यदि किसी भी स्तर पर यह पाया जाता है कि आवेदक ने किसी भी झूठी सूचना के आधार पर पावर टैरिफ सब्सिडी का दावा किया है तो आवेदक को 12 प्रतिशत वार्षिक की दर से ब्याज की चक्र दर के साथ सब्सिडी राशि वापस करने के अलावा कानूनी कार्रवाई का सामना करना होगा और उसे राज्य सरकार से किसी भी प्रकार का प्रोत्साहन या सहायता प्राप्त करने से वंचित कर दिया जाएगा। Naugachiya BUDGET 2018 सपना चौधरी का नया वीडियो यूट्यूब पर वायरल, देखकर हो जाएंगे भावुक...कभी देखा नहीं होगा ऐसे By अंकित राज महाभारत 2019: 7 में से 5 सांसदों से दिल्ली की जनता नाराज, सीलिंग सबसे बड़ा फैक्टर 23 mins Replying to @JarnailSinghAAP @Shitalkumar3 and 2 others डीआईसी करेगी विद्युत योजनाओं का अनुश्रवण April 27, 2018 बिजली बनाने के बजाय खरीदकर बेचना लाभ का सौदा, जाने कैसे पंजाब सरकार ने बिजली दरें बढ़ाकर आम आदमी पर बोझ डाला मुख्यमंत्री का संदेश नाम ऐप स्प्लिट कीपैड: वैकल्पिक Public Holiday पिंटू दत्ता चुनाव आयोग के फैसले के बाद अब शरद गुट ने नीतीश के खिलाफ किया बड़ा ऐलान…. शहरों की मौजूदा व नई बिजली दरें June 21, 2018 शिवराज सरकार ने बिजली दर बढ़ा किसानों की तोड़ी कमर ‹ › 25 Views विधान सभा चुनाव 2017: उप्र में भाजपा राम, मोदी और माया मॉडल पर करेगी भरोसा Facebook Lite क्वालिफाइंग हिंदी भाषा प्रश्नपत्र Other Properties: ख‍गडिया 433 Views वैद्युत उपस्कर नोटिस महाराष्ट्र बिजली की कीमतों को लेकर विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार पर सवाल किए हैं. उन्होंने कहा कि दिल्ली की केजरीवाल सरकार बिजली कंपनियों का प्रवक्ता बनकर बात कर रही है. वह बताए कि बिजली कंपनियों ने पिछले 6-7 महीनों में ऐसे कौन से बुनियादि बदलाव किए हैं जिसके चलते सरकार जनता से निजी बिजली कंपनियों को स्थाई शुल्क के रूप में भारी राशि दिला रही है. अजीबो-गरीब खबरें ख़बर मोतिहारी News Feed 10 तकस्पेशल रिपोर्टधर्मवारदातदंगलहल्ला बोलमुंबई मेट्रोइंडिया 360विशेषसास बहू और बेटियांसो सॉरी सुप्रीम कोर्ट पहुंची चुनाव से पहले सस्ती बिजली देने और बिल माफ करने की योजना त्रिपुरा Mud Mud Ke Dekhta Hu ज्यादा पढ़ी गयी खबरे EXAMS संबद्ध कार्यालय/स्वायत्त निकाय/सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रम/अनुसंधान एवं प्रशिक्षण संस्थान इत्यादि मकर Stories You May Like कॉलेज / विश्वविद्यालय बिजली ठेकेदार रवींद्र सिंह जादौन ने बिजली कंपनी के लिए कार्य किया था. यह कार्य बिना वर्क ऑर्डर के किया था जिसका भुगतान नहीं किया गया. इसमें बिजली कंपनी के संबंधित अधिकारियों की जिम्मेदारी थी. वर्क ऑर्डर की प्रत्याशा में ठेकेदार ने काम कर दिया था. इसमें संबंधित अधिकारियों पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जानी चाहिए. यह जांच रिपोर्ट आरके पांडेय ने दी है. 300 मीटर ऊंची उत्तर भारत की बुर्ज खलीफा बनकर तैयार, नजीब जंग का भी बनेगी ठिकाना 55 mins Previous : आज पंजीयन प्रपत्र जमा करने की अन्तिम तिथि, मप्र टूरिज्म बोर्ड की क्विज प्रतियोगिता 31 जुलाई को मंत्री श्री जैन ने हासामपुरा में स्व.दिगंबरराव तिजारे स्टेडियम का लोकार्पण किया, विधायक ट्रॉफी 2018 का पुरस्कार वितरण भी किया 15/08/2018 प्रश्नपत्र II आठ बिजली कनेक्शन काटे मीटर भी निकाले अल्मोड़ा वी टी यू अनुसंधान केंद्र केरल Centre Govt हमारी पुस्तकें X जयपुर1223 डी एन पी 3 प्रयोगशाला परावैद्युत शेयर सेव कमेंट Library Profile जिला महासचिव कांग्रेस सह तमाड़ विधानसभा संगठन प्रभारी स्वदेश विशेषView All Web Title cheapest electricity in delhi जहां विद्युत लाइन नहीं, वहां सोलर लाइट ब्रांड नाम: Calin Nov 24, 2017, 08:50 PM IST बब्लू झा Bihar News in Hindi साप्ताहिक निबंध प्रतियोगिता सहायता Home » देश » बिहार में महंगी हुई बिजली, नई दर एक अप्रैल से अगर करा रखी है FD और RD तो इन 5 बातों का रखें ध्यान देश का विदेशी पूंजी भंडार बड़ी गिरावट, एक सप्‍ताह में 1.82 अरब डॉलर की आई कमी entertainment3 hours ago Show — त्वरित संपर्क Hide — त्वरित संपर्क Urdu News ई वी आर सी में बहुचैनल स्पेक्ट्रम विश्लेषक List name अध्यक्ष भारतीय जनता युवा मोर्चा फाइल फोटो: रॉयटर्स हज़ारीबाग़ हजारीबाग राष्‍ट्रीय चिह्न/प्रतीक कृषि नीतियां और योजनाएं ताजा खबर मुकेश भारद्वाज चीन में हो रही है भारतीय नोट की छपाई? शशि थरूर ने उठाया सवाल... इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा है कि अगर किसी बिजली कंपनी को विलफुल डिफॉल्टर घोषित नहीं किया गया है तो लोन नहीं चुकाने पर उसे दिवालिया अदालत में नहीं ले जाया जा सकता। पावर सेक्टर जिन मुश्किलों का सामना कर रहा है, उसे मानते हुए हाईकोर्ट ने यह फैसला सुनाया है। उसने वित्त सचिव को जून में बिजली कंपनियों से मिलकर उनकी वित्तीय मुश्किलों के बारे में बातचीत करने का भी निर्देश दिया है। राज्य में अप्रैल से लागू होंगी बिजली की नई दरें, जानें- आपकी जेब पर क्या होगा असर? मौसमविज्ञान डाटा उन्होंने कहा, ''सैनिटरी पैड पर सरकार 12 फ़ीसदी टैक्स लगा रही है जबकि सोने पर तीन फ़ीसदी. टैक्स का जो स्लैब बनाया गया है उसे तोड़कर सोने पर तीन फ़ीसदी टैक्स लगाया गया है. जो ब्रेल टाइप राइटर मुफ़्त में मिलता था अब उस पर पांच फ़ीसदी का टैक्स लगेगा. सरकार ने नाम तो दिव्यांग दे दिया लेकिन काम देखिए.'' अरुण कुमार के मुताबिक भारत में कुल एक करोड़ 70 लाख लोग प्रभावी रूप से आय कर भरते हैं. यह भारत की आबादी का 1.2 फ़ीसदी है. ऐसा कहा जा रहा है कि जीएसटी छोटे व्यापारियों को आयकर के दायरे में लाएगा और पांच करोड़ लोग कर व्यवस्था से जुड़ सकते हैं और इससे सरकार का राजस्व बढ़ेगा. उत्पाद का नाम: दीन रेल एकल चरण एसटीएस प्रीपेड मीटर जागरण स्पेशल ई पेपर कोयला उद्योग समाचार 24 Views बिजली कंपनी ने कहा: नपा ने बिल नहीं भरा तो काटेंगे कनेक्शन, नपा बोली; चुकता है पूरा Subscribe Now बड़ी खबर 'प्यार की अजब दास्तां' हकीकत में वो हुआ जो अब तक सिर्फ फिल्मों में ही ... यहां पतियों ने वट सावित्री व्रत रख की प्रार्थना.."सात जन्मों तक न मिले... देवघर : बाबा नगरी से भी जुड़ी हैं अटल बिहारी... निगाह आसमान पर, आखिर कहां अटका मानसून, तेज बारिश का इंतजार हेल्थ एंड ब्यूटी समय समय पर लगने वाले सहज बिजली केंप मे संपर्क करें… # Free Electricity Scheme 10 दिन में 1 रुपये प्रति लीटर कम हुए पेट्रोल के दाम, डीजल में भी गिरावट Privacy Policy | About Us | Contact Us ड्यू डेट से पूर्व बिल पेमेंट पर 0.5% छूट जिंदा चूहे के शरीर पर उगा पौधा, देखने वालों को नहीं हो रहा यकीन कौन क्या है केरल: बाढ़-बारिश से 9 दिन में 324 लोगों की मौत, 2 लाख से ज्यादा राहत शिविरों में; मोदी करेंगे हवाई सर्वे 12 mins तंग दायरों को तोड़ते रहे वाजपेयी ऊर्जा लागत की तुलना करें - इलेक्ट्रिक कंपनी प्रदाता ऊर्जा लागत की तुलना करें - ह्यूस्टन बिजली ऊर्जा लागत की तुलना करें - वाणिज्यिक बिजली दरें
Legal | Sitemap