02018-05-28T16:54:50 प्रशांत पोद्दार Register Free Login English Enquiry : 87501 87501 Issue Title * : 0 विज्ञान-टेक्नॉलॉजी <2W और <10 वीए समाचार और सूचना What is Inverter Technology AC and How it is Different from BEE 5 star Non Inverter AC? समाज मुखपृष्ठ सभी कर्मचारियों की सूची बी) एंटी टपर सुविधा 0 replies 0 retweets 0 likes Leave a Reply Log In Languages:    हिन्दी    English पर्मालिंक https://p.dw.com/p/2ra7K Subscribe About नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच के डॉ.पीजी नाजपांडे और एमए खान ने याचिका में कहा, बीपीएल कार्डधारकों और असंगठित क्षेत्र के मजदूरों को 200 रुपए प्रतिमाह में बिजली दी जा रही है। एक जुलाई तक इनके बकाया बिजली बिलों को भी माफ किए जा रहे हैं। योजनाओं से बिजली वितरण कंपनियों का बजट पर प्रभाव पड़ेगा, और इसका खामियाजा आम उपभोक्ताओं को भुगतना पड़ेगा, बिजली की दरें बढ़ेंगी और आम जनता को महंगी बिजली लेनी पड़ेगी, सरकार ने सिर्फ आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए ये योजनाएं लाई है| याचिकाकर्ता ने तर्क दिया गया है कि इसी तरह नि:शुल्क बिजली देने के खिलाफ 2003 में याचिकाकर्ता ने हाईकोर्ट की शरण ली थी। तब कोर्ट ने तत्कालीन सरकार को 100 करोड़ रुपए चुकाने के निर्देश दिए थे। इस निर्णय के अनुसार सरकार को बिजली कंपनियों को 5179 करोड़ रुपए जमा करने के बाद ही ये योजनाएं लागू करने का हक है। जबकि हाइकोर्ट ने 13 जुलाई 2018 को इस संबंध में दायर उनकी याचिका खारिज कर दी।  इसके पीछे राजनीतिक लाभ लेने की मंशा स्पष्ट है। लिहाजा, हाईकोर्ट को अग्रिम राशि जमा करवानी चाहिए थी। पूर्व में ऐसा किया जा चुका है। चूंकि हाईकोर्ट ने जनहित याचिका खारिज कर दी, अत: उस आदेश को पलटवाने सुप्रीम कोर्ट जाना पड़ा। इस बारे में जनहित याचिका खारिज होने के दिन ही घोषणा कर दी गई थी। देवरों ने किया भाभी के साथ बलात्कार का प्रयास Filipino अटल बिहारी वाजपेयी को मनाली के इस गांव से था खास लगाव, अक्सर जाया करते थे छुट्टियां बिताने Powered by WordPress and Smartline. जरूरी सूचना ! पहली बार 1981 में वाजपेयी आये थे सिवनी posted on August 18, 2018 अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त भविष्यवक्ता एवं वाममार्गी तांत्रिक, तंत्र सम्राट डबल गोल्ड मेडलिस्ट, स् विक्की स्टोर, दु - 62 मार्केट कॉम्प्लेक्स पूरक परीक्षण सुविधा Add Image/Video : 27 Views अनुकम्पा पर नौकरी के लिए बेटे ने बाप की दे… बेदाग और चमकदार त्वचा पाना हर लडकी का सपना होता है लेकिन चेहरे पर निकलने वाले मुंहासे और फुंसियां हो… September 14,2017 03:29:27 PM 0 राजस्व का 16 फीसद हिस्सा कर्मचारियों पर खर्च Sat, 18 Aug 2018 03:30 PM IST life1 day ago प्रकृति के अजूबे श्रीलंका299/8(50.0) पंजाब-हरियाणा से और विभागीय गतिविधियाँ संधारित्र विचार Saturday 18 August 2018 'Will U Marry Me' प्लेन में जब एक शख्स ने फिल्मी अंदाज में किया प्रपोज़... 500 से अधिक--6.20--6.50 (दर रुपये प्रति यूनिट में) सूक्ष्म और लघु उद्यमों को सस्ती बिजली के लिए हरियाणा में ‘पावर टैरिफ सब्सिडी योजना’- Power Tariff Subsidy Yojna The total outlay of the project is Rs. 16, 320 crore while the Gross Budgetary Support (GBS) is Rs. 12,320 crore. The outlay for the rural households is Rs. 14,025 crore while the GBS is Rs. 10,587.50 crore. For the urban households the outlay is Rs. 2,295 crore while GBS is Rs. 1,732.50 crore. The Government of India will provide largely funds for the Scheme to all States/UTs. The States and Union Territories are required to complete the works of household electrification by the 31st of December 2018. जीवन की सच्चाई देसीमार्टीनी लोन रिजॉल्यूशन के लिए लैंको, JP समेत 11 प्लांट्स का टेकओवर करेंगे बैंक जीजा करता था साली से दरिंदगी, साली ने प्रेमी के साथ मिलकर कर दी हत्या विशेष आलेखView All पारेषण नेटवर्क Must Watch Electricity bill अटलजी के निधन के बाद केजरीवाल ने मनाया जन्मदिन का... FAQS Like/Dislike Leader Related to This News up इसमें निवेशकों के साथ-साथ  आम लोग भी जो सोलर प्लांट अपने घरों में लगायेंगे उनको कई तरह की रियायत  मिलेगी. यहां  तक कि जरूरत से अधिक बिजली होने पर अगर कोई व्यक्ति बिजली बेचना चाहेंगे तो सरकार उसे भी खरीदेगी.   Indonesian Indonesia Atal Bihari Vajpayee: 'गुरु जी से तुम्हारी शिकायत करूंगा', योगी आदित्यनाथ से तब बोले थे अटल बिहारी वाजपेयी Cashback on offer price: 850 See the latest conversations about any topic instantly. बड़कागाँव विधायक प्रतिनिधि रिपोर्ट में खुलासा, मनमोहन सिंह के कार्यकाल में देश ने हासिल की सबसे... पोषाहार Spanish Español प्रत्येक न्यूज़ बिना चिप वाले एटीएम कार्ड 31 दिसंबर के बाद अमान्य चमोली 26 Views विधानसभा में विपक्ष के नेता विजेंद्र गुप्ता ने केजरीवाल सरकार पर आरोप लगाया है कि बिजली वितरण कंपनियों से सरकार की मिलीभगत के कारण बिजली उपभोक्ताओं को सस्ती बिजली नहीं मिल पा रही है। इकनॉमिक टाइम्स | Updated:Jun 4, 2018, 08:14AM IST नागौर महत्वपूर्ण वेबसाइट बाबा भोले की भक्ति में लीन हुए सूर्य भान सिंह, भक्तों को लेकर निकले यात्रा योजना का प्रमुख भाग अलग-अलग फीडर की व्‍यवस्‍था कर उप-पारेषण तथा वितरण नेटवर्क को मजबूत बनाना है और सभी स्तरों जैसे इनपुट पाइंट, फीडर और वितरण ट्रांसफार्मर पर मीटर लगाना है। राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना के तहत पहले ही ‘माइक्रो और ऑफ ग्रिड वितरण नेटवर्क और ग्रामीण विद्युतीकरण’ का कार्य किया जा चुका है। HomeBIHARआपका प्रदेशगुड न्यूज : बिहार में बिजली कंपनी निकालने जा रही है 1200 पदों पर बहाली Web Title electricity departments surcharge apology scheme for government defaulter Investors ऑनलाइन भुगतान करने पर एक फीसदी की अतिरिक्त छूट  औद्योगिक ठोस अपशिष्ट उपयोगिता केंद्र एटा Atalji Last RitesBollywood on Atalji DeathAtalji FuneralPublic HolidayBreaking NewsSarkari Result विज्ञापन र॓ट शेयर बाज़ार संपूर्ण परियोजनाओं की सूची 3 VIDEO : ओवैसी के पार्षद ने वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने का किया विरोध, भाजपा पार् ऊर्जा लागत की तुलना करें - इलेक्ट्रिक सप्लाई कंपनी ऊर्जा लागत की तुलना करें - बिजली प्रदाता की तुलना करें ऊर्जा लागत की तुलना करें - सर्वश्रेष्ठ विद्युत प्रदायक
Legal | Sitemap