फ़ाइल अपलोड करें Team Join the conversation Page Not Found 404 Error सरकारी डिफॉल्टरों के लिए बिजली विभाग की सरचार्ज माफी योजना २. उपभोक्ता के मूल व सरचार्ज दोनों माफ होंगे। पश्चिमी चंपारण राजकीय सम्मान के साथ पंचतत्व में विलीन हुए अटल बिहारी वाजपेयी Latest News औसतन 12.73 प्रतिशत बढ़ी हैं बिजली की दरें प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना सौभाग्य योजना सलमान खान की लग्जीरियस वैनिटी वैन में है मेकअप और स्टडी रूम, भारत के प्रोड्यूसर ने शेयर किए फोटो 47 mins गुलज़ार...आधी सदी से जो ताज़ादम है आग की घटनाओं के चलते दक्षिण कोरिया में BMW कारों पर प्रतिबंध डीईआरसी ने बताया कि बीएसईएस की दोनों कंपनी यमुना और राजधानी ने इस पीरियड में 4354 लाख 65 हजार यूनिट बिजली खरीदी। 75 फीसदी से अधिक बिजली 2.42 रुपये प्रति यूनिट से लेकर 4.50 रुपये प्रति यूनिट के बीच खरीदी गई। इस बिजली को 3.90 रुपये प्रति यूनिट से लेकर 7.90 रुपये प्रति यूनिट तक बेचा गया। फेडरेशन का आरोप है कि इससे साफ जाहिर होता है कि बिजली कंपनियां मोटा मुनाफा कमा रही हैं और लॉस का हवाला देकर बिजली की दरों को बढ़वाने के लि एडीईआरसी पर दबाव बनाती हैं। Daily Updates 07-Apr-16 09:40 फिट @AamAadmiParty सिर्फ मीटर के पैसे देकर मिले बिजली कनेक्शन: उपभोक्ता परिषद अर्थव्यवस्था # Coal Company अग्रसक्रिय प्रकटन कीवर्ड बिजली, पहाड़, गुफा, हवा Web Title electricity departments surcharge apology scheme for government defaulter Bengali বাংলা बैडरूम को बनाना हैं रोमांटिक तो इस कलर करें यूज Monday 13 August , 2018 Samastipur 15 अगस्त से पहले दिल्ली में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम पर ग्राउंड रिपोर्ट © Copyright 2017 NewsCode - All Rights Reserved. Jammu And Kashmir News सांख्यिकी एवं मानचित्र आयकर संग्रह 2017-18 में रिकॉर्ड 10.03 लाख करोड़ रुपए, रिटर्न की संख्‍या में 1.3... Previous Previous post: आधार को लेकर UIDAI जल्‍द जारी करेगी क्‍या करें-क्‍या न करें की लिस्‍ट, ट्राई चीफ के चैलेंज के बाद उठाया कदम साइंस संगीता मेहता, मुंबई By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 11 2018 6:03PM सरकारी योजनाओं के बारे में अंग्रेजी में पढ़ें  बीबीसी Entertainment Promote this Tweet सिंह It looks like nothing was found at this location. Maybe try one of the links below or a search? भागलपुर के पीरपैंती व लखीसराय के कजरा में 1320-1320 मेगावाट का थर्मल पावर प्लांट लगना था लेकिन अब राज्य सरकार ने दोनों जगहों पर सोलर पावर प्लांट लगाने का निर्णय लिया है.राज्य कैबिनेट ने इसे मंजूरी भी दे दी है. दोनों जगहों पर ढाई-ढाई सौ मेगावाट का सोलर पावर प्लांट लगना है.  मुजफ्फरपुर टेक गाइड Terms and Conditions Copyright © 2018 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved. कार्यपालक दंडाधिकारी, बेरमो, तेनुघाट बिजनेस न्यूज़ LATEST NEWS ITR फाइलिंग में फिर किया गया बदलाव बिहार विद्युत विनियामक आयोग ने एक अप्रैल से पांच फीसदी महंगी बिजली दर का फैसला सुनाया है। केवल एक श्रेणी बड़े उद्योग में यह वृद्धि दर 9.92 फीसदी है। बिजली कंपनी ने 44 फीसदी बिजली दर बढ़ाने का प्रस्ताव दिया था। आयोग के इस फैसले के बाद राज्य सरकार ने बिजली दर की समीक्षा कर अनुदान देने की बात कही है।  उन्होंने बताया कि आवेदक इस योजना की अधिसूचना की तिथि से 15 अगस्त, 2015 तक की अवधि की प्रतिपूर्ति के लिए इस योजना की अधिसूचना जारी होने की तिथि से छ: महीनों के भीतर दावा आवेदन जमा करा सकते हैं। हालांकि, आवेदक को वित्तीय वर्ष की तिमाही समाप्त होने के बाद छ: महीनों केभीतर प्रत्येक तिमाही के लिए दावे प्रस्तुत करने होंगे। अन्यथा आवेदक की पावर टैरिफ सब्सिडी की पात्रता समाप्त हो जाएगी। Business Himachal News in Hindi संतोष मंडल Українська мова लोकायुक्त ने बिजली कंपनी के जेई के खिलाफ पेश किया चालान विभाग के बारे में त्रुटि 404 सेनिटेशन 5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र शनिवार, 18 अगस्त 2018 इसलिए योजना को सभी पहलुओं के बारे में लोगों को जागरूक बनाने के लिए व्यापक मल्टी-मीडिया अभियान चलाया जाएगा। बिजली विभाग के साथ-साथ सौभाग्य योजना के बारे में जागरुकता पैदा करने के लिए डिस्कॉम के अधिकारियों ने ग्रामीण इलाकों में शिविरों का आयोजन भी किया था। जागरूकता अभियान में स्कूल शिक्षक, ग्राम पंचायत सदस्य, स्थानीय साक्षर / शिक्षित युवा भी शामिल होंगे। झाविमो जिला अध्यक्ष दुनिया Have an account? Log in Lakhisarai छत्तीसगढ़ पी.सी.एस. नैनीताल समाचार, 21 जनवरी 2011 उन्होंने बताया कि स्वैच्छिक भार वृद्धि घोषणा के तहत कृषि उपभोक्ता एक वर्ष से अधिक अवधि के कृषि कनेक्शनों कोे बिना पैनल्टी के मात्र 30 रुपए प्रति हार्स पावर धरोहर राशि (15 रुपए प्रति हार्स पावर प्रति माह की दर से दो माह के लिए) जमा करवा कर भार को नियमित करवा सकते है और जिन उपभोक्ताओं के कनेक्शन को एक वर्ष नहीं हुआ है उनको बढ़े हुए भार पर धरोहर राशि के अतिरिक्त कृषि नीति के अनुसार नियमितिकरण शुल्क भी जमा कराना होगा। उन्होंने बताया कि वीसीआर निस्तारण की विशेष योजना अब 31 दिसम्बर 2017 तक की लम्बित वीसीआर पर भी लागू होगी। पूर्व में यह योजना 30 जून 2016 तक लम्बित वीसीआर के निस्तारण के लिए ही लागू थी। इस सरल व विशेष योजना के तहत 50 हजार रुपए तक की वीसीआर राशि पर 50 प्रतिशत एवं वीसीआर की राशि 50 हजार रुपए से अधिक होने पर 50 हजार रुपए का 50 प्रतिशत व 50 हजार से अधिक राशि पर 10 प्रतिशत राशि जमा करवाकर वीसीआर का आगामी 30 जून तक अंतिम निस्तारण करवाया जा सकता है। 12वीं योजना (उप ग्रुप 6 – अनु व वि) के लिए विद्युत पर कार्यकारी ग्रुप स्‍पेशल घरेलू बिजली की दरें एक से डेढ़ रुपये प्रति यूनिट कम की गईं सेनिटेशन MLA Tilak Nagar, Volunteer Aap, Chairman of DDC(W), Member of SDMC, Chairman of GGS Hospital, VP AAP Delhi, Co Convener Aap Overseas, Chairman WAPTEMA, Business Copy link to Tweet 2018 Ind vs Eng Test Series: तो क्या अभी भी बल्लेबाजों से नाराज हैं कोच रवि शास्त्री! Saharsa Marketplace Parental Guidance Tweet On Twitter Shayari ग्वालियर दिनेश सिंह होम  » समाचार  » कारोबार  » जानिए ऐसा क्या करेंगे कि मिलेगा सस्ती ब्याज दर पर लोन Replying to @JarnailSinghAAP @AAPDelhi and 2 others March, 2016 हायर सर्विसेज़ (प्रवर) फंसी बिजली परियोजनाओं पर सरकार का नया प्लान, ऐसे निकालेगा मुश्किलों का हल VIDEO: पर्वतीय किसानों को हाईकोर्ट से तोहफ़ा, नॉन ज़ेड-ए ज़मीन पर मिलेगा हक शहीदों के परिवारों के लिए हमेशा हीरो ही रहेंगे वाजपेयी शौरभ कुमार सिंह जवाब –  सभी परिवारों के लिए बिजली कनेक्शन उनके घर के निकटतम बिजली के पोल से एक सर्विस केबल के द्वारा दिया जाएगा,बिजली का मीटर लगाया जाएगा,वायरिंग के माध्यम से उजाला करने के लिए एक एलईडी बल्ब के साथ एक मोबाइल चार्जिंग सॉकेट बिजली कनेक्शन के साथ जारी किया जाएगा। अगर सर्विस केबल जोड़ने के लिए घर के नजदीक पोल नहीं है तो कनेक्शन प्रदान करने के लिए अतिरिक्त पोल और सर्विस केबल की व्यवस्था भी सरकार ही करेगी। Guides विदेश यात्राः खर्च में मोदी से कम नहीं मनमोहन मुख्य परीक्षा अभ्यास प्रश्न यादों में अमर 'अटल कहानी' 4- डीजल/विद्युत पम्प सैट योजना.. 97 भारत में एचवीडीसी सिस्टम बीते सालों में बिजली उत्पादन में हुई वृद्धि (स्रोत: CEA) Jarnail SinghVerified account छठा सवाल –  वितरण क्षेत्र में, दो प्रमुख योजनाएं; ग्रामीण क्षेत्रों DDUGJY और शहरी क्षेत्रों में IPDS योजना पहले से ही चल रही है-तो इस फिर नई योजना की आवश्यकता क्या है? पांचवां सवाल –  भारत सरकार का पहले का कार्यक्रम ’24×7 पावर फॉर ऑल’ के समान ही उद्देश्य है। यह कैसे इस कार्यक्रम से अलग है? Menu... Madhya PradeshHoshangabadBetulहजारमजदूरबिजली बिलमाफीसस्ताकनेक्शन Epaper हिसार में सिख परिवार पर हमला, पुलिस ने दर्ज की FIR Sport फोटो गैलरी Preview IAS टॉपर टीना डाबी का हसबैंड संग 'लुंगी डांस', बिग बी के गाने पर लगाए ... Accessibility Help अमेरिका: इंग्लिश टीचर ने 2500 महिला कैदियों को कविता लिखना सिखाया ताकि उनका आत्मविश्वास बढ़े 19 mins By Prabhat Khabar | Updated Date: Apr 1 2017 9:07AM 3:07 AM - 4 Jun 2018 from New Delhi, India नेवीगेशन सिस्टम लोडिंग चार्ज खत्म करने की मांग लंबे समय से हो रही थी। यह मामला आयोग द्वारा टैरिफ सरलीकरण कमेटी के समक्ष भी रखा गया और समिति ने इसे खत्म करने की सिफारिश भी की थी। पिछले दिनों आयोग ने इसे समाप्त करने के संकेत दिए थे।  जुलाई 25, 2018 Razia Ansari BIHAR, आपका प्रदेश, ट्रेंडिंग 0 2006 —  26.33 प्रतिशत रांची : जनहित में बिजली दर कम करें, नहीं तो होगा जन-आंदोलन- सुबोध कांत सहाय  उदयपुर 2017-18 में इनकम टैक्स कलेक्शन रहा 10.03 लाख करोड़ रुपए: आयकर विभाग Issue Title * : जारी परामर्श - डीएसडी लोकप्रिय ख़बर मनोरंजन सिंह मंजू देवी पाइए पंजाब-हरियाणा समाचार(Punjab And Haryana News In Hindi)सबसे पहले नवभारत टाइम्स पर। नवभारत टाइम्स से हिंदी समाचार (Hindi News) अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App और रहें हर खबर से अपडेट। Remove Rick Francis, Ronnie Hammonds, Christopher Huckabee, Mickey Long & John Steinmetz क्राइम रिपोर्ट Web Title: सबसे बड़ी बिजली कंपनी शुरू करेगी भारत में न्‍यूक्लियर पावर प्रोग्राम पॉलीक्लोरीनेटेड बाइफिनाइल ( पीसीबी) Français राज्य सरकार की नीति में उल्लेख नहीं था कि योजनाओं को नदियों का पानी प्रयोग करने के बाद कितना नीचे की धारा में छोड़ना चाहिए। पानी सुरंगों में डालने तथा प्रयोग करने के बाद नीचे नदी की पुरानी घाटी में बहाव कितना रहेगा ? पाँच योजनाओं की जाँच करने के बाद देखा गया कि नदियों की सुरंगों के समाप्त होने के बाद निचले भागों में पानी नहीं था और वे बिलकुल सूखे पड़े थे। कहीं कुछ बूदें रिसती दिखाई दे रही थीं। जो वातावरण को बनाए रखने लायक नहीं थी। नदियों से रिसकर जो पानी भूमितल में जमा होता था वह भी समाप्ति पर था। बिना सोचे-समझे राज्य सरकार नदियों पर जो अंधाधुंध जल-विद्युत योजनाएं बना रही थी उनका मिला-जुला नतीजा वातावरण के लिए घातक था। अभी 42 जल-विद्युत परियोजनाएं कार्य कर रही थीं, 203 और या तो बन रही थीं या तैयारी में थी। बहुत सारी अन्य विचाराधीन थी। विवो वी 9 युथ 32जीबी (गोल्ड, 4 जीबी रैम) संबद्ध कार्यालय/स्वायत्त निकाय/सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रम/अनुसंधान एवं प्रशिक्षण संस्थान इत्यादि सर्वश्रेष्ठ विद्युत मूल्य - इलेक्ट्रिक दरें सर्वश्रेष्ठ विद्युत मूल्य - फ्री पावर सर्वश्रेष्ठ विद्युत मूल्य - टेक्सास पावर
Legal | Sitemap