तत्काल जारी करने के आदेश भी दे दिए हैं. 10 साल के इंतजार के बाद अब परिवार को भुगतान के आदेश मिले हैं. एबीवीपी और एनएसयूआई ने कॉलेज मेंं एक साथ किया प्रदर्शन, दर्जनभर हिरासत में Sitemap VIDEO: पार्टी कार्यकर्ताओं ने वाजपेयी जी के दिखाए रास्ते पर चलने का किया आह्वान होमगार्ड जवानों का दैनिक वेतन बढ़ेगा, हटाए गए 3000 होमगार्ड जवानों को फिर से काम पर लिया जाएगा Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें नया- ताजा false उपलब्‍ध उपस्‍कर Recommended Videos TRENDING VIDEOS Read More: 8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल इस तरह के बदलाव चीन की सरकार से व्यापक भावना को प्रतिबिंबित करेंगे, क्योंकि क्रिप्टोकाउंक्ल्यूज तेजी से बढ़ती विनियमन के साथ मिल रहे हैं < हालांकि कहानी अभी तक पुष्टि नहीं की गई है, रुचि रखने वाले पाठकों को जारी रखने के लिए जारी रखने के लिए कॉनटेलेग्राफ़ में रहना चाहिए। बीएनपी परिबास ग्राहक आचरण 'लाइव' ब्लॉकचैन पेमेंट्स Edited By IPL 2018 अपनी राय दें कक्षा कार्यक्रम June 14, 2018 गुफा में बिजली 20.02.2018 कला और संस्कृति नरेंद्र मोदी डाइट-फिटनेस अवकाश पंचांग Complaint Redressal Cashback on offer price: 850 # Maharashtra Band# Akhilesh Yadav# Kanwar Yatra 2018# Maharashtra Band Today# Dawood Ibrahim# Rains in Mumbai# Delhi Samachar# Gujarat News# Hindi Samachar# Burari Case Delhipower rateDelhi Electricity RateDERCदिल्ली About तिवारी ने ये भी आरोप लगाया कि दिल्ली सरकार बवाना और अन्य गैस टर्बाइन से जुड़े बिजली उत्पादन पर भी ध्यान नहीं दे पा रही है. केजरीवाल सरकार "कोयले की भारी और जल्द ही दिल्ली में बिजली की किल्लत" की कहानी रच रही है. बीते तीन सालों के दौरान केजरीवाल सरकार ने सब्सिडी के तौर पर निजी बिजली कंपनियों के खजाने भरे हैं. अब उनके ही कहने पर ये प्रचार किया जा रहा है कि दिल्ली में ताप विद्युत का उत्पादन घट रहा है. ताकि निजी बिजली कंपनियों को नेशनल ग्रिड से सस्ती बिजली खरीदने में मदद मिले और उनका प्रॉफिट बढ़ जाए.    रंग-बिरंगी लाइटों और फूलों से सजा प्रियंका का बंगला, हिंदू रीति रिवाज से आज होगी सगाई! संधारित्र केरल बाढ़: खराब मौसम के चलते नहीं हो पाया पीएम का हवाई सर्वे, 500 करोड़ रूपये अंतरिम राहत की घोषणा Oops! That page can’t be found. हाल में हुए परिवर्तन सुझाव योजनाएं : ‘गोठ एप’ पर जानिए, मिनीमाता योजना ने कैसे बदली युवाओं की आर्थिक स्थिति Copyright © 2018 Naidunia. बैतूल |  भोपाल |  इन्दौर |  जबलपुर |  ग्वालियर |  विदिशा |  भिण्ड |  मुरैना |  शिवपुरी |  टीकमगढ |  अनुपपुर |  श्योपुर |  दतिया |  छतरपुर |  पन्ना |  सागर |  दमोह |  सतना |  रीवा |  उमरिया |  नीमच |  मंदसौर |  रतलाम |  उज्जैन |  शाजापुर |  देवास |  धार |  खरगोन |  बडवानी |  राजगढ |  सीहोर |  रायसेन |  हरदा |  होशंगाबाद |  कटनी |  नरसिंहपुर |  डिंडौरी |  मण्डला |  छिन्दवाडा |  सिवनी |  बालाघाट |  गुना |  अशोक नगर |  शहडोल |  सीधी |  सिंगरौली |  झाबुआ |  अलीराजपुर |  खण्डवा |  बुरहानपुर |  आगर मालवा  |  आवेदन: स्थानीय प्रीपेमेंट / एएमआर एएमआई Pradhan Mantri Awas Yojana Online Application Forms 2018 (प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करें) जन समूह उत्तर प्रदेश की कानपुर बिजली आपूर्ति कंपनी ने सालभर में अपनी स्थिति सुधार ली है। ताजा रैंकिंग में यह कंपनी 24वें नंबर पर है, जबकि सालभर पहले यह 31वें पायदान पर थी। उत्तर प्रदेश की बाकी तीनों वितरण कंपनियां सीएसपीडीसीएल से नीचे हैं। वहीं, बिहार दोनों कंपनियों नार्थ और साउथ की स्थिति यहां से ठीक है। नार्थ कंपनी ने अपना 17वां रैंक बरकरार रखा है, साउथ बिहार वितरण कंपनी 21 से 30 स्थान पर चली गई है। बिजनेस विज्डम उत्पाद का नाम: एकल चरण स्मार्ट इलेक्ट्रिक मल्टी फंक्शन मीटर श्रीदेवी के बर्थडे पर जाह्नवी ने बचपन की फोटो शेयर कर मां को किया याद Sports News मायावती का बीजेपी पर जोरदार हमला, कहा बीजेपी को सिर्फ धन्नासेठों की ही परवाह ग्रहों को जाने Offer period 11th - 18th August, 2018 गोपाल सिंह ऑफलाइन VIDEO: बीजेपी पर बरसीं महबूबा मुफ्ती, लगाया ये बड़ा आरोप परिवहन हिन्दी उज्जैन सवाईमाधोपुर साहब कुछ नज़र कोम्मेरसीयल मीटर पे भी दे। वेयपरी दो नो तरफ़ से मर रहा हे जवाब –  हाँ गरीब परिवारों को बिजली कनेक्शन मुफ्त में प्रदान किया जाएगा। अन्य घरों को भी 500 रुपये का भुगतान करने पर योजना के तहत बिजली कनेक्शन प्रदान किया जाएगा जो की बिजली बिलों के साथ दस (10) किश्तों में डिस्कॉम / बिजली विभाग द्वारा वसूल किया जाएगा। June 13, 2018 July 31, 2018 This timeline is where you’ll spend most of your time, getting instant updates about what matters to you. www.bhaskar.com मुख्यमंत्री के 15 अगस्त संदेश के प्रमुख बिन्दु 16/08/2018 कैनेडियन एक्सचेंज कैविर्टएक्स कनाडा भर में बिटकॉइन एटीएम लॉन्च करने के लिए मध्य प्रदेश शासन ऊर्जा लागत की तुलना करें - इलेक्ट्रिक यूटिलिटी कंपनी ऊर्जा लागत की तुलना करें - बिजनेस बिजली की कीमतों की तुलना करें ऊर्जा लागत की तुलना करें - इलेक्ट्रिक कंपनी आज बदलें
Legal | Sitemap