इंदौर हॉट ऑन वेब समाचार / प्रेस विज्ञप्ति Press alt + / to open this menu Privacy Policy | T&C | Contact | Follow us at: रेगुलेशन्स LATEST VIDEO नई दिल्ली | March 5, 2016 4:58 AM बिजली कंपनियां दो तरह से बिजली खरीदती हैं। वह बिजली उत्पादक कंपनी से 10 या 20 साल के लिए लॉन्ग टर्म अग्रीमेंट करती है या फिर जरूरत के मुताबिक शॉर्ट टर्म अग्रीमेंट होता है। यह पावर एक्सचेंज के जरिए या फिर बाइलेटरल (द्विपक्षीय) हो सकता है। जहां से बिजली मिल जाए वहीं से कंपनियां बिजली खरीद लेती हैं। अभी इस तरह का कोई सिस्टम नहीं है कि अगर बिजली कंपनी कम दाम पर बिजली खरीदे तो उन्हें कुछ फायदा हो। बिजली कंपनियां जिस दाम पर बिजली खरीदती है वह उसके खर्च में जुड़ जाता है और आखिरकार वह खर्च उपभोक्ताओं के हिस्से में आता है। अगर बिजली कंपनियां कम दाम पर बिजली लेंगी तो उपभोक्ताओं पर भी कम बोझ पड़ेगा। मध्य प्रदेश पी.सी.एस. भारत स्काऊट गाइड की राज्य कार्यकारिणी की बैठक आज, ऊर्जा मंत्री श्री जैन शामिल होंगे  What's Trending Top Posts & Pages पानी की किल्लत से परेशान लोगों ने सड़क पर मेयर के विरुद्ध खोला मोर्चा इस्तेमाल की शर्तें पौड़ी AAP J&K‏ @AAPJammuKashmr 18 Aug 2015 परीक्षा का प्रारूप पीयूष पांडेय, नई दिल्ली Updated Sat, 04 Aug 2018 05:20 AM IST उत्पादन क्षमता सचिवालय में नए भर्ती चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को नियुक्तियां देने पर हाईकोर्ट की रोक 02018-07-17T12:08:48 आॅफ द रिकार्ड: जब PM मोदी ने महिला सांसद को वीडियो रिकॉर्डिंग करने पर डांटा कक्षा कार्यक्रम Not on Twitter? Sign up, tune into the things you care about, and get updates as they happen. Contents of eenaduindia.com are copyright protected.Copy and/or reproduction and/or re-use of contents or any part thereof, without consent of UEPL is illegal.Such persons will be prosecuted. गोड‍्डा संपूर्ण परियोजनाओं की सूची बाड़मेर ग्रामीण क्षेत्रों में 2 से 5 किलोवाट तक कनेक्शन लेने वालों को 60 रुपये प्रति किलोवाट जमा करना पड़ता था, जबकि शहरी क्षेत्रों में 2 किलोवाट से ऊपर और 5 किलोवाट से कम के कनेक्शन के लिए 150 रुपये प्रति किलोवाट जमा कराया जाता था।  Jammu And Kashmir News इस योजना का मूल उद्देश्य विद्युत प्रणाली में सामना की जाने वाली प्रचालनीय समस्याओं को सुलझाते हुए विद्युत क्षेत्र में अवश्यकता पर आधारित अनुसंधान को संपन्न करने हेतु निधि उपलब्ध कराना है । शहडोल- संभाग में विद्युत सुदृढि़करण के लिए तीन महत्वपूर्ण योजनाएं चल रहीं हैं। तीनों योजनाओं में लगभग 382 करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं। योजनाएं चल तो रहीं हैं लेकिन समय के साथ गति नहीं Ram Badan Maurya‏ @1009711R Jun 4 पूर्व केंद्रीय मंत्री सांवरलाल जाट की मूर्ति का हुआ अनावरण Case Studies शेखपुरा बिजली कंपनियां अगर बिजली उत्पादक कंपनियों से कम दाम पर बिजली खरीदती हैं तो उन्हें इसके बदले इंसेंटिव मिल सकता है। दिल्ली इलैक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी अथॉरिटी (डीईआरसी) इस योजना पर विचार कर रही है। अभी इस संबंध में सभी की राय ली जा रही है। फाइनल होते ही इसके बारे में ऑर्डर जारी कर दिए जाएंगे। इससे बिजली कंपनियों के साथ ही कंस्यूमर को भी फायदा होगा, क्योंकि इससे उनका बिल का बोझ कुछ कम होगा। महामंत्री, बीजेपी हरला मंडल शिविरों में पहुंच जनसमस्याएं सुन रहे हैं मंत्री देवनानी जाहिर है, चीनी सरकार की जनरल एंटी-बिटकॉइन रुख जारी रहती है, जिनकी रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन की बिटकॉइन खनन सुविधाओं की सबसे बड़ी पनबिजली बिजली जल्द ही अतीत की बात हो सकती है। स्थानीय मीडिया। अजमेर में भक्तों ने भोलेनाथ को नोटों से सजाया यूपी में बिजली दर बढ़ाने की प्रक्रिया 15 से शुरू बड़कागाँव विधायक प्रतिनिधि Save list रेवाड़ी समन्वित पोषक तत्व प्रबंधन एवं उर्वरकों का संतुलित व समन्वित उपयोग कार्यक्रम (आई. एन. एम. ) Powered by WordPress and Smartline. खेलकूद सैमसंग गैलेक्सी जे 8 2018 32जीबी (ब्लैक, 4 जीबी रैम) Portuguese Português para África उन्होंने कहा, ''राज्य चाहते थे कि इन वस्तुओं पर उनकी स्वायतता बनी रहे. रियल स्टेट को लेकर कहा जा रहा है इसमें ब्लैक मनी का प्रवाह ज़्यादा होता है. ऐसे में अगर यह जीएसटी के भीतर रहता तो उस पर लगाम कसा जा सकता था.'' बिजली कंपनी जुलाई महीने से २०० रुपए प्रतिमाह में मिलने वाली बिजली योजना (सस्ती बिजली बिल स्कीम) योजना भी लागू कर रही है। इसमें उपभोक्ता १०० यूनिट तक पंखा, टीवी व ट्यूबलाइट जला सकेंगे। बिल की गणना टैरिफ आधार पर होगी। उपभोक्ताओं की शेष राशि राशि राज्य सरकार सब्सिडी के रूप में विद्युत कंपनी को देगी। ओलांद और मोदी ने अपने संयुक्‍त भाषण में कहा था कि दोनों देश टेक्‍नो कमर्शियल मुद्दों पर बातचीत 2016 के अंत तक पूरा कर लेंगे और 2017 के शुरुआत में इस प्‍लांट पर ऑपरेशन शुरू हो जाएगा। लेकिन अभी तक यह स्‍पष्‍ट नहीं है कि कंपनी लायबिलटी कानून का पालन करने के लिए क्‍या कदम उठाएगी। औसतन 12.73 प्रतिशत बढ़ी हैं बिजली की दरें मंजू देवी सुपौल Best Refrigerators (Fridge) in India By signing Up you agree to our Terms and Condition Join my Team देश के प्रीमियम स्मार्टफोन बाजार में यह कंपनी रही सबसे आगे मिथुन विवाह प्रमाण-पत्र July 6, 2018 दीवार में अनुभूति के रंग भरकर “बाघ और जंगल की दुनिया”... जानिए किसने दी बाजपेयी को मुखाग्नि posted on August 18, 2018 1699914088खरीदे न किसी का मकान टूटेगा, न अलॉटमेंट रद होगी 3 जुलाई 2018 विद्युत नियामक आयोग ने वित्तीय वर्ष 2015-16 के रेग्युलेटरी सरचार्ज के लिए अंतरिम आदेश जारी किए हैं। पूरे आंकड़े आने के बाद आयोग इस पर स्थाई आदेश जारी करेगा। अंतरिम आदेश का लाभ फिलहाल केस्को के हिस्से में गया है। 2.23 फीसदी के दूसरे रेग्युलेटरी सरचार्ज के मुकाबले केस्को के उपभोक्ताओं को अब केवल 2.01 फीसदी सरचार्ज देना होगा। Rojgar Mela FOLLOW (36) अटल बिहारी वाजपेयीNRC असमडियर जिंदगीविराट कोहलीIndia vs England टेस्ट सीरीजपीएम मोदीइमरान खानराहुल गांधीभोजपुरी न्यूजअमरनाथ यात्राजम्मू कश्मीरयोगी आदित्यनाथबीजेपीअरविंद केजरीवालरिलायंस जियोEPFO न्यूजराम मंदिर मुद्दा संस्थागत बिजली आपूर्ति में सुधार के सपा सरकार के लम्बे-चौड़े दावे, इसी सरकार के अन्य सभी वादों व दावों की तरह ही कागज़़ी व हवा-हवाई साबित होते हुए साफ़ तौर पर लोगों को दिख रहे हैं। इतना ही नहीं बल्कि ’’अपराध-नियंत्रण व क़ानून-व्यवस्था एवं जनहित व विकास’’ के मामलों में वर्तमान सपा सरकार का रिकार्ड जितना ज़्यादा खऱाब व दयनीय है। आमजनता की राय सपा सरकार के प्रति जितनी ज़्यादा खराब है, उतना ही खऱाब स्थिति बिजली की उपलब्धता के मामले में भी हैं। मोबाईल सेवाएं Serbian Српски/Srpski Enquiry : 87501 87501 सराईकेला मध्यप्रदेश: राजकीय शोक एवं अवकाश की आधिकारिक सूचना | MP HOLY DAY बोलीविया की माली हालत खस्ता, लेकिन राष्ट्रपति ने अपने लिए 238 करोड़ रु. में बनवाया 29 मंजिला घर 21 mins गुजरातहिमाचल प्रदेशमहाराष्ट्रहरियाणापंजाबराजस्थानछत्तीसगढ़झारखंडमध्य प्रदेशदिल्लीबिहारउत्तर प्रदेश CIN: U74140DL2015NPL285224 विधायक प्रतिनिधि कटकमदाग कमेंट देखें ताज़ा खबर मोदी की मुख्यमंत्री विजयन के साथ बैठक, बाढ़ के हालात... जवाहर लाल महथा VIDEO: बिजली कंपनी के खिलाफ कांग्रेस ने किया प्रदर्शन Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे... Clarifications राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना :   राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना अन्तर्गत रबी 2010-11 की अधिसूचनाबाहरी फ़ाइल जो एक नई विंडों में खुलती हैं पंचतत्व में विलीन हुए अटल, बेटी नमिता ने भारत रत्न पूर्व पीएम वाजपेयी को दी मुखाग्नि Sat Aug 18 2018 00:26:44 GMT-0500 (Central Daylight Time) ज्वालामुखी मंदिर में पांचवें नवरात्रे चढ़ा... बिजली कनेक्शन होगा सस्ता झामुमो ने आचार संहिता के उल्लंघन का लगाया आरोप,आयोग से कार्रवाई की मांग डायबिटीज, ब्‍लड प्रेशर और कैंसर की दवाओं के तय होंगे दाम, इस सूची में होंगी कुल 92 दवाएं इसके पश्चात पुलिस ने मेले में छापेमारी कर जुआ खेला रहे बबलू बिरुवा के  चचेरे भाई कुशल टीयू को 32 हजार रूपये एवं बाइक के साथ गिरफ्तार किया। इस दौरान मौके का फायदा उठाकर बबलू बिरुवा फरार हो गया। Newer Post Older Post Home Computer में Folder Lock कैसे सेट करे बेस्ट तरीका चौकाने वाली बात तो यह है कि राज्य बनाने के पीछे एक बड़ा उद्देश्य राज्य के आदिवासियों का उत्थान करना था उसपर भी कोई ठोस पहल होती नजर नहीं आई। राज्य में आदिवासियों को जल-जंगल और जमीन से भी हाथ धोना पड़ा है और राज्य में जो आदिवासियों की संख्या है उसमें भी भारी गिरावट आई है। यही कारण है कि अब ट्रायवल एडवाइजरी काउंसिल ने राज्य का भ्रमण कर आकड़ों को जुटाने में लग गया है कि आखिर किस कारण से आदिवासियों की संख्या में कमी आ रही है। 3.21951219512 This petition isn't available. Either the URL is incorrect, it violated our Community Guidelines, or the starter removed it. मल्टीप्लेक्स RSS चर्चा में क्यों? My Result Plus 29 जून 2018 केंद्रीय विद्युत मंत्रालय की ओर से इकट्ठा किए गए आकड़ों के मुताबिक 2014-15 और 2017-18 के दौरान औसतन 5.66 फीसदी विद्युत का इजाफा देखा गया है जबकि 2010-11 और 2013-14 के बीच ये आकड़ा औसतन 5.9 फीसदी का था. और सरकार का ये दावा तब है जब हाल के सालों में थर्मल पावर प्लांट का परिचालन ऐतिहासिक तौर पर सबसे निम्न स्तर पर रहा है. सोसायटी भी बिजली विभाग के निशाने पर * अप्रैल माह से प्रदेश में बिजली महंगी हो जाएगी। राज्य की विद्युत कंपनियों के टैरिफ प्रस्ताव पर बुधवार नियामक आयोग अपना फैसला सुना दिया है। बिजली की नई दरें अप्रैल माह से लागू होंगी। अशोक माँहथा जल ज्ञानकोश जब अटल जी द्वारा दिया गया बैट लेकर पाकिस्तान मैच खेलने चले गए थे सौरव गांगुली ऊर्जा लागत की तुलना करें - गैस और बिजली की कीमतों की तुलना करें ऊर्जा लागत की तुलना करें - मेरे क्षेत्र में विद्युत आपूर्तिकर्ता ऊर्जा लागत की तुलना करें - सबसे कम बिजली दरों
Legal | Sitemap