Jaipur,India फाइल फोटो: रॉयटर्स पंचांग Copyright @2017-2018, All Rights Reserevd मलेशिया में सरकार के खिलाफ बोलने की आजादी मिली; पहले 6 साल जेल और 85 लाख रु जुर्माना होता था 5 mins प्रकाश पासवान संचरण प्रणाली अध्‍ययन प्रदेश में बिजली उपभोक्ताओं की अनुदानित श्रेणी कृषि व घरेलू है और इनका हिस्सा क्रमश: 42 व 21 फीसदी है, वहीं देश में यह 23 व 24 फीसदी है जिसके चलते विद्युत लागत और राजस्व में अंतर ज्यादा रहा है। वहीं वर्ष 2005 में पड़ोसी राज्यों से? बिजली खरीद जहां 2.09 रुपए प्रति यूनिट रही, वहीं बिजली कंपनियों ने वर्ष 2008 में 8.83 रुपए प्रति यूनिट से बिजली खरीद कर कम दरों पर बिजली सप्लाई कर घाटे को बढ़ाया है।  कंपनी ने कुल खर्च के लिए 16,900 करोड़ की मांग की है. इसमें नॉर्थ बिहार कंपनी ने 7200 करोड़ तो साउथ बिहार कंपनी लिमिटेड ने 9700 करोड़ की मांग की है. कंपनी ने अपने प्रस्ताव में दो तरह की टैरिफ सौंपी है. एक में कंपनी ने कहा है कि राज्य सरकार के अनुदान के बिना अगर शत-प्रतिशत खर्च की बात है तो उसमें 51 फीसदी से लेकर 120 फीसदी तक बिजली दर में वृद्धि की आवश्यकता होगी. लेकिन कंपनी ने कहा है कि मौजूदा वित्तीय वर्ष 2017-18 में राज्य सरकार ने 2952 करोड़ का अनुदान दिया है. मुंबई वालों ध्यान से सुन लो! बिहार में उत्पादित बिजली से दौड़ती हैं मुंबई की लोकल ट्रेनें फर्रुखाबाद   ⁄  City News यूनिट--मौजूदा दर--नई दर यह राहत उन्हीं लोगों के लिए है जो बिजली की खपत कम करते हैं. ज्यादा खपत करने वालों के लिए बिजली का बिल घटेगा नहीं बल्कि बढ़ेगा. कंपनी Jagbani Website ภาษาไทย Persian فارسی शासन और प्रशासन ऐप डाउनलोड करें बवाना का बोझ : बवाना पावर प्लांट गैस न मिलने की वजह से बंद है। तब भी इसकी फिक्स कॉस्ट काफी आती है और यह खर्चे में जुड़कर कंज्यूमर तक ही पहुंचती है। या तो इस प्लांट के लिए गैस का इंतजाम कर इसे पूरी क्षमता से इस्तेमाल किया जाए या फिर फिक्स कॉस्ट सरकार वहन करे। Updated:2017-03-30 13:39:10.0 प्रमुख पति मझिआंव प्रखंड Password धालभूमगढ़ अंश की जिला परिसद सदस्य ‘मुखौटा’ वाजपेयी हमेशा संघ के प्रति निष्ठावान रहे Friday, 20 Jul, 9.35 pm India News in Hindi 1 Hours Ago मोदी सरकार ने ग्रामीण इलाकों में विद्युतीकरण के विस्तार के लिए दीनदयाल विद्युत ग्रामीण योजना चलाई है। असल में इस योजना का नाम बदला है और यह यूपीए सरकार के दौर में चल रही राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना का ही विस्तार है। पूर्वोत्तर हालांकि कोई सरकार के दावें पर कैसे सवाल खड़ा सकता है, अगर इन दावों को सही भी मान लिया जाए तो गांव के विद्युतीकरण से गांववालों को कोई फायदा तो हुआ नहीं है क्योंकि विद्युत आपूर्ति को लेकर अनिश्चितता की हालत बनी हुई है. अगर इन्हें 24 घंटे बिजली दी भी जाती है तो इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि गांव वाले इस बिजली का उपभोग करने में सक्षम होंगे. बक्‍सर जानें, बढ़ती उम्र के बच्चों पर किन ग्रहों का होता है कैसा असर? क्राइम रिपोर्ट ऑडियो फ़ीडबैक के साथ 12 अंकों के कीपैड पानी की महा बचत- सिंचाई क्षेत्र में वृद्धि उद्यान विभाग द्वारा डिप सैट पर अनुदान दिये जाने का भी प्रावधान आसान शर्तों पर ऋण 10 से 15 वर्ष 11 माह की अनुग्रह अवधि की अवधि हेतु उपलब्ध। बाबू धन मुर्मू 2 hours ago humaramandsaur यूपी में आज से महंगी हुई बिजली, गांव व शहरों के लिए अलग-अलग दरें, देखें-कितनी ढ़ीली करनी होगी जेब Sheikhpura कोटा/ हिमांशु मित्तल: राजस्थान के कोटा में बिजली कंपनी को भगाने के लिए लोगो ने जल सत्याग्रह शुरू कर दिया है. दर्जनों लोग चंबल नदी में उतर गए हैं और कोटा की बिजली कंपनी KEDL को कोटा से हटाने की मांग जल सत्यग्रह के जरिए कर रहै हैं. चंबल नदी में लगातार KEDL GO BACK के नारे ही सुनाई दे रहे हैं. entertainment3 hours ago म. प्र. पावर जनरेटिंग क. लि. पूनम पाण्डे ॥ नई दिल्ली दृष्टि पब्लिकेशन्स लोग और जीवनशैली रिपोर्ट: गेरो रॉयटर/एएम छत्तीसगढ़ पी.सी.एस. गर्मी के दिनों में एस्सेल की बिजली की समस्या बढ़ जाती है, ये समस्या गायघाट का नही है बल्कि एस्सेल कम्पनी की बिजली जँहा-जँहा है लोगो का हाल कुछ ऐसा ही है. गायघाट के लोग इतने आक्रोशित थे कि वो NH57 से जाम हटाने को मान ही नही रहे थे. सब बस एक ही नारा लगा रखे कि एस्सेल हटाओ बिजली लाओ. मौके पे गायघाट थानाध्यक्ष और गायघाट अंचल अधिकारी ने लोगो को आश्वासन दिया कि जल्द ही बिजली की समस्याओं को दूर किया जायेगा. अधिकारी की बात सुन लोगो को मिला शुकुन फिर दरभंगा-मुज़फ़्फ़रपुर राष्ट्रीय मार्ग से जाम को हटा आवागमन शुरू कराया गया. AAP J&K‏ @AAPJammuKashmr 18 Aug 2015 EDUCATION पसंद की बिजली कंपनी चुन सकेंगे लोग! अयोध्या विवाद : सुप्रीम कोर्ट से ही तय होगा राम मंदिर का भविष्य RSS Feeds स्वस्थ रहने के लिए बहुत जरूरी हैं ये विटामिन सी से भरपूर खाद्य पदार्थ अप्रैल के बाद महंगी हो सकती है बिजली दुकान के आकार नहीं बल्कि सर्विस से होती है ग्राहक को संतुष्टि posted on August 18, 2018 दिल्ली बिजली नियामक प्राधिकरण की बैठक में लिया गया फैसला दिल्ली/एनसीआर दिनेश कुमार TRENDING VIDEOS बिजली कंपनी ने ऐसा क्या किया जो AAP ने बढ़ा दिए दाम: विजेंद्र गुप्ता आजादी के 71 साल बाद भी कुपोषण से हर साल होती है 3000 बच्चों की मौत हाईकोर्ट ने यह फैसला इंडिपेंडेंट पावर प्रोड्यूसर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया की याचिका पर दिया है। कोर्ट ने वित्त सचिव से पावर प्रोड्यूसर्स की शिकायतें सुनने को कहा है। अदालत ने वित्त सचिव से इन दिक्कतों के समाधान की संभावना तलाशने को भी कहा है। सस्ती बिजली देनेवाली कंपनी को ही तरजीह देगी बिहार सरकार Support Santa Cruz Climate Emergency Mobilization Resolution ट्रांसमिशन कंपनी वर्ल्ड बैंक के मुताबिक भारत में निष्क्रिय खातों की संख्या 48 फीसदी है जो कि पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा है. ये विकासशील देशों के औसत आंकड़े 25 फीसदी से लगभग दोगुना है. Reported by: रवीश रंजन शुक्ला, Edited by: सूर्यकांत पाठक, Updated: 28 मार्च, 2018 8:27 PM ऑप्टिकल जांच August 11, 2018 संदर्भ वोल्टेज Cheaper Electricity प्रमुख सिविल सेवाओं का परिचय मेरा पैसा Math question 1 + 12 =   LIVE TV अवलोकन 300 मीटर ऊंची उत्तर भारत की बुर्ज खलीफा बनकर तैयार, नजीब जंग का भी बनेगी ठिकाना 53 mins अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त भविष्यवक्ता एवं वाममार्गी तांत्रिक, तंत्र सम्राट डबल गोल्ड मेडलिस्ट, स् Watch India vs England on Sling TV 108 एंबुलेंस ने ऑटो को मारी टक्कर, महिला की मौत, चालक काबू गुरुकुल NBT बलरामपुर अगले 5 आइटम्स » 1 2 3 4 … 46 शेयर     A | B | C | D | E | F | G | H | I | J | K | L | M | N | O | P | Q | R | S | T | U | V | W | X | Y | Z | अन्य 1. गैर घरेलू सेवा (एनडीएस-एक) और राजकीय सिंचाई नलकूप (आईएएस-दो) में बिना मीटर वाले उपभोक्ता श्रेणी को समाप्त कर दिया गया है। एक अप्रैल से इस श्रेणी के उपभोक्ताओं को मीटर से ही बिजली बिल दिया जाए।  पाइए लखनऊ समाचार(Lucknow News In Hindi)सबसे पहले नवभारत टाइम्स पर। नवभारत टाइम्स से हिंदी समाचार (Hindi News) अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App और रहें हर खबर से अपडेट। अरुण कुमार सोनी उत्तराखंड सोलर पावर न खरीदने वाले राज्यों को हो सकता है जुर्माना बेदाग और चमकदार त्वचा पाना हर लडकी का सपना होता है लेकिन चेहरे पर निकलने वाले मुंहासे और फुंसियां हो… मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार ने उत्तर प्रदेश में बिजली की दरों में वृद्धि की घोषणा की है. राज्य सरकार की ओर से तय बिजली की नई दरों के मुताबिक 150 यूनिट तक शहरी उपभोक्ताओं को 4.90 पैसे की दर से बिल का भुगतान करना होगा. # Haryana Business कांवड़ियों से भरी बस डिवाइडर पर चढ़ी, हादसे में 35 लोग घायल न्यूज़ एनालिसिस बेगूसराय में ठनका गिरने से 3 बच्चों की दर्दनाक मौत, परिवार में मचा कोहराम प्रधान मंत्री सहयोगी बिजली हर घर योजना की मुख्य विशेषताये:- Fitness News 43 Comments 2017, PM Free Bijli ConnectionYojana, PM Saubhagya Scheme Free Electricity Connection, Pradhan Mantri Sahaj Bijli Har Ghar Yojana (Hindi News from Navbharat Times , TIL Network) Български език एमएनआरई द्वारा जारी ऑनलाइन टेंडर के लिए कंपनियों के बीच प्रतिस्पर्धा देखने को मिली है। 10 कंपनियों ने 5 रुपए प्रति यूनिट से कम की बिड लगाई है। वहीं, 15 एसी कंनियां थी, जिन्होंने 5.5 रुपए प्रति यूनिट से कम की बोली लगाई है। एनटीपीसी द्वारा 3 नवंबर को कराए गए ई-रिवर्स ऑक्शन में 500 मेगावाट (50-50 मेगावाट के 10 प्रोजेक्ट्स) के लिए बोलियां मांगी गई थीं। इसके तहत आंध्र प्रदेश के घानी में सोलर पार्क की स्थापना की जाएगी। इस प्रोजेक्ट के लिए 30 कंपनियों ने बोलियां लगाई थीं। Copyright © 2018 NAVODAYATIMES. All Rights Reserved कीवर्ड बिजली, पहाड़, गुफा, हवा विस्तृत उत्पाद विवरण सिरफिरे ने ऑफिसर कालोनी में युवती को चाकू से गोदा, मोबाइल लेकर हुआ... SYNDICATION सिंदरी थाना प्रभारी सह सिंदरी इंस्पेक्टर बिहार Type the word given below Sitamau news @कहर बनकर गिरी आकाशीय बिजली से एक वृद्ध व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि दो महिलाओं सहित तीन घायल हो गए कुल खपत का 17% हिस्सा  इमरान खान लेगें पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ the SP government आयाम: 255x120x52mm वजन: 600 ग्राम बिज़नस सलमान के कॉपी लव त्यागी ने बदल लिया है अपना अंदाज़ उदय - उज्‍जवल डिस्‍कॉम एश्‍योरेंस अथवा यूडीएवाई योजना महिंद्रा ने 2010 में 16 अरब रुपये में रेवा कंपनी के खरीदा था.महिंद्रा द्वारा खरीदे जाने के बाद ये पहली कार है. रेवा प्रमुख चेतन मनी कहते हैं ये एक ‘गेम चेंजिंग’ कार है. पहले पेश की गई कार को ‘गोल्फ कार्ट’ कहा जाता था क्योंकि इसमें सिर्फ दो लोग बैठ सकते थे. अबमहिंद्रा रेवा ई2ओ में चार लोग बैठ सकते हैं और 10 कंप्यूटर इस कार की कार्यप्रणाली के संचालित करते हैं. Copyright © 2018 Begusarai News in Hindi, बेगूसराय समाचार, Latest Begusarai Hindi News, बेगूसराय न्यूज़ - Live Cities News. All rights reserved. सस्ता बिजली प्रदाता - सस्ता बिजली बिल सस्ता बिजली प्रदाता - ऊर्जा योजनाओं की तुलना करें सस्ता बिजली प्रदाता - और जानने के लिए यहां क्लिक करे
Legal | Sitemap