आरसी ब्यूरो, औरंगाबाद।  बीजेपी शासित राज्य महाराष्ट्र में राज्य विद्युत वितरण कंपनी की लापरवाही की वजह से एक गरीब ने खुदकुशी कर ली। ये घटना महाराष्ट्र के औरंगाबाद की है, जहां महाराष्ट्र राज्य बिजली बोर्ड (एमएसईबी) ने भारत नगर इलाके में रहने वाले भागिनाथ शेळके को 8 लाख 64 हजार रुपये का बिजली का भेजा दिया। इसके साथ ही 17 मई तक ये बिजली बिल न जमा करने पर 10 हजार रूपये के जुर्माने की भी बात कही गयी थी। इससे परेशान इस शख्स ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस के अनुसार भागिनाथ शेळके अपने परिवार का भरन पोषण सब्जी बेचकर करता था। लाखों के बिजली बिल से वो काफी तनाव में था। पुलिस ने बताया है कि मरने से पहले भागिनाथ शेळके ने एक नोट भी छोड़ा है।  इस नोट में उसने भारी-भरकम बिजली का बिल होने के कारण जान देने के लिए मजबूर होने की बात लिखी है। ख़बर #सावन माह ‘भारत’ के सेट पर इस लग्जरी वैनिटी वैन का यूज कर… सीतामऊ कमोडिटी एक्सचेंज Other Related Links Advertise 500 साल पहले कोलंबस ने चंद्र ग्रहण का डर दिखाकर लोगों को ऐसे बनाया था... 9ट्रेंडिंग बाज़ार खबरें अधिक जानकारी के लिए दस्तावेज़ डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें (आकार: 1087KB, प्रारूप: PDF, भाषा: हिंदी / अंग्रेजी) धनबाद : प्रेस क्लब में मिले 21 रसेल वाइपर सांप, इनका काटा पानी भी नहीं... लाइफस्टाइल Embed this Tweet प्रेरक प्रसंग▼ एंट्री लेवल फोन्स के लिए लॉन्‍च हुआ एंड्रॉयड 9 पाई हुआ लॉन्‍च, भारत समेत 120 से अधिक देशों में होगा उपलब्‍ध Contact us (संपर्क करें) दूसरा सवाल – परिवारों को अंतिम छोर तक बिजली कनेक्शन प्रदान करने के लिए क्या किया गया है? बिजली कनेक्शन के लिए नया कानून जल्द मारपीट के आरोपी दिग्विजय सिंह ने सौंपे सभी सरकारी हथियार बेगूसराय में ठनका गिरने से 3 बच्चों की दर्दनाक मौत, परिवार में मचा कोहराम July 29, 2018 Strategy लाइव उपभोक्ता को  िकस दर से भुगतान करना पड़ रहा है 394 Views राहुल गांधी मुख्यमंत्री के 15 अगस्त संदेश के प्रमुख बिन्दु 16/08/2018 LoveSutras अटलजी नकारात्मक सोच से हमेशा दूर रहे, उनके व्यंग्य पर लोग तिलमिलाते तो जरूर थे, पर आहत नहीं होते: लालकृष्ण आडवाणी 16 mins ऊर्जा उत्पादक संघ के क्षमता प्रोडक्शन के प्रबंध निदेशक अशोक खुराना के मुताबिक, अगर गवर्नमेंट सभी पक्षकारों की राय के मुताबिक आगे बढ़ती है, तो उपभोक्ताओं को सीधे तौर पर लाभ मिलेगा . केंद्रीय ग्रिड तंत्र सीमित नहीं रहेगी व सभी संयंत्रों में एकरूपता आएगी . #मौसम का हाल आरएसओपी की तकनीकी रिपोर्टें COMPANY नईदुनिया विशेष मंत्रालय के संगठनात्मक सेटअप India Today Youth Summit 164 Views Hindi News »Madhya Pradesh »Neemuch» 1.25 लाख उपभोक्ताओं को मिलेगी सस्ती बिजली प्रदेश सरकार के दावे खोखले, मंडियों तक नहीं... सावन के पहले सोमवार को बम-बम भोले के जयकारे से गूंजा अजमेर # Dehradun Latest News Update Messenger बोलीदाता सूचना प्रबंधन प्रणाली, भूमि राशि तथा लोक वित्त प्रबंधन प्रणालीAug 09, 2018 नई बिजली दरों का मकसद मीटरिंग को बढ़ावा देना है ताकि छोटे उपभोक्ताओं पर गैर-जरूरी फिक्स्ड टैरिफ का बोझ न पड़े और बिजली के इस्तेमाल में किफायत भी आये. मिसाल के लिए अगर एक ग्रामीण घरेलू उपभोक्ता एक महीने में 30 यूनिट की बिजली इस्तेमाल करता है तो नई दरों के हिसाब से उसका महीने का बिल सिर्फ 140 रुपये आयेगा जबकि फिक्स्ड टैरिफ के तहत उसके ऊपर इससे लगभग ढाई गुना बिल आता.  Latest Govt Jobs उदय Samachar Agency दुनिया भर में बिकने वाली कारों की कीमत पर नज़र डालें तो निसान की लीफ़ लगभग 33000 यूरो(लगभग 2311000 रुपये) में बिकती है. नयी दर में इलेक्ट्रिकल व्हीकल का भी प्रावधान किया गया है. घर या ऑफिस  में इलेक्ट्रिकल व्हीकल चार्ज करने के लिए कोई दर नहीं है. लेकिन, पैसे  लेकर इलेक्ट्रिकल व्हीकल चार्ज करने पर बिजली का इस्तेमाल व्यावसायिक  श्रेणी के दायरे में आयेगा. जामताड़ा जलविद्युत परियोजनाओं से छलनी होते हिमालय के पहाड़ Hindi News »Rajasthan »Barmer» जिले की अब तक की सबसे बड़ी विद्युत प्रसारण योजना वर्ष    आदिवासियों की संख्या का प्रतिशत नया हरियाणा : 13 अगस्त 2018 नई दिल्ली/ब्यूरो। आप सरकार ने 400 यूनिट तक बिजली खर्च करने वाले घरेलू उपभोक्ताओं के लिए सब्सिडी जारी रखने का निर्णय लिया है। पहले की तरह 400 यूनिट तक बिजली खर्च करने वालों को आधी कीमत पर बिजली वर्तमान वित्त वर्ष में भी मिलना जारी रहेगी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में हुई दिल्ली कैबिनेट में इस आशय का निर्णय लिया गया। इससे सरकार को मौजूदा वित्त वर्ष में 1,720 करोड़ रुपए का बोझ पड़ेगा। Bandtagebuch एडीएम के आदेश बैंकिंग बीमा रंग-बिरंगी लाइटों और फूलों से सजा प्रियंका का बंगला, हिंदू रीति रिवाज से आज होगी सगाई! रोजगार लेटेस्ट न्यूज़ May 2017 आवास VIDEO: सावन के दूसरे सोमवार पर तीर्थनगरी पुष्कर में उमड़ा शिवभक्तों का सैलाब MPINFO IOS Read More: Lakhisarai Bihar Hindi News Jagran Newsविद्युत योजनासात हजारग्रामीण उपभोक्ता दिल्ली में पिछले 4 सालों से बिजली की कीमतें नहीं बढ़ीं 26 अगस्त को है रक्षाबंधन, जानिए शुभ मुहूर्त International Published: 2017-03-30 13:39:03.0 95% तक ... और पूर्व प्रधानमंत्री ने दे दिए ढाई सौ करोड़ के पैकेज Highway Channel सीतामढी एक्टिविस्टों के सुझाव क्रिकेट शर्मनाक : स्कूल में छात्रा से गैंगरेप 18 के खिलाफ… वैकल्पिक विषय - दर्शनशास्त्र 2 सालों बीत जाने के बाद भी अफसरशाही को यह मालूम नहीं, HC ने की थी ग्रीन एरिया में निर्माण की मनाही Nokia 6.1 PriceJioRealme 2TamilRockers WebsiteIRCTC PhonepeRedmi 5A PriceVajpayee DeadAyushman Bharat YojnaOppo R17 ProNarendra ModiRRB ALP Admit Card 2018Google Person FinderKerala Floods NewsRahul GandhiMK StalinSBI Q1 Results 2018ITR Filing StatusIdukki Dam Water LevelPriyanka Chopra PhotosHow to File ITRKatrina Kaif Hot PhotosTeen Talaq BillAarushi Hemraj CaseTravel News in HindiWhatsapp NewsAaj Ka RashifalBejan DaruwallaIncome Tax in HindiMutual Funds in Hindi2018 RashifalGadgets News in HindiRains In MumbaiTech News in HindiHindi NewsAssembly Elections 2018Kolkata NewsLucknow NewsTV News in HindiLive Cricket ScoreMumbai NewsPunjab NewsKashmir NewsEducation News in HindiVasthu Tips in HindiDelhi NewsUP NewsBihar NewsHealth News in HindiMovie News in HindiSports News in Hindi दिल्ली कांग्रेस दफ्तर में शीला दीक्षित, अजय माकन, हारून यूसुफ, अरविंदर लवली, सज्जन कुमार और महाबल मिश्रा समेत कई पूर्व विधायक और सांसदों की बैठक हुई. एच ई आर सी नारी परिवादी गंगोत्री पत्नी रामवीर सिंह तोमर निवासी शिवपुरम कॉलोनी ने म.प्र. पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी आनंद नगर के खिलाफ परिवाद पेश किया था। परिवादी ने कंपनी द्वारा अनुमानित रीडिंग का बिल देने और खपत से ज्यादा बिल आने पर कंपनी कार्यालय में शिकायत की। साथ ही मीटर बदलने के लिए आवेदन किया। 18 फरवरी, 2016 को राशि जमा करके नया कनैक्शन लिया लेकिन कम्प्यूटर में जानकारी अपलोड नहीं होने से मार्च तक के बिल जारी नहीं किए। नवम्बर व दिसम्बर 2016 में एवरेज यूनिट खपत के बिल जारी किए। कंपनी ने अनुमानित रीडिंग 5508 यूनिट खपत का बिल दिया जबकि इतनी खपत नहीं है। कंपनी से परेशान होकर उपभोक्ता ने फोरम में परिवाद लगाया। पंचांग पुराण अटल बिहारी के सम्मान में मॉरीशस ने उठाया ऐसा कदम की जान करेंगे गर्व जॉन अब्राहम की बॉडी बनवाई इस शख्स ने 6 पैक्स एब्स के बारे में ये सीक्रेट्स किए शेयर 5 mins 11 Bloomberg Quint नीतू कुमारी शीर्षक संभाग के 16 शहरों में आईपीडीएस योजना के तहत सुधार कार्य हो रहे हैं। शहडोल जिले मे धनपुरी, बुढ़ार, जयसिंह नगर, ब्यौहारी, बाणसागर टाऊन में 146.54 लाख से विद्युत सुदृढि़करण के कार्य प्रारंभ हो चुके हैं। इन सभी टाऊनों में 33/11 केवी के उपकेंद्रों की मरमम्त, क्षमता वृद्धि। 33 और 11 केवी की नई लाइनें, नई निम्न दाब की लाइने डालने के अलावा मीटर लगाने का कार्य भी चल रहा है। इसके अलावा उमरिया और अनूपपुर जिले के शहरों में भी यही कार्य शुरु हो चुके हैं। पर एक साल बीत जाने के बाद भी कार्य में उतनी गति नहीं दिख रही है। इस योजना में भी सभी शहरों में 26 करोड़ के विद्युत कार्य हो रहे हैं। NEXT STORY ई आई तथा श्रव्यद रव मापन टाइम आफ डे टैरिफ (हाई वोल्टेज-2, 3, व 4 श्रेणी) में बदलाव किया गया है। पीक आ‌वर्स यानी शाम के समय बिजली की सामान्य दर का 120 % विद्युत प्रभार लागू किया गया है। यह पहले 115 % था। आफ पीक आवर्स टैरिफ में विद्युत प्रभार 90 % से घटाकर 75 % किया गया है। बिजली कंपनी के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक प्रत्यय अमृत व एनटीपीसी के सीएमडी गुरदीप सिंह ने संयुक्त प्रेस वार्ता में कहा कि 17 अप्रैल को कैबिनेट ने इन बिजली घरों को एनटीपीसी को देने पर सहमति दी थी। एमओयू पर हस्ताक्षर एनटीपीसी के डायरेक्टर कॉमर्शियल एके गुप्ता व कंपनी के प्रबंध निदेशक आर लक्ष्मणन ने किया। करार होने के बाद बरौनी से 684 करोड़ , कांटी से 54.69 करोड़ और नवीनगर से 136 करोड़ कुल 865 करोड़ सालाना बचत होगी। करार के समय मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह, सीएम के प्रधान सचिव चंचल कुमार, सचिव अतीश चंद्रा व मनीष कुमार वर्मा, विशेष सचिव अनुपम कुमार सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे। टोंक टेक ज्ञान aamaadmiparty.org Promoted by 10 supporters June 23, 2018 परशुराम महादेव का दो दिवसीय मेला शुरू सुरक्षा के लिए लगाए 400 से अधिक जवान सपा कच्चा तेल (CRUDEOIL) www.bhaskar.com 25 दिसम्बर 2016, 01:39 AM अपडेट Published 08-Aug-2018 23:56 IST | Updated 23:59 IST नियम और नीतियां कार्ड प्रीपेमेंट एकल चरण इलेक्ट्रिक मीटर, सर्ज संरक्षण वायरलेस पावर मीटर इकॉनमी Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App 108 एंबुलेंस ने ऑटो को मारी टक्कर, महिला की मौत, चालक काबू Next Tweet from user हस्तरेखा Leaders Horoscope नया हरियाणा : 11 अगस्त 2018 (अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) जीएसटी लागू, पर असमंजस बरक़रार Sat Aug 18 2018 00:25:24 GMT-0500 (Central Daylight Time) इस वेबसाइट से संबंधित सवालों के लिए कृपया वेब सूचना प्रबंधक से सम्‍पर्क करें: [email protected] हालांकि, उन्होंने यह नहीं बताया कि इसे कब तक बाध्यकारी बनाया जाएगा. नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय की भी जिम्मेदारी संभाल रहे सिंह ने कहा, ‘‘सौर ऊर्जा क्षेत्र में विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिये हम 20,000 मेगावाट क्षमता की परियोजनाओं की नीलामी करेंगे और इसे विनिर्माण से जोड़ेंगे. यानी इसमें वहीं कंपनियां भाग ले सकेंगी जो सौर ऊर्जा से जुड़े उपकरण का विनिर्माण यहां करेंगी. इसके लिये जल्दी ही वैश्विक निविदा जारी की जाएगी.’’ उन्होंने यह भी कहा, ‘‘पवन और सौर ऊर्जा के क्षेत्र में हम नये क्षेत्रों पर ध्यान दे रहे हैं. इसके तहत तमिलनाडू और गुजरात के अपतटीय क्षेत्र में पवन ऊर्जा तथा देश के भीतर मौजूदा जलाशयों में सौर परियोजनाएं लगाने की दिशा में काम कर रहे हैं.’’ ट्रेंडिंग न्यूज़ पुलिस पर कॉलेज कैंपस में उत्पात मचाने का आरोप,... all sections बाल स्वास्थ्य आज सुनसान है वो रेस्टोरेंट जहां अटल जी खाया करते... ‘सी’ और ‘डी’ श्रेणी खंडों में स्थापित ऐसे सूक्ष्म एवं लघु उद्योग इस योजना के लिए पात्र होंगे, जिन्होंने पोर्टल https://udyogadhaar.gov.in पर संबंधित जिला उद्योग केंद्र के साथ उद्योग आधार ज्ञापन (यूएएम) फाईल किया है। भ्रष्टाचार मुक्त भारत हमारी मांग नहीं हमारी जिद्द है । जय हिन्द । http://fb.com/AamAadmiParty  Photo गैलरी दिल्ली सर्राफा बाजार बंद Total 0 search results found for %E0%A4%B8%E0%A4%B8%E0%A5%8D%E0%A4%A4%E0%A5%80%20%E0%A4%AC%E0%A4%BF%E0%A4%9C%E0%A4%B2%E0%A5%80 2 hours ago humaramandsaur खबर : चर्चा में चंबा Bhagalpur यादृच्छिक लेख उदय योजना ने बिजली वितरण कंपनियों के नुकसान को कम किया है।  0 उदय का प्रभावित क्रियान्वयन। (उदय यानी उज्ज्वल डिस्कॉम एश्योरेंस योजना बिजली वितरण कंपनियों को घाटे से उबारने के लिए 2015 में शुरू की गई है।) आरटीएल, नोएडा अटल जी के निधन पर भावुक हुए शाहरुख, इस गीत... लातेहार धौलपुर| दीनदयालग्रामीण विद्युत योजना में जिले में 45 81 करोड़ रूपए व्यय होंगे। जिला विद्युत समिति ने बहुप्रतीक्षित... देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप आठ जुआरियों से साढ़े 11 हजार जब्त Footer Menu पूँजी योजना Română फीडर रिनोवेशन प्रोजेक्ट हुआ फेल  उनका जवाब था, ‘जन धन खाते ग्राहकों के अनुरोध पर बंद किए गए हैं. कुछ जन धन खाते ग्राहकों के अनुरोध पर साधारण बचत खातों में तब्दील करवाने की वजह से बंद हुए हैं. कुछ मामलों में ये खाते इसलिए बंद करवाए गए हैं क्योंकि एक ही बैंक में एक आदमी के कई खाते पहले से थे.’ डाक बम सेवा समिति, अध्यक्ष नागरिक सेवाएं योजना की नवीनतम जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें। Show — त्वरित सम्पर्क Hide — त्वरित सम्पर्क पुनःसंरचित एपीडीआरपी दिल्‍ली एवं हरियाणा उपयोगी कड़ियाँ शिक्षा विभाग को पता नहीं: 17 अगस्त अवकाश है | MP NEWS # panchkoola-state होम उत्पादएकल चरण इलेक्ट्रिक मीटर किसी भी राज्य सरकार के पास बिजली की दरें घटाने की अथॉ़रिटी नहीं है। डीईआरसी पावर टैरिफ की दरें निर्धारित कर सकता है। हालांकि सीएजी द्वारा पावर कंपनियों के ऑडिट की क्या रिपोर्ट निकलकर आती है इस पर नजर रखनी होगी। म्युचुअल फंड आठ बिजली कनेक्शन काटे मीटर भी निकाले Embed this Video बच्चे खूब मन लगाकर पढ़ाई करें, बाकी चिन्ता शासन पर छोड़ दें –मंत्री श्री जैन, ऊर्जा मंत्री ने स्वतंत्रता दिवस पर स्कूली विद्यार्थियों के साथ मध्याह्न भोजन किया 15/08/2018 Home » व्यापार » पसंद की बिजली कंपनी चुन सकेंगे लोग! 02018-07-17T12:09:49 बजाज हिंदुस्तान ने बिजली कंपनी में अपनी 17.51 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचेगा FOLLOW (36) यह योजना फिलहाल बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, ओडिशा, झारखंड, जम्मू-कश्मीर, पूर्वोत्तर राज्यों और राजस्थान में लागू की गई है।  helo इस साल की देशभक्ति वाली ये फिल्में आपको जरूर देखनी चाहिए कृषि उपभोक्ता- 4.80 - 4.70 गुरुकुल JOBSखबरेंजनरल नॉलेजकरंट अफेयर्ससक्सेस स्टोरी Share this: Caricature of the Day ऊर्जा लागत की तुलना करें - बिजली बदलें ऊर्जा लागत की तुलना करें - विद्युत कंपनी आज बदलें ऊर्जा लागत की तुलना करें - गैस और इलेक्ट्रिक की तुलना करें
Legal | Sitemap