जीएसटी लागू, पर असमंजस बरक़रार 'दृष्टि द विज़न' संस्थान आयुष इंडिया टुडे टीवी -घरेलू एवं गैर घरेलू उपभोक्ताओं की टेलीस्कोपिक दरें लागू रहेंगी। Get 6 Months FREE Magazine (Current Affairs Today) Subscription mobile apps पेंशन योजना Like/Dislike Leader Related to This News NBT पड़ताल: बिना अध्यापकों के कैसे पढ़ रहे हैं बच्चे? नई दिल्ली: बिजली मंत्री आर के सिंह ने सोमवार (25 सितंबर) को कहा कि भारत अगले साल दिसंबर तक सभी घरों को बिजली पहुंचाने का लक्ष्य हासिल कर लेगा. साथ ही सभी गांवों का विद्युतीकरण समय से पहले इस साल दिसंबर तक हो जाएगा. सरकार ने बिजली से वंचित सभी गांवों में एक मई 2018 तक विद्युत पहुंचाने का लक्ष्य रखा है. इसी प्रकार सरकार का मार्च 2019 तक सातों दिन 24 घंटे बिजली पहुंचाने का लक्ष्य है. सभी घरों को बिजली पहुंचाने की ‘सौभाग्य’ योजना शुरू किये जाने के जाने के मौके पर सिंह ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने दिसंबर 2018 का लक्ष्य दिया है. हम इसे करेंगे. यह एक कड़ा लक्ष्य है, लेकिन हम इसे हासिल करेंगे. सभी परिवारों को दिसंबर 2018 तक बिजली मिलेगी.’’ Gemini (मिथुन) प्रमोद केशरी “स्वाधीनता पर्व” की संध्या पर सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित, विधायक डॉ.मोहन यादव हुए शामिल 16/08/2018 लोक जनशक्ति पार्टी जिला प्रवक्ता, बड़कागाँव दादी नानी के नुस्खे विश्‍व की अन्‍य खबरें जल विज्ञानीय शब्द CrazyFreelancer प्याज (Onion) असिस्टेंट विजिलेंस ऑफिसर Photos: बाजे छै नोबत बाजा म्हारा डिग्गीपुरी का राजा… #Monsoon Promoted by 226 supporters Research गुरदासपुर/पठानकोट बिजली कंपनी ने ऐसा क्या किया जो AAP ने बढ़ा दिए दाम: विजेंद्र गुप्ता कार्य में तेजी लाने के लिए निर्देश दिए जा रहे हैं दरोगा की पिस्टल से चली गोली सिपाही के सिर में लगी रायपुर पंजाब                                100                5.21 रुपए रिकॉर्ड समय में खाताबंदी को हासिल कर चुके बगलिहार स्टेज 2 के लिए बोर्ड ने पीएफसी और जेएंडके बैंक के साथ समझौता करने का निर्णय किया है। जेकेएसपीडीसी को 2,179 करोड़ का कर्ज हासिल होगा। ऐसे सभी चार करोड़ निर्धन परिवारों को बिजली कनेक्शन दिये जाएंगे, जिनके पास अभी कनेक्शन नहीं हैं।  बादम पंचायत मुखिया, बड़कागांव पड़ोसी देशों को बिजली निर्यात करता है भारत  Arrah वार्ड पार्षद - 53 धनबाद नगर निगम ​ सलमान खान की लग्जीरियस वैनिटी वैन में है मेकअप और स्टडी रूम, भारत के प्रोड्यूसर ने शेयर किए फोटो 47 mins 30 जून 2018 बिहार : वैशाली जिले में प्रखंड प्रमुख की हत्या, स्थानीय लोगों ने किया जोरदार हंगामा योजना घरेलू उपभोक्ताओं के लिए ही है वो भी घरेलू फ्रीज, बल्ब, टीवी, पंखे के लिए हैं। एसी, हीटर योजना में ग्राहक नहीं चला सकेंगे। यदि ऐसा किया गया तो ग्राहक बिजली कनेक्शन के दायरे से बाहर हो जाएंगे और वे सरल बिल योजना का लाभ नहीं ले पाएंगे। वहीं यदि यूनिट खर्च भी सौ से ज्यादा आया तो सौ यूनिट के ऊपर के सारे खर्च का भुगतान भी बिजली ग्राहकों की ओर से किया जाएगा, यानि सात सौ के कुल बिल के बाद की पूरी रकम ग्राहकों से वसूल की जाएगी। Sat Aug 18 2018 00:25:24 GMT-0500 (Central Daylight Time) मुजफ्फरपुर महापापः CBI रेड पर बोला JDU – RJD में ज्ञान की कमी, जांच के बाद होता है एक्शन BIHAR पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने भी यह बात मानी है कि उज्ज्वला योजना के तहत कनेक्शन लेने वालों में प्रति व्यक्ति सालाना खपत औसतन 4.32 सिलेंडरों की ही है. www.bhaskar.com 28 जून 2016, 04:38 AM प्रितम रवानी Internet & Communication लोगों के मन में अक्सर कुछ सवाल होते हैं। जैसे की-योजना के उद्देश्य,विशेषताएँ,अपेक्षित परिणाम,कार्यान्वयन रणनीति आदि जिसके बारे में विस्तृत जानकारी यहाँ दी जा रही है। - कंपनी को 3.46 रुपए प्रति यूनिट की दर से 25 साल तक विंड एनर्जी प्रोजेक्ट से पैदा बिजली मिलेगी। यह बिजली दिल्लीवालों को 18 नवंबर 2018 से मिलनी शुरू होगी। कंपनी ने आरपीओ (रिन्युएबल पावर ऑब्लिगेशन) के लक्ष्य को पूरा करने के लिए विंड एनर्जी से पैदा बिजली खरीदने की तैयारी की है। कंपनी रिजल्ट्स WELFARE माटीगढ़ पंचायत मुखिया वित्त पोषण पद्धति उत्तरी भारत इनोवेशन्स 1991 —  27.6 प्रतिशत कृषि(25 एचपी तक)- 5.70 - 5.00 Share On Facebook बिजू स्वास्थ्य कल्याण योजना ओडिशा यूनिवर्सल हेल्थकेयर योजना 15 सितंबर से एक अक्टूबर तक आवेदन लिया गया था. इसकी परीक्षा 23 अक्टूबर को ली गई थी. आईटी मैनेजर के 5 पद कंपनी में काम कर रहे कर्मियों के लिए था. सभी पदों में कंपनी के नियमानुसार प्रोबेशन पीरियड रखा गया था और इसके बाद सभी कर्मचारियों की सेवा स्थाई की जाने की बात कही गई थी. पिछले साल बहाली से संबंधित विस्तृत जानकारी कंपनी की वेबसाइट www.bsphcl.bih.nic.in पर उपलब्ध कराइ गई थी. Advertise About Ranjeet Jha 2677 Articles सराईकेला अधिमान्यता Web Title power companies without wilful defaulter tag cant be taken to nclt 300 से अधिक       6.52 सरस्वती बनर्जी Health: गर्मी के मौसम में फिट एंड फ्रैश रखेगी ग्रीन टी  लोन लेने में मदद करता है 'क्रेडिट स्कोर',जानिए हर जरूरी बात सिटी 07-Apr-16 09:40 डिवाइस अजमेर05:59 PM IST Jul 03, 2018 पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी का काम अधूरा छोड़कर गायब हुईं कंपनियों में सबसे ज्यादा चार हैदराबाद की बताई जा रही हैं। अन्य कंपनियां चेन्नई, बेंगलूरु, जबलपुर, सतना व नोएडा की हैं। काम पूरा नहीं करने वाली इन कंपनियों पर कार्रवाई के बाद बिजली कंपनी इनकी बैंक गारंटी जब्त करने की कवायद में जुट गई है। Dari دری बिजली विभाग क्वालिफाइंग अंग्रेज़ी भाषा प्रश्नपत्र Updated: August 17, 2018 10:57 PM IST MevoFit Drive को फ्री में प्राप्त करे 11. राशि के अनुसार शादी की ड्रेसों का करें चयन, ग्रहों और रंगों का खुशियों से सीधा संबंध Have an account? नेपाल बलिया DRISHTI INDEPENDENCE DAY OFFER FOR DLP PROGRAMME View Details Raise your voice घाटशिला वासियो स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं अक्टूबर 26, 2017 सलमान की फिल्म ‘भारत’ में रेट्रो लुक में नजर आएंगी दिशा पटानी महासचिव, जिला कांग्रेस कमिटी © Copyright NDTV Convergence Limited 2018. All rights reserved. TWEET Back to top ↑ मुंगेर राजनीति भारत अब तक घरेलू उपभोक्ताओं के लिए डीएस-1 की तीन  श्रेणी और डीएस-2 की दो श्रेणी थी. अब घरेलू उपभोक्ताओं को केवल शहरी और  ग्रामीण की श्रेणी में बांटा गया है Whatsapp power schemes 1850 Jeff Armstrong has run his helicopter company, Rampart Helicopter Services,  for 11 years outside Castle Rock. Jeff’s property, was in a relatively isolated area for years until houses were built… Read more Suomi बरनवाल मेडिकल फार्मा, निमीयाघाट नवांशहर/रूपनगर Address : Civil Lines, Pucca Bagh Jalandhar Punjab VIDEO: बागेश्वर में पिंजरे में फंसा गुलदार, देखने के लिए लगी भीड़ मुख्य लिंक कार्तिक और नायरा की जिंदगी में एक नए रिश्तेदार की होंगी... प्रधामंत्री सौभाग्य योजना – सहज बिजली हर घर योजना सरल बिजली बिल स्कीम में मुख्यमंत्री जन कल्याण (संबल) योजना-2018 में पंजीकृत श्रमिक उपभोक्ताओं को घरेलू कनेक्शन के लिए प्रति माह 200 रुपये अथवा पिछले 12 माह का औसत जो भी कम हो, का बिल ही भरना होगा। बिल की शेष राशि राज्य सरकार सब्सिडी के रूप में भरेगी। स्कीम का लाभ 88 लाख श्रमिक उपभोक्ताओं को मिलेगा। श्रमिकों के हक में मध्यप्रदेश सरकार द्वारा उठाया गया यह सबसे बड़ा कदम है। स्कीम के लागू होने से अब श्रमिक की आय का एक बड़ा हिस्सा बिजली खर्च से बचेगा। बची हुई यह राशि उनके बच्चों की पढ़ाई-लिखाई आदि में खर्च हो सकेगी। स्कीम का स्वरूप न सिर्फ व्यापक है बल्कि श्रमिकों का व्यापक हित भी इससे जुड़ा हुआ है, जिसके दूरगामी परिणाम सुखद होंगें। यह प्रावधान रखा गया है कि पंजीकृत श्रमिकों के परिवार की समग्र आई.डी. में दिखाये गये सदस्यों में से कोई भी उपभोक्ता होने पर वह लाभ का पात्र होगा। अगर उपभोक्ता चाहे तो नि:शुल्क नामांतरण भी करवा सकता है। MPROFIT SOFTWARE PRIVATE LIMITED SiteMap बैडमिंटन गैस और इलेक्ट्रिक बिल - उपयोगिता दरों की तुलना करें गैस और इलेक्ट्रिक बिल - बिजली बचाओ गैस और इलेक्ट्रिक बिल - सर्वश्रेष्ठ विद्युत सौदे
Legal | Sitemap