शासनादेश सो सॉरी सर्वेक्षण 2018 रोजगार समाचार SENSEX गैलरी सचिव, अधिवक्ता संघ बेरमो, तेनुघाट Asian Games 2018: क्या गेम्स शुरू होने से पहले ही दो गोल्ड मेडल हार गया भारत! Newsroom मैसेजबोर्ड हिंदी Switch to ENGLISH सूची व्यवसायियों ने जलाया बिजली नियामक आयोग का पुतला Do You Know? पुलिस पर कॉलेज कैंपस में उत्पात मचाने का आरोप,... GO CURRENT AFFAIRS म. प्र. पावर ट्रांसमिशन क. लि. नागरिक सेवाएं 400 केवी डबल सर्किल बाड़मेर से भीनमाल लाइन पर चल रहे कार्य की इस विशेष तस्वीर के लिए भास्कर के फोटाे जर्नलिस्ट 120 मीटर ऊंचे निर्माणाधीन टाॅवर पर चढ़े। टॉवर पर काम कर रहे बिहार के भागलपुर के मजदूरों ने बताया कि कम्पनी द्वारा सेफ्टी जैकेट और हेलमेट उपलब्ध करवाए गए है और वह रस्सों की सहायता से इन टाॅवरों काे लगाने का काम कर रहे हैं। जॉन अब्राहम की बॉडी बनवाई इस शख्स ने 6 पैक्स एब्स के बारे में ये सीक्रेट्स किए शेयर 7 mins डिफॉल्टरों पर 4 करोड़ रुपये अब भी बकाया Best Air Coolers in India Promote this Tweet गंगापार कार्यालयीन निविदा मैनुअल-3 & 4 छपरा पहला टी-20 अंतर्राष्ट्रीय TV Serials ऑन लाईन आवेदन करे सीमा विवाद सुलझाने के लिए वाजपेयी ने तैयार की थी प्रणाली: चीन वर्ष 2015 में प्रधानमंत्री ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर अपने संबोधन में बिजली से वंचित 18,452 गांवों के 1,000 दिनों में विद्युतीकरण की घोषणा की थी. हालांकि बिजली मंत्रालय यह लक्ष्य इस साल दिसंबर तक हासिल करने की उम्मीद कर रहा है. बिजली मंत्रालय के गर्व पोर्टल के अनुसार कुल 18,483 गांवों में से 14,483 गांवों को बिजली पहुंचायी जा चुकी है. वहीं 2,981 गांवों के विद्युतीकरण काम जारी है. जबकि 988 गांवों में कोई नहीं रहता है. पोर्टल के अनुसार ग्रामीण क्षेत्रों में 17.92 परिार में से 13.87 परिवार को बिजली कनेक्शन मिल गया है. वहीं 4.05 करोड़ परिवार को बिजली कनेक्शन मिलना बाकी है. हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application हकीकत या कहानी : दुनिया के अनसुलझे रहस्य, जो अाज भी बने हुए है अबूझ पह... मारपीट के आरोपी दिग्विजय सिंह ने सौंपे सभी सरकारी हथियार यादृच्छिक लेख XII योजना के अंतर्गत सीपीआरआई की पूँजी परियोजनाएँ 23-Dec-16 01:28 मेट्रो दिल्ली मुंबई लखनऊ EMAILFACEBOOKINSTAGRAMTWITTERGOOGLE+WHATSAPP We have sent you an OTP. Please confirm it for verfication परिवादी गंगोत्री पत्नी रामवीर सिंह तोमर निवासी शिवपुरम कॉलोनी ने म.प्र. पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी आनंद नगर के खिलाफ परिवाद पेश किया था। परिवादी ने कंपनी द्वारा अनुमानित रीडिंग का बिल देने और खपत से ज्यादा बिल आने पर कंपनी कार्यालय में शिकायत की। साथ ही मीटर बदलने के लिए आवेदन किया। 18 फरवरी, 2016 को राशि जमा करके नया कनैक्शन लिया लेकिन कम्प्यूटर में जानकारी अपलोड नहीं होने से मार्च तक के बिल जारी नहीं किए। नवम्बर व दिसम्बर 2016 में एवरेज यूनिट खपत के बिल जारी किए। कंपनी ने अनुमानित रीडिंग 5508 यूनिट खपत का बिल दिया जबकि इतनी खपत नहीं है। कंपनी से परेशान होकर उपभोक्ता ने फोरम में परिवाद लगाया। समस्‍तीपुर एंट्री लेवल फोन्स के लिए लॉन्‍च हुआ एंड्रॉयड 9 पाई हुआ लॉन्‍च, भारत समेत 120 से अधिक देशों में होगा उपलब्‍ध भूमि की बर्थ-डे पार्टी में शामिल हुए ये... Google News in Hindi Ideas for your classroom अक्टूबर 12, 2017 Ranjeet Jha आपका प्रदेश, ट्रेंडिंग 0 बीपीएल के बकायादार उपभोक्ताओं के बिल माफी योजना जुलाई माह से शुरू हो जाएगी। करीब ३५ हजार उपभोक्ताओं को फायदा मिलेगा। जहां तक चोरी व न्यायालय वाले प्रकरणों की बात है इसे लागू करने पर संशय है। २०० रुपए महीने वाले स्कीम भी जुलाई से लागू होगी। 300 मीटर ऊंची उत्तर भारत की बुर्ज खलीफा बनकर तैयार, नजीब जंग का भी बनेगी ठिकाना 55 mins हमसे संपर्क करें गिव जंगानेह बताते हैं, "हमारी तकनीक पंप स्टोरेज प्लांट की तुलना में 20 से 30 फीसदी सस्ती है. इसके अलावा हमें बड़े बांध और बड़े जलाशय बनाने की भी जरूरत नहीं है जो प्रकृति के साथ छेड़छाड़ करता है. ये पूरे का पूरा स्टोरेज पहाड़ के अंदर बना है. इसका फायदा न सिर्फ आर्थिक तौर पर है बल्कि पर्यावरण संरक्षण के लिहाज से भी. " राज्य विद्युत उपभोक्ता परिषद के अध्यक्ष अवधेश कुमार वर्मा ने लाइन लॉस का पूरा भार बिजली उपभोक्ताओं पर न डालने की वकालत की। उन्होंने ओडिशा का उदाहरण देते हुए कहा कि बिजली कंपनियों के घाटे के आधार पर जो रेग्युलेटरी सरचार्ज लगाया जाता है। उसका 50 प्रतिशत हिस्सा उपभोक्ताओं और 50 प्रतिशत हिस्सा बिजली कंपनियों को देना चाहिए। ताकि बिजली कंपनियों की लापरवाही का खामियाजा ईमानदार उपभोक्ताओं पर न पड़े। भूपेंद्र सिंह हुड्डा पड़ रहे हैं पार्टी के भीतर और जनता के बीच कमजोर बरनाला/संगरूर विष्णु दिगंबर पलुस्कर: गायकों को सम्मान दिलाने की लड़ाई लड़ने वाला 'शास्त्रीय' सितारा Promoted by 20 supporters Search query Search Twitter एक्सक्लूसिव Saturday 18 August 2018 स्मार्ट बनिए आ रही DIWALI में, अपने Love Bird को दीजिए Diamond Jewelry नौवां सवाल –  इस योजना को पूरे देश में कैसे लागू किया जाएगा? मुख्य परीक्षा का फॉर्म कैसे भरें? बिजली कंपनी में अब फिर से अनुकंपा नियुक्ति शुरू होने जा रही है। इससे नियुक्ति का इंतजार कर रहे कर्मचारियों के... कॉपीराइट नीति बीज ग्राम योजनाबाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं डीईआरसी की बैठक में बिजली की नई दरें तय की गईं.  डीआईआरसी ने बिजली कनेक्शन पर फिक्स चार्ज बढ़ा दिया है.2 kV के कनेक्शन पर फिक्स चार्ज 20 रुपये से से बढ़ाकर 125 रुपये और 2kv से 5kv तक कनेक्शन पर यह चार्ज 35 रुपये से बढ़ाकर 140 रुपये किया गया है. Do You Know? अनार (Pomegranate) प्रेषित समय :08:53:32 AM / Wed, Jun 13th, 2018 Country Code For customers of क्या पहाड़ी गुफा में बचा कर रखी जा सकती है बिजली Promoted by 85 supporters टेबलेट्स इकनॉमिक टाइम्स | Updated:Jun 4, 2018, 08:14AM IST नदी घाटी/बाढ उन्मुख नदी योजना असिस्टेंट विजिलेंस ऑफिसर यह पहली बार नहीं है, जब दिल्ली में बिजली के फिक्स चार्ज में बढ़ोतरी की गई है. इससे पहले भी कई बार फिक्स चार्ज में वृद्धि की जा चुकी है. वहीं, DERC ने बिजली की कीमतों में कटौती करके आम जनता को राहत देने की बात कही है, लेकिन हकीकत यह है कि यह आंकड़ों का हेरफेर ही है. इससे आमजन को कोई खास राहत नहीं मिलने वाली है. Gujarati News Insulation हाईटेंशन (एचटीएस 11केवी)  6.25   5.75 Copyright © 2018 Hindustan Media Ventures Limited. All Rights Reserved. जिले का मानचित्र कृषि (25 एचपी से ज्यादा)- 5.70 - 5.60 शहरी उपभोक्ता घरेलू दो  बिहार पुलिस में बम्फर बहाली! यह भी पढ़ेंः एक रात के लिए 15 हजार रुपये में नाबालिग लड़की का सौदा पहला टी-20 अंतर्राष्ट्रीय अक्षय कुमार दुनिया में सबसे ज्यादा कमाई करने... जीपीएस नेविगेशन, कीलेस एंट्री 500 मेगावाट के लिए 30 कंपनियों ने लगाई बोली सौभाग्य योजना (सहज बिजली हर घर योजना) उत्तर प्रदेश के लोए यहाँ क्लिक करें॥ जैविक खेती 1 Hours Ago Uttar Pradesh News Click to share on Twitter (Opens in new window) दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री खुराना के बड़े बेटे का निधन, BJP नेताओं... झारखण्ड में पावर कट की पहले से ही दयनीय स्थिति बरकरार है। सूबे के कई विद्युत धंधे बिजली के अभाव में बंदी के कगार पर है। श्री सहाय आज शनिवार को एचईसी परिसर स्थित अपने आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जनता पहले से ही बिजली दर की मार झेल रही है। दुसरी ओर बिजली दर में बेतहाशा वृद्धी कर जनता को परेशान किया जा रहा है। विद्युत योजना की तुलना करें - सर्वोत्तम ऊर्जा दरें विद्युत योजना की तुलना करें - ऊर्जा आपूर्तिकर्ता विद्युत योजना की तुलना करें - उपयोगिता मूल्य
Legal | Sitemap