Quick links (फोटो: Prashanth Vishwanathan/BloombergQuint) कर्नाटक गंगा कल्याण योजना 2018 – 1.5 लाख के बोरेवेल ऋण के लिए आवेदन करें केरल में बाढ़ः अब तक 102 लोगों की गई जान, 14 जिलों में रेड अलर्ट एक तरफ घरेलू उपभोक्ताओं के लिए बिजली के दाम बढ़ाए गए हैं, वहीं पीथमपुर सेज के उद्योगों को इससे राहत दी गई है। सेज के उद्योगों को लगातार तीन साल से केवल 3 रुपए 35 पैसे प्रति यूनिट की दर से बिजली मिल रही है जो जारी रहेगी। कांग्रेस बिजली की दरें बढ़ाने का लगातार विरोध कर रही है। Hindi Jokes   Previous Storyई-कॉमर्स कंपनी अमेजन का नेट प्रॉफि‍ट घटा, एक रात में CEO जेफ बेजोस ने गंवाएं 6 अरब डॉलर Next StoryEPFO के लिए UAN जरूरी, जानिए इससे जुड़ी 3 अहम बातें   VIDEO: पुष्कर की गंदगी देख स्पेनिश युवाओं ने थामी झाड़ू अमेरिकी अखबारों ने की ट्रंप के मीडिया विरोधी बयानों की निंदा कंप्रेस्ड एयर प्लांट बनाने से इलाके के लैंडस्केप में कोई बदलाव नहीं दिखता. पहाड़ के अंदर होने वाला बदलाव भी ज्यादा नहीं होता. गिव जंगानेह के मुताबिक, "यहां पांच मीटर मोटा कंक्रीट का गेट है जो गुफा में जमा हवा के दबाव को नियंत्रण में रखता है. पहाड़ एयरटाइट है. पहाड़ में पानी का निरंतर प्रवाह रहता है जिससे अंदर की हवा बाहर नहीं निकलती." September 14,2017 05:27:50 PM ministry of power power consumers central govt गाँवों केवल 6 से 8 घंटे बिजली मिलने की बात भी श्री यादव ने उठाई है। कांग्रेस ने 8 अप्रैल को अशोकनगर में बिजली दरें बढ़ाने के प्रस्ताव के विरोध में बड़ा प्रदर्शन भी किया था। इसके बाद भी सरकार ने बिजली की दरें बढ़ा दी हैं। कांग्रेस का कहना है कि वह इस बारे में जल्द ही तेज और प्रदेशव्यापी आंदोलन छेड़ेगी। The page you requested could not be found. Use your browsers Back button to navigate to the page you have previously come from Or you could just press this neat little button: New Delhi दीवार में अनुभूति के रंग भरकर “बाघ और जंगल की दुनिया”... लेख के अनुसार, बिजली कंपनियों के बयान से खनिकों की सामान्य भावना को प्रतिबिंबित नहीं होता है। खनिकों का मानना ​​है कि बिटकॉइन के संचालन 'त्याग किए गए पानी' का उपयोग कर रहे हैं - पानी जो बिना बिजली के उत्पादन के चलते जाते हैं, यही वजह है कि मूल्य काफी कम है। आस्था कोटा गृह मंत्रालय और प्रवर्तन Leo (सिंह) एडवेंचर है पसंद...तो इंडिया के इन 10 नेशनल पार्क में लें वाइल्ड लाइफ स... पहाड़ वालों ने नम आंखों से रिज पर देखी अटल जी की... कार्यालयीन निविदा शहीदों के माता-पिता को मिलेगी सम्मान निधि की 40 फीसदी रकम posted on August 18, 2018 1- नवकूपडगवैल/डगकमबोरवैल/केविटिपाइप बोरवैल योजना.. राज्य के कई जिले पांचवी अनुसूचि के दायरे में आते हैं जहां ग्राम सभा का गठन कर विकास करने का प्रावधान है, लेकिन आखिर इस कानून का पालन क्यों नहीं किया जा रहा है। राज्य के लिए यह एक बड़ा सवाल है। तेज Vogue beauty awards : हॉट ब्लैक में नजर आई ये... कपिल शर्मा Are You a Political Leader ? Mobile Site अभिजीत राज दिल्ली को मिलेगी 25% सस्ती बिजली, विंड एनर्जी से होगा फायदा Hindi News »Madhya Pradesh »Shivpuri» अब बिजली कंपनी में अनुकंपा नियुक्ति शुरू गंगापार आठ बिजली कनेक्शन काटे मीटर भी निकाले कुंजी एलपीजी की खपत में 2014-15 और 1015-16 के बीच 10.5 फीसदी और 9 फीसदी का इजाफा देखा गया है वहीं उज्ज्वला योजना शुरू होने के बाद 2016-17 और 2017-18 में एलपीजी की खपत में वृद्धि दर 10.1 फीसदी और 8 फीसदी देखी गई है जो कि योजना शुरू होने से पहले के बराबर ही है. Col rai‏ @col_rai 18 Aug 2015 Kishanaram Aug 10, 2018 09:59 AM विद्युत योजना के लिए चार लाख रुपये मंजूर शाहजहाँपुर सी) सममित (बीएस) टर्मिनल व्यवस्था डीईआरसी ने बुधवार को साल 2018-19 के लिए बिजली की नई दरों की घोषणा कर दी है. इस बार दिल्लवासियों को बड़ी राहत देते हुए बिजली की दरों को घटा दिया गया है. अस्त हुआ अटल सितारा बिजली दर में भारी वृद्धि को लेकर अखिलेश सरकार पर बरसीं मायावती अनुसंधान एवं विकास जीत के अलावा कुछ भी मंजूर नहीं, आज नॉटिंघम में टीम इंडिया की अग्नि परीक्षा Rojgar Mela अटल जी की इन 5 कविताओं को पढ़कर जीवन में... News Ticker कुशीनगर जब देशभर से आए वीआईपी चार्टर्ड प्लेन से भर गया IGI अशोक कुमार संध्या पूजा करते समय बरतें ये सावधानियां, होंगे कई लाभ ऑप्टिकल जांच Pages क्या वाकई मक्का में होटल की बिल्डिंग गिरने से हाजी शहीद हुए इमेज कॉपीरइट AFP सूरजधारा योजना सक्सेस स्टोरी सेंसेक्स 200 अंक मजबूत, निफ्टी 11450 के करीब बोलीविया की माली हालत खस्ता, लेकिन राष्ट्रपति ने अपने लिए 238 करोड़ रु. में बनवाया 29 मंजिला घर 22 mins 19 कैसे पहुंचें उन्होंने कहा कि बढ़ी हुई दरों के आदेश की प्रति मिलने पर सरकार सब्सिडी के संबंध में फैसला लेगी। गौरतलब है कि पिछले वर्ष विनियामक आयोग की अनुशंसा के बाद राज्य सरकार ने अलग-अलग स्लैब में सब्सिडी की घोषणा की थी। उपभोक्ता को उसके बिजली बिल पर कितने रुपए की सब्सिडी दी जा रही है इसका जिक्र अब बिजली बिल पर अंकित रहता है। 繁體中文 अभी सिंचाई कार्यों के लिए 70 पैसे से 1.20 रुपये प्रति किलोवाट की दर  निर्धारित है. आयोग ने इसके लिए बिजली दर बढ़ा कर पांच रुपये प्रति यूनिट  निर्धारित कर दिया  Podcasts & Newsletter कक्षा कार्यक्रम VIDEO: बिजली कंपनी के खिलाफ कांग्रेस ने किया प्रदर्शन लाल किले पर आज 15 अगस्त की फुल ड्रेस रिहर्सल, बच कर चलें #KeralaFloods LIVE: कोच्चि में PM मोदी ने बाढ़ के हालात पर की बैठक, 500 करोड़ के राहत पैकेज का ऐलान 200 यूनिट तक की बिजली की कीमत में एक रुपये प्रति यूनिट की दर से कटौती की गई है, जबकि 201-400 यूनिट तक की बिजली की कीमत में 1.45 रुपये प्रति यूनिट की दर से कटौती की गई है. इसके अलावा 401-800 यूनिट तक की कीमत दर में 80 पैसे प्रति यूनिट की दर से कमी की गई है. बिजली की यूनिट की कीमत दर में कमी का फायदा सभी घरेलू ग्राहकों को मिलेगा. हालांकि फिक्स चार्ज में वृद्धि से लोगों को झटका लगा है. इस तरह 201-400 यूनिट तक बिजली का इस्तेमाल करने वाले ग्राहकों को सबसे ज्यादा फायदा मिलेगा. RSS Feed प्राथमिक भूमि विकास बैंकों द्वारा वर्तमान में किसानों एवं लघु उद्यमियों को 12.85 प्रतिशत वार्षिक ब्‍याज दर पर दीर्घकालीन ऋण उपलब्‍ध करवाये जा रहे हैं। सस्ता ऊर्जा - सस्ते ऊर्जा दरें सस्ता ऊर्जा - बिजली की कीमतें सस्ता ऊर्जा - सस्ता ऊर्जा प्रदाता
Legal | Sitemap