Skip to main content सीतामऊ पश्चिमी सिंहभूम में भाजपा को मजबूत करने के संकल्प के साथ स्वंतत्रता दिवस की बधाई अनुसंधान एवं विकास प्रभाग Information Resources विदेशी मीडिया Post a Comment कंपनी को आयोग ने दिया टास्क  डंडारी बाग में अवैध कब्जा से संबंधित थाने में 4 FIR, आनन फानन में प्रशासन ने बुलाई बैठक Promoted by 308 supporters July 31, 2018 उजाला स्कीम के तहत किफायती रेट पर एलईडी उपकरण लेने के लिए विभाग की ओर से लगाए जाने वाले कैंपों या बिजली विभाग के सब डिविजनल ऑफिस में जाकर लोगों को अपना आधार कार्ड दिखाना होगा। आधार कार्ड के अलावा ड्राइविंग लाइसेंस या अन्य पहचान पत्र दिखाना भी अनिवार्य होगा। एक परिवार को 10 एलईडी बल्ब, 10 ट्यूबलाइट्स और चार सीलिंग फैन मिल सकेंगे। लोगों को एलईडी बल्ब, ट्यूब लाइट्स और सीलिंग फैन किफायती रेट पर मुहैया करवाए जा रहे हैं। बेगूसराय में बेखौफ अपराधियों का तांडव, युवक को मारी गोली प्रदीप कुमार उर्फ रोशन महतो ई-पेपर Hindi Quint चर्चित विडियो You Are At: भगवान नागचंद्रेश्वर के दर्शन हेतु मध्यरात्रि पट खुले 15/08/2018 खबरे सुने सीतामऊ Petrol Price Today CallIndia.com मोबाइल शासन इस रिपोर्ट को अंग्रेज़ी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें. जल गुणवत्ता केजरीवाल ने बाढ़ प्रभावित केरल के लिए 10 करोड़ रुपए की सहायता का ऐलान... भर्ती फीडबैक भेजें News18 इंडिया शो बेगुसराय जमीनी विवाद में मारी गोली, मौके पर मौत बीमारियों के चलते कितना कमजोर हो गए थे अटल बिहारी वाजपेयी, गवाह है ये अंतिम तस्वीर पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के कार्यक्रम Dharmender Chaudhary [Updated:28 Jan 2016, 4:59 PM IST]  सरकारी योजनाओं के बारे में और अधिक पढ़ें  भारत3 मिनट पूरी ख़बर पढ़ें Life Style बाजार में गिरावट, सेंसेक्स 184 अंक गिरा और निफ्टी.. 101-200      4.00 जलविद्युत परियोजनाओं से छलनी होते हिमालय के पहाड़ इंदिरा गांधी ने ब्लू स्टार पर अटलजी से बात करने के लिए बनारस में टेलीफोन लाइन बिछवा दी थी 22 mins जीवन की सच्चाई ताज़ा खबरफिर से सुने | गढवा अटल बिहारी के सम्मान में मॉरीशस ने उठाया ऐसा कदम की जान करेंगे गर्व Groups केरल बाढ़ का जाजया लेने के लिए पीएम मोदी कोच्चि पहुंचे। नि वि औद्योगिक सेवा 1 8.59 0.25 8.34 8.39 7.86 Computer में Folder Lock कैसे सेट करे बेस्ट तरीका लोकसभा चुनाव डेबिट और क्रेडिट कार्ड से शॉपिंग करने वाले को नए साल पर मिलेगा तोहफा Create password उपभोक्ता के जून, 2018 तक के बिल में देय मूल बकाया राशि और सम्पूर्ण सरचार्ज राशि माफ की जावेगी। इसके लिए आवेदन मिलने के बाद बकाया माफी प्रमाण-पत्र भी जारी किया जाएगा। सरचार्ज की पूरी रा‍शि एवं मूल बकाया राशि का 50 प्रतिशत वितरण कंपनी द्वारा माफ किया जायेगा तथा शेष 50 प्रतिशत राज्य शासन द्वारा वहन किया जायेगा। इसकी एवज् में राज्य शासन द्वारा तीन वर्ष अथवा 2018-19, 2019-20 एवं 2020-21 में सब्सिडी दी जायेगी। स्कीम में संबल योजना में पंजीकृत और बीपीएल श्रेणी के वे उपभोक्ता भी शामिल हो सकते हैं, जिन पर सामान्य बिजली बिल की राशि बकाया है और जिन्होंने बकाया राशि बाबत् न्यायालयीन प्रकरण दर्ज किया है और प्रकरण लंबित है। ऐसे उपभोक्ता जिन पर बिल की राशि बकाया होने से कनेक्शन स्थायी अथवा अस्थायी रूप से विच्छेदित किया गया था और जिन पर विद्युत अधिनियम की धारा 126, 135 या 138 में प्रकरण दर्ज हो और उनके बिल की राशि बकाया हो, ऐसे उपभोक्ताओं की निर्धारण अधिकारी द्वारा जारी निर्धारण आदेश की कंपाउडिंग फीस और देय ब्याज इत्यादि सहित पहले की बकाया समेत पूरी राशि माफ की जाएगी। पात्र हितग्राहियों के उपरोक्तानुसार निराकरण के बाद विशेष विद्युत न्यायालयों में दर्ज सभी प्रकरणों को समाप्त करने की कार्यवाही शुरू की जाएगी। पहले के वर्षो से जारी समाधान योजना में लाभ ले चुके घरेलू उपभोक्ता पात्रता के अनुसार इस स्कीम में फिर लाभ ले सकेंगे। सघन गन्ना विकास योजना बिजली कंपनियों ने गठन के बाद सातवीं बार बिजली दरों में बढ़ोतरी की है। यही नहीं पड़ोसी राज्यों में तुलना में प्रदेश में बिजली दरों में प्रदेश अव्वल नंबर पर आ गया है। सभी पक्षों का रुख सकारात्मक May 2018 समस्त गिरिडीह वासियो को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं उबर इट्स का नया 'ऐड फंडा', बिरयानी के ऐड में छाया 'जलेबी बॉय' BILASPUR DENGUE News Feed जिला सचिव आजसू पार्टी रांची पूर्व उप- प्रमुख बुंडू C to L औरंगाबाद 16 टैक्स भरने वालों की संख्या बढ़ेगी पर्यटन अभिकर्ता (एजेंट) बीते सालों में बिजली उत्पादन में हुई वृद्धि (स्रोत: CEA) स्वतंत्रता दिवस के रंग में, सड़कों से लेकर रेलवे स्टेशन तक अधिक भारत की खबरें Advertisement एशियन गेम्स में नहीं खेलेंगी वेटलिफ्टर मीराबाई चानू मध्यप्रदेश। देश में सबसे ज्यादा महंगी बिजली देने वाले बीजेपी शासित मध्य प्रदेश में एक बार फिर से बिजली के दाम बढ़ा दिए गए हैं। घरेलू बिजली दरों में एकमुश्त 7.8 प्रतिशत की बढ़ोतरी कर दी गई है। सोमवार से ये बढ़ी हुई दरें लागू हो गई हैं। बिजली की नई दरों से सबसे ज्यादा बोझ मध्यम वर्ग पर पड़ने वाला है।  विशेक गुप्ता Deutsch Aktuell It looks like nothing was found at this location. Maybe try one of the links below or a search? उन्होंने कहा कि किसी भी प्रोजैक्ट से फ्री-पावर शुरूआती दौर में लेने की बजाय 6 से 10 साल बाद ली जानी चाहिए। सोमवार और मंगलवार सुबह खराब मौसम की वजह से उड़ान न होने की वजह से 8 प्रदेशों के मंत्री ही सम्मेलन में पहुंच पाए। इस मौके पर अरुणाचल प्रदेश के ऊर्जा मंत्री टामियो टागा, हरियाणा के ऊर्जा मंत्री कृष्ण लाल पवार, झारखंड के ऊर्जा मंत्री सी.पी. सिंह, केरल के ऊर्जा मंत्री एम.एम. मनी, ओडिशा के ऊर्जा मंत्री सुशांत सिंह, पश्चिम बंगाल के ऊर्जा मंत्री शोभन देव चटोपाध्याय, दिल्ली के ऊर्जा मंत्री सत्येंद्र कुमार जैन व हिमाचल के ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा मौजूद रहे। news20 hours ago read more Subject मध्यप्रदेश के इन दो जिलों के 120 होटल संचालकों को नोटिस इस पोस्ट को शेयर करें Twitter किस वजह से गोलवलकर ने थपथपाई थी युवा अटल की पीठ Comment दूरभाष: गैर घरेलू 1 (ग्रामीण) 6.83 2.50 4.33 6.86 4.43 पटना,17 अप्रैल (हि.स.)। राज्य कैबिनेट की मंगलवार को यहां हुई बैठक में इस वर्ष अप्रैल से बिजली की बढ़ी हुई टैरिफ दरों में उपभोक्ताओं को सब्सिडी देकर सरकार ने दावा किया है कि बिहार की बिजली दर सभी पड़ोसी राज्यों यूपी और पश्चिम बंगाल से काफी कम है । कैबिनेट की बैठक के बाद मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने बताया कि इस वर्ष बिजली दर में सब्सिडी के कारण राज्य सरकार के खजाने पर 4137 करोड़ का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा । पिछले वर्ष 2952 करोड़ रुपये की सब्सिडी दी गयी थी. उन्होंने बताया कि सब्सिडी के बाद ग्रामीण क्षेत्रों में कुटीर ज्योति योजना के तहत बिजली की दर प्रति यूनिट 2.45 रुपये पड़ेगी । पश्चिम बंगाल में यह 3.44 रुपये और यूपी में 3.39 रुपये प्रति यूनिट है । इसी तरह शहरी और ग्रामीण क्षेत्र की बिजली दरें भी पड़ोसी राज्यों से कम हैं । इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में घरेलू उपयोग और कृषि व सिंचाई के लिए बिजली दर में कोई बढ़ोतरी नहीं की गयी है । इस पर वर्तमान दर से ही बिजली बिल का भुगतान करना होगा । शहरी क्षेत्रों की बिजली दर में महज 10 पैसे प्रति यूनिट की ही बढ़ोतरी की गयी है | अब यह 5.30 रुपये प्रति यूनिट से बढ़कर 5.40 रुपये हो गयी है । मुख्य सचिव ने कहा कि बरौनी, कांटी और नवीनगर बिजलीघरों को एनटीपीसी को ट्रांसफर कर दिया गया है । इन यूनिटों से राज्य को अपने स्तर पर बिजली उत्पादन काफी महंगा पड़ रहा था । बरौनी थर्मल पॉवर स्टेशन से अभी बिजली उत्पादन में प्रति यूनिट 5.75 रुपये का खर्च आ रहा है, जबकि बाढ़ एनटीपीसी से बिजली खरीदने पर यह खर्च 4.25 पैसे प्रति यूनिट ही पड़ेगा । इस वजह से सभी बिजली उत्पादन ईकाइयों को एनटीपीसी को ही स्थानांतरित करने का निर्णय लिया गया है । इससे सरकार को 875 करोड़ रुपये सालाना की बचत होने का अनुमान है । वर्ष 2017-18 के लिए बिजली उपलब्धता करीब 27 हजार 178 मिलियन यूनिट है, जबकि 2018-19 के लिए बिजली उपलब्धता का लक्ष्य 29 हजार 403 मिलियन यूनिट निर्धारित किया गया है, जो पिछले वर्ष से 8% अधिक है । सब्सिडी के बाद बिजली दर :-कुटीर उद्योग- 2.45,घरेलू (ग्रामीण)- 3.17,घरेलू (शहरी)- 5.40,गैर-घरेलू (ग्रामीण)- 4.00,गैर-घरेलू (शहरी)- 8.25,कृषि एवं सिंचाई-1 - 1.50,कृषि एवं सिंचाई-2 - 7.75,औद्योगिक सेवा-1 - 8.35,(19 केवी तक) औद्योगिक सेवा-2 - 8.32 (19 केवी से ज्यादा और 74 केवी से कम) औद्योगिक सेवा-1 - 8.67,(11 केवी) औद्योगिक सेवा-2 - 8.60,(33 केवी), औद्योगिक सेवा-3 - 8.01,(132 केवी) (सभी आंकड़े रुपये प्रति यूनिट में) हिन्दुस्थान समाचार/अरुण/शंकर Hollywood मेरी कहानी Asian games 2018: उद्घाटन समारोह में दिखेगी इंडोनेशिया की खूबसूरती स्‍थायी समिति के सदस्‍य - निजी नलकूप वाले किसानों की दरों में 35.51 तक की वृद्धि हो गई है। राजकीय नलकूप की दरें 19.79 प्रतिशत बढ़ जाएंगी। अख्तर हाशमी प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना सौभाग्य फ्री बिजली कनैक्शन अनुसंधान एवं विकास प्रभाग दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम ने सरकारी विभागों के लिए सरचार्ज माफी योजना शुरू की है। इस योजना का लाभ सरकारी विभाग 31 मार्च तक उठा सकते हैं। इसके लिए सभी डिफॉल्टरों को तय समय में अपना पुराना बकाया जमा करना होगा। साथ ही आगामी एक साल तक समय पर पूरा बिल अदा करना होगा। इसके साथ ही ग्रामीण इलाकों में बिजली की दरों में लगभग दोगुनी वृद्धि की गई है. ग्रामीण उपभोक्ताओं को अब 100 यूनिट तक 3.0 रुपये प्रति यूनिट, 100 से 150 यूनिट तक 3.50 रुपये प्रति यूनिट और 150 से 300 यूनिट के लिए 4.50 रुपए प्रति यूनिट के हिसाब से भुगतान करना होगा. Privacy Policy | T&C | Contact | Follow us at: अटल बिहारी का हालचाल लेने पहुंचे थे कई बड़े नेता, AIIMS के आसपास लगा रहा भारी जाम अरावली प्लांट : अरावली पावर प्लांट हरियाणा और दिल्ली ने मिलकर बनाया है। इससे 50 पर्सेंट बिजली दिल्ली को मिलती है। लेकिन एक्सपर्ट का कहना है कि इसकी कॉस्ट बहुत ज्यादा है और एक यूनिट करीब 5 रुपये की पड़ती है। अभी दिल्ली को इसकी जरूरत नहीं है तो कुछ वक्त के लिए इसे रीअलोकेट किया जा सकता है क्योंकि अभी इसका खर्च भी पावर टैरिफ में ही जुड़ता है। # panchkoola-state कृपया ध्यान दें: जानिए क्या हैं तत्काल टिकट बुकिंग के नए नियम स्वतंत्रता दिवस समारोह | मंत्री मेहदेले ने ध्वजारोहण कर ली परेड की सलामी बैडरूम को बनाना हैं रोमांटिक तो इस कलर करें यूज भूपेंद्र सिंह हुड्डा पड़ रहे हैं पार्टी के भीतर और जनता के बीच कमजोर Contact Us for Advertisements national बिहार                               100                  3.85 रुपए उन्होंने कहा, ''अगर इन चारों वस्तुओं को इस जीएसटी के दायरे में रखा जाता तो अच्छा रहता. इन चारों वस्तुओं का मार्केट में बड़ा असर होता है.'' BARMEN TODAY: A CONTEMPORARY CONTEMPLATIVE DECLARATION बिजली दर में भारी वृद्धि को लेकर अखिलेश सरकार पर बरसीं मायावती Surveys फोटो क्लिक कर देखें वीडियो।कोटा। शहर में निजी बिजली कंपनी केईडीएल के खिलाफ चल रहा विरोध रुकने का नाम ही नहीं ले रहा है। इस मामले में बुधवार को भी बड़ी संख्या में महिलाओं ने केईडीएल के खिलाफ प्रदर्शन किया। इसमें महिलाओं ने बिजली कंपनी के अधिकारियों को फूलों का गुलदस्ता देकर और धोवना दिखाकर वापस कोलकाता जाने की मांग की। साथ ही कोटा नहीं छोड़ने पर धोवने से कूटने की धमकी भी दे दी। यूपी में बिजली उपभोक्ताओं को राहत, कनेक्शन लेना हुआ सस्ता दूसरी मंजिल, ए 1-ए 7 के बीडी ए 4, हेन्गकेंग गुआंतियान टेक पार्क, बीहुआन आरडी, शियान, बाओन जिला शेन्ज़ेन, चीन विश्‍व की अन्‍य खबरें अन्त्योदय राशन कार्ड JarnailSinghAAP's profile मुख्य परीक्षा का फॉर्म कैसे भरें? देखें 'सौ बात की एक बात' में आज दिनभर की सबसे बड़ी ख़बरें 3.21951219512 बड़ी खबर This petition isn't available. Either the URL is incorrect, it violated our Community Guidelines, or the starter removed it. बिहार कैबिनेट निर्णय 1 सितम्बर 2015: 50 एजेंडों पर लगी मुहर पंचतत्व में विलीन हुए “अटल बिहारी” | दत्तक पुत्री नमिता ने दी मुखाग्नि तहसील पेट्रोल-डीजल के बाद अब महंगी होगी बिजली, बिज़नेस की खबरें 18 अगस्त 2018 Email * बुजुर्ग बोली: अरी बैठ जा, कुछ सालों बाद बोनट पर ही बैठना पड़ेगा। कृषि संबंधित जानकारी ऊर्जा लागत की तुलना करें - मेरे पास सस्ता इलेक्ट्रिक कंपनी ऊर्जा लागत की तुलना करें - बिजली दरों की तुलना करें ऊर्जा लागत की तुलना करें - मेरे पास बिजली प्रदाता
Legal | Sitemap