राष्ट्रीय स्मार्ट ग्रिड मिशन (एनएसजीएम) स्प्लिट कीपैड: वैकल्पिक कैलेण्डर Reply Sawan2018: तीसरे सोमवार को शिव के इस स्वरूप की पूजा करने से होगी आपकी मनोकामनाएं पूर्ण 10 अगस्त 2018 Read more about: इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा किया गया है। धनु उदय डैशबोर्ड एडमिशन प्रक्रिया बोलीविया की माली हालत खस्ता, लेकिन राष्ट्रपति ने अपने लिए 238 करोड़ रु. में बनवाया 29 मंजिला घर 21 mins 255 Retweets 0-50        2.65        6.15     इमेज कॉपीरइट PTI केबिल प्रयोगशाला आई.एम.एस. NEWSLETTER आज तक Jitender sharma Jul 03, 2018 04:20 AM © 2018 nayaharyana.com. All rights reserved सिलिगुडी 15 अगस्त की ड्रेस रिहर्सल, कई रूट बदले और स्कूल 10 बजे से संबंधित लिंक DGCA ने किया हाईकोर्ट में विमानन कंपनियों का बचाव, बहुत ज्यादा किराया नहीं वसूल रहीं एयरलाइंस German Deutsch बलरामपुर से वाजपेयी को हराने के लिए नेहरु ने कराया था मशहूर बॉलीवुड एक्टर से प्रचार ...कांग्रेस उम्मीदवार के हाथों ही हुई थी सिद्धारमैया की पहली हार Das Porträt Users Today : 1 August 18,2018 10:28:00 AM पांचवां सवाल –  भारत सरकार का पहले का कार्यक्रम ’24×7 पावर फॉर ऑल’ के समान ही उद्देश्य है। यह कैसे इस कार्यक्रम से अलग है? www.bhaskar.com अटल बिहारी वाजपेयी के शव को AIIMS से उनके घर ले जाया जाएगा मेरा टीवी बाबू धन मुर्मू भाजपा नेता सह पार्षद आदित्यपुर नगर निगम वार्ड संख्या 16 HAMIRPUR YUKAN WORKER AND POLICE SCRIMMAGE     इसके लिए उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों को गांव-गांव जाकर जागरूकता कैंप लगाकर लोगों को इस योजना के बारे में बताने को कहा ताकि वे इसका लाभ उठा सकें। इसके साथ-साथ इन शिविरों में ढाणियों में बिजली उपलब्ध करवाने के लिए सौभाग्य योजना की भी जानकारी लोगों को देने के संबंध में उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए। www.livehindustan.com 13 आगस्त 2017, 09:31 PM कांग्रेस झरिया विधानसभा प्रभारी CABINET MEETING धनबाद के युवा एवं लोकप्रिय कॉग्रेस नेता बीबीसी से संपर्क टेक वर्ल्ड नो पार्किंग में गाड़ी खड़ी करने वालों को नहीं छोड़ेगी पटना पुलिस, ठोकेगी 13 सौ का जुर्माना भी BIHAR भाषा चुनें ▼ निजी क्षेत्र की जल-विद्युत योजनाओं में भागीदारी के बारे में कई बातें कही गई हैं। नदी घाटियों का पूर्व अध्ययन, धरातल चित्र तथा जल का मूल्यांकन उत्तराखंड जल-विद्युत निगम को पहले से ही कर लेना चाहिए था ताकि नदी की बिजली उत्पादन क्षमता का सही अनुमान लगाया जा सकता। योजनाओं की बिजली उत्पादन क्षमता कई बार बदली गई 85 प्रतिशत योजनाओं में 22 प्रतिशत से 32.9 प्रतिशत बदलाव हुए, जिससे पूर्व अध्ययन के सही होने पर संशय तथा सवाल खड़े हो गए। योजनाओं को विकसित करने वालों ने व्यवस्था की त्रुटियों का फायदा उठाया। नमूने की 13 योजनाओं में एक की क्षमता 25 किलोवाट से कुछ कम की गई, ताकि उस पर रॉयल्टी कम देनी पडे, जो पूरे 25 किलोवाट या उससे अधिक पर काफी अधिक पड़ती। कई योजनाओं की समय-सीमा इसलिए बढ़ाई गई कि इस मामले में हुए नुकसान का भार उन पर न पड़े। यह अधिकतर उत्पादन क्षमता में बदलाव करने पर हुआ, जिससे राज्य की प्रत्याशित रायल्टी तथा बिजली से आमदनी में कमी आई। उससे राज्य को बहुत आर्थिक घाटा हुआ क्योंकि कंपनियों के प्रीमियम बदल गए। योजनाओं का समुचित पूर्व अध्ययन अत्यंत आवश्यक है ताकि उनकी क्षमता का सही ज्ञान हो सके। पानी के बहाव, विद्युत यंत्रों की कार्य क्षमता तथा अन्य बातों के मानक निर्धारित करने पर ही कंपनियों को लाइसेंस देने की नीति बनाने की जरूरत थी। इस लेख में कैग की पूरी रिपोर्ट, जिसमें राज्य की जल-विद्युत नीति तथा उसके काम करने के तरीके की कड़ी आलोचना है और जिसमें कहा गया है कि उस नीति के कारण बड़ा पर्यावरणीय तथा आर्थिक नुकसान हुआ है। सवाल यह उठता है कि सभी दिशाओं में बड़े घाटे तथा संसाधनों के क्षय के काम को राज्य सरकार क्यों प्रोत्साहन दे कर चला रही है ? टावर परीक्षण केंद्र कमिशन के अनुसार 2522.62 करोड़ रुपए का घाटा पूरा करने के लिए तीन साल बाद यह वृद्धि की गई है। अब इसके अनुसार पंजाब में घरेलू उपभोक्ताओं को 0.48 रुपए से 0.96 रुपए प्रति यूनिट, जबकि कमॢशयल उपभोक्ताओं को 0.70 रुपए से 0.85 रुपए प्रति यूनिट अधिक अदायगी करनी होगी। इस वृद्धि से पंजाब उत्तरी भारत में सर्वाधिक बिजली दरों वाला राज्य बन गया है। ३. जिनके यहां मीटर नहीं है वहां मीटर लगेंगे और रीडिंग करते हुए बिल की गणना की जाएगी। Moneycontrol Vogue beauty awards : हॉट ब्लैक में नजर आई ये... Categories List प्रतापगढ़ - कुंडा हालांकि कोई सरकार के दावें पर कैसे सवाल खड़ा सकता है, अगर इन दावों को सही भी मान लिया जाए तो गांव के विद्युतीकरण से गांववालों को कोई फायदा तो हुआ नहीं है क्योंकि विद्युत आपूर्ति को लेकर अनिश्चितता की हालत बनी हुई है. अगर इन्हें 24 घंटे बिजली दी भी जाती है तो इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि गांव वाले इस बिजली का उपभोग करने में सक्षम होंगे. प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना "सौभाग्य" News18 States 1991 —  27.6 प्रतिशत भारत के पीसी मार्केट में 28 फीसदी की ग्रोथ, अल्ट्रा स्लिम नोटबुक ने बढ़ाई मांग 50 mins May 2018 Breaking News in Hindi Google राजस्थान न्यूजRajasthan newsKotaElectricity companyprotest गोड्डा जानकारी के अनुसार बिजली कंपनी के विरोध में महिलाओं ने बुधवार को  प्रदर्शन किया। यह प्रदर्शन पार्षद राखी गौतम के नेतृत्व में किया गया। सैकड़ों की संख्या में महिलाओं ने बीएसएनल सर्किल से बिजली ऑफिस तक रैली निकाली। इस दौरान महिलाएं कपड़े धोने में उपयोग आने वाला धोवना लेकर जमकर नारेबाजी करती रहीं। यह रैली जब बिजली कंपनी के ऑफिस पहुंची तो इन महिलाओं ने बिजली कर्मचारियों को गुलदस्ते भेंट किए। पावर कॉरपोरेशन की चारों बिजली कंपनियों के उपभोक्ताओं पर रेग्युलेटरी सरचार्ज प्रथम अलग-अलग लागू है। पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम में सबसे ज्यादा 2.84 फीसदी। एक हजार रुपये पर करीब 28 रुपये, दक्षिणांचल में 1.14 फीसदी। एक हजार पर 11 रुपये, पूर्वाचल के 1.03 फीसदी। संबंधित लिंक खाना खज़ाना असंगठित क्षेत्र का कल्याण केंद्रों पर ही रखा बारिश में खराब हुआ अनाज, मारने लगा बदबू, लोग परेशान दिल्ली से और 19 replies 255 retweets 162 likes Apologies, but the page you requested could not be found. Perhaps searching will help. लोकप्रिय ख़बर हमसे कड़ी जोड़े Enquiry : 87501 87501 VIDEO: वाजपेयी के निधन पर शोक प्रस्ताव का विरोध किया, तो AIMIM नेता को शिवसेना-BJP वालों ने जमकर पीटा User Profile Find Friends जवाब –  हां,सौभाग्य योजना की लागत DUDUGY के तहत 16,320 करोड़ रुपये से अधिक निवेश किये गए हैं। अन्य योजनाएं       राज्यों के बिजली वितरण की उपयोगिता की यह छठवीं रिपोर्ट ऊर्जा मंत्रालय ने इसी महीने जारी की है। यह रैकिंग कंपनी के कामकाज, आर्थिक, पारदर्शिता व सरकारी मदद आदि के आधार पर जारी की जाती है। इससे पहले मंत्रालय ने मई 2017 में रैंकिंग जारी की थी। Loading... लोग और जीवनशैली Reduce the allowable size of new homes built in Coconut Grove to 50% of the lot area. दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री खुराना के बड़े बेटे का निधन, BJP नेताओं... नए बैच / उपलब्ध पाठ्यक्रम/ पाठ्यक्रम अवधि Follow more accounts to get instant updates about topics you care about. Ed Tech Blog संबल योजना में पंजीकृत श्रमिक और बीपीएल उपभोक्ताओं के घरेलू कनेक्शन पर बिजली बिल की बकाया राशि को श्रम विभाग के पंजीयन अथवा बीपीएल कार्ड का क्रमांक उपलब्ध करवाने पर माफ किया जाएगा। ऐसे पंजीकृत श्रमिक जिनके निवास का बिजली कनेक्शन उसके स्वयं के नाम पर न होकर उसके परिवार के किसी सगे-संबंधी के नाम पर हो तथा बीपीएल उपभोक्ता को सरलता से नामांतरण की सुविधा देते हुए उपभोक्ता के साथ निवासरत होने की दशा में स्कीम का लाभ दिया जायेगा। यदि संबल योजना में पंजीकृत कोई पात्र हितग्राही-बिजली उपभोक्ता के परिवार का सदस्य है और उसके साथ रहता है, तो ऐसे कनेक्शन पर भी स्कीम का लाभ मिलेगा। इसके लिए उपभोक्ता का नाम बदलना जरूरी नहीं होगा, तथापि ऐसे प्रकरण में परिवार का सदस्य उन्हीं व्यक्तियों को माना जाएगा, जिनके नाम समग्र डाटाबेस में एक परिवार के रूप में अंकित हों। सहायक / उच्च श्रेणी लिपिक 02018-07-17T12:08:48 कार पावर घोटाला : "2.42 में खरीदी, "7.90 में बेची Recommended 12 जुलाई 2018 Hindi खाद्य और सार्वजनिक वितरण Română एशियाई खेल 2018 DRISHTI INDEPENDENCE DAY OFFER FOR DLP PROGRAMME View Details कीमत- 5.9 लाख रुपये अटल जी को श्रद्धांजलि देने उमड़ा हिमाचल गाजीपुर business भोपाल News Most Popular और ... राज्य में 246 गांव हुए रोशन प्रोत्‍साहनकारी क्रियाकलाप धनु राशि वालों मुश्किल कामों में सोच-समझकर ही हाथ डालें। विचारों में पॉजिटिव रहें। अच्छे लोगों से......Read more उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने प्रेस वार्ता कर यह जानकारी देते हुए दावा किया कि देश में सबसे सस्ती बिजली दिल्ली में है। उन्होंने कहा कि सरकार आम आदमी पार्टी के चुनावी वायदे के मुताबिक सबसिडी को जारी रखेगी। बता दें कि घरेलू उपभोक्ताओं को 1 से 200 यूनिट तक बिजली खर्च करने पर 2 रुपए प्रति यूनिट कीमत चुकानी होगी। Study Material UPSC Hindi पात्र गृहस्थी राशन कार्ड - 30% संयुक्त राष्ट्र + 15% संयुक्त राष्ट्र धनबाद: श्री श्री ठाकुर अनुकूल चंद्र जी का मनाया गया 130वां जन्‍मोत्‍सव IRCTC Train New Schedule, Timings: बदला गया 300 ट्रेनों का टाइम टेबल, जानिए नया शेड्यूल रणनीति           योजना की पात्रता शर्तों का जिक्र करते हुए प्रवक्ता ने बताया कि उस उद्यम को राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर अधिसूचित प्रतिबंधित सूची में न रखा गया हो। इसके अलावा, सब्सिडी जारी करने के समय उद्यम नियमित उत्पादन कर रहा हो और यह सब्सिडी बंद इकाइयों को जारी नहीं की जाएगी।  लेटेस्ट लॉंच By Hussain Kanchwala on July 4, 2018 विदेशी अखबारों से अनुसंधान परियोजनाएँ – डीएसडी प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना, सौभाग्य फ्री बिजली कनैक्शन विमर्श माँ पापा का दुलारा बारिश के बावजूद पारा 45 डिग्री सेल्सियस Linkedin ज्योतिष July 11, 2018 इस योजना का अपेक्षित परिणाम निम्नानुसार है: सोशल मीडिया पर एक वीडियो अपलोड करके ट्रोल हुई सपना चौधरी, यूजर्स हुए निराश, कमेंट किया... सैनिकों के त्याग, तपस्या और बलिदान से ही सुरक्षित है देश : शिवराज सिंह « प्रधानमंत्री योजनाए 2018 पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित सभी सरकारी योजनाओं की सूची उ वि औद्योगिक सेवा 1 8.69 0.20 8.49 10.15 7.48 बैंक ऋण योजनाएं ‘मैं जी भर जिया, मैं मन से मरूं: लौटकर आऊंगा, कूच से क्यों डरूं?’ Hindi NewsState News In HindiPunjab And Haryana News In HindiFaridabad News In HindiElectricity Department's Surcharge Apology Scheme For Government Defaulter अपने पसंदीदा मध्‍य प्रदेश के आईपीएस मयंक जैन को केंद्र ने किया रिटायर, लगे हैं भ्रष्‍टाचार के आरोप Punjab And Haryana News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए NBT के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें सस्ता बिजली प्रदाता - अधिक जानकारी यहां उपलब्ध है सस्ता बिजली प्रदाता - मेरे क्षेत्र में इलेक्ट्रिक प्रदाता सस्ता बिजली प्रदाता - सस्ता विद्युत प्रदायक
Legal | Sitemap