इस अहम फैसले के तहत आईएलबीएस की दूसरी यूनिट शुरू कर बिस्तरों की मौजूदा संख्या को 155 से बढ़ाकर 549 किया जाएगा। परियोजना की अनुमानित लागत को 389 करोड़ रुपए से बढ़ाकर 497.72 करोड़ रुपए कर दिया गया है। आईएलबीएस की दूसरी यूनिट में बिस्तरों की संख्या में इजाफे के अलावा सुपर स्पेशियलिटी श्रेणी की चिकित्सा सेवाओं के साथ शिक्षण-प्रशिक्षण और शोध कार्य भी होगा।  एक्सपर्ट कॉलम क्राइम रिपोर्ट राशिफल 18 अगस्त: देखें, कैसा रहेगा आपका आज का दिन LATEST FROM AAJ TAK डॉक्टर से पूछें August 13, 2018 रामगढ पंकज शर्मा Powered by: वार्षिक अचल संपत्ति रिटर्न भारत ने अटल जी को दी श्रद्धांजलि जर्मन सीखिये मणिपुर इतना लगता है मिनिमम चार्ज जोधपुर रेल मंत्रालय ने डिजिटल स्‍क्रीन सेवा लॉन्च कीAug 17, 2018 हिसार में सिख परिवार पर हमला, पुलिस ने दर्ज की FIR सोलर रुफटाप को सरकार दे रही है बढ़ावा अन्त्योदय राशन कार्ड कृषि निर्देशिका सांसद राजमहल लोकसभा लुधियाना @AamAadmiParty @DrKumarVishwas अरे बन्द करो नाटक। सरकार तेरी है । है औकात तो कुछ करो । जनता को चुतिया बनाना बन्द नही करोगे??? पीलीभीत ऐप्स 12:48 AM - 18 Aug 2015 सीकर में सेक्स रैकेट का खुलासा, चार कॉलगर्ल्‍स समेत 13 गिरफ्तार तन मन Undo क्रमबद्ध करें सिंचाई Privacy policy दिल्ली में सुबह आंशिक बदली छाई Don't have an account ? रांची : रांची में बढ़ रही है सीफूड खाने वालों... नेशनल पावर पोर्टल पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी का काम अधूरा छोड़कर गायब हुईं कंपनियों में सबसे ज्यादा चार हैदराबाद की बताई जा रही हैं। अन्य कंपनियां चेन्नई, बेंगलूरु, जबलपुर, सतना व नोएडा की हैं। काम पूरा नहीं करने वाली इन कंपनियों पर कार्रवाई के बाद बिजली कंपनी इनकी बैंक गारंटी जब्त करने की कवायद में जुट गई है। सुप्रीम कोर्ट पहुंचा, चुनावी साल में सस्ती बिजली और बिल माफ करने का मामला ग्वालियर: 5 साल बाद अगस्त में 24 घंटे में 95.8 मिमी बारिश देश विदेश वार्षिक रिपोर्ट पुरालेख बिजली बिल भरने पर ये कंपनी दे रही इनाम, 31 दिसंबर तक है समय घट सकती हैं ग्रामीण उपभोक्ताओं की दरें ‘सबके लिए बिजली’ (पावर फॉर ऑल) के लक्ष्य की पूर्ति एक बहुत बड़ी चुनौती है। इसके मद्देनजर आम लोगों को नए कनेक्शन सरल और आकर्षक शर्तों पर उपलब्ध कराना आवश्यक है। साथ ही बिजली का इस्तेमाल करने वाले सभी लोगों के कनेक्शन लेने से बिजली के वैध उपयोग को बढ़ावा मिलेगा।  पार्वती देवी मंत्रिमंडल ने राष्ट्रीय आपदा मोचन बल की चार अतिरिक्त बटालियन बनाने को मंज़ूरी दीAug 10, 2018 Refrigerators पहली बार 1981 में वाजपेयी आये थे सिवनी posted on August 18, 2018 HARYANA GK IN ENGLISH CONNECT WITH US Authors साझा कीजिए AllPhoto गैलरीVideo गैलरी अमेरिका: इंग्लिश टीचर ने 2500 महिला कैदियों को कविता लिखना सिखाया ताकि उनका आत्मविश्वास बढ़े 20 mins पटना : बिहार राज्य पावर होल्डिंग कंपनी ने एलएनटी कंपनी (लार्सन एंड टूब्रो) को अल्टीमेटम दिया है. लक्ष्य से पीछे रहने के कारण बिजली कंपनी ने एलएनटी कंपनी को 15 अप्रैल तक 355 टोलों में सोलर से बिजली पहुंचाने का टारगेट दिया है. कंपनी को उत्तर बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी के 130 टोलों में और दक्षिण बिहार पावर  डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी के 225 टोलों तक बिजली पहुंचानी है. अगले दो महीने में चंपारण, कैमूर, अरवल, मुंगेर समेत अन्य जिलों के चयनित टोलों में सोलर से बिजली नहीं पहुंची तो एल एंड टी कंपनी पर कार्रवाई की जा सकती है.  अनुसूचित जाति कल्याण उप प्रमुख, बेंगाबाद बिरौल: हमलोगो ने वाजपेयी ऐसे अविभावक को खो दिया !! 0 Like 0 Dislike योर मनीः छात्रों के लिए बचत और निवेश के टिप्स गाँधी होते तो कहलाते एंटी-नेशनल टेक वर्ल्ड भूमिका जन समूह झारखण्ड के पेयजल एवं स्वच्छता विभाग में केंद्रीय एवं राज्य योजनाओं की विवरणी निसान का केरल में बाढ़ प्रभावित ग्राहकों के लिए सर्विस स्पोर्ट यह ईपीसी मोड के तहत पूरी तरह सरकारी प्रोजेक्ट हैं। इसके अलावा 9 मेगावाट के हानू और 9 के मेगावाट के दाह प्रोजेक्ट के लिए निगम द्वारा पूरी की गई निविदा प्रक्रिया के आधार पर पात्र बोलीदाता को ठेका देने की अनुमति दे दी गई है। पुग लेह 5 मेगावाट की भू-तापीय परियोजना आईपीपी मोड पर विकसित करने का भी निर्णय किया गया। प्रवक्ता ने बताया कि सबसे महत्वपूर्ण 1,856 मेगावाट क्षमता के स्वालकोट एचईपी प्रोजेक्ट के लिए बोर्ड ने जल्द विस्तृत रिपोर्ट पूरी करने और सीईए से टेक्नो ई वी आर सी में बहुचैनल स्पेक्ट्रम विश्लेषक Investor| इकनॉमिक टाइम्स | Updated:Jun 4, 2018, 08:14AM IST @AamAadmiParty Now instead of wasting time in discussion, AAP govt shud register FIR n take stern action against discoms,Sheila Dixit n co Health + घर 0 से 100 - 5.75 - 5.65 योगी आदित्यनाथ हाशिरता रजवार जवाब – ’24×7 पावर फॉर ऑल’ राज्यों के बीच में एक संयुक्त पहल है जो राज्यों / संघ राज्य क्षेत्र के विशिष्ट रोडमैप और कार्य योजना को अंतिम रूप देने के लिए जैसे -बिजली क्षेत्र,हस्तांतरण और वितरण, ऊर्जा दक्षता, स्वास्थ्य के सभी क्षेत्रों को कवर करने वाले राज्यों के साथ एक संयुक्त पहल है। सभी राज्यों / संघ शासित प्रदेशों के साथ परामर्श में सभी दस्तावेजों में पावर के लिए बिजली क्षेत्र की मूल्य श्रृंखला में आवश्यक विभिन्न हस्तक्षेपों का विवरण शामिल है। EDIT: There is a protest happening in Toronto to fight this!! Please check out the event and come if you… Read more जबलपुर RC Desk2, December 04,2017 12:18:11 PM MAI विशेष दिवस @AamAadmiParty These power companies are going to get molested now वैद्युत उपस्कर हरियाणा में पहली बार बिजली कंपनियां घाटे से उबरकर लाभ की स्थिति में आई हैं। लाइनलॉस कम होने के साथ ही पिछले साल के 193 करोड़ रुपये के घाटे के विपरीत इस साल बिजली कंपनियों को 115 करोड़ रुपये का लाभ हुआ है। इससे जहां बिजली कंपनियां उत्साहित हैं, वहीं सरकार ने इसका लाभ उपभोक्ताओं को देने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल चाहते हैं कि बिजली के रेट कम किए जाएं, लेकिन साथ ही उन्होंने बिजली कंपनियों को निर्देश दिए हैं कि पहले उत्पादन की बाधाओं को दूर किया जाना चाहिए। Breaking News in Hindi VIDEO: छात्रसंघ चुनावों की हलचल शुरू, ABVP ने किया प्रदर्शन Indonesian Indonesia खास बातें 0 replies 0 retweets 3 likes संबंधि‍त ख़बरें Delhi News in Hindi Story त्वरित संपर्क Lucknow News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए NBT के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें 09:42 देश ने खोया अनमोल रत्न, उनका जाना दुखद ग्रामीण ऊर्जा चर्चा मंच Retweeted प्लांट लगानेवालों को कुल लागत का महज 25 फीसदी ही खर्च करना होगा. राज्य सरकार 45 फीसदी और केंद्र सरकार30 फीसदी अनुदान देती है.  राज्य सरकार अपने अनुदान को 45 से  बढ़ाकर 60 प्रतिशत करने पर विचार कर रही है. राज्य सरकार वैकल्पिक ऊर्जा श्रोत को बढ़ावा दे रही है. सदर अस्पताल, समाहरणालय और जिला अतिथि गृहों में सोलर रुफटाप पावर प्लांट  लगाया जा रहा है. सोलर रुफटाप पावर प्लांट  से बिजली की बचत होगी . जिसका उपयोग दूसरी जगह होगा. Portuguese Português do Brasil ख्वाजा की दरगाह से तिरंगा बांटकर दिया कौमी एकता का पैगाम ऊर्जा लागत की तुलना करें - विद्युत लागत कैलकुलेटर ऊर्जा लागत की तुलना करें - गैस और इलेक्ट्रिक आपूर्तिकर्ता ऊर्जा लागत की तुलना करें - बिजली स्विच करें
Legal | Sitemap