VIDEO: एनकाउंटर से भाग निकले तीन आतंकी, जवान हुआ शहीद Pakwangali Live Stock Market News Hindi News Marathi News Kids education and games site History India MTV India in.com अपनी बात दीपिका रणवीर इटली में रचाएंगे ब्याह, मेहमानों को इस वजह से मोबाइल लाने की मनाही Updated: August 17, 2018 07:08 PM IST ग्रह दोष : कुंड़ली के दोष निवारण के लिए नहीं खरीद सकते रत्न तो ये सस्ते उपरत्न हो सकते हैं प्रभावशाली 16 mins धौलपुर न्यूज और अन्य अपडेट्स जनसांख्यिकी बढ़ रही है घरेलू स्वास्थ्य सेवाओं की भूमिका महंगी बिजली नहीं चाहिए तो रखें राय Latest Articles Bollywood on Atalji Death News | Aug 14, 2018 Jio Phone 2 लॉन्च: जानिए कीमत, जरूरी बातें सहारनपुर सौभाग्य खातोंधारकों की संख्या 11 अप्रैल तक 2017 की शुरुआत में रहे 26.5 करोड़ से बढ़कर 31.45 करोड़ हो चुकी थी. 9 नवंबर 2016 तक जब नोटबंदी की घोषणा हुई थी, खातों की संख्या 25.51 फीसदी थी. रांची। झारखण्ड में विद्युत नियामक आयोग द्वारा घोषित नई विद्युत टैरिफ पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुबोध कांत सहाय ने कहा कि रघुवर सरकार संवेदनहीन हो गई है। बिजली बिल में अप्रत्याशित वृद्धी का जनविरोधी निर्णय लेकर जनता पर अतिरिक्त बोझ डाल दिया गया है। बिहार कैबिनेट निर्णय 1 सितम्बर 2015: 50 एजेंडों पर लगी मुहर Tenders वेतन आने में देरी होने पर भी ले सकते हैं यह लोन विशेष रूप से महिलाओं के लिए जीवन की बेहतर गुणवत्त October 3, 2017 schemes-admin सरकारी योजना खन्ना Copyright © 2018 बीबीसी. बीबीसी बाहरी साइटों पर मौजूद सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है. एक्सटर्नल लिंक्स पर बीबीसी की नीति किसी भी राज्य सरकार के पास बिजली की दरें घटाने की अथॉ़रिटी नहीं है। डीईआरसी पावर टैरिफ की दरें निर्धारित कर सकता है। हालांकि सीएजी द्वारा पावर कंपनियों के ऑडिट की क्या रिपोर्ट निकलकर आती है इस पर नजर रखनी होगी। राशिफल: जानें कैसे रहेंगे 18 अगस्त को आपके सितारे प्रमुख सिविल सेवाओं का परिचय गैर घरेलू उपभोक्ता देश के कई राज्यों में... हमारे बारे में गोपनीयता नीति RSS इंडिया Dharmender Chaudhary [Updated:31 Jan 2016, 8:02 AM IST] Copyright © 2015 Bhopal Samachar | No 1 hindi news portal of central india (madhya pradesh) बिजली बनाने के बजाय खरीदकर बेचना लाभ का सौदा, जाने कैसे कुल आगंतुक : 43083252 वजीरगंज : जदयू ने किया जीविका के तर्ज पर पंचायतों… सड़कों पर शोर का अध्यात्म सिंदरी थाना प्रभारी सह सिंदरी इंस्पेक्टर Solve this simple math problem and enter the result. E.g. for 1+3, enter 4. इसके पश्चात पुलिस ने मेले में छापेमारी कर जुआ खेला रहे बबलू बिरुवा के  चचेरे भाई कुशल टीयू को 32 हजार रूपये एवं बाइक के साथ गिरफ्तार किया। इस दौरान मौके का फायदा उठाकर बबलू बिरुवा फरार हो गया। Fropky.com 02018-07-17T12:10:12 रायगढ़ और रायपुर मेमू की समय सारिणी में आंशिक परिवर्तन चंदन शास्त्री AllDharamHealth & FitnessRecipesTravel एसपी प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने बढ़ोतरी को आम जनता के साथ विश्वासघात करार देते हुए कहा कि पहले ही लोग महंगाई की मार झेल रहे हैं, अब बिजली के दाम बढ़ाकर बीजेपी सरकार ने सबकी कमर तोड़ दी है. 15 सितंबर से एक अक्टूबर तक आवेदन लिया गया था. इसकी परीक्षा 23 अक्टूबर को ली गई थी. आईटी मैनेजर के 5 पद कंपनी में काम कर रहे कर्मियों के लिए था. सभी पदों में कंपनी के नियमानुसार प्रोबेशन पीरियड रखा गया था और इसके बाद सभी कर्मचारियों की सेवा स्थाई की जाने की बात कही गई थी. पिछले साल बहाली से संबंधित विस्तृत जानकारी कंपनी की वेबसाइट www.bsphcl.bih.nic.in पर उपलब्ध कराइ गई थी. Business News India किस वजह से गोलवलकर ने थपथपाई थी युवा अटल की पीठ सूक्ष्म और लघु उद्यमों को सस्ती बिजली के लिए हरियाणा में ‘पावर टैरिफ सब्सिडी योजना’- Power Tariff Subsidy Yojna Last updated on: Aug 13, 2018 दिसम्बर 7, 2017 Md. Saheb Ali BIHAR, आपका प्रदेश, इकॉनमी, ट्रेंडिंग 0 रेवाड़ी मुख्य परीक्षा की रणनीति वैद्युत उपस्कर आत्मघाती हमलावर ने छात्रों को बनाया निशाना , 48 की मौत मेसेज देख हुई लड़ाई, दूसरी मंजिल से गिरी विवाहिता 21 Views बीईआरसी के अध्यक्ष एस के नेगी ने सोमवार यहां संवाददाताओं को बताया कि आयोग ने वित्तीय वर्ष 2016-17 में इन दोनों कंपनियों की बिजली दर में वृद्धि करना उचित नहीं समझा। उन्होंने कहा कि आयोग ने जांच के बाद 2015-16 में इन दोनों कंपनियों की राजस्व आवश्यकता में 902.92 करोड़ रुपए की कमी (गैप) पाई जिसमें कैरिंग कास्ट को जोडे जाने के बाद वित्तीय वर्ष 2015-16 का सरप्लस 1916 करोड़ रुपए आया। इस सरप्लस की समीक्षा सत्यापित वार्षिक लेखा के आधार पर नहीं है इसलिए आयोग ने वर्ष 2016-17 के राजस्व आवश्यकता में इसे सम्मिलित करना उचित नहीं समझा। वृद्धावस्था पेंशन/ किसान पेंशन प्रशीतलक परीक्षण प्रयोगशाला 0:55 Gallery इन्वेस्टर कॉलम संपन्न परियोजनाओं की सूची डेढ़ साल में 10 हजार फ्लैट दे देंगेः सुपरटेक अ © जिला इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश , इस वेबसाईट का निर्माण एवं होस्टिंग राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र, घरों को बहुत अच्छे से इंसुलेट किया गया है, इसमें बड़े बड़े कांच लगाए गए हैं जिससे सूरज की रोशनी अंदर आए. इस्तेमाल की गई हवा ताजी हवा को गर्म करती है और छत पर पैनल बिजली बनाते हैं. साल 2000 में यह कॉलोनी बनाई गई थी. सुधेड़ में पलटा पंजाब के श्रद्धालुओं का वाहन, 3 घायल Ent सामग्रियाँ नीतीश कुमार ने कहा कि एक सोची समझी रणनीति के तहत वर्ष 2017-18 में टैरिफ याचिका को शून्य अनुदान पर तैयार कराया गया है. इस नीतिगत निर्णय के आधार पर आयोग ने बिना अनुदान के  टैरिफ लागत का निर्धारण किया. इससे राज्य सरकार को उपभोक्तावार  अनुदान की राशि तय करने में पारदर्शिता लाने में मदद मिलेगी. साथ ही वितरण कंपनियों की टेक्निकल व कॉमर्शियल लॉस में निरंतर कमी लाने के लिए गहन माॅनीटरिंग की जा सकेगी. नये वर्ष के लिए आयोग ने टैरिफ निर्धारित करते समय पड़ोसी राज्य पश्चिम बंगाल अौर उत्तर प्रदेश के 2016-17 के टैरिफ से तुलना करते हुए राज्य के उपभोक्ताओं को दी जानेवाली सब्सिडी का निर्धारण किया है.  फीडबैक रेसिपी People दिसंबर में लोकसभा और चार राज्यों के विधानसभा चुनाव साथ कराने में सक्षम: चुनाव आयोग दिल्लीवालों को राहत देते हुए दिल्ली इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन (डीईआरसी) ने बिजली के बिल में राहत दे दी है. बिजली बोर्ड ने बिजली बिल में रीस्ट्रक्चरिंग की है. इसका फायदा सभी कैटेगरी के ग्राहकों को होगा. इस संशोधन में बिजली बिल का फिक्स्ड चार्ज कम बढ़ा दिया गया है और प्रति यूनिट बिजली का बिल घटा दिया गया है. इसका फायदा उन लोगों को मिलेगा जो हर महीने 400 यूनिट से कम इस्तेमाल करते हैं. Google News in Hindi   Previous Storyई-कॉमर्स कंपनी अमेजन का नेट प्रॉफि‍ट घटा, एक रात में CEO जेफ बेजोस ने गंवाएं 6 अरब डॉलर Next StoryEPFO के लिए UAN जरूरी, जानिए इससे जुड़ी 3 अहम बातें   प्रत्यय पत्र गुरुग्राम More From NBT Citizen Journalism मध्यप्रदेश पनामा सीमा के निकट दक्षिणी कोस्टारिका में भूकंप, जिसकी तीव्रता 6.0 मापी गई। बाजार भाव 300 मीटर ऊंची उत्तर भारत की बुर्ज खलीफा बनकर तैयार, नजीब जंग का भी बनेगी ठिकाना 53 mins About Us विश्लेषण लोगों के मन में अक्सर कुछ सवाल होते हैं। जैसे की-योजना के उद्देश्य,विशेषताएँ,अपेक्षित परिणाम,कार्यान्वयन रणनीति आदि जिसके बारे में विस्तृत जानकारी यहाँ दी जा रही है। सरकार ने घाटा किया दूर 7. नहीं बंद होंगी मुफ्त बैंकिंग सेवाएं, सरकार ने खबरों का किया खंडन BARMEN TODAY: A CONTEMPORARY CONTEMPLATIVE DECLARATION अन्य अब पंजाब में घरेलू बिजली दर 5.06 रुपए से 8.32 रुपए प्रति यूनिट के बीच होगी जिसमें 13 प्रतिशत इलैक्ट्रीसिटी ड्यूटी और 5 प्रतिशत इंफ्रास्ट्रक्चर सैस शामिल होगा जबकि हरियाणा में यह दर 2.70 रुपए से 7.10 रुपए के बीच है। इसी प्रकार कमॢशयल उपभोक्ताओं को 7.20 रुपए से लेकर 7.60 रुपए प्रति यूनिट देने होंगे जबकि हरियाणा में यह दर 6.20 रुपए है।  नवंबर 2015 में रोशनी घर जोन के 10 फीडरों पर 33 लाख 24 हजार यूनिट बिजली की आपूर्ति की, लेकिन 29 लाख 92 हजार यूनिट बिजली उपभोक्ताओं तक पहुंच पाई। 3.32 लाख यूनिट बिजली लाइन लॉस हो गई। अत: कुल 29 लाख 92 हजार यूनिट का बिजली का बिल जारी होना था, लेकिन जोन ने ऐसा नहीं किया। 45 लाख 82 हजार यूनिट का बिल जारी कर दिया। VIDEO-जब UN में इज़रायल का विरोध किया था अटल बिहारी वाजपेयी ने UP Bhulekh भूलेख, खसरा खतौनी भु नक्शा ऑनलाइन नक़ल upbhulekh.gov.in Google News in Hindi Ent मुखिया, निचितपुर 2 पंचायत (बिजली दर रुपए प्रति यूनिट) नवंबर 2015 में चावड़ी जोन के जनकगंज, गस्त का ताजिया, वर्कशॉप, तारागंज, सराफा बाजार फीडर पर 29 लाख 19 हजार यूनिट बिजली की आपूर्ति की गई। विक्रय योग्य 26 लाख 27 हजार यूनिट बिजली पाई गई, लेकिन जोन ने उपभोक्ताओं को 32 लाख 62 हजार यूनिट का बिजली का बिल जारी कर दिया। आपूर्ति से 40 फीसदी लॉस घटाया जाए तो 17 लाख यूनिट का बिल उपभोक्ताओं को जारी होने थे, लेकिन कंपनी ने 15 लाख 62 हजार यूनिट का अधिक बिल जारी कर दिया। ज्ञात हो कि शहर में 40 फीसदी के आसपास लाइनलॉस रहता है। क्यों सही नहीं है पॉपुलर कोर्स का चयन? ये हैं अहम कारण Loading... ​ UPA राज में भी चल रही थीं NDA की ये योजनाएं सीतामढ़ी Atal Bihari Vajpayee: 'गुरु जी से तुम्हारी शिकायत करूंगा', योगी आदित्यनाथ से तब बोले थे अटल बिहारी वाजपेयी Ways To Setup A Shock Proof House For Kids प्रायोजित अनुसंधान Português बिजली कंपनी जुलाई महीने से २०० रुपए प्रतिमाह में मिलने वाली बिजली योजना (सस्ती बिजली बिल स्कीम) योजना भी लागू कर रही है। इसमें उपभोक्ता १०० यूनिट तक पंखा, टीवी व ट्यूबलाइट जला सकेंगे। बिल की गणना टैरिफ आधार पर होगी। उपभोक्ताओं की शेष राशि राशि राज्य सरकार सब्सिडी के रूप में विद्युत कंपनी को देगी। निगाह आसमान पर, आखिर कहां अटका मानसून, तेज बारिश का इंतजार सुरक्षा का स्तर पावर परचेज मैकेनिजम : आरडब्लूए प्रतिनिधि अनिल सूद ने कहा कि बिजली कंपनियां सरप्लस बिजली किस रेट पर बेच रही हैं और किस रेट पर खरीद रही हैं, इसे ट्रांसपेरेंट होना चाहिए और पब्लिक स्क्रूटनी के लिए खुला होना चाहिए। अगर पावर एक्सचेंज में बिजली 3 रुपये प्रति यूनिट बिक रही है और दिल्ली की कंपनियां उसे 2 रुपये में बेच रही हैं तो पब्लिक इसकी मॉनिटरिंग करेगी और गड़बड़ी की गुंजाइश नहीं रहेगी। बिटकॉइन मूल्य: तरल स्थिरता Jio Phone 2 लॉन्च: जानिए कीमत, जरूरी बातें ग्रामीणों को 24 घंटे व सस्ती बिजली देने को प्रयासरत है हरियाणा सरकार अमरूद एवं आंवला के पौधों की नीलामी होगी, टैण्डर 21 अगस्त तक आमंत्रित 16/08/2018 Jio Phone 2 की पहली फ्लैश सेल आज 12 बजे... एजुकेशन किशनगंज तबरेज अंसारी दीवारों के रंग और सेक्स में है संबंध ज्यादातर लोगों के लिए घर का सबसे फेवरिट हिस्सा बेडरूम होता है… ये भी पढ़ें- जीएसटी के तहत हर तिमाही रिटर्न दाखिल करना व्यावहारिक नहीं: जेटली अनाथालयों और वृद्धाश्रम को मिलेगी सस्ती बिजली मनोरंजन8 asian games 2018 : इंचियोन की कड़वीं यादों को भुलाने के लिए तैयार हैं तीरंदाज दीपिका कुमारी मेरा टीवी By: Inextlive | Publish Date: Sat 10-Mar-2018 03:17:17 PM (IST) Ed Tech Blog 255 Electricity Saving Tips For Homes And Offices प्रोफ़ेसर अरुण कुमार का कहना है कि यह तथ्यात्मक रूप से सही नहीं है. ऐसा इसलिए क्योंकि पेट्रोलियम, रियल एस्टेट, शराब और बिजली को जीएसटी के दायरे में नहीं रखा गया है. बिजली कंपनियों को मिलेगा सस्ता कर्ज Mere 3 Floor ke zero aaya hai . haa maiac nahi chalatapic.twitter.com/GHfEtNX3zu नई दिल्ली | March 5, 2016 4:58 AM पूंजीपतियों के लिए जीएसटी New Delhi, New Delhi, Delhi अन्य देशों की खबरें In the Spotlight शिक्षा विभाग को पता नहीं: 17 अगस्त अवकाश है | MP NEWS उज्जैन. चुनावी वर्ष में राज्य शासन बीपीएल श्रेणी के बिजली उपभोक्ताओं के बिल माफ करने जा रहा है। अगले महीने शुरू हो रही योजना में उन उपभोक्ताओं को भी फायदा मिलेगा, जिन्होंने बिजली चोरी की, जिन पर न्यायालय में प्रकरण भी दर्ज है या जिन्होंने समाधान योजना में बकाया राशि माफ करवा चुके हैं। इस नई योजना से शहर में करीब ३५ हजार बीपीएल उपभोक्ताओं की लाखों रुपए की बकाया राशि माफ होगी। वहीं चोरी के प्रकरणों में फंसे सैकड़ों उपभोक्ताओं को राहत मिलेगी। दिल्ली सर्राफा बाजार बंद छोटे उद्योगों के लिए औसतन विद्युत दर 5.14 रुपए प्रति यूनिट से बढ़ाकर रुपए 5.38 प्रति यूनिट कर दी गई है जबकि बड़े उद्योगों के लिए 5.16 रुपए से बढ़ाकर 5.41 रुपए कर दी गई है। कुमार ने बताया कि प्रदेश की विद्युत वितरण कंपनी उत्तराखंड पावर कारपोरेशन लिमिटेड बिजली 3.10 रुपए में खरीदेगी और उपभोक्ताओं को 4.92 रुपए में बेचेगी। परावैद्युत सामग्रियाँ प्रभाग (डीएमडी) पेनाल्टी के रूप में निगम द्वारा दिये गये  टैरिफ प्रस्ताव से 120 करोड़ रुपये घटा दिया गया है. आयोग के निर्देश के बावजूद वितरण निगम ने उपभोक्ताओं को  सिक्यूरिटी डिपोजिट पर इंटरेस्ट भी नहीं दिया है. अगर अगले छह महीने तक उपभोक्ताओं को  सिक्यूरिटी पर इंटरेस्ट नहीं मिलता है, तो फिक्स चार्ज में पांच फीसदी की कटौती की  जायेगी. छह महीने के अंदर डिमांड बेस्ड मीटर लग जाने के बाद डिमांड बेस्ट  टैरिफ लागू की जायेगी.  सस्ता ऊर्जा - विद्युत प्रदायक बदलें सस्ता ऊर्जा - और अधिक जानकारी प्राप्त करें सस्ता ऊर्जा - कम लागत बिजली प्रदाता
Legal | Sitemap