2018-07-19 17:00:33.0 बीएसईएस के प्रवक्ता ने कहा, सभी ग्राहकों को Paytm की वेबसाइट और ऐप के जरिए आखिरी तारीख से 7 दिन पहले बिजली बिल जमा करने पर 200 रुपए का कैशबैक मिल सकता है। 200 रुपए की नकदी वापस पाने के लिए उन्हें कूपन कोड बीएसईएस200 का उपयोग कर बिजली बिल भुगतान विकल्प पर क्लिक करना होगा, जबकि 150 रुपए नकदी वापस पाने के लिए बीएसईएस150 कूपन कोड पर क्लिक कर बिल का भुगतान करना होगा। Guides English www.bhaskar.com महंगे ईंधन का असर : एसी-नॉन एसी टैक्सी से घूमना हुआ महंगा...इतना बढ़ गया रेट   नोट: बिहार राज्य का टैरिफ वर्ष 2017-18 के लिए है, जबकि अन्य राज्यों का टैरिफ वर्ष 2016-17 पर आधारित है.  TWITTER Persian فارسی Like20 पेनाल्टी के रूप में निगम द्वारा दिये गये  टैरिफ प्रस्ताव से 120 करोड़ रुपये घटा दिया गया है. आयोग के निर्देश के बावजूद वितरण निगम ने उपभोक्ताओं को  सिक्यूरिटी डिपोजिट पर इंटरेस्ट भी नहीं दिया है. अगर अगले छह महीने तक उपभोक्ताओं को  सिक्यूरिटी पर इंटरेस्ट नहीं मिलता है, तो फिक्स चार्ज में पांच फीसदी की कटौती की  जायेगी. छह महीने के अंदर डिमांड बेस्ड मीटर लग जाने के बाद डिमांड बेस्ट  टैरिफ लागू की जायेगी.  Croatian Hrvatski अजमेर में 5551 युवाओं ने हेलमेट के साथ निकाली वाहन रैली, बना रिकॉर्ड Fropky 501 से अधिक- 8.05 - 7.95 पंचतत्व में विलीन हुए अटल जी, अस्थि विसर्जन कल Asian Games 2018: उद्घाटन समारोह में अनोखा स्टेज होगा सबके आकर्षण का केंद्र बुलंदशहर (Hindi News from Navbharat Times , TIL Network) Atalji Funeral ब्यूरो/अमर उजाला आगरा Updated Wed, 27 Dec 2017 08:27 PM IST देखें LIVE: अंतिम सफर पर निकले अटल जी, मोदी, शाह सहित जनसैलाब यात्रा में 2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश खुल्लम खुल्ला "बिट्कोइन की मौत और क्रिप्टोकाउंक्चर का भविष्य" - अल्फा की मांग | $ 4, 576. 90 PRIVACY POLICY कुंभ नेटवर्क CompareIndia Daily Bhaskar संचार प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत करीब छह लाख करोड़ रुपये 12 करोड़ लोगों के बीच दिए गए हैं. हाल ही में द वायर  की आई एक रिपोर्ट के मुताबिक पांच लाख से ज्यादा का लोन लेने वालों, जिससे कि वाकई में रोजगार किया जा सकता है, की संख्या बहुत ही कम है. यह अब तक योजना के तहत दिए गए लोन का सिर्फ 1.3 फीसदी ही है. ज्यादातर लोन 50,000 से कम या फिर  50,000  और 5 लाख के बीच के है. सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि राज्य में बिजली से वंचित परिवारों को कनेक्शन उपलब्ध कराने के लिए आज इस योजना की शुरुआत की गई है. बिजली पहुंचने का मतलब सिर्फ रोशनी नहीं है. आज के आधुनिक युग में जब देश डिजिटल हो रहा है. इंसान तकनीकी पर निर्भर होता जा रहा है. हमारे सभी उपकरण बिजली पर ही निर्भर हैं, ऐसे में गरीब घरों में प्रकाश पहुंचाने की पहल बहुत महत्वपूर्ण है. कहा, पिछले एक साल में ऐसे 246 गांवों को बिजली पहुंचाई गई है, जहां अभी तक बिजली नहीं थी. अभी राज्य में 26 गांव ऐसे हैं जहां बिजली पहुंचाना बाकी है. उन्होंने कहा कि अप्रैल माह तक हर गांव तक बिजली पहुंचा दी जाएगी. इस अवसर पर राज्य मंत्री रेखा आर्य, सांसद राज्य लक्ष्मी शाह, विधायक आदि मौजूद रहे. BOX OFFICE COLLECTION: दूसरे दिन 'गोल्ड' ने की इतने करोड़ की कमाई ई वी आर सी में बहुचैनल स्पेक्ट्रम विश्लेषक More From Neemuch Allready have an account ? आर्यन बोरवेल  कंपनी ने घोषित किया डिफॉल्टर, जब्त होगी बैंक गारंटी, 154 करोड़ का काम लेकर यूबी कंपनी पहले ही दे चुकी है झटका किसान महापंचायत का गांव बंद आंदोलन, किसानों ने दी गिरफ्तारी, किसानों की कर्ज माफी की मांग Already have an account ? रिश्ते नाते अगले साल दिसंबर तक बिहार के हर खेत में पहुंचेगी बिजली: सुशील मोदी अपने आधार को पैनकार्ड से इस तरह लिंक करें इंग्लैंड के खिलाफ तीसरा टेस्ट आज से, ट्रेंट ब्रिज में भारत को 11 साल से जीत का इंतजार 22 mins Search for: ख़बरें कॉरपोरेट Main Content Sitamarhi EDUCATION विजेंद्र गुप्ता ने कहा, जो लोग कभी बिजली कंपनियों का एकाधिकार समाप्त करने और बिजली कंपनियों के ऑडिट की बात कर सत्ता में आए थे तथा जो लोग शीला दीक्षित और बिजली कंपनियों के भ्रष्टाचार को मिटाकर बिजली के रेट कम करने की बात करते थे , वही लोग आज निजी बिजली कंपनियों का प्रवक्ता बन गए हैं. पिछले 6 महीने में इन बिजली कंपनियों को दूसरी बार स्थाई शुल्क बढ़ाकर इन्हें मालामाल कर रहे हैं. बिजली की खपत Okay इस खबर के स्रोत का लिंक: घोषणाएँ अभिलेख विज्ञप्ति का संक्षिप्त विवरण up next Privacy Policies चेतावनी: चीन ने बिटकॉइन खनिकों को सस्ते बिजली काट दिया है? मल्टीमीडिया लोकप्रिय श्रेणियों एनटीपीसी को सौंपे गए बिजली घर परियोजनाओं में से एक नवीनगर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इसे शुरू करने में परेशानी हुई थी। व्यक्तिगत पहल कर जमीन अधिग्रहण की समस्या का समाधान किया। अब बिहार में उत्पादन और बिजली की उपलब्धता बढ़ी है। हाल ही में रेहल गांव में ऑफ ग्रिड बिजली आपूर्ति को देखा। वहां सौर ऊर्जा से बिजली आपूर्ति की जा रही है। इससे विकास को गति मिल रही है। बिजली दर को ठीक करने के लिए ही जीरो सब्सिडी का प्रस्ताव लाया गया। बिजली बिल में सरकार की ओर से दी जाने वाली सब्सिडी अंकित रहता है, जिससे लोगों को पता रहता है कि सरकार कितनी सहायता दे रही है। हमारी इच्छा है कि जल्द से जल्द एग्रीकल्चर फीडर बन जाए, ताकि किसानों को कम से कम आठ घंटे बिजली आसानी से मिल सके। केंद्रीय ऊर्जा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) आरके सिंह ने कहा कि सरकार का यह कदम मुख्यमंत्री की दूरदर्शिता को दर्शाता है। इससे राज्य को फायदा होगा। राज्य के ऊर्जा मंत्री बिजेन्द्र प्रसाद यादव ने कहा कि जनहित में सरकार ने यह निर्णय लिया है। तमिलनाडु Brazil 40404 Nextel, TIM Pan card Thanks. Twitter will use this to make your timeline better. Undo वित्त वर्ष 2017-18 में इनकम टैक्स कलेक्शन रिकॉर्ड 10.03 लाख करोड़ रुपए, 6.92 करोड़ लोगों ने रिटर्न भरा 44 mins Ramesh Yadav‏ @ramesh_yadu 18 Aug 2015 Show — मुख्य नेविगेशन Hide — मुख्य नेविगेशन # news मध्यप्रदेष कृषि में महिलाओं की भागीदारी (मापवा) योजना बाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं:  दिशानिर्देश, बाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं स्व सहायता समूह - दिशानिर्देशबाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं मित्सुबिसी की आईएमआईईवी 31125 (1682000 रुपये) डॉलर में बिकती है और रैनो की ज़ोई की कीमत 13650 पॉउंड (लगभग 1114000 रुपये) है. Mobile Apps घरेलू बिजली की दरें एक से डेढ़ रुपये प्रति यूनिट कम की गईं Money Today By RC Desk2 On May 11,2018 11:32:51 AM 10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात चम्बा Back to top ↑ आदेश सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर गैजेट-ऑटो अपडेट: इस दिन होगी Jio Phone 2 की अगली सेल, जानिए क्या है कीमत; पढ़ें ऐसी ही अन्य खबरें Bhagalpur खोजें उपभोक्ता को किस लागत पर बिजली की आपूर्ति हो रही है  Greek Ελληνικά बिज़नेस न्यूज़ Follow our भारत section for more stories. दुर्लभ VIDEO: जब दौड़कर वाजपेयी से लिपट गए थे नरेंद्र मोदी... अरवल जनन नेटवर्क Home > Locality > 404 Error कार्तिक और नायरा की जिंदगी में एक नए रिश्तेदार की होंगी... परीक्षण क्रियाकलाप Vaishali दिल्ली Copyright © 2018 Begusarai News in Hindi, बेगूसराय समाचार, Latest Begusarai Hindi News, बेगूसराय न्यूज़ - Live Cities News. All rights reserved. व्यावसायिक कनेक्शन के दाम 5.97 रुपये से घटाकर 5.83 रुपये प्रति यूनिट कर दिए गए हैं. दुमका : इंडोर स्टेडियम दुमका में अरविन्द प्रसाद की अध्यक्षता में झारखंड राज्य विद्य्नुत नियामक... इस पोस्ट को शेयर करें WhatsApp अटल बिहारी वाजपेयी: किसी को श्रद्धांजलि देते वक़्त हम पाखंड क्यों करने लगते हैं हाल की घटनाएँ अर्जुन कालिंदी English (US) श्रीलंका ने दक्षिण अफ्रीका को 3 विकटों से हराया फिरोजाबाद के लोहामंडी इलाके में तनाव, ये है वजह अटलजी के गांववासी दर्शन के बगैर लौटे ‘हार नहीं मानूंगा, रार नई ठानूंगा’ पुस्‍तकालय के नियम इस पोस्ट को शेयर करें Facebook बढ़ी हुई दरों की मार सबसे ज्यादा ग्रामीण क्षेत्रों पर पड़ने वाली है. पिछली दरों के मुताबिक अभी तक ग्रामीणों क्षेत्रों में उपभोक्ताओं को 180 रुपये प्रतिमाह देना पड़ता था, जबकि किसानों को 100 रुपये प्रतिमाह देना पड़ता था. WELFARE निविदा मार्ग नक्शा Election Results Comment प्रायोगिक लाइन For Teachers Image Source: Google मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम महाराष्ट्र स्टेट इलेक्ट्रिसिटी डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड (MSEDCL) ने कई पदों के लिए वैकेंसी निकाली है. इच्छुक उम्मीदवार 28 सितंबर तक आवेदन कर सकते हैं. स्पोर्ट्स संबल योजना में पंजीकृत श्रमिक और बीपीएल उपभोक्ताओं के घरेलू कनेक्शन पर बिजली बिल की बकाया राशि को श्रम विभाग के पंजीयन अथवा बीपीएल कार्ड का क्रमांक उपलब्ध करवाने पर माफ किया जाएगा। ऐसे पंजीकृत श्रमिक जिनके निवास का बिजली कनेक्शन उसके स्वयं के नाम पर न होकर उसके परिवार के किसी सगे-संबंधी के नाम पर हो तथा बीपीएल उपभोक्ता को सरलता से नामांतरण की सुविधा देते हुए उपभोक्ता के साथ निवासरत होने की दशा में स्कीम का लाभ दिया जायेगा। यदि संबल योजना में पंजीकृत कोई पात्र हितग्राही-बिजली उपभोक्ता के परिवार का सदस्य है और उसके साथ रहता है, तो ऐसे कनेक्शन पर भी स्कीम का लाभ मिलेगा। इसके लिए उपभोक्ता का नाम बदलना जरूरी नहीं होगा, तथापि ऐसे प्रकरण में परिवार का सदस्य उन्हीं व्यक्तियों को माना जाएगा, जिनके नाम समग्र डाटाबेस में एक परिवार के रूप में अंकित हों। केरल में खुदरा क्षेत्र में काम करने वाले को बैठने का अधिकार दिया गया है, क्या दूसरे राज्य भी ऐसा करेंगे? लोकप्रिय FROPKY सिद्धार्थनगर संरक्षण एवं क्षेत्र सेवा विंग सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि राज्य में बिजली से वंचित परिवारों को कनेक्शन उपलब्ध कराने के लिए आज इस योजना की शुरुआत की गई है. बिजली पहुंचने का मतलब सिर्फ रोशनी नहीं है. आज के आधुनिक युग में जब देश डिजिटल हो रहा है. इंसान तकनीकी पर निर्भर होता जा रहा है. हमारे सभी उपकरण बिजली पर ही निर्भर हैं, ऐसे में गरीब घरों में प्रकाश पहुंचाने की पहल बहुत महत्वपूर्ण है. कहा, पिछले एक साल में ऐसे 246 गांवों को बिजली पहुंचाई गई है, जहां अभी तक बिजली नहीं थी. अभी राज्य में 26 गांव ऐसे हैं जहां बिजली पहुंचाना बाकी है. उन्होंने कहा कि अप्रैल माह तक हर गांव तक बिजली पहुंचा दी जाएगी. इस अवसर पर राज्य मंत्री रेखा आर्य, सांसद राज्य लक्ष्मी शाह, विधायक आदि मौजूद रहे. दिलीप टुडू भरपूर बिजली के सरकारी इरादे पर पानी फेर रही कोयला कंपनियां रिलेशनशिप्स व्रत और त्योहार अल्मोड़ा नशे में धुत्त युवती ने हाइवे पर जमकर मचाया उत्पात, पुलिस से की हाथापाई, वीडियो वायरल | अब बिना चखे बच्चों को भोजन दिया तो आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं पर होगी कार्रवाई | अटल जी को श्रद्धांजलि देने पहुंचे 'स्वामी अग्निवेश' के साथ हाथापाई, वापस लौटे | हैवानियत : 6 साल की मासूम से दुष्कर्म, गला घोंटकर जंगल में फेंका | लोकायुक्त के शिकंजे में फंसा सरकारी स्कूल का प्राचार्य, रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार | नेटफ्लिक्स, अमेजन प्राइम वीडियो जैसी सेवाएं भी अब एंटरटेनमेंट टैक्स के दायरे में, निगम वसूलेगा | एमपी में डेवलपमेंट के लिए चीनी बैंक से कर्ज लेने की तैयारी में सरकार | ...और यूं दी सिंधिया ने अटल जी को श्रद्धांजलि | डीआईजी की बड़ी कार्रवाई, अजाक थाने के एक दर्जन पुलिसकर्मी लाइन अटैच | भारत रत्न अटल जी के निधन पर प्रदेशभर में आज कारोबार बंद | ट्रंप के मीडिया पर हमलों के खिलाफ खड़े हुए अमेरिका के… अब बिजली कंपनी में अनुकंपा नियुक्ति शुरू बिटकॉइन अधिशेष का उपयोग कर, सरकार अभी भी फैलाने 28 जुलाई 2018 कंपनी चुनाव से पहले योगी के इस फैसले पर मायावती का बड़ा हमला Read More: Fatehabad Haryana Hindi News Jagran Newsहरियाणा अणुविद्युत योजनातहतविकासशरण 650 मीटर से ज्यादा दूरी वालों को कनेक्शन दूसरे फेज में : आपका संदेश   यह भी पढ़ें सक्सेस मंत्र: दूसरों की बातें अनसुना कर आगे बढ़ें जरूर मिलेगी सफलता संपादन Rate Card Vaishali up news in hindi uttar pradesh news electricity prices in uttar pradesh 09:41 पेट्रोल पंप डकैती कांड में खुलासे के करीब पुलिस Get 6 Months FREE Magazine (Current Affairs Today) Subscription पायलटों ने एयर इंडिया को दी चेतावनी, भत्ता नहीं मिला तो छोड़ देंगे विमान उड़ाना देखें, फेक बोले कौवा काटे का 17वां ऐपिसोड पुलिस Copyright © 2016 Prabhat Khabar (NPHL) Hindi NewsMetroDelhiPower Road And Water Delhi Apache/2.4.7 (Ubuntu) Server at duta.in Port 443 इंटरनेट संसाधन उन्होंने कहा कि किसी भी प्रोजैक्ट से फ्री-पावर शुरूआती दौर में लेने की बजाय 6 से 10 साल बाद ली जानी चाहिए। सोमवार और मंगलवार सुबह खराब मौसम की वजह से उड़ान न होने की वजह से 8 प्रदेशों के मंत्री ही सम्मेलन में पहुंच पाए। इस मौके पर अरुणाचल प्रदेश के ऊर्जा मंत्री टामियो टागा, हरियाणा के ऊर्जा मंत्री कृष्ण लाल पवार, झारखंड के ऊर्जा मंत्री सी.पी. सिंह, केरल के ऊर्जा मंत्री एम.एम. मनी, ओडिशा के ऊर्जा मंत्री सुशांत सिंह, पश्चिम बंगाल के ऊर्जा मंत्री शोभन देव चटोपाध्याय, दिल्ली के ऊर्जा मंत्री सत्येंद्र कुमार जैन व हिमाचल के ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा मौजूद रहे। मोहन भागवत बोले- 'अटल चले गए विश्वास नहीं हो रहा' जिन लोगों के 11 केवी की लाइन से 650 मीटर से ज्यादा दूरी पर हैं, उन्हें पहले फेज में कनेक्शन नहीं मिलेंगे, लेकिन मंत्री ने दावा किया कि दूसरे फेज में ज्यादा दूरी वालों को भी कनेक्शन दिए जाएंगे। ऊर्जा विभाग के प्रमुख सचिव संजय मल्होत्रा ने कहा कि योजना के पहले फेज में मिले रेस्पोंस को जांचा जाएगा। पहले फेज में जिन्हें कनेक्शन मिलेगा, उससे लाइन की दूरी भी कम होगी, जो रह जाएंगे और जिनकी 11 केवी की लाइन से ज्यादा दूरी है, उन्हें दूसरे फेज में कनेक्शन देने पर विचार किया जाएगा। ह्यूस्टन में ऊर्जा कंपनियों - यहां अधिक जानकारी खोजें ह्यूस्टन में ऊर्जा कंपनियों - औसत इलेक्ट्रिक बिल ह्यूस्टन में ऊर्जा कंपनियों - पावर सप्लायर
Legal | Sitemap