आज का मुद्दा रामगढ़ एटक नेता सिंदरी हास्य-व्यंग्य NDTVBusinessHindiMoviesCricketHealthFoodTechAutoAppsPrimeArtWeddings अटलजी को श्रद्धांजलि देने जा रहे अग्निवेश की भाजपा मुख्यालय के बाहर पिटाई 10 mins भ्रष्टाचार मुक्त भारत हमारी मांग नहीं हमारी जिद्द है । जय हिन्द । http://fb.com/AamAadmiParty  FAQs Districts Cookie Policy 02018-07-17T12:08:48 Tags: Final Report Gorakhpur Final Report news Gorakhpur Gorakhpur City News Gorakhpur Final Report Gorakhpur Local News Gorakhpur News in Hindi Latest Gorakhpur News अटलजी नकारात्मक सोच से हमेशा दूर रहे, उनके व्यंग्य पर लोग तिलमिलाते तो जरूर थे, पर आहत नहीं होते: लालकृष्ण आडवाणी 14 mins डीईआरसी ने बुधवार को साल 2018-19 के लिए बिजली की नई दरों की घोषणा कर दी है. इस बार दिल्लवासियों को बड़ी राहत देते हुए बिजली की दरों को घटा दिया गया है. रद्द कराए गए आपके टिकटों से रेलवे की 'चांदी' CONTACT US. PRIVACY POLICY. LEGAL DISCLAIMER. COMPLAINT. AUTHORS. INVESTOR INFO. CAREERS. WHERE TO WATCH Tiếng Việt Username or Email Address TERMS OF USE TRENDING VIDEOS अन्य कोई Energy Efficient Star Rated Power Inverters in India Vasant Valley Tags:#Jharkhand#Ranchi#costlier domestic electricity up to 98%#applicable from May#unit#electricity इटावा Ceiling Fans are arguably the most ignored appliance when it comes to energy savings. People talk about big appliances like AC and refrigerator consuming a lot of energy. But what most people do not understand is that Ceiling Fans cumulatively consume more electricity than a refrigerator in a house. In fact, after Air Conditioners (if used), it is the second biggest contributor to electricity bills of any household. However, ceiling fans have a very good scope for मूल्य: negotiation सरस्वती बनर्जी दिल्ली में बिजली की दरों में फिक्स चार्ज में बढ़ोतरी फतेहपुर किसान कर्ज माफी और जीएसटी से राज्‍यों का राजकोषीय घाटा बढ़ा : आरबीआई Who's Online : 1 Stories You May Like Air Conditioners Clear पॉलिटिक्स सूचक: नेतृत्व में सटीकता: कक्षा 1 एस अजमेर कलेक्ट्रेट पर आशा कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन सिरमौर महामंत्री, चास नगर, भाजपा पतंजलि की सेल्स ग्रोथ में आई नरमी, विदेशी कंपनियां दे रही हैं टक्कर! Inextlive दुकान के आकार नहीं बल्कि सर्विस से होती है ग्राहक को संतुष्टि Recent Posts इंडिया टुडे टीवी सुनील मानकी About Naidunia पूजा पश्चिमी सिंहभूम में भाजपा को मजबूत करने के संकल्प के साथ स्वंतत्रता दिवस की बधाई एक्सपर्ट के टिप्स नेटवर्क भाषा Español Bulgarian Български 0 0 Appliances कल फिर उत्तरप्रदेश में मोदी की रैली नयी दर लागू होने से एक उपभोक्ता को 200 यूनिट मासिक बिजली इस्तेमाल करने पर अब करीब 1215 रुपये चुकाने होंगे. वर्तमान दर पर वह 690 रुपये चुकाता है. इस तरह उस पर करीब 525 रुपये मासिक का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा. आयोग के अध्यक्ष अरविंद प्रसाद ने बताया : आयोग ने 200 यूनिट तक के लिए ग्रामीण क्षेत्रों  में बिजली दर प्रति यूनिट 1.25 रुपये से बढ़ा कर 4.40 रुपये कर दिया है.  शहरी क्षेत्र में सभी उपभोक्ताओं के लिए 5.50 रुपये प्रति यूनिट तय कर दिया  है. वर्तमान में शहरी क्षेत्र के उपभोक्ताओं को 3.60 रुपये प्रति यूनिट  देना पड़ता है.  मकर आपका पैसा झारखंड : साधारण बस के ओनर बुक पर चल रही हैं 400 एसी बसें देश-प्रदेश मापने का क्षेत्र Shimla गुजरात                             100                 4.24 रुपए 8.10             7.00  Show — मुख्य नेविगेशन Hide — मुख्य नेविगेशन वितरण प्रणालियाँ प्रभाग में उपलब्ध साफ्टवेयर सुविधाएँ - डीएसडी Tenders घर में नहीं रहेगा चूहों का नामोनिशान अगर अपनाएंगे ये जबरदस्त घरेलू नुस्खे समाचार और सूचना यूएचवीआरएल, हैदराबाद भूमि की बर्थ-डे पार्टी में शामिल हुए ये... सेपरेट न्यूट्रल : काकरिया कहते हैं कि केजरीवाल बिजली के मीटर जांचने की बात कर रहे हैं, लेकिन इससे कोई फायदा नहीं होगा। गड़बड़ी मीटर में नहीं है, दिक्कत न्यूट्रल में है। सिंगल फेज मीटर में सभी को सेपरेट न्यूट्रल नहीं दिया गया है और कॉमन न्यूट्रल की वजह से उन लोगों को भी ज्यादा बिल भरना पड़ता है, जो कम बिजली इस्तेमाल करते हैं। इसलिए सभी कनेक्शन में सेपरेट न्यूट्रल दिया जाए। वार्ड नं. 12 में समस्याओं का अंबार हमारा पता भारत के पीसी मार्केट में 28 फीसदी की ग्रोथ, अल्ट्रा स्लिम नोटबुक ने बढ़ाई मांग 49 mins CARSFACTOR देश विदेश धालभूमगढ़ वासियो को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं मीटर एकल चरण दो तार की स्थापना है और कॉम्पैक्ट ब्रिटिश स्टैंडर्ड 5685 पदचिह्न बढ़ते हुए घर में पॉली कार्बोनेट फायर रेटार्डेंट सामग्री के साथ बनाया गया है और बीहड़ आरएफ 30Vm की प्रतिकारकता का सामना कर रहा है, कठोर वातावरण में काम करने में सक्षम है। छेड़छाड़ का पता लगाने इस मीटर की एक और विशेषता है खुला, रिवर्स कनेक्शन और तटस्थ लापता कवर कवर किया जा सकता है और मीटर इस तरह के छेड़छाड़ पर लोड डिस्कनेक्ट करता है। सभी डीडीएसआई -168-I में उपभोक्ताओं के लिए उपयोगिता और सेवा प्रदाताओं और सुविधाजनक क्रेडिट डिपाइनर के लिए एक आदर्श राजस्व संरक्षण उपकरण है। जरूर पढ़ें सलमान की फिल्म ‘भारत’ में रेट्रो लुक में नजर आएंगी दिशा पटानी बिजली कंपनी के पदाधिकारियों के मुताबिक सहायक, सहायक कार्मिक पदाधिकारी, लेखा सहायक, स्टोर सहायक, पत्राचार लिपिक और आईटी असिस्टेंट के पदों पर बहाली का निर्णय हुआ है. पहली बार इतनी संख्या में बहाली निकलेगी. 07-Apr-16 09:40 क्रमांक 2067                                                                                                                 एचएस शर्मा/जोशी अमरीका पश्चिमी चंपारण डिस्क्लेमर जब एक ही कक्षा में विद्यार्थी थे अटल और उनके पिता साइंटिफिक एक्सपेरीमेंट Delete All Cookies Business Articles फीफा 2018 ଓଡ଼ିଆ फिरोजाबाद के लोहामंडी इलाके में तनाव, ये है वजह Facebook Messengerसब्सक्राइब Help जिले के प्रत्येक जेई को अभियान के तहत कम से कम 20 बिजली कनेक्शन काटने का लक्ष्य दिया गया है। जिसके लिए सभी जेई अपने-अपने डिविजन की सूची तैयार कर अभियान में जुड़ गए हैं। प्रदेश कार्यसमिति सदस्य,कांग्रेस करियर Copyright © 2018 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. स्‍थायी समिति के सदस्‍य # कोयला कंपनी मुख्य परीक्षा की रणनीति विनोबा भावे विस्वविद्यालय छात्र अध्यक्ष ग्वालियर, विशेष प्रतिनिधि। लोकायुक्त ने सोमवार को बिजली कंपनी के कनिष्ठ यंत्री एम पावसे के खिलाफ न्यायालय में चालन पेश कर दिया है। कनिष्ठ यंत्री एम पावसे को लोकायुक्त ने जून 2017 को 20 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा था। इस संबंध में आवेदक अनुरुद्ध सिंह राठौर ने पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त के सामने आवेदन प्रस्तुत किया था जिसमें बताया गया था कि उनकी कस्बा पोरसा में भिण्ड रोड पर मेसर्स कामतानाथ ट्रेडिंग कंपनी के नाम से तेल मिल है। बिजली कंपनी के सर्तकता दल ने उनके आॅयल मिल पर छापा डाला था। इस दल में कंपनी के कनिष्ठ यंत्री एम पावसे भी शामिल थे। छापे के बाद कंपनी की तरफ से उनके पास तीन लाख सत्तर हजार, तिरेपन रुपए का बिजली चोरी एवं पेनल्टी का नोटिस आया था। 0:55 उन्होंने कहा कि हमारी सरकार बिजली के बिल फाड़ने पर नहीं 24 घंटे बिजली देने के लिए प्रयासरत है. उन्होंने कहा, ''सैनिटरी पैड पर सरकार 12 फ़ीसदी टैक्स लगा रही है जबकि सोने पर तीन फ़ीसदी. टैक्स का जो स्लैब बनाया गया है उसे तोड़कर सोने पर तीन फ़ीसदी टैक्स लगाया गया है. जो ब्रेल टाइप राइटर मुफ़्त में मिलता था अब उस पर पांच फ़ीसदी का टैक्स लगेगा. सरकार ने नाम तो दिव्यांग दे दिया लेकिन काम देखिए.'' FROM WEBTake a step closer towards your [email protected]$ 150 p.m#HappyEMIsAd: Godrej EmeraldNRI's Booked Home at Shapoorji Pune at Rs 45,000Ad: Joyville by Shapoorji PallonjiExplore endless entertainment for $15/mo.Ad: SLING INTERNATIONALFROM NAVBHARAT TIMESराहुल गांधी और इस लड़की की जोड़ी का सच क्या है?ITR: ये हैं आमदनी के 5 स्रोतस्तन के नौ प्रकारFrom The Web Messenger Ελληνικά आर एस ओ पी तकनीकी रिपोर्ट शिवपुरी हादसाः झरने में आई बाढ़ में फंसे सभी 45 लोगों को सुरक्षित निकाला गया DERC ने घटाई बिजली दरें Business News India Svenska बोकारो : भाई-बहन को बंधक बनाए रखने के मामले में... संभागायुक्त एवं कलेक्टर द्वारा कोठी पर झंडा वन्दन किया गया प्रेरक प्रसंग अटल बिहारी के निधन पर 7 दिन का राष्ट्रीय शोक, आज बंद हैं स्कूल-कॉलेज 9ट्रेंडिंग Our Team चेतावनी: चीन ने बिटकॉइन खनिकों को सस्ते बिजली काट दिया है? अप्रैल के बाद महंगी हो सकती है बिजली शनिदेव की कृपा पाने के लिए शनिवार को काली गाय को खिलाएं बूंदी के लड्डू, करियर में मिल सकती है सफलता 18 mins नि वि औद्योगिक सेवा 2 8.62 0.28 8.34 8.39 7.86 रुद्रप्रयाग 100 यूनिट से ज्यादा खपत को लेकर भले ही स्थिति स्पष्ट नहीं है लेकिन 100 यूनिट तक 200 रुपए बिल आने पर 250 से 300 रुपए तक का फायदा होगा। ग्रामीण क्षेत्र में मौजूदा दरों से अभी 100 यूनिट पर 450 और शहरी क्षेत्र में 500 रुपए औसत बिल बनता है। इसमें से 200 रुपए ही भरना होंगे, बाकी राशि सरकार सब्सिडी के रूप में कंपनी को जमा करवाएगी। टेस्ट सीरीज Image caption इस कार में चार लोग बैठ सकते हैं.(तस्वीर महेंद्रा रेवा) शनिवार, अगस्त 18, 2018 योगी आदित्यनाथ किसान कल्याण कृषि विभाग के विभाग Cashback on offer price: 2999 भारतीय राजनीति का ध्रुवतारा थे अटल, इन दुर्लभ तस्वीरों में देखें उनके जीवन के कुछ यादगार पल 95% तक Top News नोएडा. उत्तर प्रदेश के ऊर्चा मंत्री के निर्देशानुसार 30 जुलाई से गौतमबुद्ध नगर में दो दिवसीय अभियान ‘बिजली काटो, बिल वसूलो’ चलाकर बड़े बकायदारों के बिजली के कनेक्शन काटे जा रहे हैं। दरअसल इस अभियान के तहत जिन उपभोक्ताओं ने दो महीनों से ज्यादा समय से बिजली बिल का भुगतान नहीं किया है और जिनपर बिल बकाया है उनके बिजली कनेक्शन काटे जा रहे हैं। इसी प्रस्ताव को लेकर शुक्रवार को विद्दयुत नियामक आयोग ने राजधानी लखनऊ में बैठक की. आयोग के चेयरमैन देश दीपक वर्मा की अगुआई में हुई इस बैठक में यह निर्देश दिए गया कि उपभोक्ताओं को स्टार रेटेड एसी, गीजर, पंखे और अन्य जरूरतमंद उपकरण किस्तों पर उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जाए. सस्ता ऊर्जा - उपयोगिता प्रदाता सस्ता ऊर्जा - सस्ता पावर कंपनी सस्ता ऊर्जा - ऊर्जा रेटिंग
Legal | Sitemap