Moradabad नई दिल्ली। इलेक्ट्रिसिटी डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी बीएसईएस ने मोबाइल कॉमर्स प्लेटफॉर्म Paytm के साथ गठबंधन किया है। इसके तहत बिजली बिल भुगतान करने पर उपभोक्ताओं को कैशबैक दिया जाएगा। बीएसईएस के प्रवक्ता ने कहा कि पेमेंट करने के एक हफ्ते बाद बिलों का भुगतान करने वाले ग्राहकों को 200 रुपए तक कैशबैक मिलेगा। हालांकि कंपनी के मुताबिक पेमेंट डेट से पहले अन्य सभी भुगतानों के लिए यह योजना फरवरी से मार्च तक वैध रहेगी। August 18,2018 10:29:18 AM भूमिका तथा प्रकार्य उन्होंने बताया कि सक्षम प्राधिकारी द्वारा पारित आदेशों के खिलाफ प्रशासनिक सचिव, उद्योग एवं वाणिज्य को ऐसे आदेश प्राप्त होने की तिथि से 30 दिनों की अवधि के भीतर अपील की जा सकती है। अपील में प्रशासनिक सचिव द्वारा पारित आदेश अंतिम होगा। उन्होंने कहा कि यदि किसी भी स्तर पर यह पाया जाता है कि आवेदक ने किसी भी झूठी सूचना के आधार पर पावर टैरिफ सब्सिडी का दावा किया है तो आवेदक को 12 प्रतिशत वार्षिक की दर से ब्याज की चक्र दर के साथ सब्सिडी राशि वापस करने के अलावा कानूनी कार्रवाई का सामना करना होगा और उसे राज्य सरकार से किसी भी प्रकार का प्रोत्साहन या सहायता प्राप्त करने से वंचित कर दिया जाएगा। बीईआरसी अध्यक्ष ने बताया कि उपभोक्ताओं को बिजली बिलों का समय से भुगतान करने पर 1.5 प्रतिशत की छूट के साथ ही पोर्टल के जरिये ऑनलाइन भगुतान करने पर एक प्रतिशत की अतिरिक्त छूट दी जाएगी। उन्होंने बताया कि इस प्रकार समय पर बिल का भुगतान ऑनलाइन करने पर उपभोक्ता को 2.5 प्रतिशत की छूट प्राप्त होगी। इस बीच ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने कहा कि बिजली की दरों में वृद्धि से उपभोक्ताओं को घबराने की जरूरत नहीं है। Copyright © Prabhasakshi.com. All Rights Reserved. -सिंचाई पंपों की खपत पर ऊर्जा प्रभार में दस फीसद छूट का रहेगा प्रावधान। प्रिंट मीडिया विज्ञापन नीति पर्दे के पीछे इकबाल खान कसौटी जिंदगी की रिमेक में मिस्टर बजाज का रोल प्ले करेंगे? 14 mins आसाम पासपोर्ट बनवाना हुआ आसान, जानिए नए नियम यह भी पढ़ें: ‘सबके लिए बिजली’ योजना में मुफ्त बिजली नहीं इंटीग्रेटेड पावर डेवलपमेंट स्कीम (आईपीडीएस) Audiotrainer सस्ती बिजली महंगे दामों पर बेच रही हैं कंपनियां : RTI•मनीष अग्रवाल, नई दिल्ली प्रदेश सरकार के दावे खोखले, मंडियों तक नहीं... बिहार कैफ़े Other articles published on Sep 1, 2014 facebook SHRUTI MISSING CASE संगठन मजिस्ट्रियल जांच रिपोर्ट ठोस परावैद्युत प्रयोगशाला बड़ा सवाल : क्या यही है वाजपेयी के सपनों का झारखंड ? Cashback on offer price: 850 एयर कंडीशनर, हीटर का उपयोग करने वाले उपभोक्ता तथा 1000 वॉट से अधिक संयोजित भार वाले उपभोक्ता स्कीम के लिए अपात्र होंगे। जहाँ मीटर स्थापित हो, वहाँ मीटर से रीडिंग करते हुए बिल की गणना की जाएगी। विद्युत अधिनियम, 2003 की धारा 55 के प्रावधान के अनुसार नये कनेक्शन के लिए चरणबद्ध तरीके से मीटर की उपलब्धता के आधार पर मीटर स्थापित किये जायेंगे। ग्रामीण क्षेत्रों में 500 वॉट तक के संयोजित भार वाले अनमीटर्ड उपभोक्ताओं की विद्युत नियामक आयोग द्वारा वर्ष 2018-19 के टैरिफ आर्डर में निर्धारित श्रेणी एल.वी.1.2 की उप श्रेणी के अनमीटर्ड कनेक्शन के लिए लागू दर से बिलिंग की जाएगी। इसी क्रम में 500 वॉट से अधिक संयोजित भार वाले उपभोक्ताओं की आयोग के प्रचलित विनियम के अनुसार बिलिंग की जाएगी। फक्कड़ पुलिसिया ‘भगत’ जिसने, पैंट पर लिखे नंबर से ही कर दिया एक रात में चार कत्ल का ‘पर्दाफाश’ संगठन - कार्य एवं कर्तव्य देखिये जरूर Gadgets Updates Hindi Latest Gadgets Updates Hindi News, Latest Gadgets आखिर कौन हैं अटल जी की दत्तक पुत्री नमिता भट्टाचार्य, जिन्होंने दी पार्थिव शरीर को मुखाग्नि Read More एशियाई खेल हाईकोर्ट के फैसले पर एसबीआई के चेयरमैन रजनीश कुमार ने कहा कि इससे बैंकों को स्ट्रेस्ड एकाउंट्स के रिजॉल्यूशन के लिए अधिक समय मिलेगा। कुमार ने बताया, 'बैंक कुछ बिजली कंपनियों के साथ लोन रिजॉल्यूशन पर बात कर रहे हैं।' बादम पंचायत मुखिया, बड़कागांव श्रेयांश कुमार M T W T F S S 0 replies 0 retweets 2 likes CM रमन सिंह ने किये कई फेरबदल, एडिशनल चीफ सेक्रेटरी बैजेंद्र कुमार को उद्योग विभाग की जिम्मेदारी भारतीय-विद्युत-परिदृश्य Last updated on: Aug 13, 2018 श्रीमती नीता पटेरिया को Faststep की ओर से आप सभी को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं न्यूज़ एनालिसिस @AamAadmiParty Now instead of wasting time in discussion, AAP govt shud register FIR n take stern action against discoms,Sheila Dixit n co लोकप्रिय चर्चा में Follow our भारत section for more stories. आईसीआईसीआई बैंक: केरल के ग्राहकों से इस महीने ईएमआई चुकाने में देरी पर पेनल्टी नहीं लेगा Just Now प्रदीपन प्रयोगशाला Best LED Televisions (TV) in India पावर टैरिफ सब्सिडी प्रदान करने की यह योजना 15 अगस्त, 2015 से प्रभावी होगी तथा 5 वर्ष तक की अवधि के लिए जारी रहेगी। जिन इकाइयों को उद्यम प्रोत्साहन नीति 2015 की अधिसूचना अर्थात 15 अगस्त,2015 को या उसके बाद बिजली कनेक्शन जारी किया गया है, वे 14 अगस्त, 2020 तक पावर टैरिफ सब्सिडी के लिए पात्र होंगी। 12. पापों से मिलेगी मुक्ति,अगर करते हैं षट्तिला एकादशी का व्रत हमारे बारे में  |  हमसे संपर्क करें  |  विज्ञापन दें  |  बुकमार्क  |  अस्वीकृति  |  गोपनीयता कथन  |  उपयोग की शर्तें  |  करियर |  साबरा खातून वैभव कुमार सिंह August 2, 2018 दिल्ली के एक करोड़ से भी अधिक लोगों के घरों को रोशन करने वाली बिजली कंपनी बीएसईएस यमुना और राजधानी सस्ती बिजली खरीदकर लोगों को महंगी बेच रही हैं। यह बात आरटीआई से मांगी गई जानकारी में सामने आई है। कंपनियों ने सस्ते दामों पर 75 फीसदी से अधिक बिजली खरीदी। रिकॉर्ड समय में खाताबंदी को हासिल कर चुके बगलिहार स्टेज 2 के लिए बोर्ड ने पीएफसी और जेएंडके बैंक के साथ समझौता करने का निर्णय किया है। जेकेएसपीडीसी को 2,179 करोड़ का कर्ज हासिल होगा। बोलीविया की माली हालत खस्ता, लेकिन राष्ट्रपति ने अपने लिए 238 करोड़ रु. में बनवाया 29 मंजिला घर 22 mins चाईबासा : आरोपी का साला गांव के मेले में जुआ खेलाते हुए नकद के साथ गिरफ्तार   इस वेबसाइट से संबंधित सवालों के लिए कृपया वेब सूचना प्रबंधक से सम्‍पर्क करें: [email protected] सदस्‍यता ठोस परावैद्युत प्रयोगशाला मेरा पैसा न्यूज़ 1999018990खरीदे ट्रेवल स्वतंत्रता दिवस पर 25 कैदियों को रिहा किया गया 15/08/2018 लच रिले: में निर्माण महिला और बाल कल्याण शर्तें तथा उपबंध Atalji Last Rites Government Schemes india > सरकारी योजना > प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना सौभाग्य योजना स्पेशल स्टोरी Punjab CONTACT US बाल स्वास्थ्य बंद करे सीतामढ़ी वोडाफोन ने उतारा नया 99 रुपये का प्लान भागलपुर 255 Retweets आपूर्ति की क्षमता: 70,000 पीसी प्रति माह जन गण मन की बात, एपिसोड 289: अटल बिहारी वाजपेयी का राजनीतिक जीवन इन कई सालों में, आरएसओपी राज्य स्तरीय विद्युत उपयोगिताओं की प्रचालनीय तथा स्थानीय विशिष्ट समस्याओं का सामना करने हेतु मुख्य साधन के तौर पर विकसित हुआ है। इन कई पहलों में अनु एवं वि तत्व अपेक्षाकृत कम है । अतः किसी भी आरएसओपी परियोजना में औसत निवेश अधिक नहीं है । फिर भी इसमें उपयोगिता स्तर पर स्थानीय विशिष्ट समाधान खोजने के लिए अभिनव भावना को जिंदा रखा है । टॉप स्‍टोरी संपादकीय  Best Air Coolers in India * उपरोक्त योजना उस समय तक मान्य होगी जब तक कि विभाग या कोई अन्य सक्षम प्राधिकारी उन्हें वापस रोल नहीं करेगा। इसके अलावा, उपरोक्त योजना / दस्तावेज / विभाग को विभाग के अधिकारियों द्वारा मैन्युअल रूप से संग्रह अनुभाग में ले जाया जाएगा। राशि वाजपेयी निमोनिया से पीड़ित थे, काम नहीं कर रहे थे कई अंग: चिकित्सक Podcasts & Newsletter देवनानी के विस क्षेत्र के वार्डों के भाजपा नेताओं की हुई बैठक मोगा हस्तरेखा केरल में बाढ़ से बुरा हाल, अब तक 324 की मौत, दौरे पर पीएम मोदी इस पोस्ट को शेयर करें ईमेल RECOMMENDED बिजली कंपनी को लेकर विरोध हर तबके का है विपक्ष से लेकर पक्ष कोटा के जनप्रतिनिधि तक बिजली कंपनी का विरोध जता चुके है हर इलाके से बिजली कंपनी को वापस भेजने की मांग शहर में की जा रही है इसको लेकर शहर में 10 अगस्त को कोटा बंद का आव्हान भी किया गया है. ट्रांसमिशन लाइनों में भी वृद्धि हुई है।  अमरावती वातावरण की उपेक्षा की यह स्थिति थी कि खुदाई तथा सुरंग बनाने से निकला सारा मलवा खुलेआम नदी में डाला जा रहा था। योजना बनाने वालों ने किंचित भी परवाह नहीं की कि ऐसा करने से पानी दूषित हो जाएगा तथा जल में रहने वाले जीवों की हानि होगी। जो वृक्ष या वन लगाने की बात योजना वालों ने की थी वह पूरी नहीं की गई। अड़तीस प्रतिशत योजनाओं ने कोई पेड़ नहीं लगाए, योजनाओं की सड़कें तथा सुरंगें बनाने से पहाड़ों के ढलानों को नुकसान हुआ। इन सब बातों का प्रतिकूल प्रभाव नदियों के नीचले भागों में पड़ा। नीचे के जल प्रवाह की माप होनी चाहिए थी तथा उसके मानदंड बनाए जाने चाहिए थे ताकि योजनाओं का वातावरण पर दुष्प्रभाव न पडे, उससे भूमिगत पानी का संचय हो रहा है या नहीं। सिंचाई के लिए क्या बचा पानी पर्याप्त है कि नहीं तथा नदी में कितनी बालू-मिट्टी जमा हो रही है ? यह देखा जाना चाहिए था कि योजनाओं के बनने के बाद पर्यावरण तथा प्रकृति पर क्या प्रभाव पड़ रहा है और उसकी लगातार समीक्षा होनी चाहिए थी। बिजली यंत्रों को चलने से यदि कोई दुष्प्रभाव पड़ रहा है तो उनके संचालन में बदलाव किया जाना चाहिए था। भारत सरकार के सुझावों के अनुसार एक प्रतिशत बिजली सरकार को सहायता के लिए मुफ्त दी जानी चाहिए थी। End of conversation Shyam amber‏ @shyamamber 18 Aug 2015 WhatsApp प्रधानाध्यापक मध्य विद्यालय मनार कटकमसांडी 'अटल' हो गई महाकवि गोपाल दास नीरज की भविष्यवाणी! Videos Gallery डेबिट और क्रेडिट कार्ड से शॉपिंग करने वाले को नए साल पर मिलेगा तोहफा Partners मजिस्ट्रियल जांच रिपोर्ट जन समूह होशियारपुर (यह भी पढ़ें)... सपना चौधरी ने WWE के रिंग में लगाए ऐसे ठुमके, चित हो गए सारे पहलवान; देखें Video ग्रेनो में बिजली कनेक्शन लेना हुआ सस्ता SSC कांस्टेबल 55000 भर्ती: पहली बार होगी कंप्यूटर बेस्ड लिखित परीक्षा, पहाड़ के युवाओं को हो सकती है दिक्कत सस्ता विद्युत प्रदायक - विद्युत प्रदाता चुनें सस्ता विद्युत प्रदायक - बिजली का बिल सस्ता विद्युत प्रदायक - सस्ता ऊर्जा प्रदायक
Legal | Sitemap