Read More: Agra News Hindi Latest Agra Latest News Hindi Hindi Newsडीआईसीविद्युतयोजनाअनुश्रवण Home > News Download IBC24 Mobile Apps ©cea.nic.in - केन्द्रीय विद्युत प्राधिकरण, सेवा भवन, रामाकृष्ण पुरम, सेक्टर-1, नई दिल्ली - 110 066 उपभोक्ताओं को राहत की उम्मीद सीवान खबर : चर्चा में राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी आॅफ द रिकार्ड: राहुल गांधी के हाथ मजबूत करने... अंतिम बार संशोधित: Jun 23, 2018 बिजली कंपनी ग्वालियर व भोपाल रीजन में उन अधिकारियों को 15 अगस्त को सम्मानित कर रहा है, जिन्होंने अपने डिवीजन व जोन में लाइनलॉस नीचे लाया है। चोरी पर लगाम लगाई है और कंपनी का राजस्व बढ़ाया है। बकाया भी वसूल किया है। ग्वालियर सिटी सर्कल में नगर संभाग उत्तर का नाम पुरस्कार के लिए भेजा गया है। जोन में चावड़ी बाजार व रोशनी घर जोन का नाम भेजा गया था। 15 अगस्त को पुरस्कार के लिए इनके नाम का चयन हो गया है, जबकि इन जोनों ने उपभोक्ताओं के साथ बड़ा धोखा किया है। औसत बिल व आंकलित खपत के बिल देकर अवैध उगाही कर ली गई और लॉस को नीचे दिखाया गया हैं। मंत्रालय के संगठनात्मक सेटअप IPL 2018 Català विज्ञान Landeskunde मनीकंट्रोल पर और देखिए फैजाबाद Guruvaani न्यूज वीडियो लेखक की संवेदना और विभाजन का दर्द बयां करती है... सेक्शन चुटकुले अखिलेश यादव ने खास अंदाज में पूर्व पीएम अटल को किया याद, कही ये बातें Latest News Araria Loading... ग्वालियर. 25 अप्रैल 2017 को बिजली कंपनी के मुख्य महाप्रबंधक के ऑफिस में जहर खाकर जान देने वाले बिजली ठेकेदार रवींद्र सिंह जादौन की हर बात सच थी. वे खुद 9 साल बिजली कंपनी से अपने किए गए काम का पौने चार लाख रुपए मांगते रहे. सीएम से लेकर हर बिजली अधिकारी से शिकायत की लेकिन किसी ने नहीं सुनी. जब वे पूरी तरह टूट गए तो जान दे दी. अब मजिस्ट्रियल जांच रिपोर्ट में ठेकेदार के काम को होना पाया गया है और एडीएम शिवराज वर्मा ने बिजली कंपनी के मुख्य महाप्रबंधक को ठेकेदार के कार्य का पैसा तत्काल जारी करने के आदेश भी दे दिए हैं. 10 साल के इंतजार के बाद अब परिवार को भुगतान के आदेश मिले हैं. स्टडी मैटीरियल बिहार                               100                  3.85 रुपए हॉलीवुड एडवेंचर है पसंद...तो इंडिया के इन 10 नेशनल पार्क में लें वाइल्ड लाइफ स... लोकसेवा ग्यारन्टी/ सीएम हेल्पलाइन झालावाड़ 232 Likes रंग-बिरंगी लाइटों और फूलों से सजा प्रियंका का बंगला - ग्रामीण अनमीटर्ड कामर्शियल उपभोक्ताओं की दरें 66.67 प्रतिशत तथा ग्रामीण मीटर्ड कामर्शियल उपभोक्ताओं की दरों में 43.22 फीसदी की वृद्धि हो जाएगी। देखें 'सौ बात की एक बात' में आज दिनभर की सबसे बड़ी ख़बरें COMPANY 9 दिसंबर 2017 विशेषाधिकार निवेदन मंडी मासूम को सिगरेट से दागा  पेचकस घोंपकर मार डाला हिमाचल में बारिश से अब तक 16 लोगों की मौत, मंगलवार को सभी स्कूल बंद नई दिल्ली: बिजली मंत्री आर के सिंह ने सोमवार (25 सितंबर) को कहा कि भारत अगले साल दिसंबर तक सभी घरों को बिजली पहुंचाने का लक्ष्य हासिल कर लेगा. साथ ही सभी गांवों का विद्युतीकरण समय से पहले इस साल दिसंबर तक हो जाएगा. सरकार ने बिजली से वंचित सभी गांवों में एक मई 2018 तक विद्युत पहुंचाने का लक्ष्य रखा है. इसी प्रकार सरकार का मार्च 2019 तक सातों दिन 24 घंटे बिजली पहुंचाने का लक्ष्य है. सभी घरों को बिजली पहुंचाने की ‘सौभाग्य’ योजना शुरू किये जाने के जाने के मौके पर सिंह ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने दिसंबर 2018 का लक्ष्य दिया है. हम इसे करेंगे. यह एक कड़ा लक्ष्य है, लेकिन हम इसे हासिल करेंगे. सभी परिवारों को दिसंबर 2018 तक बिजली मिलेगी.’’ उत्तरप्रदेश Agent Login SHIMLA WOMEN ACCIDENT श्रीलंका99/7(16.0) एसबीडी दूसरा टेस्ट रांची। पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर जहां पूरे देश में शोक का माहौल है, वहीं लोग उनके किए कार्यों को याद कर उन्हें अपनी यादों में जीवित रखे हुए हैं। वैसे तो अलट को लेकर कई तरह की यादें लोगों के जेहन में है, लेकिन झारखंड के लोग शायद ही उन्हें भूल पाएंगे। 12:27:15 AM National Dastak 'सौभाग्य' योजना के तहत पहले दिन प्रदेशभर में 10400 घरों को बिजली के कनेक्शन दिये गए. फ्राइडे को मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में 1235 घरों को विद्युत कनेक्शन दिये गए. मुख्यमंत्री व केन्द्रीय मंत्री ने सभी लाभार्थियों को कनेक्शन पत्र वितरित किए. इस मौके पर केंद्रीय ऊर्जा राज्य मंत्री आरके सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हर घर को बिजली के सपने को साकार करने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं. बताया गया है कि शुरुआत में 18,452 गांव बिजली से वंचित थे. जबकि अब केवल 861 गांव बिजली से वंचित रह गए हैं. कहा, अप्रैल माह तक इन सभी गांवों के विद्युतीकरण का टारगेट रखा गया है. केंद्रीय राज्यमंत्री ने निर्धारित लक्ष्य को लेकर कहा कि एक अप्रैल 2019 से पूर्व 4 करोड़ घरों में बिजली पहुंचा दी जाएगी. अभी करीब 32 लाख विद्युत वंचित घरों में बिजली पहुंचा दी गइर्1 है. मेरा टीवी मजदूर, गरीब, किसान  व्यापारी को मिलेगी सब्सिडी  Show — उपयोगी कड़ियाँ Hide — उपयोगी कड़ियाँ शेयर बाज़ार अंतिम संस्कार में शामिल हुए मुख्यमंत्री BILASPUR DENGUE घरेलू 1 (ग्रामीण) 6.45 3.10 3.35 4.17 3.35 अंकीय नियंत्रक सहित एकल अक्ष प्रवर्धक नालंदा : खास खबर – रहने के लिहाज़ से पटना से आगे निकला बिहारशरीफ। पीलीभीत संरचनात्मक सामग्री परीक्षण प्रयोगशाला कृषि योजनायें बेतिया आयोग के अध्यक्ष ने बताया : आयोग  के दिशा निर्देशों का पालन नहीं करने के कारण झारखंड राज्य बिजली वितरण  निगम पर दो फीसदी पेनाल्टी लगायी है.  दीनदयाल ऊर्जा भवन में 'सौभाग्य' योजना के शुभारंभ के दौरान सभा को संबोधित करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (IANS/25 Sep, 2017) बड़ा सवाल : क्या यही है वाजपेयी के सपनों का झारखंड ? जागरण फिल्म फेस्टिवल नारी news20 hours ago   /  छत्तीसगढ़ और जानें:विलफुल डिफॉल्टर|रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया|बिजली कंपनी|पावर सेक्टर|इलाहाबाद हाईकोर्ट|Wilful defaulter|RBI|power companies|nclt|Allahabad High Court किसानों की आय दोगुनी करने के लिए News18 Services अटल बिहारी का हालचाल लेने पहुंचे थे कई बड़े नेता, AIIMS के आसपास लगा रहा भारी जाम July 22, 2018 नई बिजली दर के मुताबिक अब 200 यूनिट तक बिजली इस्तेमाल करने पर चार रुपये की बजाय तीन रुपये प्रति यूनिट की दर से भुगतान करना होगा, जबकि 201 से लेकर 400 यूनिट तक बिजली का उपयोग करने पर 5.95 रुपये की बजाय 4.50 रुपये प्रति यूनिट की दर से बिल देना होगा. इसके अलावा 401 से लेकर 800 यूनिट तक के बिजली के बिल का भुगतान 7.30 रुपये की बजाय 6.50 रुपये प्रति यूनिट, 801 से लेकर 1200 यूनिट तक का भुगतान 8.10 की बजाय सात रुपये प्रति यूनिट और 1200 यूनिट तक के बिजली बिल का भुगतान 8.75 रुपये की बजाय 7.75 रुपये प्रति यूनिट की दर से करना होगा. उपभोक्ता-पिछली दर-नई दर क्विंट हिंदीUpdated: 01.12.17 BPSC ताज़ा खबर समलैंगिकता की अलग-अलग कहानी SPORTS: बिना कोच के खिलाड़ी खुद ही निखार रहे हुनर कैलेंडर 2018 Google+ लो टेंशन (इंस्टोलेशन बेस्ड)  5.50  6.50 उन्होंने कहा, ''शराब माफ़ियाओं को जो छूट मिली थी वह जारी रहेगी. इसी तरह बिजली का निजीकरण किया जा रहा है ऐसे में सरकार पूंजीपतियों से कोई टकराव मोल नहीं लेना चाह रही है. उन्होंने कहा कि पेट्रोलियम भी निजीकरण की पटरी पर लगभग आ चुका है इसीलिए इसे जीएसटी के दायरे से बाहर रखा गया है.'' Write a Comment Similar PostsView All Astrology Predictions मुख्य चिंताएं होम पेज Show — उपयोगी कड़ियाँ Hide — उपयोगी कड़ियाँ दिल्ली कांग्रेस दफ्तर में शीला दीक्षित, अजय माकन, हारून यूसुफ, अरविंदर लवली, सज्जन कुमार और महाबल मिश्रा समेत कई पूर्व विधायक और सांसदों की बैठक हुई. चास-बोकारो समेत समस्त प्रदेश वासियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं घाटशिला ब्यू दिल्ली से बिजली खरीदना चाहता है बिहार MPROFIT SOFTWARE PRIVATE LIMITED Your name दस साल पहले भी लगी थी रोक :इसके पहले करीब 10 साल पहले भी रोक लगा थी। कर्मचारियों द्वारा लंबे समय से मांग की जा रही थी। इसके बाद सरकार ने इसे फिर से शुरू किया था। छह महीने पहले फिर रोक लगा दी थी। अब इसे फिर हटा लिया गया है। Sat Aug 18 2018 00:26:44 GMT-0500 (Central Daylight Time) TWITTER India Today Education सलमान खान की लग्जीरियस वैनिटी वैन में है मेकअप और स्टडी रूम, भारत के प्रोड्यूसर ने शेयर किए फोटो 48 mins Rasdhar इंगेजमेंट रिंग पहनकर प्रियंका चोपड़ा ने किया बॉयफ्रेंड निक के साथ शानदार डिनर, देखिए तस्वीरें क) कक्षा 1 सटीकता के साथ 80A की अधिकतम वर्तमान वर्ष   सब्सिडी नया हरियाणा : 10 अगस्त 2018 प्रबंधन / निपटान कार्यवाही About the author मैगज़ीन निबंध टेस्ट इन्द्रजीत महतो Punjab Kesari Head Office मेगपुर, मनिया, धौलपुर निवासी अमन पुत्र अजमेरी की बहन सुष्मिता पत्नी ललित ताजगंज के कुआंखेड़ा में रहती है। अमन कुछ दिन पहले बहन के यहां आया था।  09:41 पेट्रोल पंप डकैती कांड में खुलासे के करीब पुलिस   ⁄  हरियाणा अपने बिटकॉन्स के साथ एक कार खरीदें: वाहन बाज़ार बीपी क्रिप्टोकुरेंसी को अपनाता है लेट आने पर कर्मचारियों का ढोल बजाकर और माला पहनाकर स्वागत सरकार की ओर से जारी आधिकारिक बयान में कहा गया है कि सबसिडी की राशि बिजली कंपनियों के खाते में भेज दी जाएगी। इसे बिजली कंपनियां उपभोक्ताओं के बिल से समायोजित कर लेंगी। साथ ही, बिजली कंपनियों को सूचित कर दिया गया है कि उपभोक्ताओं को सबसिडी का वास्तविक लाभ मिलने की बात पुष्ट करने के लिए सरकार बिजली कंपनियों का किसी स्वतंत्र एजेंसी से विशेष ऑडिट करा सकती है। ‘सी’ और ‘डी’ श्रेणी खंडों में स्थापित ऐसे सूक्ष्म एवं लघु उद्योग इस योजना के लिए पात्र होंगे, जिन्होंने पोर्टल https://udyogadhaar.gov.in पर संबंधित जिला उद्योग केंद्र के साथ उद्योग आधार ज्ञापन (यूएएम) फाईल किया है। Apple अगली ख़बर नई दिल्ली। दिल्ली को अब विंड एनर्जी से रोशन किया जाएगा। यह बिजली परंपरागत साधनों के मुकाबले 25 % तक सस्ती होगी। समुद्र किनारे हवा से पैदा होने वाली 150 मेगावाट बिजली दिल्ली में सप्लाई की जाएगी। बीएसईएस राजधानी 100 मेगावाट और बीएसईएस यमुना 50 मेगावाट बिजली खरीदने जा रही हैं। April 2018 महिंद्रा ई2ओ की टॉप स्पीड 80 किलोमीटर प्रतिघंटा है और एक चार्ज में ये कार 100 किलोमीटर चल सकती है. सुगम्य भारत अभियान संतकबीरनगर छत्तीसगढ़Sat, 18 Aug 2018 06:33 AM (IST) एक लाख की जनसंख्या वाले शहर में 29 हजार लोगों को असंगठित मजदूर तो बना दिया गया लेकिन जिन बिजली योजनाओं का फायदा लेने के लिए ये मजदूर बने थे उन योजनाओं में केवल 11 हजार लोग ही जुड़ पाए हैं। अधिकांश असंगठित पंजीकृत मजदूर बिजली कंपनी के दायरे में ही नहीं आ रहे हैं। इस कारण वे योजना से नहीं जुड़ पाए हैं। नपा में असंगठित मजदूरों के रजिस्ट्रेशन के लिए रोज लंबी कतारें लग रही हैं। अब तक 29 हजार लोग असंगठित मजदूर बन गए हैं। 29674 असंगठित मजदूर बनने के बावजूद बिजली योजनाओं का लाभ केवल 11679 लोगों को ही मिला है। अधिकांश असंगठित मजदूर इन बिजली योजनाओं के फायदे से दूर हैं। बिजली बिल माफी योजना में 6684 आईसीआईसीआई बैंक: केरल के ग्राहकों से इस महीने ईएमआई चुकाने में देरी पर पेनल्टी नहीं लेगा Just Now 27 28 29 30 31   तिवारी ने ये भी आरोप लगाया कि दिल्ली सरकार बवाना और अन्य गैस टर्बाइन से जुड़े बिजली उत्पादन पर भी ध्यान नहीं दे पा रही है. केजरीवाल सरकार "कोयले की भारी और जल्द ही दिल्ली में बिजली की किल्लत" की कहानी रच रही है. बीते तीन सालों के दौरान केजरीवाल सरकार ने सब्सिडी के तौर पर निजी बिजली कंपनियों के खजाने भरे हैं. अब उनके ही कहने पर ये प्रचार किया जा रहा है कि दिल्ली में ताप विद्युत का उत्पादन घट रहा है. ताकि निजी बिजली कंपनियों को नेशनल ग्रिड से सस्ती बिजली खरीदने में मदद मिले और उनका प्रॉफिट बढ़ जाए.   सस्ता बिजली प्रदाता - बिजली बचाओ सस्ता बिजली प्रदाता - सर्वश्रेष्ठ विद्युत सौदे सस्ता बिजली प्रदाता - ऊर्जा कंपनी
Legal | Sitemap