दिल्ली में DTC कर्मचारियों ने मनाया शोक दिवस, कराया मुंडन अपने ब्राउज़र की Cookies को clear करें | हरियाणा में पहली बार बिजली कंपनियां घाटे से उबरकर लाभ की स्थिति में आई हैं। लाइनलॉस कम होने के साथ ही पिछले साल के 193 करोड़ रुपये के घाटे के विपरीत इस साल बिजली कंपनियों को 115 करोड़ रुपये का लाभ हुआ है। इससे जहां बिजली कंपनियां उत्साहित हैं, वहीं सरकार ने इसका लाभ उपभोक्ताओं को देने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल चाहते हैं कि बिजली के रेट कम किए जाएं, लेकिन साथ ही उन्होंने बिजली कंपनियों को निर्देश दिए हैं कि पहले उत्पादन की बाधाओं को दूर किया जाना चाहिए। सदर विधायक सबसे ज्यादा राजस्व जमा करने वाले एनसीआर और पश्चिमांचल के उपभोक्ताओं को विद्युत नियामक आयोग ने दस फीसदी अतिरिक्त बिजली सप्लाई का तोहफा देने का फैसला किया है। आयोग के चेयरमैन देश दीपक वर्मा ने पावर कॉरपोरेशन प्रबंधन को तय शिडय़ूल से दस फीसदी ज्यादा बिजली सप्लाई की सलाह दी है। चेयरमैन ने लाइन लॉस कम करने का लक्ष्य पूरा करने के लिए पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम के अफसरों को बधाई दी है। UPPSC का आवेदन हुआ शुरू, इच्छुक उम्मीदवार कर सकते है 2 अगस्त तक आवेदन स्थानांतरण योजना किसान संघ की विचारधारा से दूध में शक्कर की तरह घुले मिले थे वाजपेयी: शिवसेना सवाई माधोपुर अटलजी नकारात्मक सोच से हमेशा दूर रहे, उनके व्यंग्य पर लोग तिलमिलाते तो जरूर थे, पर आहत नहीं होते: लालकृष्ण आडवाणी 14 mins एक लाख की जनसंख्या वाले शहर में 29 हजार लोगों को असंगठित मजदूर तो बना दिया गया लेकिन जिन बिजली योजनाओं का फायदा लेने के लिए ये मजदूर बने थे उन योजनाओं में केवल 11 हजार लोग ही जुड़ पाए हैं। अधिकांश असंगठित पंजीकृत मजदूर बिजली कंपनी के दायरे में ही नहीं आ रहे हैं। इस कारण वे योजना से नहीं जुड़ पाए हैं। नपा में असंगठित मजदूरों के रजिस्ट्रेशन के लिए रोज लंबी कतारें लग रही हैं। अब तक 29 हजार लोग असंगठित मजदूर बन गए हैं। 29674 असंगठित मजदूर बनने के बावजूद बिजली योजनाओं का लाभ केवल 11679 लोगों को ही मिला है। अधिकांश असंगठित मजदूर इन बिजली योजनाओं के फायदे से दूर हैं। बिजली बिल माफी योजना में 6684 चौथा एक-दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच Akhilesh Shukla | Publish: Jun, 18 2018 02:18:23 PM (IST) Shahdol, Madhya Pradesh, India Svenska यूपी में आज से महंगी हुई बिजली, गांव व शहरों के लिए अलग-अलग दरें, देखें-कितनी ढ़ीली करनी होगी जेब 0 COMMENT ग्रामीण क्षेत्रों में 2 से 5 किलोवाट तक कनेक्शन लेने वालों को 60 रुपये प्रति किलोवाट जमा करना पड़ता था, जबकि शहरी क्षेत्रों में 2 किलोवाट से ऊपर और 5 किलोवाट से कम के कनेक्शन के लिए 150 रुपये प्रति किलोवाट जमा कराया जाता था।  बिजली बनाने के कई तरीके हैं. कोयले से बिजली बनती है, हवा से, सूरज की गर्मी से. हम ढेर सारी बिजली बना तो लें लेकिन बना कर उसे स्टोर कहां करें? क्या पहाड़ी गुफाएं इसमें मदद कर सकती हैं?     वित्त मंत्री ने विभाग के अधिकारियों से क्षेत्र के सभी 17 फीडरों बारे विस्तृत जानकारी ली तथा अधिकारियों को निर्देश दिए कि इन सभी फीडरों पर लाइन लॉस कम करवाने के प्रयास करें। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के कुछ फीडरों पर लाइन लॉस 20 प्रतिशत से कम कर लिया जाता है तो ये क्षेत्र के अन्य गांवों के लिए एक मिसाल होंगे। इससे लोगों को इस योजना में शामिल हुए फीडरों से होने वाले फायदों का पता चलेगा। हरिणा पंचायत मुखिया पंचतत्व में विलीन हुए “अटल बिहारी” | दत्तक पुत्री नमिता ने दी मुखाग्नि एटा बीबीसी के बारे में Contact us: [email protected] 12/07/2010 - 15:50 मैच से पहले बोल कप्तान कोहली, जीत के अलावा कोई दूसरा ऑप्शन नहीं सामान्य / विश्लेषणात्मक पहचान दो दिवसीय बैठक में 1,850 करोड़ रुपये के सालाना बजट आैर 18 नई परियोजनाओं को मंजूरी दी गई। बजट में बड़े पावर प्रोजेक्ट बीएचईपी-2, परनई, लोवर कलनई, नया गांदरबल, किरथई 1, किरथई 2, पहलगाम, हानू, दाह और साझा उपक्रम के तहत कीरु, कावर व पाकलडल प्रोजेक्ट में इक्विटी निवेश शामिल है। घोषणाएँ रिकॉर्ड समय में खाताबंदी को हासिल कर चुके बगलिहार स्टेज 2 के लिए बोर्ड ने पीएफसी और जेएंडके बैंक के साथ समझौता करने का निर्णय किया है। जेकेएसपीडीसी को 2,179 करोड़ का कर्ज हासिल होगा। Sport Search query Search Twitter मिनी इंडस्ट्री के लिए कनेक्शन पर बिजली दर 5.73 रुपये से घटाकर 5.50 रुपये प्रति यूनिट कर दी गई है. a week ago न्यूज़ नया हरियाणा उत्तर प्रदेश सरकार ने निकाय चुनाव के बाद राज्य में बिजली की दर बढ़ाने का फैसला किया है। विपक्षी पार्टियों ने सरकार के इस फैसले का विरोध किया है। देखिए सबसे बड़ा मुद्दा... Follow Follow @JarnailSinghAAP Following Following @JarnailSinghAAP Unfollow Unfollow @JarnailSinghAAP Blocked Blocked @JarnailSinghAAP Unblock Unblock @JarnailSinghAAP Pending Pending follow request from @JarnailSinghAAP Cancel Cancel your follow request to @JarnailSinghAAP Clearing the confusion about the coating and material of the tank in water heaters Tags: Haryana Government Mhara village Jagmag village पूर्व PM अटल बिहारी वाजपेयी का कल होगा अंतिम संस्कार सेवाऍं धनबाद: श्री श्री ठाकुर अनुकूल चंद्र जी का मनाया गया 130वां जन्‍मोत्‍सव योर मनीः छात्रों के लिए बचत और निवेश के टिप्स जानें क्यों मनाते हैं हरियाली तीज, इससे जुड़े रोचक तथ्य जमीनी विवाद में मारी गोली, मौके पर मौत प्रयोक्ता इंटरफ़ेस अध्यक्ष जिला परिषद् एयर इंडिया पायलटों की धमकी- अगर बकाया उड़ान भत्ता नहीं चुकाया तो फ्लाइट ऑपरेशंस रोक देंगे 21 mins मोटिवेशन/मनोरंजन Languages:    हिन्दी    English 20-Jan-16 10:32 उपकेन्द्र स्वचालन प्रणाली प्रयोगशाला नश्तर # News शिक्षा विभाग के अपर सचिव पर हाईकोर्ट ने लगाया 5 लाख का जुर्माना घरेलू और कॉमर्शियल उपभोक्ताओं को अब पांच किलोवाट तक बिजली कनेक्शन लेने के लिए कम राशि जमा करनी होगी। राज्य विद्युत नियामक आयोग ने नए कनेक्शन के साथ जमा कराने वाले सिस्टम लोडिंग चार्ज को समाप्त कर दिया है।  # Haryana Electricity Prices Health & Fitness प्रकाश अग्रवाल स्पोर्ट्स कृषि एवं सिंचाई 1  5.79 4.29 1.50 4.07 1.50 कहा था न, जो बिजली कंपनी के मालिक से चंदा ले कर सरकार बनाते हैं,वो बिजली कंपनी की कमाई बढ़ाने के लिए काम करते हैं, पर आप की सरकार तो आप सब की ईमानदार कमाई से मिले चंदे और वोट से बनी है इसलिए काम भी कर रही है आपके लिए "दिल्ली सरकार, आप की सरकार" @AamAadmiParty @ArvindKejriwalpic.twitter.com/KNYk7MqqVA पंजाब केसरी स्पेशल Follow Follow @JarnailSinghAAP Following Following @JarnailSinghAAP Unfollow Unfollow @JarnailSinghAAP Blocked Blocked @JarnailSinghAAP Unblock Unblock @JarnailSinghAAP Pending Pending follow request from @JarnailSinghAAP Cancel Cancel your follow request to @JarnailSinghAAP असंगठित क्षेत्र का कल्याण Agenda Aajtak सोलर पावर कंपनियों के बीच छिड़ेगी प्राइस वार भारत में खुला आइकिया का पहला स्टोर सोने की गिन्नी (GOLDGUINEA) सुभाष ठाकुर ने कहा-  अटल बिहारी वाजपेयी का हिमाचल से था विशेष लगाव Privacy Policy बिजली निगम के सुपरिटेंडेंट इंजीनियर मुकेश गुप्ता का कहना है कि यह माफी तभी मिलेगी जब वह एक साल तक नियमित तौर पर बिल अदा करते रहेंगे। अगर करोड़ों रुपये के बकाया बिल की रिकवरी हो जाती है तो शहर में पावर हाउस सहित बिजली लाइनों के की मरम्मत आसानी से हो सकेगी। राजस्व बढ़ने के साथ ही बिजली यूनिट भी सस्ती हो सकती है। इससे लोगों को गर्मी में पर्याप्त बिजली भी मिल सकती है। विभाग ने संकेत दिए हैं कि घाटे का सौदा लंबे समय तक सहन नहीं कर सकते हैं। रिमाइंडर के बाद बकाया वसूल नहीं होता है तो कनेक्शन काटने की प्रक्रिया पर विचार किया जाएगा। अगर कोई विभाग शर्त पर खरा नहीं उतरता है तो उसे इस स्कीम का फायदा नहीं मिलेगा। सरकारी विभागों पर करोड़ों के बकाया से पब्लिक पर गलत असर पड़ता है। लखनऊ में झमाझम बार‍िश के आसार, गर्मी से म‍िल सकती है राहत आपका संदेश   July 18, 2018 खुल्लम खुल्ला दूसरा टी-20 अंतरराष्ट्रीय भारत के जिले CrazyFreelancer शक्तिपीठों में श्रावण अष्टमी मेले शुरू, जानिए इस बार का नया ट्रैफिक... Best Air Purifiers in India, Reviews and Buying Guide सूची अगले दो वर्षों के लिए योजना का बजट 17,000 करोड़ रु है। Gaya सोलर पावर से बनी बिजली कोयले से सस्ती अन्य राज्य कुलदीप यादव को प्लेइंग इलेवन में शामिल करना गलती : रवि… Storyboard Copyright and Usage Personal tools योजना के आसान और त्वरित कार्यान्वयन के लिए, आधुनिक तकनीक का उपयोग मोबाइल ऐप का उपयोग करके घरेलू सर्वेक्षण के लिए किया जाएगा। जिससे लाभार्थियों की पहचान की जाएगी और आवेदक तस्वीर और पहचान प्रमाण के साथ बिजली कनेक्शन के लिए उनका आवेदन स्थान पर दर्ज किया जाएगा Hindi News »Madhya Pradesh »Neemuch» 1.25 लाख उपभोक्ताओं को मिलेगी सस्ती बिजली 108 एंबुलेंस ने ऑटो को मारी टक्कर, महिला की मौत, चालक काबू RC Desk2, November 08,2017 09:10:04 AM UKPSC शहीदों के परिवारों के लिए हमेशा हीरो ही रहेंगे वाजपेयी पड़ताल: बिना अध्यापकों के कैसे पढ़ रहे हैं बच्चे? 3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान अग्रवाल ने कहा कि गरीबों को बिजली का मुफ्त कनेक्शन दिया जाएगा, जिससे करीब 2 करोड़ उपभोक्ता बढ़ेंगे. केरल में बाढ़ से बिगड़े हालात, PM मोदी का हवाई सर्वे हो सकता है रद्द Italy 4880804 Wind जब अटलजी ने लता मंगेशकर के अस्पताल का उद्घाटन करने से कर दिया था इनकार 8 mins 0 Like 0 Dislike तहसीलदार का ध्वजारोहण, चेयरमैन नाराज होकर लौटे हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application शिमला में बारिश का कहर: कहीं भूस्खलन, कहीं मलबे में दबी गाड़ियां... മലയാളം जौनपुर Previous articleपत्नी का इलाज कराने जा रहे बाइक चालक की सड़क हादसे में दर्दनाक मौत तडित निरोधक 492 Views अटलजी के नाम पर मोदी सरकार ने शुरू की थी ये योजना, हर महीने 210 रुपए देकर पा सकते हैं 5,000 तक की गारंटीड पेंशन टेक गाइड ह्यूस्टन में ऊर्जा कंपनियों - विद्युत प्रदायक बदलें ह्यूस्टन में ऊर्जा कंपनियों - और अधिक जानकारी प्राप्त करें ह्यूस्टन में ऊर्जा कंपनियों - कम लागत बिजली प्रदाता
Legal | Sitemap