SIgn In सस्ती बिजली की राह में रोड़ा बनीं कोयला कंपनियां 1999016990खरीदे शुद्ध पेयजल की कमी के कारण जलजनित रोग सबसे अधिक जानलेवा 16/08/2018 Cricket News in Hindi मनोरंजन की खबरें Hmm, there was a problem reaching the server. Try again? भारत में बिजली की कमी के बीच जानकार शंका जता रहे हैं कि जिस देश में बिजली की किल्लत है वहां बिजली की कार ज्यादा सफल नहीं होगी. लेकिन महिंद्रा को भरोसा है कि ये शंकाए बेवजह हैं. तिरछी नज़र डी एन पी 3 प्रयोगशाला ओपिनियन बीते कुछ वर्षों में बिजली कंपनियों ने विद्युत उत्पादन कर रही कंपनियों से महंगी दरों पर बिजली खरीद की, जिसके चलते करोड़ों रुपए का अतिरिक्त भार कंपनियों पर पड़ा है। वहीं अब घाटे और वित्तीय भार की भरपाई कंपनियां प्रदेश के बिजली उपभोक्ताओं से कर रही हैं। प्रदेश में राष्ट्रीय औसत से ज्यादा दरों पर हो रही बिजली खरीद बिजली कंपनियों के संचित घाटे को बढ़ा रही है वहीं छीजत और चोरी रोकने में नाकाम रही बिजली कंपनियों ने घाटे की भरपाई बिजली उपभोक्ताओं पर डालने की कार्यशैली अपना ली है।  November, 2015 जल्द ही ‘नागिन 3’ में होगी प्रिंस नरुला की एंट्री इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में कृषि और गैर-कृषि उपभोक्ताओं को विवेकपूर्ण तरीके से विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करना सुलभ बनाने के लिए कृषि और गैर–कृषि फीडर सुविधाओं को अलग–अलग किया जाएगा। इसके साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में वितरण और उप - पारेषण प्रणाली को मजबूत किया जाएगा जिसमें वितरण ट्रांसफार्मर, फीडर और उपभोक्‍ताओं के लिए मीटर लगाना सम्मिलित होगा। जॉन अब्राहम की बॉडी बनवाई इस शख्स ने 6 पैक्स एब्स के बारे में ये सीक्रेट्स किए शेयर 7 mins May 3, 2018 मूल संरचना Skip to main content अलविदा अटलजीः प्रोटोकॉल तोड़कर पांच किमी पैदल चले पीएम नरेंद्र मोदी पश्चिम छोड़ यूपी में बिजली हुई सस्ती इंदौर - पानी की बचत, असमतल भूमि पर भी खेती सिंचाई क्ष्त्रो का विस्तार, फव्वारे द्वारा सिंचाई के साथ ही फसलों पर कीटनाशक दवा का छिड़काव भी संभव- अनुदान योग्य केसेज में अनुदान सुविधा ऋण 10 से 15 वर्ष 11 माह की अनुग्रह अवधि की अवधि । VIDEO: पुल पर कार्य के चलते लग रहा घंटों तक जाम, नहीं की गई वैकल्पिक व्यवस्था अजब-गजब : बंदरों ने फेंका सुतली बम, विस्फोट में तीन लोग घायल 1152 कहाँ रुकना है सतर्कता Starry Talks परीक्षण क्रियाकलाप Wishes बिहार                               100                  3.85 रुपए Source: त्वरित संपर्क झारखंड पहला पन्‍ना English लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप औद्योगिक क्षेत्र के लिए मात्र सात फीसदी बढ़ायी गयी दर   बिजली कंपनियों के घाटे की पड़ताल नहीं की गई और हर साल कंपनियां अपने घाटे को कानूनी जामा पहनाती जा रही हैं, लेकिन सरकार की लापरवाही की वजह से उनका दावा कानूनी तौर पर पुख्ता हो रहा है, Issue Details: Save Electricity बिल्ल्होर Tags: Final Report Gorakhpur Final Report news Gorakhpur Gorakhpur City News Gorakhpur Final Report Gorakhpur Local News Gorakhpur News in Hindi Latest Gorakhpur News रांची : जनहित में बिजली दर कम करें, नहीं तो होगा जन-आंदोलन- सुबोध कांत सहाय  Survey एटा बोतलबंद पेय पर 28 प्रतिशत का कर लगेगा। हालांकि, बीडी, सोना, फुटवियर तथा ब्रांडेड उत्पादों के लिए कर की दरों पर कल फैसला होगा। कोयले पर कर की दर पांच प्रतिशत होगी, जबकि अभी इस पर 11.69 प्रतिशत का कर लगता है। इससे बिजली उत्पादन सस्ता होगा। जेटली ने संवाददाताओं से कहा, 'हमने (आज की बैठक में) ज्यादातर वस्तुओं के लिए कर दरों व छूट सूची को अंतिम रूप दे दिया है। ArchiveNews शक्तिपीठों में श्रावण अष्टमी मेले शुरू, जानिए इस बार का नया ट्रैफिक... Jaipur,India अर्थजगत इकोनॉमी इंटीरियर डैकोरेशन सलमान के कॉपी लव त्यागी ने बदल लिया है अपना अंदाज़ 4- आईसीएसए (इंडिया) लिमिटेड, हैदराबाद मुख्यमंत्री स्थायी कृषि पंप कनेक्शन योजना के नये प्रावधान परामर्श सेवाएँ ट्विंकल बोलीं- सैनिटरी पैड पर GST नहीं, एक अलार्म दे दीजिए चर्चित विडियो इंफ्रास्ट्रक्चर आपका संदेश   9- केएमजी एटूजेड सिस्टम प्राइवेट लिमिटेड, नोएडा पटना | March 22, 2016 2:15 AM Download Our Android App News2018-07-17T12:09:14 अजीबो-गरीब खबरें नवांशहर/रूपनगर  Share विद्युत मंत्रालय में इकाई-वार कार्य का आबंटन अभी सिंचाई कार्यों के लिए 70 पैसे से 1.20 रुपये प्रति किलोवाट की दर  निर्धारित है. आयोग ने इसके लिए बिजली दर बढ़ा कर पांच रुपये प्रति यूनिट  निर्धारित कर दिया  बिजनेस विज्डम डेटा अभी उपलब्ध नहीं है कृपया कुछ समय पश्चात प्रयास करें. इस अवसर पर बसपा सुप्रीमों मायावती ने कहा कि एक तरफ  से तो पूरे प्रदेश में बिजली की भारी कमी के कारण लोगों में हर तरफ हाहाकार मचा हुआ है और दूसरी तरफ  बिजली की दरों में भारी वृद्धि करके प्रदेश की आमजनता को काफी ज़्यादा मुसीबत में डाला जा रहा है। ख़ासकर घरेलू उपयोग में आने वाली बिजली की दर को 17 प्रतिशत तक मंहगी करके जनविरोधी’’ काम किया गया है। इससे शहर में रहने वाले करोड़ों उपभोक्ताओं को इस मंहगाई का सामना सीधे तौर पर करना पड़ेगा।     कैप्टन अभिमन्यु ने इस मौके पर अधिकारियों के साथ नारनौंद क्षेत्र की समस्याओं पर भी विचार किया। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सिसाय क्षेत्र में स्टाफ की कमी को रेशनलाइजेशन नीति के तहत दूर करवाएं। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिन लोगों ने तत्काल योजना के तहत बिजली कनेक्शन के लिए आवेदन किया है उनको आवेदन करने के 30 दिनों के भीतर हर हालत में कनेक्शन मुहैया करवाया जाए। यदि तत्काल कनेक्शन 30 दिन के भीतर उपलब्ध नहीं करवाए जाते हैं तो ऐसी स्थिति में संबंधित अधिकारी की जिम्मेवारी तय की जाए। 1999016990खरीदे Message in detail News18 इंडिया शो Desimartini.com डीआईसी करेगी विद्युत योजनाओं का अनुश्रवण Design & Developed by Information & Computer Section @2014 R.S.L.D.B. Ltd The total outlay of the project is Rs. 16, 320 crore while the Gross Budgetary Support (GBS) is Rs. 12,320 crore. The outlay for the rural households is Rs. 14,025 crore while the GBS is Rs. 10,587.50 crore. For the urban households the outlay is Rs. 2,295 crore while GBS is Rs. 1,732.50 crore. The Government of India will provide largely funds for the Scheme to all States/UTs. The States and Union Territories are required to complete the works of household electrification by the 31st of December 2018. ईरान परमाणु समझौते के क्रियान्वयन को लेकर प्रतिबद्ध : रूस अधिमान्यता इंटरव्यू राज्य सरकार की नीतियाँ बेगूसराय: पीड़ित शिवजी सहनी को देखने पटना पीएमसीएच पंहुचे धर्म राज... Privacy Policy | About Us | Contact Us Quick Rubric – Easily Make and Share Great-Looking Rubrics राज्यपाल संदेश Jump to जब अटल जी ने भाई की लिखी पहली कविता पढ़ी और इनाम सौंप दिया भाभी को related story लाइव सिटीज डेस्क : बिहार में मोतिहारी के एक प्रोफेसर को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को लेकर आलोचनात्मक फेसबुक पोस्ट करना महंगा पड़ गया. दरअसल, मोतिहारी के महात्मा गांधी सेंट्रल यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर संजय [...] चण्डीगढ़, 14 जून- हरियाणा सरकार ने राज्य में सूक्ष्म और लघु उद्यमों को सस्ती बिजली आपूर्ति प्रदान करने के लिए ‘पावर टैरिफ सब्सिडी योजना’ अधिसूचित की है। इस योजना के तहत, ‘सी’ और ‘डी’ श्रेणी खंडों में सूक्ष्म और लघु उद्यमों को बिजली कनेक्शन जारी करने की तिथि से तीन वर्ष के लिए दो रुपये प्रति यूनिट की पावर टैरिफ सब्सिडी प्रदान की जाएगी। ख़ास August 18,2018 10:27:33 AM श्रीलंका99/7(16.0) दिल्ली बिजली नियामक प्राधिकरण की बैठक में लिया गया फैसला नो पार्किंग में गाड़ी खड़ी करने वालों को नहीं छोड़ेगी पटना पुलिस, ठोकेगी 13 सौ का जुर्माना भी BIHAR अन्य खेल खबरें राशिधार्मिक स्थलव्रत / त्योहार जिज्ञासामंत्रवीडियो चौपाल जिला भाजपा महामंत्री एससी मोर्चा Agent Apply فارسی सिवनी फूड एंड ड्रिंक 2016-17 24,905 मिलियन यूनिट मारुति ने Swift के टॉप वेरि‍एंट में पेश कि‍या AGS, जानें फीचर्स मुख्य ख़बरे अधिसूचना परिपत्र 3- कूप गहरा योजना.. ऊर्जा मंत्रालय इस योजना के कार्यान्वयन प्राधिकरण होगा। केजरीवाल सरकार पर बिजली कंपनियों से मिली भगत का आरोप चुनाव 10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात 10 अगस्त 2018 निराश्रित महिलाओं हेतु पेंशन वितरण योजना बिजनौर आज के समाचार मुख्य खबरें Coconut Grove’s single-family neighborhoods are under assault. Tree canopy is shrinking, architectural variety is disappearing, lot sizes are being diminished, homes are being demolished and the… Read more फिलहाल इस योजना के लिये 12 हजार 320 करोड़ रुपए का बजटीय आवंटन किया गया है। स्‍कूली बच्‍चों ने जवानों को भेजे 51 हजार ग्रीटिंग कार्ड्स, ... अनंत में विलीन हुए अटल बिहारी वाजपेयी, कल होगा अस्थि विसर्जन हस्तरेखा We have sent you an OTP. Please confirm it for verfication विशेष दिवस कार्ड और खातों को लिंक बिजली कंपनी जून अंत तक कर लेगी। योजना के तहत असंगठित मजदूरों के कार्डधारी परिवारों के लिए 200 रुपए में पूरे महीने बिजली दी जाएगी। शासन ने असंगठित श्रेणी के मजदूरों के हाल ही में पंजीयन कराने के बाद कार्ड बनाए हैं, योजना के तहत भी कार्ड के नंबर से बिजली खातों को लिंक किया जाएगा। दुनिया की सबसे बड़ी बिजली कंपनी ईडीएफ द्वारा छह न्‍यूक्लियर प्‍लांट्स का समझौता करने के बाद भारत में परमाणु ऊर्जा कार्यक्रम फि‍र शुरू होगा। प्रियंका चोपड़ा ने दिखाई खास अंगूठी, कीमत और खूबियां जानकार हो सकते हैं हैरान.. नए आदेशों के अनुसार को सितम्बर माह से बिजली उपभोग राशि का भुगतान नई दरों से करना होगा। बिजली कंपनियों ने गठन के बाद सातवीं बार बिजली दरों में बढ़ोतरी की है। यही नहीं पड़ोसी राज्यों में तुलना में प्रदेश में बिजली दरों में प्रदेश अव्वल नंबर पर आ गया है।  सस्ते विद्युत आपूर्ति - इलेक्ट्रिक कंपनी की दरों की तुलना करें सस्ते विद्युत आपूर्ति - गैस आपूर्तिकर्ता सस्ते विद्युत आपूर्ति - सस्ता इलेक्ट्रिक कंपनी
Legal | Sitemap