निकाय चुनाव के बाद यूपी में बढ़ने वाली है बिजली की दरें अजीबो-गरीब खबरें Solar Energy DIG की सख्त कार्रवाई का असर, पटना में हफ्ते भर में 800 से अधिक अरेस्टिंग सरकार की ओर से जारी आधिकारिक बयान में कहा गया है कि सबसिडी की राशि बिजली कंपनियों के खाते में भेज दी जाएगी। इसे बिजली कंपनियां उपभोक्ताओं के बिल से समायोजित कर लेंगी। साथ ही, बिजली कंपनियों को सूचित कर दिया गया है कि उपभोक्ताओं को सबसिडी का वास्तविक लाभ मिलने की बात पुष्ट करने के लिए सरकार बिजली कंपनियों का किसी स्वतंत्र एजेंसी से विशेष ऑडिट करा सकती है। मो जहांगीर बिजली फिरोजाबाद     वित्त मंत्री ने कहा कि सरकारी अधिकारी व कर्मचारी अपने विभाग के लिए तो अधिकारी/कर्मचारी है परंतु अन्य विभागों के लिए वह एक उपभोक्ता भी है। इसलिए जनहित में वह अपने उपभोक्ताओं के साथ संवेदनशीलता से पेश आएं तथा उन्हें संतुष्टिजनक सेवा देने के लिए हर संभव प्रयास करें। स्वास्थ्य यह भी पढ़ें Notify me of new posts by email. Energy Efficiency and Other Articles Sign In बदलेगा कई ट्रेनों का समय, आज और कल से होंगे कई बदलाव तीन-चार कंपनियों ने ऊर्जा विभाग से किया संपर्क हिंदी ब्यबसा राहुल द्वारा मोदी को गले लगाने पर स्मृति ईरानी ने कसा तंज ऊर्जा राज्य मंत्री पुष्पेंद्र सिंह ने योजना की घोषणा करते हुए कहा कि पहले फेज में 11 केवी की लाइन से 650 मीटर तक बसी ढाणियों और मकानों को बिजली कनेक्शन दिए जाएंगे। 11 केवी लाइन से 150 मीटर तक बसे मकानों को डिमांड राशि 10 हजार रुपए लगेगी। 150 से 500 मीटर दूरी पर बसे मकानों को कनेक्शन लेने के लिए पोल का चार्ज  हर मीटर पर 100 रूपए अतिरिक्त देने होंगे। गुरदासपुर/पठानकोट बाराबंकी @ramesh_yadu @AamAadmiParty @DrKumarVishwas modi is leaving deli due to cm kejari and coming as cm UP up next होम  » समाचार  » कारोबार  » जानिए ऐसा क्या करेंगे कि मिलेगा सस्ती ब्याज दर पर लोन बिजली कंपनी अगले महीने से लागू करेगी बीपीएल उपभोक्ताओं के बिजली बिल माफ करने वाली योजना Previous articleपत्नी का इलाज कराने जा रहे बाइक चालक की सड़क हादसे में दर्दनाक मौत नवंबर 2016 में नोटबंदी की घोषणा के बाद से जन धन खातों में जमा राशि में इजाफा हुआ है. सरकारी आंकड़ो के मुताबिक नवंबर 2016 के आखिर में इन खातों में जमा राशि 74,000 करोड़ से ज्यादा हो गई थी जबकि इसी महीने की शुरुआत में यह जमा राशि करीब 45,300 करोड़ रुपये थी. Read More: विद्युतयोजनाअवधिजून सराईकेला-खरसांवा इसके लिए आयोग ने कॉस्ट डाटा बुक में संशोधन करके आदेश जारी कर दिए हैं। इस फैसले से 5 किलोवाट तक का नया कनेक्शन लेने वालों को 50 रुपये प्रति किलोवाट से लेकर 300 रुपये प्रति किलोवाट तक का फायदा होगा। यह व्यवस्था छोटे उद्योगों को छोड़कर सभी श्रेणी के उपभोक्ताओं पर लागू होगी। रिपोर्ट : डॉ मनमोहन सिंह के कार्यकाल में हासिल हुई सर्वाधिक 10.08 फीसदी रही वृद्धि दर World's 45 best colleges rated according to girls. अन्य सेवाएं : MPPSC विशेष दिवस आर.टी.आई. loancheapinterest ratelowलोनबिलऋणब्याजदरकम बिजली का झटका देकर फोटोग्राफी सिखाएगा ये डिवाइस Quick Rubric – Easily Make and Share Great-Looking Rubrics Molitics Works Best in Our App Get App Find Friends Date: July 19, 2018 निर्मल सिंह होम दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम ने सरकारी विभागों के लिए सरचार्ज माफी योजना शुरू की है। इस योजना का लाभ सरकारी विभाग 31 मार्च तक उठा सकते हैं। इसके लिए सभी डिफॉल्टरों को तय समय में अपना पुराना बकाया जमा करना होगा। साथ ही आगामी एक साल तक समय पर पूरा बिल अदा करना होगा। 20 हजार की रिश्वत लेते पकडे गए थे पावसे क्या वाकई मक्का में होटल की बिल्डिंग गिरने से हाजी शहीद हुए Oops, That’s an error! रामगढ mobile apps CARSFACTOR विद्युत योजना में धांधली, ठेकेदार का रोका भुगतान फाइल फोटो: रॉयटर्स Bangla विद्युत रोधन प्रभाग एवं ताप प्रचाल परीक्षण प्रयोगशाला (आई डी एच आर टी) फिल्मी दुनिया 1:56 सवाल प्रधानमंत्री ने जुलाई 2015 में 24 लाख लोगों को पहले चरण में प्रशिक्षित करने के कदम के साथ इस योजना की शुरुआत की थी. हालांकि भूमिका और जिम्मेदारियों को लेकर हुई गड़बड़ी ने इस योजना को परवान नहीं चढ़ने दिया और राजीव प्रताप रुडी के हाथ से मंत्रालय निकल गया. उन्हें पिछले सितंबर में कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री के पद से इस्तीफा देना पड़ा था. देश के कई राज्यों में... धर्म-अध्‍यात्‍म Asian games 2018: उद्घाटन समारोह में दिखेगी इंडोनेशिया की खूबसूरती बजट भानपुरा कोच विकास ने जीता चंडीगढ़ के बेस्ट शूटर का खिताब कौन सा है वो राग जिसे गाते वक्त मेहदी हसन को लगता था बेसुरे होने का डर! यहां काम करने की जरूरत बिजली कंपनियां दो तरह से बिजली खरीदती हैं। वह बिजली उत्पादक कंपनी से 10 या 20 साल के लिए लॉन्ग टर्म अग्रीमेंट करती है या फिर जरूरत के मुताबिक शॉर्ट टर्म अग्रीमेंट होता है। यह पावर एक्सचेंज के जरिए या फिर बाइलेटरल (द्विपक्षीय) हो सकता है। जहां से बिजली मिल जाए वहीं से कंपनियां बिजली खरीद लेती हैं। अभी इस तरह का कोई सिस्टम नहीं है कि अगर बिजली कंपनी कम दाम पर बिजली खरीदे तो उन्हें कुछ फायदा हो। बिजली कंपनियां जिस दाम पर बिजली खरीदती है वह उसके खर्च में जुड़ जाता है और आखिरकार वह खर्च उपभोक्ताओं के हिस्से में आता है। अगर बिजली कंपनियां कम दाम पर बिजली लेंगी तो उपभोक्ताओं पर भी कम बोझ पड़ेगा। मोदी सरकार ने ग्रामीण इलाकों में विद्युतीकरण के विस्तार के लिए दीनदयाल विद्युत ग्रामीण योजना चलाई है। असल में इस योजना का नाम बदला है और यह यूपीए सरकार के दौर में चल रही राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना का ही विस्तार है। कन्या राशि वालों आज किसी यात्रा पर जाने की प्लानिंग कर सकते हैं। किसी दूर स्थान या विदेश से प्यार......Read more राज्यसभा टीवी डिस्कशंस टाइम आफ डे टैरिफ (हाई वोल्टेज-2, 3, व 4 श्रेणी) में बदलाव किया गया है। पीक आ‌वर्स यानी शाम के समय बिजली की सामान्य दर का 120 % विद्युत प्रभार लागू किया गया है। यह पहले 115 % था। आफ पीक आवर्स टैरिफ में विद्युत प्रभार 90 % से घटाकर 75 % किया गया है। 0 से 40 यूनिट- 3.80 - 3.70 भारत में विधिक सेवाएँ Font help वैश्विक रेटिंग एजेंसी स्टैंडर्ड एंड पुअर्स (एस एंड पी) ने तुर्की की कर्ज रेटिंग 'बी+' की। वाजपेयी के निधन पर पीएम -उपराष्ट्रपति समेत कई राजनेताओं ने जताया शोक दिलीप कुमार साहू जालंधर: 3 अज्ञात हमलावरों ने प्रवासी मजदूर का किया बेरहमी से कत्ल उद्योग पठानकोट आर्टिकल एनालिसिस Deutsch - warum nicht? जनसत्ता विशेष 0 Like 0 Dislike कनेक्शन कटने के डर से बिल भर दिए तस्वीरें मिडिल क्लास की इन चीजों पर 18 पर्सेंट टैक्स Português दरोगा की पिस्टल से चली गोली सिपाही के सिर में लगी आयोग के चेयरमैन एसके अग्रवाल ने कहा कि बिजली दरों में 20 फीसदी बढ़ोतरी का प्रस्ताव था, लेकिन हम 12 फीसदी ही बढ़ोतरी को मंजूरी दे रहे हैं. मौजूदा समय में यूपी में 1 करोड़ 20 लाख बिजली उपभोक्ता हैं. 2018-19 में यह संख्या बढ़कर 4 करोड़ होने जा रही है. ई-पेपर  Drop the Immigration Charges Against Marco Senghor, Community Leader and Bay Area Icon सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि राज्य में बिजली से वंचित परिवारों को कनेक्शन उपलब्ध कराने के लिए आज इस योजना की शुरुआत की गई है. बिजली पहुंचने का मतलब सिर्फ रोशनी नहीं है. आज के आधुनिक युग में जब देश डिजिटल हो रहा है. इंसान तकनीकी पर निर्भर होता जा रहा है. हमारे सभी उपकरण बिजली पर ही निर्भर हैं, ऐसे में गरीब घरों में प्रकाश पहुंचाने की पहल बहुत महत्वपूर्ण है. कहा, पिछले एक साल में ऐसे 246 गांवों को बिजली पहुंचाई गई है, जहां अभी तक बिजली नहीं थी. अभी राज्य में 26 गांव ऐसे हैं जहां बिजली पहुंचाना बाकी है. उन्होंने कहा कि अप्रैल माह तक हर गांव तक बिजली पहुंचा दी जाएगी. इस अवसर पर राज्य मंत्री रेखा आर्य, सांसद राज्य लक्ष्मी शाह, विधायक आदि मौजूद रहे. Energy Efficient Star Rated Power Inverters in India अशोक लीलैंड बांग्लादेश को निर्यात करेगा 300 डबल ड.. COMMUNITY फोटो और कंटेंट: नरपत रामावत Citizen’s Charter देश में पारेषण के सर्वोत्तम प्रथाओं टॉवर आधार परीक्षण केन्द्र प्रमुख पति मझिआंव प्रखंड जयनारायण मुंडा General Tips 19 मार्च 2013 May, 2016 इस कार को आम बिजली के कनेक्शन से पांच घंटे में चार्ज किया जा सकता है. इतना ही नहीं इस कार की छत पर लगाए जा सकने वाले सोलर पैनल से भी इस कार को चार्ज किया जा सकता है. 3 weeks ago प्रवासी भारतीय अटल बिहारी के निधन पर 7 दिन का राष्ट्रीय शोक,कल बंद रहेंगे स्कूल-कॉलेज पांचवां एक-दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मैच By: Inextlive | Publish Date: Sat 10-Mar-2018 03:17:17 PM (IST) बिजली की लागत - बिजली और गैस प्रदाता बिजली की लागत - इलेक्ट्रिक कंपनी आज स्विच करें बिजली की लागत - सस्ता बिजली प्रदाता खोजें
Legal | Sitemap