लालू के साथ मुलाकात के बाद हक्के-बक्के शत्रुध्न ने ट्विट कर कही बड़ी बात, लगे हाथ तेजस्वी ने भी… डीईआरसी की बैठक में बिजली की नई दरें तय की गईं.  डीआईआरसी ने बिजली कनेक्शन पर फिक्स चार्ज बढ़ा दिया है.2 kV के कनेक्शन पर फिक्स चार्ज 20 रुपये से से बढ़ाकर 125 रुपये और 2kv से 5kv तक कनेक्शन पर यह चार्ज 35 रुपये से बढ़ाकर 140 रुपये किया गया है. आजादी के 71 साल बाद भी कुपोषण से हर साल होती है 3000 बच्चों की मौत - अनमीटर्ड ग्रामीण घरेलू उपभोक्ताओं की 180 व 200 रुपये प्रति किलोवाट के स्थान पर अब 300 रुपये प्रति किलोवाट की दर से भुगतान करना पड़ेगा। 1 अप्रैल से इन उपभोक्ताओं की दर 100 रुपये प्रति किलोवाट और बढ़ जाएगी और इन्हें 400 रुपये प्रति किलोवाट के हिसाब से बिल चुकाना होगा। read more राजकाज रुचि के स्थान केरल बाढ़ का जाजया लेने के लिए पीएम मोदी कोच्चि पहुंचे। एयरकंडीशनर 24 डिग्री सेल्सियस की डिफॉल्ट सेटिंग पर रखे जाने का प्रस्ताव है. सरकार ने निर्माता कंपनियों के साथ बैठक की है. 24 से 26 डिग्री सेल्सियस की डिफॉल्ट सेटिंग को आने वाले समय में अनिवार्य भी किया जा सकता है. नियम Related Items: साइबर संसार VIDEO : ओवैसी के पार्षद ने वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने का किया विरोध, भाजपा पार् विद्युत प्रणाली प्रभाग Mon, 20 Aug 2018 08:30 PM IST class="fa fa-bell">ब्रेकिंग: November 2017 For Advertisement Query Bloomberg Quint राष्ट्रीय परिप्रेक्ष्य योजनाएँ (एन पी पी) रणविजय सिंह CTET 2018: खुशखबरी! बीएड पास उम्मीदवार दे सकेंगे प्राइमरी सीटेट टेक Subscribe Now सिंह दूल्हा बनकर ठगी का मामला: पीड़ित नर्स ने ऐसे ढूंढा ठगी का मायाजाल तोड़ने का लिंक Your website: अरुणाचल प्रदेश प्रधानमंत्री जनधन योजना More From Barmer Movie Reviews जल उपलब्धता के आधार पर कृषकों को सिंचाई कार्य के लिए नलकूपों से जल दोहन हेतु डीजल/विद्युत पम्प सैट के लिए 9 वर्ष हेतु ऋण उपलब्ध- परीक्षा का प्रारूप पदों की संख्या: 1648 भद्रा के न होने से दिन भर बंध सकेगी राखी posted on August 18, 2018 बजट प्रावधान 11 फरवरी 2010. पंजाब में छोटी बिजली उत्पादक कंपनियों को कर्ज में आ रही परेशानियों को देखते हुए ऊर्जा मंत्रालय ने राज्य में काम कर रही निजी बिजली उत्पादक कंपनियों के साथ 11-12 फरवरी को एक बैठक बुलाई है। बैठक में कर्ज नियमों में ढील देने और पावर प्रोजेक्ट के लिए ज्यादा निवेशकों को आकर्षित करने पर विचार किया जाएगा। महिला प्रकोष्‍ठ जल ज्ञानकोश Back to top ↑ टेक और ऑटो योजनाएं : ‘गोठ एप’ पर जानिए, मिनीमाता योजना ने कैसे बदली युवाओं की आर्थिक स्थिति Topic/ मुना सिंह चानो CSC-UIDAI दिल्लीवालों को राहत देते हुए दिल्ली इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन (डीईआरसी) ने बिजली के बिल में राहत दे दी है. बिजली बोर्ड ने बिजली बिल में रीस्ट्रक्चरिंग की है. इसका फायदा सभी कैटेगरी के ग्राहकों को होगा. इस संशोधन में बिजली बिल का फिक्स्ड चार्ज कम बढ़ा दिया गया है और प्रति यूनिट बिजली का बिल घटा दिया गया है. इसका फायदा उन लोगों को मिलेगा जो हर महीने 400 यूनिट से कम इस्तेमाल करते हैं. यूथ कॉर्नर संपन्न परियोजनाओं की सूची अरावली प्लांट : अरावली पावर प्लांट हरियाणा और दिल्ली ने मिलकर बनाया है। इससे 50 पर्सेंट बिजली दिल्ली को मिलती है। लेकिन एक्सपर्ट का कहना है कि इसकी कॉस्ट बहुत ज्यादा है और एक यूनिट करीब 5 रुपये की पड़ती है। अभी दिल्ली को इसकी जरूरत नहीं है तो कुछ वक्त के लिए इसे रीअलोकेट किया जा सकता है क्योंकि अभी इसका खर्च भी पावर टैरिफ में ही जुड़ता है। खो गया है आपका स्मार्टफोन तो गूगल मैप की मदद से ऐसे खोजें कनेक्शनों की संख्या बढ़ाने के लिए किया फैसला मैनुअल-7,8 & 9 मध्यप्रदेश: राजकीय शोक एवं अवकाश की आधिकारिक सूचना | MP HOLY DAY News18 India रांची : झारखण्ड निर्माण के लिए सदा अटल जी के ऋणी रहेंगे- रघुवर दास Gemini (मिथुन) लखनऊ: उत्तर प्रदेश में बिजली सस्ती हो गई है। उत्तर प्रदेश विद्युत नियामक आयोग ने सोमवार को बिजली के बिलों पर लागू 2.84 प्रतिशत सरचार्ज को खत्म करने की घोषणा कर दी। अब सूबे के डेढ़ करोड़ से ज्यादा बिजली उपभोक्ताओं को अप्रैल महीने का बिजली बिल कम देना पड़ेगा। चंदौली उत्तर प्रदेश पी.सी.एस. © 2018 - Clever Prototypes, LLC - All rights reserved. 4.00             3.00  Election Results sanjay negi on राहुल गांधी फोन नंबर,Whatsapp नंबर,ईमेल अनुस्मारक Follow Us - प्रत्यय अमृत, प्रधान सचिव, ऊर्जा विभाग  वजन: 750 ग्राम विनोबा भावे विस्वविद्यालय स्नातकोत्तर छात्र संघ अध्यक्ष 12:27:15 AM UPA राज में भी चल रही थीं NDA की ये योजनाएं Copyright © 2015 Bhopal Samachar | No 1 hindi news portal of central india (madhya pradesh) सिविल सेवा ही क्यों? पिज्ज़ा ब्रैड, कंडस्ड मिल्क, फ्रोज़न सब्जियां, जीवन रक्षक दवाइयां और मिठाइयां इस स्लैब में रखी गई हैं। कोयला भी इसी स्लैब में है। इस पर पहले 11.69 प्रतिशत टैक्स लगता था। इसके चलते बिजली उत्पादन महंगा होता है। चीनी, चाय, कॉफी और खाने का तेल भी इसी स्लैब में हैं। अब तक इन पर 9% टैक्स लगता था। Aksharparv B positive किसी भी तरह की हेल्प के लिए यहां संपर्क करें महिलाएं... बर्बाद होता खजाना UpvoteDownvote आपका संदेश   ये हैं नयी दरें... एम आइ एस चाईबासा इमरान खान ने पाकिस्तान के 18वें प्रधानमंत्री के तौर पर शपथ ली, पहले दिन से कर्ज की दरकार Just Now इलेक्ट्रिक कंपनी प्रदाता - ऊर्जा आपूर्तिकर्ता इलेक्ट्रिक कंपनी प्रदाता - उपयोगिता मूल्य इलेक्ट्रिक कंपनी प्रदाता - सर्वश्रेष्ठ विद्युत मूल्य
Legal | Sitemap