Inextlive मजदूर, गरीब, किसान  व्यापारी को मिलेगी सब्सिडी  अटल जी के आर्थिक निर्णयों ने बदला भारत का चेहरा, वरिष्ठ पत्रकार मनोज गैरोला से खास बातचीत पांचवां सवाल –  भारत सरकार का पहले का कार्यक्रम ’24×7 पावर फॉर ऑल’ के समान ही उद्देश्य है। यह कैसे इस कार्यक्रम से अलग है? धर्म/ज्योतिष विद्युत योजना में धांधली, ठेकेदार का रोका भुगतान समाचार दिनेश राय को वाणिज्य Retweet केस्को को अंतरिम आदेश का मिला लाभ लाइव हिन्दुस्तान टीम एलआईसी कैंसर कवर प्लान 905 – www.licindia.in अजमेर जिला परिषद में आयोजित हुई स्वच्छता पर कार्यशाला झामुमो नेता भविष्यफल Das Porträt डेमो प‌िक शहर चुनें अन्य सेवाएँ a month ago 19 मार्च 2013 चंदन शास्त्री -25 डिग्री सेल्सियस से 85 डिग्री सेल्सियस दिल्ली में DTC कर्मचारियों ने मनाया शोक दिवस, कराया मुंडन English हिंदी By Jagran बाल जगत एसएमई कॉर्नर: एसएमई जगत की अहम खबरें    Loading ... www.livehindustan.com 13 आगस्त 2017, 09:31 PM आर्टिकल एनालिसिस कुल्लू के बाजार रहे बंद, व्यापारियों ने दी अटलजी को श्रद्धांजलि किराएदारों के लिए अच्छा सोनभद्र Bijli Bachao in Media Google plus बिहार सरकार प्रियंका के घर जश्न का माहौल, रोका सेरेमनी के लिए पहुंचे पंडित जी   Saturday,August 18, 2018 बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं प्रशासनिक लापरवाही खा रही है मसूरी की ख़ूबसूरती, डंपिंग ज़ोन बन गए हैं पहाड़ त्‍वरित विद्युत विकास एवं सुधार कार्यक्रम (एपीडीआरपी) हम करने के लिए सीधे अपनी जांच भेजें (0 / 3000) आँध्रप्रदेश Economy लालू के साथ मुलाकात के बाद हक्के-बक्के शत्रुध्न ने ट्विट कर कही बड़ी बात, लगे हाथ तेजस्वी ने भी… मंत्रालय के अधिकारियो का संपर्क Modified at - December 23, 2016, 1:28 pm Madhya Pradesh प्रेरक प्रसंग Read More: Rajasthan Barmer Balotra Siwanaग्रामपंचायतदीनदयाल विद्युतयोजनाकरोड़ खर्च महिला और दलित उद्यमियों के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करने को लेकर शुरू की गई मुद्रा योजना का खूब जोर-शोर से प्रचार किया गया और कहा गया कि ये मोदी सरकार की नौकरी पैदा करने की बड़ी कामयाब पहल है. हालांकि औसत कर्ज लेने की रकम को बारीकी से देखने पर पता चलता है कि वास्तविकता कुछ और ही है. पोस्टर DB Quiz गोपनीयता की नीति सस्ती बिजली महंगे दामों पर बेच रही हैं कंपनियां : RTI•मनीष अग्रवाल, नई दिल्ली Pradhan Mantri Ujjawala Yojna मध्यप्रदेश के इन दो जिलों के 120 होटल संचालकों को नोटिस   देवगढ़ Photos: बाजे छै नोबत बाजा म्हारा डिग्गीपुरी का राजा… निम्नदाब कृषि उपभोक्ता पकवान मीनाक्षी रानी गुड़िया Solar Story एग्रीकल्चर कारोबार Search Urdu اردو Liked इकोनॉमी मंजूरी लेने की जरूरत पर जोर दिया है। सिरमौर सिख स्टोर मालिक की चाकू गोदकर हत्या सूखे से निपटने के लिये वर्षाजल सहेजें शेयर पैनल को बंद करें 2.5 किलो चरस व 600 ग्राम हैरोइन के साथ 2 गिरफ्तार Groups ट्रेंडिंग टॉपिक्स वीडियो टेस्ट सीरीज जनता मजदूर संघ सिंदरी अध्यक्ष India Today Education सोशल SENSEX How to Print करनाल Top Ten Air Coolers in India by Efficiency and Price किलोमीटर लंबी लाइन आप भी लिखें बिग बॉस पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने जब गुरु 'महाबली' सतपाल को दी थी बादाम की बोरी उत्पाद व सेवाएं मैगज़ीन निबंध टेस्ट बिजली की कीमतों को लेकर विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार पर सवाल किए हैं. उन्होंने कहा कि दिल्ली की केजरीवाल सरकार बिजली कंपनियों का प्रवक्ता बनकर बात कर रही है. वह बताए कि बिजली कंपनियों ने पिछले 6-7 महीनों में ऐसे कौन से बुनियादि बदलाव किए हैं जिसके चलते सरकार जनता से निजी बिजली कंपनियों को स्थाई शुल्क के रूप में भारी राशि दिला रही है. delhiassembly.nic.in/aspfile/listme… LIVE: थोड़ी देर में इमरान खान का शपथ ग्रहण, पाक आर्मी चीफ बाजवा से मिले नवजोत सिद्धू सामग्री प्रौद्योगिकी प्रभाग (एमटीडी) कोलकाता पंचतत्व में विलीन हुए अटल जी, अस्थि विसर्जन कल आयाम: 155x120x52mm महंगी बिजली का हल निकालने की दिशा में ऊर्जा मंत्रालय ने 17 जुलाई को जारी किए गए मेरिट ऑर्डर पर एक अगस्त तक सीईआरसी, सीईए व राज्यों के ऊर्जा सचिवों से राय मांगी थी . इसमें थर्मल ऊर्जा उत्पादन तथा शेड्यूलिंग के नियमों में ढील देने को लेकर ज्यादातर ने सकारात्मक पक्ष पेश किया . जवाब सकारात्मक होने की वजह बिजली कंपनियों की लागत में कमी व एकरूपता बताई जा रही है . गवर्नमेंट इस व्यवस्था को ट्रायल के आधार पर एक वर्ष के लिए लागू कर सकती है, उसके बाद पुनर्विचार कर आगे कदम बढ़ाएगी .   प्रिंट Email Weird Stories Find what's happening यात्रा/पर्यटन संबंधी सलाह त्रुटि 404 हालांकि, पानी में उतरे केईडीएल भगाओ संघर्ष समिति के संयोजक हिम्मत सिंह हाड़ा की सुबह से शाम तक पानी में खड़े रहने के बाद तबियत भी बिगड़ गई. जिसके बाद में उन्हें अस्पताल में भर्ती तक करवाने की नौबत आ गई और कोटा के न्यू मेडिकल कॉलेज में इलाज के लिए भर्ती करवाना पड़ा.    इंटीग्रेटेड पावर डेवलपमेंट स्कीम (आईपीडीएस) 8.10             7.00  Online Courses सर्वोत्कृष्ट कृषि पहल     यह बात वित्त एवं राजस्व मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने आज विद्युत सदन में आयोजित बैठक कक्ष में आयोजित विद्युत विभाग के अधिकारियों की बैठक को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि विद्युत विभाग एक वाणिज्यिक संस्था के रूप में लोगों को बिजली की सेवाएं उपलब्ध करवाता है। हमने लोगों को उनके घर-द्वार पर जाकर समझाया कि यदि सेवा चाहिए तो उन्हें इसके लिए मूल्य भी चुकाना होगा। उसी का परिणाम है कि आज हरियाणा के पांच जिले जगमग योजना से रोशन हो चुके हैं तथा छठे जिले फतेहाबाद में आगामी एक जुलाई से 24 घंटे बिजली मिलनी शुरू हो जाएगी। अब हम इस योजना के तहत नारनौंद विधानसभा क्षेत्र को रोशन करने की योजना बना रहे हैं।  अस्वीकरण twitter लेख के अनुसार, बिजली कंपनियों के बयान से खनिकों की सामान्य भावना को प्रतिबिंबित नहीं होता है। खनिकों का मानना ​​है कि बिटकॉइन के संचालन 'त्याग किए गए पानी' का उपयोग कर रहे हैं - पानी जो बिना बिजली के उत्पादन के चलते जाते हैं, यही वजह है कि मूल्य काफी कम है। पनामा सीमा के निकट दक्षिणी कोस्टारिका में भूकंप, जिसकी तीव्रता 6.0 मापी गई। अजय साहू www.bhaskar.com 25 दिसम्बर 2016, 01:39 AM मुख्‍य सामग्री पर जाएं Poll अंतिम बार संशोधित: Jun 23, 2018 संस्कृति वरिष्ठता सूची क्या आपको ये रिपोर्ट पसंद आई? हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें. Submit Reset तेरहवां सवाल –  सौभाग्य योजना के तहत कितने बिना बिजली वाले परिवारों को कवर किया जाएगा। सिंह ने उद्योग से आने वाले वर्ष में बिजली क्षेत्र में निवेश का आह्वान करते हुए कहा कि उच्च आर्थिक वृद्धि दर वाली अर्थव्यवस्था के मद्देनजर बिजली की मांग बढ़ने जा रही रही है. उन्होंने कहा, ‘‘मैं उद्योग से देश के ऊर्जा क्षेत्र में निवेश की अपील करता हूं.....’’ सरकार देश में सभी गांवों को बिजली पहुंचाने के लिये जोर-शोर से काम कर रही है. साथ ही मार्च 2019 तक सातों दिन 24 घंटे बिजली का लक्ष्य हासिल करना चाहती है. इन्द्रजीत महतो गढ़वाल अंतिम संस्कार में शामिल हुए मुख्यमंत्री प्रश्नपत्र IV गलती कंपनियों की, भुगते जनता अटल जी को श्रद्धांजलि देते वक्त भावुक हुए जावेद अख्तर मोदी द्वारा ज़ोर-शोर से शुरू की गईं विभिन्न योजनाओं की ज़मीनी हक़ीक़त क्या है? सेहत रिव्यु Caricature of the Day संध्या पूजा करते समय बरतें ये सावधानियां, होंगे कई लाभ सरकार की ओर से जारी आधिकारिक बयान में कहा गया है कि सबसिडी की राशि बिजली कंपनियों के खाते में भेज दी जाएगी। इसे बिजली कंपनियां उपभोक्ताओं के बिल से समायोजित कर लेंगी। साथ ही, बिजली कंपनियों को सूचित कर दिया गया है कि उपभोक्ताओं को सबसिडी का वास्तविक लाभ मिलने की बात पुष्ट करने के लिए सरकार बिजली कंपनियों का किसी स्वतंत्र एजेंसी से विशेष ऑडिट करा सकती है। #Monsoon किस वजह से गोलवलकर ने थपथपाई थी युवा अटल की पीठ अगर लोग बीफ खाना छोड़ दें तो रुक जाएंगी मॉब लिंचिंग की घटनाएं- आरएसएस नेता इंद्रेश कुमार कोटा: पहले भजन-हवन और अब जलस्तयग्रह का लिया सहारा, बिजली कंपनी के खिलाफ प्रदर्शन जारी टाटा पावर दिल्ली डिस्ट्रीब्यूशन के सीईओ और ईडी प्रवीर सिन्हा का कहना है कि दिल्ली सरकार का बिजली सस्ती करने का फैसला काफी अच्छा और ग्राहकों के हित में है। हालांकि पिछले कुछ सालों में कोयला, गैस और ढुलाई भाड़ा बढ़ने के कारण बिजली की कीमतों में बढ़त हुई है। फिलहाल कंपनी 5.45 रुपये प्रति यूनिट की लागत के मुकाबले 6.5 रुपये प्रति यूनिट पर बिजली बेचती है। By admin October 10, 2016 नियम और नीतियां pallavi kumari | Noida, Uttar Pradesh, India अनार (Pomegranate) डीएओ और आईसीओ पर सीईसी के नियम, समझाया नॉटिंघम| इंग्लैंड से पहले दो टेस्ट Powered by Gadgets Updates Hindi | Designed by Gadgets Updates Team इलेक्ट्रिक चॉइस - इलेक्ट्रिक कंपनी प्रदाता इलेक्ट्रिक चॉइस - ह्यूस्टन बिजली इलेक्ट्रिक चॉइस - वाणिज्यिक बिजली दरें
Legal | Sitemap