वास्तु PUJA का सबसे HOT OFFER, यहां कुछ भी खरीदें, मुफ्त में मिलेगा GOLD COIN 51-100              2.90 Justice For Noura | Don't execute Noura for self defense against the man who raped her! Just Now शेयर बाज़ार मार्च में राजस्व संग्रह 1300 करोड़ पर पहुंचा : बिहार स्टेट पावर होल्डिंग कंपनी के अधिकारी वर्तमान वित्तीय वर्ष के आखिरी दिन लगातार राजस्व संग्रह से जुड़े आंकड़े को इकट्ठा करने में लगे थे। देर शाम तक उपलब्ध आंकड़े के अनुसार अकेले मार्च 2018 में यह लगभग 1300 करोड़ पर पहुंचने की उम्मीद है। वहीं मार्च 2017 में यह राशि 830 करोड़ रुपए थी। देर शाम तक इस वर्ष मार्च में साउथ बिहार पावर होल्डिंग कंपनी का योगदान 850 करोड़ तथा नार्थ बिहार पावर होल्डिंग कंपनी का योगदान 450 करोड़ दर्ज हुआ। नैनीताल में जिन जगहों पर अटल जी रुके उन यादों को संजों कर संग्रहालय बनाया जायेगा। Okay मीडिया प्रभारी ,सोशल मीडिया Coordinator एवं सचिव ज़िला कोंग्रेस कमिटी पॉल्यूशन फ्री है विंड एनर्जी Next BUDGET 2017 तमिर-ए-हरियाणा Be the first to comment रुड़की पुलिस को बड़ी सफलता, किया सैक्स रैकेट का भंडाफोड़ शेयर बाजारों की बेहतर शुरुआत, सेंसेक्स 260 अंक चढ़ा 24 Views मैगज़ीन टेस्ट के उत्तर Search मीटर प्रकार भारतीय बिजली ग्रिड संहिता FROM WEBTake a step closer towards your [email protected]$ 150 p.m#HappyEMIsAd: Godrej EmeraldNRI's Booked Home at Shapoorji Pune at Rs 45,000Ad: Joyville by Shapoorji PallonjiExplore endless entertainment for $15/mo.Ad: SLING INTERNATIONALFROM NAVBHARAT TIMESदेखें, कहां छुट्टियां बिता रही हैं जैकलीनराहुल गांधी और इस लड़की की जोड़ी का सच क्या है?स्तन के नौ प्रकारFrom The Web भारतीय संसद कोयला उद्योग समाचार ताँबा (COPPER) केंद्रीय विद्युत मंत्रालय की ओर से इकट्ठा किए गए आकड़ों के मुताबिक 2014-15 और 2017-18 के दौरान औसतन 5.66 फीसदी विद्युत का इजाफा देखा गया है जबकि 2010-11 और 2013-14 के बीच ये आकड़ा औसतन 5.9 फीसदी का था. और सरकार का ये दावा तब है जब हाल के सालों में थर्मल पावर प्लांट का परिचालन ऐतिहासिक तौर पर सबसे निम्न स्तर पर रहा है. फुटपाथ पर हारमोनि‍यम बजाने वाले को नेहा कक्कड़ ने दिए 1 लाख रुपये बताया जा रहा है कि भागिनाथ शेळके ने 10 मई को सुबह 4.30 से 5 बजे के बीच फांसी लगाई है। इसके बाद उसके परिजनों ने उसके शव को स्वीकार करने से मना कर दिया। भागिनाथ शेळके के परिजन बिजली कंपनी के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि मृतक ने उसको दिए गए बिजली बिल को लेकर महाराष्ट्र राज्य बिजली बोर्ड के अधिकरियों से भी मुलाकात की थी मगर उन्होंने उसकी न सुनी। अधिकारीयों ने उसे बिजली का बिल जमा करने के लिए कहा था। परिजनों का आरोप है कि फरवरी महीने से भागिनाथ शेळके, गारखेड़ा के महाराष्ट्र राज्य विद्युत वितरण कंपनी के दफ्तर में चक्कर काट रहा था। परिजनों का कहना है कि जब मृतक ने अपने सुसाइड नोट में बिजली कंपनी को आत्महत्या के लिए जिम्मेदार ठहराया है तो फिर उस पर केस क्यों दर्ज नहीं हो रहा है। 404 नहीं मिला, असुविधा के लिए क्षमा करें Hariom nagar | Updated on:  National News अमेरिका: एयरपोर्ट से एयरलाइन कर्मचारी ने चुराया विमान, उड़ान भरने के कुछ ही देर बाद... %E0%A4%B5%E0%A4%BF%E0%A4%A6%E0%A5%8D%E0%A4%AF%E0%A5%81%E0%A4%A4 %E0%A4%AF%E0%A5%8B%E0%A4%9C%E0%A4%A8%E0%A4%BE वस्तु व सेवा कर (जीएसटी) के एक जुलाई से लागू होगा। (फोटो-इंटरनेट) 101 99 83 , - , , , , , , , , , , , , , , , ... वीरपुर/बेगूसराय: रामनवमी के अवसर पर रविवार को हिन्दू जागरण मंच द्वारा भव्य शोभा यात्रा निकाली गयी. इसमें शामिल हजार से अधिक बाइक पर सवार हिन्दुओं ने बड़ी ठाकुरवाड़ी वीरपुर से नौलागढ़ ठाकुरवाड़ी तक लगभग आठ […] साबरा खातून मिर्जापुर दुनिया मेरे आगे: सड़क पर पन्ने कार्ड प्रीपेमेंट एकल चरण इलेक्ट्रिक मीटर, सर्ज संरक्षण वायरलेस पावर मीटर कैमरे में कैद हुर्इ जिम के फ्लोर मैनेजर की घटिया हकरत, गिरफ्तार News in Pictures फोटो गैलरी डीडीयूजीजेवाई युगलकिशोर मुखी परिवादी गंगोत्री पत्नी रामवीर सिंह तोमर निवासी शिवपुरम कॉलोनी ने म.प्र. पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी आनंद नगर के खिलाफ परिवाद पेश किया था। परिवादी ने कंपनी द्वारा अनुमानित रीडिंग का बिल देने और खपत से ज्यादा बिल आने पर कंपनी कार्यालय में शिकायत की। साथ ही मीटर बदलने के लिए आवेदन किया। 18 फरवरी, 2016 को राशि जमा करके नया कनैक्शन लिया लेकिन कम्प्यूटर में जानकारी अपलोड नहीं होने से मार्च तक के बिल जारी नहीं किए। नवम्बर व दिसम्बर 2016 में एवरेज यूनिट खपत के बिल जारी किए। कंपनी ने अनुमानित रीडिंग 5508 यूनिट खपत का बिल दिया जबकि इतनी खपत नहीं है। कंपनी से परेशान होकर उपभोक्ता ने फोरम में परिवाद लगाया। बच्चे खूब मन लगाकर पढ़ाई करें, बाकी चिन्ता शासन पर छोड़ दें –मंत्री श्री जैन, ऊर्जा मंत्री ने स्वतंत्रता दिवस पर स्कूली विद्यार्थियों के साथ मध्याह्न भोजन किया अंतरराष्ट्रीय खबरें तीर्थ यात्रा     मुझे शिकायत जिला प्रशासन, नगर पालिका प्रशासन के साथ ही साथ उन दुकानदारों से भी है जिन्होंने बुधवारी में बेजा अतिक्रमण करके राज्य में 246 गांव हुए रोशन भाजपा जिलाकोषाध्यक्ष जमशेदपुर महानगर पिछड़ा मोर्चा सराईकेला-खरसांवा (रुपए प्रति यूनिट) pgcalirajpur Hrvatski अगर आप जीना चाहते हैं मनचाही जिंदगी, तो इस कहानी में है जवाब Kishanaram Aug 10, 2018 09:59 AM बिजली कंपनी के ठेकेदार रवींद्र सिंह जादौन ने 25 अप्रैल को मोतीझील स्थित बिजली कंपनी के मुख्य महाप्रबंधक ऑफिस में जहरीला पदार्थ खाकर जान दे दी थी. ठेकेदार ने 9 साल पहले पुरानी छावनी क्षेत्र में बिजली कंपनी के लिए काम किया था. 9 साल तक बिजली कंपनी से अपने 3 लाख 73 हजार रुपए के भुगतान के लिए रवींद्र भटकते रहे. सीएम से लेकर बिजली कंपनी और प्रशासन से शिकायतें कीं. शिकायतें इतनी कीं कि उनकी पावतियों से बक्सा तक भर चुका था. रवींद्र ने एक विस्तृत सुसाइड नोट भी छोड़ा था जिसमें शुरु से आखिर तक की पूरी पीड़ा लिखी थी. मुख्य पृष्ठ अनु. व वि. योजनाएँ अनुसंधान योजना विद्युत पर अनुसंधान योजना (आरएसओपी) टॉम पीटरफ़ी का मानना ​​है कि बिटकॉन्क संभवत: पर जा सकता है ... दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल न्यूज़ ग्रामीण अनमीटर्ड कमर्शल उपभोक्ताओं को 1000 रुपये प्रतिमाह सिंचाई के लिए 100 के बजाए 150 प्रति बीएचपी मिलेगी। बिजली दरों में शहरी उपभोक्ताओं को 500 यूनिट से ऊपर 6.50 रुपए की दर से चार्ज देना होगा। शहरी उपभोक्ताओं को 150 यूनिट 4.90 रुपये की दर से मिलेगी वहीं शहरी उपभोक्ताओं को 150 से 300 यूनिट के बिजली 5.40 रुपये प्रतियूनिट की दर से मिलेगी । विविधिक्रत ऋण योजना   अकृषि ऋण योजना 2 घाटशिला वासियो स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं ट्रेंडिंग नागेश्वर करमाली आवेग वोल्टेज की प्रतिरक्षा Mud Mud Ke Dekhta Hu Himachal Pradesh News अटल जी को श्रद्धांजलि देने उमड़ा हिमाचल जल-विद्युत योजनाओं से हानि ‘सी’ और ‘डी’ श्रेणी खंडों में स्थापित ऐसे सूक्ष्म एवं लघु उद्योग इस योजना के लिए पात्र होंगे, जिन्होंने पोर्टल https://udyogadhaar.gov.in पर संबंधित जिला उद्योग केंद्र के साथ उद्योग आधार ज्ञापन (यूएएम) फाईल किया है। Hrvatski पहली बार 1981 में वाजपेयी आये थे सिवनी posted on August 18, 2018 टेली मसाला 0 COMMENT बादम पंचायत मुखिया, बड़कागांव टुण्डी विधानसभा क्षेत्र के लोगो को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं Best Air Purifiers in India नितिन गडकरी बोले- नौकरी ही नहीं हैं तो आरक्षण का क्या फायदा Raise Your Voice हमें खेद हैं कि आप opt-out कर चुके हैं। प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना सौभाग्य फ्री बिजली कनैक्शन केरल में खुदरा क्षेत्र में काम करने वाले को बैठने का अधिकार दिया गया है, क्या दूसरे राज्य भी ऐसा करेंगे? RSS Feed ग्वालियर. 25 अप्रैल 2017 को बिजली कंपनी के मुख्य महाप्रबंधक के ऑफिस में जहर खाकर जान देने वाले बिजली ठेकेदार रवींद्र सिंह जादौन की हर बात सच थी. वे खुद 9 साल बिजली कंपनी से अपने किए गए काम का पौने चार लाख रुपए मांगते रहे. सीएम से लेकर हर बिजली अधिकारी से शिकायत की लेकिन किसी ने नहीं सुनी. जब वे पूरी तरह टूट गए तो जान दे दी. अब मजिस्ट्रियल जांच रिपोर्ट में ठेकेदार के काम को होना पाया गया है और एडीएम शिवराज वर्मा ने बिजली कंपनी के मुख्य महाप्रबंधक को ठेकेदार के कार्य का पैसा तत्काल जारी करने के आदेश भी दे दिए हैं. 10 साल के इंतजार के बाद अब परिवार को भुगतान के आदेश मिले हैं. ऊर्जा लागत की तुलना करें - विद्युत दर ऊर्जा लागत की तुलना करें - सस्ता गैस और इलेक्ट्रिक ऊर्जा लागत की तुलना करें - मेरा इलेक्ट्रिक बिल लोअर
Legal | Sitemap