More From Barmer Clearing the confusion about the coating and material of the tank in water heaters अगला पेज → शिवपुरी हादसाः झरने में आई बाढ़ में फंसे सभी 45 लोगों को सुरक्षित निकाला गया 8 जून 2018 Tweets not working for you? रेडियो बड़ी खबर ई-पेपर▼ © 2018 - Clever Prototypes, LLC - All rights reserved. यहां पतियों ने वट सावित्री व्रत रख की प्रार्थना.."सात जन्मों तक न मिले... For Teachers Rohtas VPS की सुकन्या विवि में थर्ड, मौलाना मजहरूल अरबी-फारसी विवि का परिणाम घोषित June 27, 2018 उम्र सीमा: 35 साल What is Inverter Technology AC and How it is Different from BEE 5 star Non Inverter AC? Thursday 16 August , 2018 आरटीआई सूचना ☰ सर्वाधिक खोजे गए वाजपेयी चले गए लेकिन बीजेपी 'अटल' पथ पर ही आगे बढ़ेगी: शाहनवाज हुसैन उन्होंने बताया कि पावर टैरिफ सब्सिडी प्राप्त करने के लिए आवेदन आवश्यक दस्तावेजों के साथ निर्धारित फॉर्म पर विभाग के वेब पोर्टल पर उद्योग और वाणिज्य निदेशक को भेजना होगा। आवेदन की जांच की जाएगी और कमियां, यदि कोई है तो उस बारे 10 कार्य दिवसों के भीतर आवेदक को लिखित में सूचित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि आवेदक को इन कमियों को दूर करने के लिए दो सप्ताह का समय दिया जाएगा। Google plus Gujarati News असिस्टेंट विजिलेंस ऑफिसर: 14140-39760 रुपये SSC कांस्टेबल 55000 भर्ती: पहली बार होगी कंप्यूटर बेस्ड लिखित परीक्षा, पहाड़ के युवाओं को हो सकती है दिक्कत Saubhagya – Pradhan Mantri Sahaj Bijli Har Ghar Yojana ePaper Poll प्रमुख, कटकमसांडी All content © The Wire, unless otherwise noted or attributed. जीना इसी का नाम है नया हरियाणा : 22 घंटे पहले अजमेर में मंगलवार को कांग्रेस ने बिजली के बिलों में बेतहाशा वृद्धि को लेकर टाटा पावर के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया. सैकड़ों कांग्रेसी कार्यकर्ता रैली के रूप में सिटी पावर हाउस पहुंचे जहां उन्होंने पहले तो जमकर नारेबाजी की और बाद में विरोध जताते हुए रास्ता जाम कर दिया. प्रदर्शन कर रहे कांग्रेसियों और पुलिस के बीच टकराव की स्थिति भी पैदा हुई. लेकिन बाद में माहौल को शांत किया गया. प्रदर्शकारियों ने कहा कि जब से टाटा पावर ने शहर की बिजली व्यवस्था को संभाला है तब से लगातार बिजली के बिलों में बढ़ोतरी की जा रही है जिससे आम आदमी परेशान हो चुका है. (अजमेर से अभिजीत दवे की रिपोर्ट) अन्य विभाग बिजली कंपनी महाराष्ट्र Hindi रणविजय सिंह  आईएलबीएस 549 बेड का होगा  संगम इंटरप्राइजेज कटसमसांडी राजधानी में चुकनगुनिया और डेंगू ने तो स्वास्थ्य विभाग के साथ-साथ नगर निगम की पोल खोल दी है। ऐसी ही स्थिति शिक्षा को लेकर है जहां सरकारी प्राथमिक विद्यालयों को मर्ज करने को लेकर सियासी बवाल मचा हुआ है। साथ ही बच्चों को पढ़ाने के लिए बहाल किए गए पारा टीचरों की स्थिति सबके सामने हैं, जो वर्षों से अपने मूल कार्य को करने के लिए आंदोलित है। जहां विद्युत लाइन नहीं, वहां सोलर लाइट सुहाग’रात’ को ससुराल से गहने-पैसे लूटकर फरार हो गई दुल्हन RSS Feed नवंबर 2015 में रोशनी घर जोन के 10 फीडरों पर 33 लाख 24 हजार यूनिट बिजली की आपूर्ति की, लेकिन 29 लाख 92 हजार यूनिट बिजली उपभोक्ताओं तक पहुंच पाई। 3.32 लाख यूनिट बिजली लाइन लॉस हो गई। अत: कुल 29 लाख 92 हजार यूनिट का बिजली का बिल जारी होना था, लेकिन जोन ने ऐसा नहीं किया। 45 लाख 82 हजार यूनिट का बिल जारी कर दिया। पहला सवाल – लोगों के मन में अक्सर सवाल पैदा होता है की इस नई योजना का उद्देश्य क्या है? दिल्ली आज तक प्रदेश में बिजली हुई सस्ती, सरचार्ज खत्म समाज(युवा समिति)के राष्ट्रीय संयोजक, आदिवासी मुंडा समाज के सदस्य तथा भाजपा अनुसूचित जन जाति मोर्चा क Using Renewables लाइव सिटीज डेस्क : ख़राब मौसम और घने कोहरे ने तो एयर ट्रैफिक सिस्टम पर बुरा असर डाला ही है लेकिन पटना एयरपोर्ट के स्टाफ भी यात्रियों को फजीहत झेलवाने में कोई कसर नहीं छोड़ […] # हरियाणा समाचार प्रमुख आयोजन चालू परियोजना ऊर्जा सचिव की अध्यक्षता में एक निगरानी समिति, योजना के तहत परियोजनाओं को स्वीकृति देगी तथा इनको लागू किए जाने की निगरानी करेगी। इस योजना के तहत अनुशंसित दिशा-निर्देशों के अनुरूप योजना का क्रियान्वयन सुनिश्चित करने के लिए बिजली मंत्रालय, राज्य सरकार और डिस्कॉम के बीच एक उपयुक्त त्रिपक्षीय समझौता किया जाएगा जिसमें पावर फाइनेंस कार्पोरेशन एक नोडल एजेंसी होगी। राज्य बिजली विभागों के मामलों में द्विपक्षीय समझौते होंगे। आप भी लिखें अनुतरंग रिक्ति अनुकार प्रयोगशाला ( 80 m Span) राजमहल लोकसभा सहित समस्त झारखण्ड वासियो को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक सुभकामना Privacy Policy | About Us | Contact Us गोपाल सिंह Arrange a Callback News | Aug 13, 2018 अमेरिका: एयरपोर्ट से एयरलाइन कर्मचारी ने चुराया विमान, उड़ान भरने के कुछ ही देर बाद... मुरैना | बिजली बिल माफी योजना का लाभ लेने से कोई भी पात्र हितग्राही वंचित न रहे इसके लिए अधिकारी जोर-आजमाइश कर रहे हैं। बिजली कंपनी की टीम हर रोज अलग-अलग इलाकों में जाकर लोगों के फार्म भरवा रही है। जिन उपभोक्ताओं ने असंगठित श्रमिक योजना के तहत पंजीयन करा लिए हंै उनके बिजली बिजली माफी के लिए फार्म भरवाए जा रहे हैं ताकि उनके पुराने बिलों को माफ कराया जा सके। उपभोक्ता बिजली कंपनी कार्यालय पहुंचकर भी योजना का लाभ ले सकते हैं। अर्थव्यवस्था की बागडोर फिर पुराने कंधों पर... 21 BY नूर मोहम्मद ON 05/06/2018 • ताँबा (COPPER) ऊर्जा लागत की तुलना करें - मेरे क्षेत्र में ऊर्जा प्रदाता ऊर्जा लागत की तुलना करें - इलेक्ट्रिक सप्लाई कंपनी ऊर्जा लागत की तुलना करें - बिजली प्रदाता की तुलना करें
Legal | Sitemap