बैलगाड़ी योजनाबाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं Jet Airways की बोर्ड बैठक 27 अगस्त को, जून तिमाही के नतीजों पर होगा... भारत के जिले आवास रोजगार समाचार संपर्क सूचना कुमार ने कहा, 'कई पावर कंपनियों के कर्ज को पहले ही बैड लोन कैटेगरी में डाला जा चुका है और इस तरह के कुछ और लोन इस वर्ग में जा सकते हैं। हाईकोर्ट का फैसला बैंकों के लिए अच्छा है क्योंकि इससे उन्हें कोर्ट से बाहर लोन रिजॉल्यूशन के लिए अधिक समय मिलेगा।' आरबीआई के सर्कुलर में 180 दिनों के पीरियड के लिए 1 मार्च को रेफरेंस डेट बताया गया था। इसलिए बैंकरप्सी कोर्ट से बाहर लोन रिजॉल्यूशन के लिए बैंकों के पास अगस्त के अंत तक का समय है। अभी देश की 22 पर्सेंट इंस्टॉल्ड पावर जेनरेशन कैपेसिटी एनपीए है। रिजर्व बैंक के डेटा के मुताबिक, भारतीय बैंकों ने पावर सेक्टर को अप्रैल के अंत तक 5.19 लाख करोड़ रुपये का कर्ज दिया हुआ था। Partners गणेश महाली नैनीताल में जिन जगहों पर अटल जी रुके उन यादों को संजों कर संग्रहालय बनाया जायेगा। LATEST VIDEO राजकीय शोक के चलते IPPB की शुरूआत टली दस्तावेजों का प्रवर्गों के अनुसार विवरण भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य सह मंत्री प्रतिनधि पूर्व गवर्नर ने बताई रुपये गिरने की बड़ी वजह बागपत शेयर     A | B | C | D | E | F | G | H | I | J | K | L | M | N | O | P | Q | R | S | T | U | V | W | X | Y | Z | अन्य चम्पा देवी दादी नानी के नुस्खे आइए जानते हैं बिजली की दरों में बढोतरी को लेकर किन मुद्दों पर गुप्ता ने सरकार को घेरा सरकार ने निजी कंपनियों के उस हिसाब किताब को लेकर कोई पड़ताल नहीं की, जो कंपनियों ने सरकार के पास जमा कराया. हर साल कंपनियां फर्जी घाटा सरकार के सामने पेश करती हैं और सरकार चुपचाप उसे अपने पास रख लेती है, इसका मतलब है कि सरकार की मौन स्वीकृति है. अब कंपनियों ने इसी घाटे को आधार बनाकर बिजली की बढ़ी हुई दरें डीईआरसी के सामने पेश कर दी हैं. सरकार तो (सीएजी) आडिट कराने की बात करती थी, लेकिन अब उस मामले पर चुप है, केजरीवाल जी को जवाब देना चाहिए कि आखिर दिल्ली वालों को सस्ती बिजली के सपने दिखाकर बिजली महंगी करने की तैयारी क्यों की जा रही है. सरकार हर साल दो हज़ार करोड़ रुपए निजी बिजली कंपनियों को सब्सि़डी के तौर पर दे रही है, दिल्ली की जनता की कमाई का पैसा कंपनियों को दिया जा रहा है और अब दिल्ली की जनता पर ही टैरिफ का बोझ बढाने की तैयारी हो रही है. Washing Machine ई-पेपर▼ पशुपालन निगम ने निजी सिंचाई क्षेत्रों के लिए बिजली की दर  बढ़ा कर 5.25 रुपये करने की अनुशंसा की है. वहीं, राज्य के लिए सिंचाई की  नयी दर छह रुपये प्रति किलोवाट करने का आग्रह किया है Time: 2018-08-18T05:27:18Z विमर्श 3/6 वाजपेयी निमोनिया से पीड़ित थे, काम नहीं कर रहे थे कई अंग: चिकित्सक योजना घरेलू उपभोक्ताओं के लिए ही है वो भी घरेलू फ्रीज, बल्ब, टीवी, पंखे के लिए हैं। एसी, हीटर योजना में ग्राहक नहीं चला सकेंगे। यदि ऐसा किया गया तो ग्राहक बिजली कनेक्शन के दायरे से बाहर हो जाएंगे और वे सरल बिल योजना का लाभ नहीं ले पाएंगे। वहीं यदि यूनिट खर्च भी सौ से ज्यादा आया तो सौ यूनिट के ऊपर के सारे खर्च का भुगतान भी बिजली ग्राहकों की ओर से किया जाएगा, यानि सात सौ के कुल बिल के बाद की पूरी रकम ग्राहकों से वसूल की जाएगी। बाल स्वास्थ्य हिन्दू जागरण मंच ने वीरपुर से नौलागढ़ तक निकाली शोभा यात्रा, पुलिस रही चौकस फोटो और कंटेंट: नरपत रामावत तरंग consumer forum आम मुद्दे भारत पहुंच विश्व के इन नेताओं ने अटल जी को दी श्रद्धांजलि मुजफ्फरपुर Article असंगठित क्षेत्र का कल्याण ITR फाइलिंग में फिर किया गया बदलाव मूसलाधार बारिश के बाद अजमेर के कई इलाके जलमग्न इस ‘श्रद्धांजलि’ से वह तिलांजलि नहीं छिपने वाली, जो संघ ने अटल को जीते दे दी थी अजमेर में मंत्री वासुदेव देवनानी ने स्कूल कक्षा कक्षों का किया लोकार्पण Samsung AC Technologies in India – Review शहडोल, अनूपपुर और उमरिया में सभी कार्य प्राइवेट कंपनियों को दिए गए हैं। वहीं सौभाग्य योजना का कार्य शहडोल जिले में विद्युत विभाग स्वयं करवा रहा है। लेकिन ताजुब की बात यह है कि विभाग प्राइवेट कंपनियों की अपेक्षा और अधिक सुस्ती दिखा रहा है। शहडोल में सौभाग्य योजना का केवल 18 प्रतिशत कार्य ही हुआ हो। वहीं अनूपपुर व उमरिया जिले में सौभाग्य योजना के कार्य प्राइवेट कंपनियां कर रहीं हैं, जिन्होंने 24 वर्क पूरेा कर लिए हैं। निदेशालय, सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा More From Patna कांग्रेस प्रवक्ता अमरनाथ अग्रवाल ने कहा, ‘‘अगर जनता के बारे में सोचा होता तो ये बढ़ोतरी नहीं होती. अगर आपका कदम ठीक था तो सप्ताह भर पहले दाम बढ़ा देते लेकिन नगर निकाय चुनावों के कारण ऐसा नहीं किया गया. यह एक तानाशाहीपूर्ण कदम है.’’ दुनिया की सबसे बड़ी न्‍यूक्लियर साइट विकास खण्ड भजन गाए जा रहै है कीर्तन भी हो रहा है पानी में दर्जनों लोग मौजूद हैं. शहर में विरोध बिजली कंपनी के खिलाफ हो रहा है. शहर में बिजली व्यवस्था की कमान जब से निजी कंपनी केईडीएल को सौंपी गई थी. जिसके बाद बिजली कंपनी ने स्मार्ट मीटर लगाए और लोगों के बिजली के बिल दो से तीन गुना बढ़ गए. शहर के हर शख्स की मांग यही है की बिजली कंपनी के खिलाफ कार्रवाई हो बिजली कंपनी को वापस भेजा जाए इसी को लेकर KEDL भगाओ कोटा बचाओ संघर्ष समिति बनाई गई है. Comments बेगूसराय में फांसी पर झूला युवक, वीडियो फेसबुक पर लाइव हो रहा था वहीं लालजीराम तियु को पनाह देने वालों पर पुलिस कार्रवाई करेगी। छापेमारी टीम में मुख्य रूप से सदर अंचल के पुलिस निरीक्षक अनिल एक्का के अलावा मंझारी थाना प्रभारी, तांतनगर ओपी प्रभारी शामिल थे। ध्येय तथा मूल्य politics3 hours ago अंचलाधिकारी बड़कागांव August, 2016 Awesome | Updated:Feb 27, 2016, 09:00AM IST News Ticker 320C Today's e-Paper कुल्लू चंड़ीगढ़ गोंडा We are very sorry, the page you are looking for appears to be missing. Click here to go to the home page. कच्चा तेल (CRUDEOIL)   /  छत्तीसगढ़ Jammu And Kashmir News Agent Login Follow our भारत section for more stories. www.jagran.com 01 मई 2018, 12:01 AM प्रमुख आयोजन प्रोफ़ेसर दिवाकर ने कहा कि सरकार ने ग़रीबों को लिए जन धन अकाउंट खोला लेकिन अब उन ग़रीबों को इस अकाउंट को हैंडल करने के लिए आठ फ़ीसदी सर्विस टैक्स देना होगा. उन्होंने कहा कि इतने सारे विरोधाभासों के साथ कोई सरकार कैसे दावा कर सकती है कि इससे ग़रीबों को फ़ायदा होगा? और भी…बॉलीवुड 16,000 करोड़ रुपये से अधिक का खर्च सकारात्मक बाहरी रोजगार के सृजन और अर्थव्यवस्था को लाभान्वित करने में और मदद करेगा। ‘रेस 3’ के गाने में साथ नजर आएंगे सलमान-सोनाक्षी … सुशील कुमार January 2018 सिंह राशि वालों आज नई नौकरी मिलने का योग है। आज आर्थिक स्थिति थोड़ी टाइट रहेगी। इस राशि के......Read more | मुख्य पृष्ठ पर जाएं संगठन अग्रसक्रिय प्रकटन खातोंधारकों की संख्या 11 अप्रैल तक 2017 की शुरुआत में रहे 26.5 करोड़ से बढ़कर 31.45 करोड़ हो चुकी थी. 9 नवंबर 2016 तक जब नोटबंदी की घोषणा हुई थी, खातों की संख्या 25.51 फीसदी थी. योजना विंग अभिलेख 09:42 स्मृति पटल पर रहेंगे अटल, अपूरणीय क्षति 51-100        2.90        6.40     अटल जी द्वारा कही गयी 10 बातें जिनके आगे दुनिया नतमस्तक हो गयी आईएफएस BY नूर मोहम्मद ON 05/06/2018 • कुंभ lCldzkbc डीबीएन न्यूज़/मुज़फ़्फ़रपुर:-(रूपेश कुमार). आज दिनांक 29-5-2018 सुबह करीब 9 बजे से 12 बजे तक मुज़फ़्फ़रपुर जिला के गायघाट थाना क्षेत्र में जारंग हाई-स्कूल चौक जो कि NH57 के अंतर्गत आता है आज वँहा लोगो ने एस्सेल के खिलाप सड़क पे उतर कर किया हला-बोल. गायघाट प्रखंड में थम नही रहा मेंटेनेन्स के नाम पर बिजली की कटौती, कभी बिजली की आँख मिचौली, कभी घन्टो तक बिजली नही देना ये एस्सेल कम्पनी के लिए आम बात हो चुक्की है. मेट्रो से और Indonesia 89887 AXIS, 3, Telkomsel, Indosat, XL Axiata आरा इंग्लैंड इकोनॉमी ड्राइविंग लाइसेंस जवाहर लाल महथा 11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय National News लेखक की संवेदना और विभाजन का दर्द बयां करती है... स्मार्ट ग्रिड जन धन खाताधारकों के लिए 15 अगस्त को बड़ी घोषणाएं .. Designed by Hocalwire विद्युत प्रदायक बदलें - इलेक्ट्रिक कंपनियां आज स्विच करें विद्युत प्रदायक बदलें - बिजली की लागत विद्युत प्रदायक बदलें - बिजली का मीटर
Legal | Sitemap