GOVT. SPONSORED SCHEMES -ग्रामीण क्षेत्रों में निम्न दाब की लघु उद्योग की इकाईयों को ऊर्जा प्रभार में 5 फीसद छूट। Latest News in English 31 दिसम्बर तक सभी घरों में पहुंचेगी बिजली पार्षद सह समाज सेवी यह दिखाता है कि ग्राहक अपने खातों को सक्रिय रखने को लेकर दिलचस्पी नहीं दिखा रहे हैं. शिवप्रताप शुक्ला ने राज्यसभा में लिखित जवाब में बताया कि करीब 31.20 करोड़ खाते जिनमें कुल 75,000 करोड़ धन राशि जमा है, फरवरी 2018 तक खुल गए थे. इनमें से 25.18 करोड़ (81 फीसदी) खाते सक्रिय थे. Daily Horoscope By Hussain Kanchwala on August 15, 2018 11 फरवरी 2010. पंजाब में छोटी बिजली उत्पादक कंपनियों को कर्ज में आ रही परेशानियों को देखते हुए ऊर्जा मंत्रालय ने राज्य में काम कर रही निजी बिजली उत्पादक कंपनियों के साथ 11-12 फरवरी को एक बैठक बुलाई है। बैठक में कर्ज नियमों में ढील देने और पावर प्रोजेक्ट के लिए ज्यादा निवेशकों को आकर्षित करने पर विचार किया जाएगा। विवो वी 9 युवा 32 जीबी (ब्लैक, 4 जीबी रैम) सिंहभूम (पू) मीटर प्रकार August 11, 2018 at 12:17 pm 300 से अधिक    6.52        8.60     मुखिया, पिंड्राजोरा पंचायत योग्यता: बीई/बीटेक/डिप्लोमा उपभोक्ताओं को राहत की उम्मीद पश्चिमी भारत कुशीनगर आरजीजीवीवाय - जबलपुर, उमरिया, बालाघाट, सागर, बालाघाट, पन्ना, रीवा, शहडोल, छिंदवाड़ा व सिवनी जिला फीडर सेपरेशन- रीवा नॉर्थ, रीवा साउथ, नरसिंहपुर, सिवनी, सागर, बीना, लखनादौन, पृथ्वीपुर, रेहली, बांदा डिवीजन, पन्ना, छिंदवाड़ा ईस्ट, जुन्नारदेव, दमोह नॉर्थ, कटनी। ठग मानसिकता के चंदा चोर आपकी बुराई करते हैं तो आत्मबल बढ़ता है: कैप्टन अभिमन्यु प्रयोगशालाओं की सूची मिदनापुर रैली में हुए हादसे पर मोदी का तंज, पंडाल संभालता नहीं और देश संभालेंगे - 30% संयुक्त राष्ट्र + 15% संयुक्त राष्ट्र साइबर सुरक्षा के क्षेत्र में सरकार द्वारा की गई पहलAug 01, 2018 लखीमपुर खीरी आयुष अमेरिका: इंग्लिश टीचर ने 2500 महिला कैदियों को कविता लिखना सिखाया ताकि उनका आत्मविश्वास बढ़े 18 mins ई) एन्क्रिप्शन के साथ 20 अंक एसटीएस जॉन अब्राहम की बॉडी बनवाई इस शख्स ने 6 पैक्स एब्स के बारे में ये सीक्रेट्स किए शेयर 6 mins ट्रेवल शहीदों के परिवारों के लिए हमेशा हीरो ही रहेंगे वाजपेयी DGCA ने किया हाईकोर्ट में विमानन कंपनियों का बचाव, बहुत ज्यादा किराया नहीं वसूल रहीं एयरलाइंस GST के चलते बिगड़ा बजट तो बारिश ले डूबी सब्जियां इस तरह से बढ़ी बिजली की दरें लोग और जीवनशैली यह रहेंगे नियम Advertise with us जेटली ने मोदी से हाथ क्यों नहीं मिलाया? 1951  —   35.8 प्रतिशत दिवाली खत्म होते ही महाराष्ट्र के लोगों को बिजली दर में बढ़ोतरी का झटका लगा है। बिजली बिल में बढ़ोतरी के लिए महाराष्ट्र विद्युत नियामक आयोग ने महावितरण को हरी झंडी दे दी है। बिल में बढ़ोतरी एक नवंबर से हुई है और अगले चार सालों तक 4 स्लैब के तहत बिजली बिल में बढ़ोतरी होगी। चालू वित्त वर्ष में 1.5 फीसदी, 2017-18 में 2 फीसदी, 2018-19 में 1.20 फीसदी और 2019-20 में 1.27 फीसदी कीमतों में बढ़ोतरी की जाएगी। फिलहाल एक यूनिट पर करीब 4 पैसे का बोझ बढ़ेगा, लेकिन चार सालों की बात करें तो ग्राहकों पर कुल 9141 करोड़ रुपये का बोझ बढ़ेगा। AePs मुख्यमंत्री मनोहर लाल का कहना है कि हरियाणा में पहली बार बिजली कंपनियां लाभ में आई हैं। उनके लाइनलॉस भी कम हुए हैं। हम अब प्रदेश की जनता को सस्ती बिजली देंगे। इसकी घोषणा करने से पहले मैंने बिजली कंपनियों से कहा है कि वे उत्पादन प्रभावित न होने दें। इसके लिए यदि कोयले की जरूरत है तो आवश्यक प्रबंध और बातचीत करें। हम नहीं चाहते कि बिजली सस्ती करने की घोषणा कर दें और समुचित आपूर्ति न कर पाएं। हमारी सरकार बिजली भी सस्ती देगी और आपूर्ति भी पूरी देगी। News2018-05-28T16:54:36 फोटो गैलरी अमेरिका: इंग्लिश टीचर ने 2500 महिला कैदियों को कविता लिखना सिखाया ताकि उनका आत्मविश्वास बढ़े 18 mins Verified accountProtected Tweets @ Search News अनुसंधान योजना Register दूसरा टेस्ट Stage एशिया For Digital Marketing enquiries contact: 9000180611, 040-23318181 E-Mail: [email protected] | Powered by Vishwak 41 से 200 - 3.90 - 3.80 Recommended #electricity consumers Madhya Pradesh Scheme संचार बोर्ड रिजल्ट Leaders केजरीवाल की सरकार है फेल, हरियाणा सरकार कर रही हैं बढ़िया काम : अनिल विज News2018-05-28T16:54:36 सतना डाइट-फिटनेस मुखिया संघ के अध्यक्ष, चंदनकियारी अपना जिला चुने Phone: +91 7552556566, +91 7552575670 ऊर्जा सचिव राधिका झा के अनुसार राज्य में 3,52,625 परिवार बिजली से वंचित हैं. इसमें से 95,577 परिवारों को दीनदयाल उपाध्याय योजना से विद्युत आपूर्ति दी जाएगी. साथ ही शेष बचे 2,57,048 परिवारों को 'सौभाग्य' योजना के तहत विद्युतीकृत किया जाएगा. राज्य के दूर-दराज के क्षेत्रों में जहां अपरिहार्य कारणों से विद्युत लाइन बनाना संभव नहीं है, वहां सोलर एनर्जी कनेक्शन दिए जाएंगे. जिसके लिये करीब 50,000 प्रति घर व्यय होगा. ऐसे संयोजनों की संख्या लगभग 9,128 है. प्रवेश संरक्षण प्रयोगशाला भारी बारिश से कर्नाटक के कोडगू में हो रहे भूस्खलन, बाढ़ जैसे... Poll 5:57 Delhi Scheme इन दो विभूतियों के बीच बनेगी महान अटल की समाधि, पीएम मोदी ने बदला कानून Promoted by 45 supporters लोग चाहते हैं मैं राजनीतिक टिप्पणी करूं लेकिन मैं किसी की निंदा नहीं करताः वरुण गांधी ब्रेकिंग न्यूज़ नवभारत टाइम्स | Updated:Mar 16, 2018, 08:00AM IST विज्ञापन र॓ट बच्चियों से रेप की घटनाओं के विरोध में महिला कांग्रेस ने किया प्रदर्शन पहली बार परफॉरमेंस के आधार पर सस्ती बिजली: बिजली कंपनियों के परफॉरमेंस के आधार पर रेग्युलेटरी सरचार्ज में कटौती कर बिजली सस्ती देने वाला उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य बन गया है। नियामक आयोग के चेयरमैन देशदीपक वर्मा ने कहा कि जो कंपनियां लाइन लॉस कम करने में पिछड़ गई उन्हें खामियाजा भुगतना पड़ा। आगे भी यह प्रतिस्पर्धा जारी रहेगी। AAP 300 मीटर ऊंची उत्तर भारत की बुर्ज खलीफा बनकर तैयार, नजीब जंग का भी बनेगी ठिकाना 53 mins मोदी की मुख्यमंत्री विजयन के साथ बैठक, बाढ़ के हालात… सोना (GOLD) Author पंचांग-पुराण हनुमानगढ़ इस योजना के तहत दिए जाने वाले कनेक्शनों के लिए 19 सितंबर से रजिस्ट्रेशन शुरु हो जाएंगे, जिसके लिए 100 रुपए की फीस लगेगी। ऊर्जा राज्य मंत्री और अफसरों ने दावा किया कि डिमांड राशि जमा करवाने के 15 से 20 दिन के भीतर कनेक्शन दे दिया जाएगा। इस योजना में करीब 4 लाख लोगोंं को फायदा हो सकता है। 3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान ENGvIND: टीम इंडिया के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार के बारे में आई बड़ी अपडेट ऊर्जा लागत की तुलना करें - इलेक्ट्रिक कंपनी ऊर्जा लागत की तुलना करें - सस्ते ऊर्जा दरें ऊर्जा लागत की तुलना करें - बिजली की कीमतें
Legal | Sitemap