स्नाताकोत्तर छात्रों के लिए छात्रवृत्ति योजना अध्यक्ष भारतीय जनता युवा मोर्चा समाजसेवी सह प्रचार्ज बनमाली सिंह उच्च बिद्यालय, टुपरा विशेष रूप से महिलाओं के लिए जीवन की बेहतर गुणवत्त (लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) Radio D १- संबल योजना में पंजीकृत श्रमिक को आवेदन पत्र विद्युत कंपनी में देने होंगे। Arwal Subscribe Now! तरंग politics3 hours ago संपूरक परीक्षण प्रयोगशाला तराजू में एक तरफ नमक तो दूसरी तरफ मेवा विक्की राय प्रशांत पोद्दार मेरी उड़ान : गोठ एप से जानिए कैसे मिलती है बैंक में नौकरी ગુજરાતી     उन्होंने कहा कि नारनौंद क्षेत्र में 54 ऐसी ढाणियां है जिनमें न तो आर.डी.एस. फीडर से और न ही कृषि फीडर से बिजली आपूर्ति हो रही है। ऐसी ढाणियों को सौभाग्य योजना के तहत बिजली सप्लाई सुनिश्चित की जाए। इसके लिए विभाग द्वारा 113 करोड़ रुपये की योजना बनाई गई है। इन ढाणियों में ऑफ ग्रिड मैथ्ड अपनाते हुए सौर ऊर्जा के माध्यम से बिजली मुहैया करवाई जाए। संजीव उपाध्याय योजना के अनुदान का हिस्सा विशिष्ट वर्ग राज्यों के अतिरिक्त अन्य राज्यों के लिए 60 फीसदी (अनुशंसित उपलब्धि अर्जित करने पर 75 प्रतिशत तक) और विशिष्ट वर्ग राज्यों के लिए 85 फीसदी (अनुशंसित उपलब्धि अर्जित करने पर 90 प्रतिशत तक) तक है। अतिरिक्त अनुदान के लिए अपेक्षित उपलब्धियां हैं : योजना का समय पर पूरा होना, एटी एंड सी में अपेक्षित कमी और राज्य सरकार द्वारा सब्सिडी को अग्रिम रूप से जारी करना। सिक्किम समेत सभी पूर्वोत्तर राज्य, जम्मू और कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड विशिष्ट वर्ग राज्यों में शामिल हैं। आठवां सवाल –  राज्यों को धन के आवंटन के लिए क्या मानदंड है? बहन प्रियंका की सगाई अटेंड करने शूटिंग बीच में छोड़ मुंबई लौंटी परिणीति चोपड़ा बीज ग्राम योजनाबाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं 3.21951219512 #छत्तीसगढ़ बिजली news1 day ago MECON लिमिटेड, रांची में 30 पद प्रवासी भारतीय  National News एयर इंडिया पायलटों की धमकी- अगर बकाया उड़ान भत्ता नहीं चुकाया तो फ्लाइट ऑपरेशंस रोक देंगे 23 mins It looks like nothing was found at this location. You can try a search instead. आयकर संग्रह 2017-18 में रिकॉर्ड 10.03 लाख करोड़ रुपए, रिटर्न की संख्‍या में 1.3 करोड़ की बढ़ोत्‍तरी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने जब गुरु 'महाबली' सतपाल को दी थी बादाम की बोरी asian games 2018 : इंचियोन की कड़वीं यादों को भुलाने के लिए तैयार हैं तीरंदाज दीपिका कुमारी BY नूर मोहम्मद ON 05/06/2018 • प्रोफाइल लखनऊः 30 हजार लोगों को सिंगल पॉइंट कनेक्शन से मिलेगी मुक्ति आशिष रंजन सी) सममित (बीएस) टर्मिनल व्यवस्था यूपी के 100 स्कूलों को मिला हिंदी कीबोर्ड, शुरू हुआ उज्जवल विकास अभियान Oops! That page can’t be found. In the Spotlight ट्रेंडिंग न्यूज़ काउंसिलिंग की तारीख बदली सस्ती बिजली उपलब्ध लेकिन महंगी दरों से किया भुगतान दिल्ली इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन (DERC) ने गर्मी शुरू होते ही राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बिजली के फिक्स चार्ज में 2.5 से लेकर 6.5 गुना तक का इजाफा किया है. हालांकि बिजली की कीमतों में प्रति यूनिट की दर  से कटौती की है. DERC ने 2 किलोवाट लोड वाले घरों में बिजली के फिक्स चार्ज को 20 रुपये से बढ़ाकर 125 रुपये कर दिया है. लिहाजा बिजली उपभोक्ताओं को फिक्स चार्ज 125 रुपये से 250 रुपये तक देना होगा. अभी तक बिजली का न्यूनतम फिक्स चार्ज 20 रुपये था, जो अब 125 रुपये होगा. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर सात दिन का राष्‍ट्रीय शोक रायबरेली Embed this Video जनता मजदूर संघ सिंदरी अध्यक्ष करोड़ की योजना आरसी ब्यूरो, औरंगाबाद।  बीजेपी शासित राज्य महाराष्ट्र में राज्य विद्युत वितरण कंपनी की लापरवाही की वजह से एक गरीब ने खुदकुशी कर ली। ये घटना महाराष्ट्र के औरंगाबाद की है, जहां महाराष्ट्र राज्य बिजली बोर्ड (एमएसईबी) ने भारत नगर इलाके में रहने वाले भागिनाथ शेळके को 8 लाख 64 हजार रुपये का बिजली का भेजा दिया। इसके साथ ही 17 मई तक ये बिजली बिल न जमा करने पर 10 हजार रूपये के जुर्माने की भी बात कही गयी थी। इससे परेशान इस शख्स ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस के अनुसार भागिनाथ शेळके अपने परिवार का भरन पोषण सब्जी बेचकर करता था। लाखों के बिजली बिल से वो काफी तनाव में था। पुलिस ने बताया है कि मरने से पहले भागिनाथ शेळके ने एक नोट भी छोड़ा है।  इस नोट में उसने भारी-भरकम बिजली का बिल होने के कारण जान देने के लिए मजबूर होने की बात लिखी है। रोहतास अजित सिंह चौधरी वर्ष   सब्सिडी नागरिक अधिकार Tweet Create Page 1:38 Jump to navigationJump to search दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना से बिहार के 23 जिले पूरी तरह हुए रोश्नी से जगमग विद्युत प्राप्त करने में कारोबार करने की सुगमता taken off. ऊर्जा बचत योजना परियोजना संबंधी नीति संतकबीरनगर सिंहभूम (पू) मुकेश राय गुमला इस रेस्तरां से नहीं निकलता कूड़ा अलका कुमारी कीर्ति आजाद ने दरभंगा से चुनाव लड़ने का किया ऐलान आरएसओपी की तकनीकी रिपोर्टें गाँधी होते तो कहलाते एंटी-नेशनल उ वि औद्योगिक सेवा 3 8.02 0.40 7.62 8.45 7.48 Write a Comment पारेषण क्षेत्र में विकास www.bhaskar.com 18 जनवरी 2017, 03:09 AM हाईटेंशन (एचटीएस 32केवी)  6.25  5.75 मॉब लिंचिंग से नहीं हुई अकबर की मौत : आईजी परिचय पंचतत्व में विलीन हुए “अटल बिहारी” | दत्तक पुत्री नमिता ने दी मुखाग्नि Sitemap| नराकास क्रियाकलाप हमारे बारे में : सिंहभूम (प) हाईटेंशन (एचटीएस 132केवी)  6.25  5.75 State Of The States Conclave कोई जमा के साथ सस्ता बिजली - सस्ता गैस और इलेक्ट्रिक कोई जमा के साथ सस्ता बिजली - मेरा इलेक्ट्रिक बिल लोअर कोई जमा के साथ सस्ता बिजली - उपयोगिता कंपनी
Legal | Sitemap