India Today Conclave Quintype शुद्ध पेयजल की कमी के कारण जलजनित रोग सबसे अधिक जानलेवा भूजल यशपाल मलिक की मनोहर सरकार को धमकी, पुलिस ने सुरक्षा बढ़ाई #सावन माह यूपी में बिजली उपभोक्ताओं को राहत, कनेक्शन लेना हुआ सस्ता जानिए कौन है निहारिका, जिन्होंने आखिरी वक्त तक की वाजपेयी की सेवा जवाब -हमारे देश में घरेलु विद्युत् कनेक्शन लेने वाले लोगों का प्रतिशत बहुत कम है। इस सौभाग्य योजना का उद्देश्य देश के सभी ग्रामीण और शहरी इलाकों में रहरहे सभी शेष गैर-विद्युतीकृत परिवारों को अंतिम छोर तक बिजली कनेक्शन द्वारा ऊर्जा प्रदान करना है। चक्रधरपुर : 64 मौजा के ग्रामीणों ने कराया बालक भोजन, शिव भक्तों ने किया प्रसाद ग्रहण स्कूल विद्यार्थियों के लिये टिप्स ऑनलाइन रिलीज़ ऑर्डर और बिलिंग सिस्टम Click to share on Twitter (Opens in new window) केरल बाढ़: खराब मौसम के चलते नहीं हो पाया पीएम का हवाई सर्वे, 500 करोड़ रूपये अंतरिम राहत की घोषणा नवभारत टाइम्स | Updated:Mar 16, 2018, 08:00AM IST 1-100        4.27 रुपए    ¯6.15 रुपए Why Use 3-pin plugs for electrical safety? रांची। झारखण्ड में विद्युत नियामक आयोग द्वारा घोषित नई विद्युत टैरिफ पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुबोध कांत सहाय ने कहा कि रघुवर सरकार संवेदनहीन हो गई है। बिजली बिल में अप्रत्याशित वृद्धी का जनविरोधी निर्णय लेकर जनता पर अतिरिक्त बोझ डाल दिया गया है। Svenska रायबरेली ग्यारहवां सवाल –  बिजली के नेटवर्क में 4 करोड़ परिवारों को शामिल करने के साथ क्या बिजली की मांग में वृद्धि का अनुमान लगाया जाएगा? बिजली कंपनी के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक प्रत्यय अमृत व एनटीपीसी के सीएमडी गुरदीप सिंह ने संयुक्त प्रेस वार्ता में कहा कि 17 अप्रैल को कैबिनेट ने इन बिजली घरों को एनटीपीसी को देने पर सहमति दी थी। एमओयू पर हस्ताक्षर एनटीपीसी के डायरेक्टर कॉमर्शियल एके गुप्ता व कंपनी के प्रबंध निदेशक आर लक्ष्मणन ने किया। करार होने के बाद बरौनी से 684 करोड़ , कांटी से 54.69 करोड़ और नवीनगर से 136 करोड़ कुल 865 करोड़ सालाना बचत होगी। करार के समय मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह, सीएम के प्रधान सचिव चंचल कुमार, सचिव अतीश चंद्रा व मनीष कुमार वर्मा, विशेष सचिव अनुपम कुमार सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे। Follow @thewirehindi झरिया इस तारीख को जिओ फ़ोन 2 की अगला फ़्लैश सेल, तैयार रहे सुभाष चन्द्र परमानिक अटल बिहारी वाजपेयी: किसी को श्रद्धांजलि देते वक़्त हम पाखंड क्यों करने लगते हैं कृषि संवाद 0 Copyright © 2018 Mahanagar Times. All Rights Reserved. (अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) महिला रोज़गार दरJul 31, 2018 शहरी इलाकों में सरकार आवास के निर्माण एवं खरीद के लिए मदद करती है। इसके तहत लोन में ब्याज पर छूट मिलती है और कुछ राशि की मदद भी मिलती है। यूपीए के दौर में यह स्कीम राजीव गांधी आवास योजना के नाम से चल रही थी। मौजूदा समय में कमर्शल बिजली उपभोक्ताओं को गर्मियों के दौरान कम से 650 रुपये प्रति कनेक्शन का बिल देना पड़ता है। यानि कितनी भी कम बिजली का उपभोग हो, मगर उपभोक्ताओं को कम से कम 650 रुपये का बिल देना ही होगा। सर्दियों में कमर्शल उपभोक्ताओं के लिए मिनिमम चार्ज 450 रुपये प्रति कनेक्शन होता है। Sagittarius (धनु) दूसरा टी-20 अंतरराष्ट्रीय रांची. ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव डॉ नितिन मदन कुलकर्णी ने कहा कि बिजली के दर में अभी बढ़ोतरी नहीं हुई है. मामला विद्युत नियामक आयोग के पास विचाराधीन है. आयोग द्वारा सुनवाई पूरी कर ली गयी है, लेकिन आदेश पारित नहीं किया गया है.  बाजार में तेजी, सैंसेक्स 284 अंक चढ़ा और निफ्टी 11470 के पार बंद घरों में बिजली कनेक्शन देने के कार्य में निकटतम विद्युत खंभे से सर्विस केबल घर तक लाना, एलटी लाइन से यदि घर की दूरी 45 मीटर से अधिक है तो नए खंभे लगाना, बिजली मीटर लगाना, एलईडी बल्ब और एक मोबाईल चार्जिंग प्वाइंट के साथ एकल विद्युत प्वाइंट के लिए तार डालना शामिल है। यदि सर्विस केबल लाने के लिए संबंधित घर के पास विद्युत खंबा नहीं है, तो खंबा लगाया जाना भी इस योजना में शामिल है। टूरिज़्म Motihari URL: https://www.youtube.com/watch%3Fv%3DzZ3gVHlTCEY%26vl%3Den अम्बा प्रसाद गोपाल सिंह [email protected] Sitemap| प्रशांत पोद्दार पंद्रहवां सवाल –  किस तरह से, यह योजना दैनिक जीवन में लोगों के लिए उपयोगी होगी? खुशखबरी! दिल्ली में बिजली के दाम कम हुए, जानिए नई दरें छत्तीसगढ़                         100                 3.83 रुपए  ग्रामीण नवाचार कृ‍षि वैज्ञानिक भर्ती बोर्ड (एएसआरबी) Aug 02, 2018 पात्र गृहस्थी राशन कार्ड 719 पश्चिमांचल पिपलियामंडी उत्पाद व सेवाएं Evaluation and comparison of Superfan, a BEE 5 star rated fan and regular fans टैक्‍स RANCHI : ‘कजरी द सावन क्वीन’ : होटल जेनिस्टा इन में फाइनल 19 अगस्त को नवीकरणीय ऊर्जा की स्थापित क्षमता में वृद्धि कर इसके लिये 2022 तक 175 गीगावाट का  लक्ष्य रखा गया है। उदय July 11, 2018 बैटरी परीक्षण प्रयोगशाला उस समय सीएसपीडीसीएल 28वें स्थान पर था। ताजा रिपोर्ट में 31वां रैंक दिया गया है। दोनों ही रिपोर्ट में कंपनी को बी ग्रेड दिया गया है। कंपनी को 100 में से 35 से 50 के बीच अंक मिले हैं। यानी कंपनी का परिचालन (ऑपरेशनल) और वित्तीय प्रदर्शन औसत से नीचे है। टोल लिया तो कैब कंपनी पर FIR कराएगी एमसीडी தமிழ் यूपीए के 10 सालों में आया 770 अरब डॉलर का कालाधन, रिपोर्ट की जानकारी देने से वित्त मंत्रालय का इंकार Block 5:57 People August, 2016 केंद्रीय ऊर्जा राज्य मंत्री आर.के. सिंह ने कहा कि देश में 3 करोड़ 60 लाख परिवार ऐसे थे, जिनके घर में बिजली नहीं थी। इनमें से 78 लाख परिवारों तक बिजली पहुंचा दी गई है। शेष बचे सभी घरों को इसी साल के 31 दिसम्बर तक बिजली पहुंचा दी जाएगी। केंद्र सरकार इस दिशा में तेजी से कार्य कर रही है।  इलायची (CARDAMOM) मार्किट संबंधित लिंक चर्चित विडियो अगर राज्य का आकलन सही तरीके से किया जाए तो ना तो यहां बेरोजगारी की समस्या खत्म हुई है और ना ही पलायन का। यहां ना तो गरीबी खत्म हुई है और ना ही जीवन जीने के तरीकों में कोई सुधार हुआ है। स्वास्थ्य और शिक्षा के हालात पर हर दिन बहस हो रही है। दिल्ली के एम्स में चल रहा था इलाज, राजनीति के युग का हुआ अंत नई दिल्ली। रडार न्यूज   देश के पूर्व प्रधानमंत्री एवं भारत रत्न... Bihar News in Hindi [email protected] अपने बिटकॉन्स के साथ एक कार खरीदें: वाहन बाज़ार बीपी क्रिप्टोकुरेंसी को अपनाता है ऊना मप्र में बिजली के दामों में 8 से 10% बढ़ोतरी वितरण प्रणालियाँ प्रभाग में उपलब्ध साफ्टवेयर सुविधाएँ - डीएसडी पौड़ी 10 अगस्त 2018 Reduce the allowable size of new homes built in Coconut Grove to 50% of the lot area. सिविल सेवा परीक्षा : संदिग्ध युवक निकला शातिर अपराधी, कमर से पिस्टल तो बाइक भी चोरी का June 27, 2018 भूकम्प इंजीनियरी तथा कम्पन अनुसंधान केंद्र (ईवीआरसी) This Month : 18 Download MProfit - Easy to use Portfolio Management Software जानिए ऐसा क्या करेंगे कि मिलेगा सस्ती ब्याज दर पर लोन उत्तर रेलवे ने बदला अपना टाइम टेबल, कल से बदल जाएगी 300 से ज्यादा ट्रेनों की टाइमिंग केरल के बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए आगे आया UAE, शेख खलीफा ने दिए अहम निर्देश Sign Up केरल में बाढ़ और बारिश का तांडव, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी, प्रधानमंत्री.. Total 0 search results found for %E0%A4%B8%E0%A4%B8%E0%A5%8D%E0%A4%A4%E0%A5%80%20%E0%A4%AC%E0%A4%BF%E0%A4%9C%E0%A4%B2%E0%A5%80 Jammu & Kashmir links: आरसी ब्यूरो, औरंगाबाद।  बीजेपी शासित राज्य महाराष्ट्र में राज्य विद्युत वितरण कंपनी की लापरवाही की वजह से एक गरीब ने खुदकुशी कर ली। ये घटना महाराष्ट्र के औरंगाबाद की है, जहां महाराष्ट्र राज्य बिजली बोर्ड (एमएसईबी) ने भारत नगर इलाके में रहने वाले भागिनाथ शेळके को 8 लाख 64 हजार रुपये का बिजली का भेजा दिया। इसके साथ ही 17 मई तक ये बिजली बिल न जमा करने पर 10 हजार रूपये के जुर्माने की भी बात कही गयी थी। इससे परेशान इस शख्स ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस के अनुसार भागिनाथ शेळके अपने परिवार का भरन पोषण सब्जी बेचकर करता था। लाखों के बिजली बिल से वो काफी तनाव में था। पुलिस ने बताया है कि मरने से पहले भागिनाथ शेळके ने एक नोट भी छोड़ा है।  इस नोट में उसने भारी-भरकम बिजली का बिल होने के कारण जान देने के लिए मजबूर होने की बात लिखी है। बिजली स्विच करें - ऊर्जा कंपनियों की सूची बिजली स्विच करें - विद्युत लागत कैलकुलेटर बिजली स्विच करें - गैस और इलेक्ट्रिक आपूर्तिकर्ता
Legal | Sitemap