Tweets Raushan Pratyek Media - August 18, 2018 Dharmender Chaudhary [Updated:31 Jan 2016, 8:02 AM IST] मुख्यमंत्री के 15 अगस्त संदेश के प्रमुख बिन्दु भारत से बांग्लादेश को किये जाने वाले विद्युत निर्यात में उस समय वृद्धि हुई, जब सितम्बर, 2013 में 400 केवी क्षमता का पहला सीमापार इंटरकनेक्शन चालू हुआ। इसी तरह भारत में सुर्जामणिनगर (त्रिपुरा) और बांग्लादेश में दक्षिण कोमिल्ला के बीच दूसरा सीमापार इंटर-कनेक्शन चालू होने के बाद भारत के निर्यात में और बढ़ोतरी हुई। 132 केवी काटिया (बिहार)-कुसाहा (नेपाल) और 132 केवी रक्सौल (बिहार)-पार्वाणीपुर (नेपाल) सीमापार इंटरकनेक्शन चालू हो जाने के बाद नेपाल को किये जाने वाले विद्युत निर्यात में करीब 145 मेगावाट की वृद्धि होने का अनुमान है। सहायक / उच्च श्रेणी लिपिक April 2017 LIVE: केरल में बाढ़ का कहर, 12 जिलों में हाई अलर्ट, पीएम मोदी ने ली बैठक एजुकेशन इस तारीख को जिओ फ़ोन 2 की अगला फ़्लैश सेल, तैयार रहे लक्‍खीसराय August 26, 2017 Binod Karan आपका ज़िला 0 India Content एवरेज रीडिंग पर दिया बिल, बिजली कंपनी को देना होगा जुर्माना आय घोषणा योजना, 2016 टेलीविज़न English Tilak Nagar, New Delhi 2 शहर चुनें close इस फैसले के अनुसार शिवराज सरकार को वर्तमान में बिजली कंपनियों को 5179 करोड़ रूपए जमा करने के बाद ही इस योजना को लागू करना चाहिए। लेकिन हाईकोर्ट ने पिछले दिनों इस संबंध में दायर उनकी याचिका खारिज कर दी। राज्य सरकार के इस फैसले के पीछे चुनावी लाभ लेने की मंशा स्पष्ट है। लिहाजा, हाईकोर्ट को सरकार से इस योजना लागू करने के लिए अग्रिम राशि जमा करानी चाहिए थी। हाईकोर्ट द्वारा याचिका को खारिज करने के बाद नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच की उम्मीदें सुप्रीम कोर्ट पर टिकीं हैं। इन्हें भरोसा है कि उनकी याचिका दी गई दलीलों से सहमत होते हुए देश की सर्वोच्च अदालत उक्त आदेश को पलटेगी। नई दिल्ली, 28 जुलाई 2017, अपडेटेड 20:21 IST पढ़ाने का तरीका अनुसूचित जनजाति कल्याण सौभाग्य बिजली योजना (Pradhan Mantri Sahaj Bijli Har Ghar Yojana )के कुछ मुख्य आकर्षण यह नीचे दिए गए हैं:- घरेलू -1 ग्रामीण ( बिना मीटर) 267.5 रुपये प्रति माह पश्चिमांचल लाइव स्कोर बढ़ाए गए फिक्स्ड चार्ज रेट ENGvsIND: विराट कोहली ने अपनी कप्तानी में 37 टेस्ट मैचों में किए हैं 37 बदलाव अग्रसक्रिय प्रकटन गुरुग्राम ईआरईडी प्रकाशन Add Image/Video : ऊर्जा सुधारों ने विश्व में पहचान दिलाई 8,888SubscribersSubscribe बारिश के बावजूद पारा 45 डिग्री सेल्सियस S M L Get 1 Year FREE Magazine (Current Affairs Today) Subscription विंडएनर्जी एक्सपर्ट ओपी तनेजा कहते हैं कि इससे पहले भी विंड एनर्जी का रेट 3.46 रुपए प्रति यूनिट से घटकर 2.64 रुपए प्रति यूनिट हो गया था। फिर भी बिजली कंपनियों ने बिजली खरीद में रुचि नहीं ली।  Share Updated on 7/13/2017 पानी की टंकी पर चढ़ा युवक, आत्मदाह की चेतावनी अनुकूल झा Sitamarhi अन्य... national 1:25 समाचार / प्रेस विज्ञप्ति फार्म आगंतुक संख्या: राष्ट्रीय जैव ईंधन नीति-2018 नई दिल्ली: बिजली मंत्री आर के सिंह ने सोमवार (25 सितंबर) को कहा कि भारत अगले साल दिसंबर तक सभी घरों को बिजली पहुंचाने का लक्ष्य हासिल कर लेगा. साथ ही सभी गांवों का विद्युतीकरण समय से पहले इस साल दिसंबर तक हो जाएगा. सरकार ने बिजली से वंचित सभी गांवों में एक मई 2018 तक विद्युत पहुंचाने का लक्ष्य रखा है. इसी प्रकार सरकार का मार्च 2019 तक सातों दिन 24 घंटे बिजली पहुंचाने का लक्ष्य है. सभी घरों को बिजली पहुंचाने की ‘सौभाग्य’ योजना शुरू किये जाने के जाने के मौके पर सिंह ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने दिसंबर 2018 का लक्ष्य दिया है. हम इसे करेंगे. यह एक कड़ा लक्ष्य है, लेकिन हम इसे हासिल करेंगे. सभी परिवारों को दिसंबर 2018 तक बिजली मिलेगी.’’ एम ओ पी पत्रिका स्टिंग: बिना किसी परमिशन के चल रहे हैं पानी प्लांट ‘रेस 3’ के गाने में साथ नजर आएंगे सलमान-सोनाक्षी … PDP नेता मुजफ्फर हुसैन बेग का विवादित बयान, पीएम नरेंद्र मोदी को दी चेतावनी दक्षिण अफ्रीका98/10(16.4) प्रधानाध्यापक उत्क्रमित उच्च विद्यालय डाँटो खुर्द कटकमसांडी Other NABARD Links असंगठित क्षेत्र का कल्याण प्रोफ़ेसर दिवाकर ने कहा कि जीएसटी से कंज़्यूमर स्टेट को फ़ायदा होगा न कि बिहार जैसे ग़रीब राज्यों को. उन्होंने कहा कि जीएसटी की पूरी व्यवस्था विदेशी पूंजी के स्वागत के लिए है. दिवाकर ने कहा कि यदि गोदरेज का साबुन सस्ता मिलेगा तो लोग कुटीर उद्योग का मंहगा साबुन क्यों लेंगे और अगर ऐसा होता है तो छोटे व्यापारियों के हित में नहीं है. Deutsche Welle 404 खेलकूद आईपी ​​54 1 फरवरी 2018 अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत अभी भी नाजुक समेत 5 बड़ी खबरें Coconut Grove’s single-family neighborhoods are under assault. Tree canopy is shrinking, architectural variety is disappearing, lot sizes are being diminished, homes are being demolished and the… Read more 9 वाट का बल्ब सिर्फ 65 रुपये में अटल की अंतिम यात्रा पर उमड़ा जनसैलाब, देखें तस्वीरें... चौपाल 4. कुल खपत में सौर ऊर्जा 3.25 फीसदी और गैर सोलर बिजली छह फीसदी का उपयोग करना होगा।  टेस्ला के शेयर में 9% गिरावट, शॉर्ट-सेलर्स ने कमाए 7000 करोड़ रुपए; इलोन मस्क के इंटरव्यू के बाद टूटा शेयर 57 mins पांच श्रेणियों में बांटे गये उपभोक्ता  Promoted by 308 supporters उस समय सीएसपीडीसीएल 28वें स्थान पर था। ताजा रिपोर्ट में 31वां रैंक दिया गया है। दोनों ही रिपोर्ट में कंपनी को बी ग्रेड दिया गया है। कंपनी को 100 में से 35 से 50 के बीच अंक मिले हैं। यानी कंपनी का परिचालन (ऑपरेशनल) और वित्तीय प्रदर्शन औसत से नीचे है। वित्त वर्ष 2017-18 में इनकम टैक्स कलेक्शन रिकॉर्ड 10.03 लाख करोड़ रुपए, 6.92 करोड़ लोगों ने रिटर्न भरा 44 mins वैद्युत उपस्कर BihareffectiveelectricityExpensiveincreasenew ratePatnaPercentagePunjab Kesariपटनाबिजलीबिहार आयाम: 255x120x52mm वजन: 600 ग्राम चन्दन जयसवाल रायपुर। छत्तीसगढ़ में चुनावी साल में सरकार ने बिजली उपभोक्ताओं को बड़ी राहत दी है। विद्युत नियामक आयोग की ओर से सोमवार को जारी नई दर से घरेलू उपभोक्ताओं से लेकर किसानों, निम्न दाब उपभोक्ता और औद्योगिक उपभोक्ताओं को राहत दी गई है। आयोग ने गठन के बाद पहली बार बिजली दर को पिछले साल के मुकाबले कम किया है। दुर्लभ VIDEO: जब दौड़कर वाजपेयी से लिपट गए थे नरेंद्र मोदी... NewsCode Jharkhand | 28 April, 2018 5:04 PM बिजली सप्लाई बाधित होने पर डीजल इंजन से दौड़ाई ट्रेनें निदान केबिल तथा संधारित्र प्रभाग (डीसीसीडी) For Teachers पंचतत्व में विलीन हुए “अटल बिहारी” | दत्तक पुत्री नमिता ने दी मुखाग्नि अगर करा रखी है FD और RD तो इन 5 बातों का रखें ध्यान Home मध्यप्रदेश सुप्रीम कोर्ट पहुंची चुनाव से पहले सस्ती बिजली देने और बिल माफ... कोटद्वार शिमला: देश में बिजली प्रोजैक्ट लगाने पर आने वाली लागत को कम किया जाएगा। निकट भविष्य में इससे देशभर के करोड़ों विद्युत उपभोक्ताओं को सस्ती दरों पर बिजली मिलेगी। केंद्रीय ऊर्जा राज्य मंत्री आर.के. सिंह ने कुफरी में आयोजित ऊर्जा मंत्रियों के सम्मेलन के दौरान कहा कि केंद्र सरकार इसके लिए नई पावर पॉलिसी बना रही है। सरकार जल्द नई पॉलिसी अधिसूचित कर लेगी। इससे हाईड्रो पावर पर लागत कम होगी। उन्होंने कहा कि फ्री-पावर, कैपिटल कॉस्ट, अवमूल्यन अवधि कम होने के कारण प्रोजैक्ट पर ज्यादा लागत आती है। इन सब बिंदुओं पर सरकार विचार कर रही है। Bijli Bachao in Media मानसून आवास (होटल / रिसोर्ट / धर्मशाला) दर्शनीय स्थल अधिमान्यता इमरान ने पाक के पीएम पद की ली शपथ, नवजोत सिंह सिद्धू भी रहे मौजूद Published 08-Aug-2018 23:56 IST | Updated 23:59 IST बीच चौराहे शरीर से निकाला जा रहा था जहर, बुजुर्ग की… उज्ज्वला योजना के तहत लाभ लेने वालों को सुरक्षा जमा राशि नहीं देनी होती है और एलपीजी कनेक्शन के लिए न ही कोई दूसरा अतिरिक्त भुगतान करना पड़ता है. ऊर्जा लागत की तुलना करें - सस्ते बिजली योजनाएं ऊर्जा लागत की तुलना करें - समीक्षा ऊर्जा लागत की तुलना करें - इलेक्ट्रिक कंपनी की दरें
Legal | Sitemap