5 किलोवाट से अधिक और 50 किलोवाट या 56 केवीए तक के लोड के लिए 300 रुपये प्रति किलोवाट सिस्टम लोडिंग चार्ज जमा कराया जाता था। अब 5 किलोवाट तक कोई सिस्टम लोडिंग चार्ज नहीं देना होगा। अलबत्ता 5 किलोवाट से ऊपर के कनेक्शन के लिए पहले की ही तरह 300 रुपये प्रति किलोवाट के हिसाब से सिस्टम लोडिंग चार्ज जमा कराया जाएगा। हस्तरेखा ज्योतिष: ऐसी रेखा हो तो बहुत ख्‍याल रखती है पत्‍नी BIG BREAKING : बिहार के 3 लोगों की तेलंगाना में दर्दनाक मौत आपूर्ति की क्षमता: 70,000 पीसी प्रति माह The page that you are looking for cannot be found. चांद बिहारी अग्रवाल : कभी बेचते थे पकौड़े, आज इनकी जूलरी पर है बिहार को भरोसा नियमित बिजली बिल भरने वाले उपभोक्ताओं पर पड़ेगा भार केरल बाढ़: अब तक 324 लोगों की मौत, 20 हजार... By Kamlesh Bhatt जामताडा राजस्थान पी.सी.एस. और पढ़ें Places एमएनआरई द्वारा जारी ऑनलाइन टेंडर के लिए कंपनियों के बीच प्रतिस्पर्धा देखने को मिली है। 10 कंपनियों ने 5 रुपए प्रति यूनिट से कम की बिड लगाई है। वहीं, 15 एसी कंनियां थी, जिन्होंने 5.5 रुपए प्रति यूनिट से कम की बोली लगाई है। एनटीपीसी द्वारा 3 नवंबर को कराए गए ई-रिवर्स ऑक्शन में 500 मेगावाट (50-50 मेगावाट के 10 प्रोजेक्ट्स) के लिए बोलियां मांगी गई थीं। इसके तहत आंध्र प्रदेश के घानी में सोलर पार्क की स्थापना की जाएगी। इस प्रोजेक्ट के लिए 30 कंपनियों ने बोलियां लगाई थीं। नई दिल्ली: दिल्ली में बिजली के दाम घट गए हैं लेकिन फिक्स चार्जेस बढ़ा दिए गए हैं. घरेलू बिजली की दरें  एक से डेढ़ रुपये प्रति यूनिट कम की गईंहैं. दिल्ली बिजली नियामक प्राधिकरण (डीईआरसी) की बुधवार को हुई बैठक में यह फैसला लिया गया. टेस्ला के शेयर में 9% गिरावट, शॉर्ट-सेलर्स ने कमाए 7000 करोड़ रुपए; इलोन मस्क के इंटरव्यू के बाद टूटा शेयर 55 mins Regional Party BJP एटीएम से असीमित नि:शुल्क निकासी के लिए दायर याचिका दिल्ली हाईकोर्ट ने खारिज की मुआवजे को लेकर ग्रामीणों ने कुआंखेड़ा रोड पर शव रखकर जाम लगा दिया। सूचना पर पुलिस और टोरंट अधिकारी पहुंच गए। पुलिस ने समझा बुझाकर ग्रामीणों को शांत किया और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।  Ελληνικά आदेश असंगठित क्षेत्र का कल्याण DW और आप एक साथ 15 यात्रियों को सफर कराएगी टाटा की नई Winger सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, सास-बहू अपने घर में चला रही थीं देह व्यापार का धंधा बेगूसराय: गया के डॉक्टर दंपत्ति कांड को लेकर आक्रोशित तैलिक वैश्य समाज ने दिया धरना June 27, 2018 दीपक कुमार दास     वित्तमंत्री ने कहा कि जून-2005 के बाद जिन लोगों ने अपना बिल नहीं भरा है ऐसे गांव बिल भरने के लिए स्वयं आगे आकर अपनी मूल बकाया राशि का भुगतान कर सकते हैं। इसके तहत जिन घरों का लोड एक किलोवाट है वे 1440 रुपये प्रति वर्ष की दर से एकमुश्त अदायगी कर अपने बकाया का निपटान करवा सकते हैं। इसी तरह यदि किसी का लोड दो किलोवाट है तो वे प्रतिवर्ष 2880 रुपये की दर से अपना बकाया निपटा सकते हैं। इसके लिए वे मूल राशि को भी किस्तों में जमा करवा सकते हैं। वित्त मंत्री ने कहा कि गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवार बिजली कनेक्शन कटने उपरांत यदि छह माह के भीतर दोबारा कनेक्शन करवाना चाहते हैं तो उनसे कोई चार्ज नहीं लिया जाएगा। 43 Comments 2017, PM Free Bijli ConnectionYojana, PM Saubhagya Scheme Free Electricity Connection, Pradhan Mantri Sahaj Bijli Har Ghar Yojana बिग ब्रेकिंग न्यूज़ सिवान ऑफिस ऑफ प्रॉफिट केस में AAP विधायकों को दिल्ली हाई कोर्ट से राहत ग्राम बेगूसराय में फांसी पर झूला युवक, वीडियो फेसबुक पर लाइव हो रहा था शेयरिंग के बारे में Facebook © 2018 June 14, 2018 मनमोहन सिंह के कार्यकाल में हासिल हुई थी दहाई अंक में विकास दर: रिपोर्ट सगाई से पहले देर रात हाथों में हाथ डाले दिखे निक और प्रियंका, परिवार संग डिनर डेट को किया एन्जॉय इतिहास: जब केवल दो दिन में हुआ पांच दिन के टेस्ट मैच का फैसला 5 2016-17 2704 करोड़  दिवाकर ने कहा, ''शिक्षा पर भी जीएसटी कर नहीं लगेगा. ऐसे में शिक्षा का निजीकरण बढ़ेगा. कोई कैसे मान ले कि प्राइवेट स्कूलों की कमाई नहीं होती है? और अगर होती है तो फिर इन्हें जीएसटी के दायरे में क्यों नहीं लाया गया? जीएसटी पूंजीपतियों के हिसाब से मार्केट बनाने की प्रक्रिया है.'' Lifestyle दीपिका पादुकोण Cookie Policy| 5/6 हॉकी PREV प्रवेश संरक्षण प्रयोगशाला अ ************************************************************************************ असिस्टेंट विजिलेंस ऑफिसर: 14140-39760 रुपये facebook अलविदा अटलजीः प्रोटोकॉल तोड़कर पांच किमी पैदल चले पीएम नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना, सौभाग्य फ्री बिजली कनैक्शन Md. Saheb Ali Accessibility Help यहां स्थिति बेहतर इसमें कैरेज और कंटेट (वितरण नेटवर्क और बिजली आपूर्ति) कारोबार को अलग करने का भी प्रावधान होगा। जिस प्रकार हमने उत्पादन और वितरण को अलग किया, अब आपूर्ति और वितरण कारोबार को अलग-अलग करना है। मसौदा मेरे पास अगले चार-पांच दिन में आ जाएगा। हम संसद के बजट सत्र में इसे पारित कराने की कोशिश करेंगे। वितरण और आपूर्ति कारोबार को अलग करने से नई व्यवस्था आएगी। इससे ग्राहकों के पास बिजली खरीदने के लिए अपने क्षेत्र में बिजली की अपूर्ति करने वाली एक से अधिक कंपनियों के बीच चुनाव करने का विकल्प उपलब्ध होगा। यह उसी प्रकार होगा जैसा कि दूरसंचार सेवा क्षेत्र में है। विस्तृत जानकारी के लिए आपके जिले में स्थित प्राथमिक सहकारी भूमि विकास बैंकों/शाखाओं से सम्पर्क करें। Follow Oneindia Hindi आईएफएस Next 392 Views टावर परीक्षण केंद्र शनि देव की पूजा के ये 4 आसान उपाय खोल देते हैं किस्मत का दरवाजा 41 mins संस्थागत दिल्ली कांग्रेस ने बिजली सस्ती करने के केजरीवाल सरकार के दावों को जनता से खिलवाड़ करार दिया है. कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि नई कीमतों से बिजली सस्ती नहीं बल्कि महंगी हुई है और ये कदम प्राइवेट कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए उठाया गया है. इस पोस्ट को शेयर करें Messenger ← पिछला पेज Why Bijli Bachao? आपदा प्रबंधन RC Desk2, November 11,2017 09:59:16 PM बिजली कनेक्शन के लिए नया कानून जल्द प्रारंभिक रिपोर्ट में प्रक्रिया की कमी बताया गया है, जिसे दूर किया जा रहा है. जहां-जहां बिजली चोरी की शिकायतें थी, वहां चेक मीटर लगाया गया है, जिसके बाद से बिजली के खपत में कमी आयी है. इससे पुष्टि हो गया है कि लीकेज थी. एचटी लाइन में मुख्यालय स्तर से रीडिंग की मोनिटरिंग की व्यवस्था होगी तथा किसी की भी रीडिंग देखी जा सकेगी. कहा कि जिले में 53 हजार घरों में बिजली पहुंचानी बाकी है, जिसे सौभाग्य योजना से दिसंबर से पहले तक बिजली पहुंचायी जायेगी. शहरी क्षेत्र में बिजली व्यवस्था में सुधार के लिए एक योजना चलायी जा रही है. BMW लाई फेस्टिव ऑफर, मिलेगा ये शानदार फायदा पूनम पाण्डे ॥ नई दिल्ली मीडिया गैलरी Add your thoughts about any Tweet with a Reply. Find a topic you’re passionate about, and jump right in. सावन मास के चंद्र दर्शन पर इस शुभ मुहूर्त में करें पूजा, दूर होंगे सारे कष्ट कैरियर / कोर्सेज वेबसाइट नीति अरुण कुमार मानते हैं कि जीएसटी लागू करने का दबाव मल्टिनेशनल कंपनियों की ओर से भी था. उन्होंने कहा कि ये नहीं चाहते थे कि उन्हें भारत के अलग-अलग राज्य में अलग-अलग टैक्स से जूझना पड़े. हालांकि इससे छोटे व्यापारियों पर असर पड़ सकता है. #एशियन गेम्स फेसबुक पर हमारा अनुसरण करें FOLLOW (3) धर्म-अध्यात्म धर्म क्षेत्र दूरभाष निदेशिका ललितपुर Your email address Advertorial4 day ago Updated: 03 Jul, 2018 11:26 PM अन्य सेवाएं : अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी -सिंदरी The "ONEINDIA" word mark and logo are owned by One.in Digitech Media Pvt. Ltd. राज्य शासन की ओर से बीपीएल उपभोक्तओं के बिल माफ करने की घोषणा से ही जून माह में बड़ी संख्या में उपभोक्ताओं ने बिल जमा नहीं किए हैं। माफी योजना का लाभ लेने के लिए उपभोक्ता बिल जमा नहीं कर रहे हैं। कोटा: पहले भजन-हवन और अब जलस्तयग्रह का लिया सहारा, बिजली कंपनी के खिलाफ प्रदर्शन जारी Radar SUBSCRIPTION डॉ. ढाल सिह बिसेन को चिंतपूर्णी में दंडवत होकर पहुँच रहे श्रद्धालु सुनील ग्रोवर ब्यूरो/अमर उजाला आगरा Updated Wed, 27 Dec 2017 08:27 PM IST मणिपुर हुंडई ने जारी किया AH2 (सैंट्रो) का रेंडर डिजाइन # Free Electricity Scheme Atalji Last Rites www.pressnote.in 01 मई 2018, 12:01 AM Hindustantimes.com नोट: बिहार राज्य का टैरिफ वर्ष 2017-18 के लिए है, जबकि अन्य राज्यों का टैरिफ वर्ष 2016-17 पर आधारित है.  SIGN IN दरीदा पंचायत मुखिया पत्रिकाएँ Are You a Political Leader ? दुनिया की सबसे बड़ी न्‍यूक्लियर साइट DB Live वेबसाइट नीति इंग्लैंड केरल में बारीश का कहर जारी, मरने वालों की संख्या हुई 39 लोन रिजॉल्यूशन के लिए लैंको, JP समेत 11 प्लांट्स का टेकओवर करेंगे बैंक अजमेर जिला परिषद में आयोजित हुई स्वच्छता पर कार्यशाला स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं जानकारी के अनुसार बिजली कंपनी के विरोध में महिलाओं ने बुधवार को  प्रदर्शन किया। यह प्रदर्शन पार्षद राखी गौतम के नेतृत्व में किया गया। सैकड़ों की संख्या में महिलाओं ने बीएसएनल सर्किल से बिजली ऑफिस तक रैली निकाली। इस दौरान महिलाएं कपड़े धोने में उपयोग आने वाला धोवना लेकर जमकर नारेबाजी करती रहीं। यह रैली जब बिजली कंपनी के ऑफिस पहुंची तो इन महिलाओं ने बिजली कर्मचारियों को गुलदस्ते भेंट किए। कोई जमा के साथ सस्ता बिजली - और अधिक जानकारी प्राप्त करें कोई जमा के साथ सस्ता बिजली - कम लागत बिजली प्रदाता कोई जमा के साथ सस्ता बिजली - बिजली कंपनियों स्विच करें
Legal | Sitemap