वित्त वर्ष में वेतन से ज्यादा होगा पेंशन का भुगतान, जाने ख़ास वज़ह दिल्ली बिजली बोर्ड ने बिजली बिल का फिक्स्ड चार्ज बढ़ाकर बिजली की दरों में कमी कर दी, जिसका फायदा हर महीने 400 यूनिट बिजली खर्च करने वाले को होगा ऑफलाइन  कंपनी ने घोषित किया डिफॉल्टर, जब्त होगी बैंक गारंटी, 154 करोड़ का काम लेकर यूबी कंपनी पहले ही दे चुकी है झटका Trending Now 15 अगस्त 2015 को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 1,000 दिनों के भीतर सभी 18,452 विस्थापित विद्युत गांवों को विद्यमान करने की घोषणा की थी। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, आज देश में केवल 3,046 बसे हुए गांव विद्युतीकरण के लिए शेष हैं। जब वाजपेयी ने पाकिस्तान जाने से पहले टीम इंडिया से कहा, खेल ही नहीं दिल भी जीतिए   साइन इन करें 300 मीटर ऊंची उत्तर भारत की बुर्ज खलीफा बनकर तैयार, नजीब जंग का भी बनेगी ठिकाना 53 mins मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव कह चुके हैं कि प्रदेश भाजपा सरकार बिजली उपभोक्ताओं से देश में सबसे अधिक बिजली की दर वसूल रही है। श्री यादव ने कहा था कि बिजली के अनाप-शनाप बिलों को न दे पाने की वजह से किसानों को परेशान किया जा रहा है और सरकार उनके ट्रैक्टर, मोटर पम्प आदि जब्त कर रही है। झारखंड मिर्जापुर LIKE US ON विज्ञापन र॓ट About Us |  Advertise with Us| Terms of Use and Grievance Redressal Policy |  Privacy Policy |  Feedback |  Sitemap 2:28 Reported by: रवीश रंजन शुक्ला, Edited by: सूर्यकांत पाठक, Updated: 28 मार्च, 2018 8:27 PM मोहम्मद रहमत आईपीएस डॉ मयंक जैन को हटाया नौकरी से भारत में ई-शासन नैनीताल में अटल जी की याद में बनेगा संग्रहालय नई दिल्ली: बिजली मंत्री आर के सिंह ने सोमवार (25 सितंबर) को कहा कि भारत अगले साल दिसंबर तक सभी घरों को बिजली पहुंचाने का लक्ष्य हासिल कर लेगा. साथ ही सभी गांवों का विद्युतीकरण समय से पहले इस साल दिसंबर तक हो जाएगा. सरकार ने बिजली से वंचित सभी गांवों में एक मई 2018 तक विद्युत पहुंचाने का लक्ष्य रखा है. इसी प्रकार सरकार का मार्च 2019 तक सातों दिन 24 घंटे बिजली पहुंचाने का लक्ष्य है. सभी घरों को बिजली पहुंचाने की ‘सौभाग्य’ योजना शुरू किये जाने के जाने के मौके पर सिंह ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने दिसंबर 2018 का लक्ष्य दिया है. हम इसे करेंगे. यह एक कड़ा लक्ष्य है, लेकिन हम इसे हासिल करेंगे. सभी परिवारों को दिसंबर 2018 तक बिजली मिलेगी.’’ नोएडा. उत्तर प्रदेश के ऊर्चा मंत्री के निर्देशानुसार 30 जुलाई से गौतमबुद्ध नगर में दो दिवसीय अभियान ‘बिजली काटो, बिल वसूलो’ चलाकर बड़े बकायदारों के बिजली के कनेक्शन काटे जा रहे हैं। दरअसल इस अभियान के तहत जिन उपभोक्ताओं ने दो महीनों से ज्यादा समय से बिजली बिल का भुगतान नहीं किया है और जिनपर बिल बकाया है उनके बिजली कनेक्शन काटे जा रहे हैं। 200-400 यूनिट सिवान 492 Views हाई टेंशन टॉवर कुल्लू के बाजार रहे बंद, व्यापारियों ने दी अटलजी को श्रद्धांजलि विधानसभा अध्यक्ष, यूथ कांग्रेस कमिटी गांडेय विधानसभा गैजेट्सनया Albanian Shqip भारत इस खबर को शेयर करें शेयरिंग के बारे में निर्वाचित विषयवस्तु बिजनेस व्यावसायिक कनेक्शन के दाम 5.97 रुपये से घटाकर 5.83 रुपये प्रति यूनिट कर दिए गए हैं. रंग-बिरंगी लाइटों और फूलों से सजा प्रियंका का बंगला, हिंदू रीति रिवाज से आज होगी सगाई! बजटीय उपबंध अब मोहाली में भी मिलेंगे सस्ते बिजली उपकरण जिंदा चूहे के शरीर पर उगा पौधा, देखने वालों को नहीं हो रहा यकीन google + आयोग के अध्यक्ष सुभाष कुमार ने बताया कि इस साल के लिए बिजली की नई दरें इस प्रकार हैं- 200 यूनिट से ऊपर घरेलू बिजली 3 पैसे प्रति यूनिट महंगी की गई है. सिर्फ इसी कैटेगरी में बिजली दरें बढ़ी हैं. बलिया Pipliyamandi news @खेतों से फसल चुरा रहे युवक को ग्रामीणों ने पुलिस के हवाले कि या कर्क अटलजी नकारात्मक सोच से हमेशा दूर रहे, उनके व्यंग्य पर लोग तिलमिलाते तो जरूर थे, पर आहत नहीं होते: लालकृष्ण आडवाणी 14 mins पूर्व विधायक, चंदनकियारी राजकीय सम्मान के साथ पंचतत्व में विलीन हुए अटल बिहारी वाजपेयी Privacy Policies इकॉनमी पिज्ज़ा ब्रैड, कंडस्ड मिल्क, फ्रोज़न सब्जियां, जीवन रक्षक दवाइयां और मिठाइयां इस स्लैब में रखी गई हैं। कोयला भी इसी स्लैब में है। इस पर पहले 11.69 प्रतिशत टैक्स लगता था। इसके चलते बिजली उत्पादन महंगा होता है। चीनी, चाय, कॉफी और खाने का तेल भी इसी स्लैब में हैं। अब तक इन पर 9% टैक्स लगता था। पढ़ें केरल में बाढ़ से भारी तबाही, गर्भवती महिला का हेलीकॉप्टर से किया गया रेस्क्यू नई दिल्ली। दिल्ली को अब विंड एनर्जी से रोशन किया जाएगा। यह बिजली परंपरागत साधनों के मुकाबले 25 % तक सस्ती होगी। समुद्र किनारे हवा से पैदा होने वाली 150 मेगावाट बिजली दिल्ली में सप्लाई की जाएगी। बीएसईएस राजधानी 100 मेगावाट और बीएसईएस यमुना 50 मेगावाट बिजली खरीदने जा रही हैं। LIKE US ON 4. कुल खपत में सौर ऊर्जा 3.25 फीसदी और गैर सोलर बिजली छह फीसदी का उपयोग करना होगा।  Other Story www.bhaskar.com 28 जून 2016, 04:38 AM घटनाक्रम हापुड़ VIDEO: जेल में बंद युवक की मौत के बाद रुद्रपुर कोतवाली में हंगामा पूर्व गवर्नर ने बताई रुपये गिरने की बड़ी वजह पे स्केल: कुशीनगर व्यवसायियों ने जलाया बिजली नियामक आयोग का पुतला शिवहर जर्मन चुनाव कांग्रेस प्रवक्ता अमरनाथ अग्रवाल ने कहा, ‘‘अगर जनता के बारे में सोचा होता तो ये बढ़ोतरी नहीं होती. अगर आपका कदम ठीक था तो सप्ताह भर पहले दाम बढ़ा देते लेकिन नगर निकाय चुनावों के कारण ऐसा नहीं किया गया. यह एक तानाशाहीपूर्ण कदम है.’’ मेरा पैसा न्यूज़ Explore Hindi Oneindia ब्यू Tweets पायलटों ने एयर इंडिया को दी चेतावनी, भत्ता नहीं मिला तो छोड़ देंगे विमान उड़ाना हर पार्टी में है फूट, मगर कांग्रेस को मजबूत करने में जुटे हैं कार्यकर्ता : चिरंजीव राव Maximum Length : 250 By Hussain Kanchwala on April 11, 2018 रन अप: शनिवार को जकार्ता में होगा एशियन गेम्स उद्घाटन समारोह मॉडल निबंध नवीकरण और आधुनिकीकरण सिनेमा VIDEO: कानपुर में लोगों ने अटल जी को दी नम आंखों से विदाई सोलर व पनबिजली से करना है उत्पादन  टूरिज़्म छत्तीसगढ़                         100                 3.83 रुपए  हिन्दी Happy Independence Day 2018 wishes and messages live updates Apps अध्यापकों की टीम पूंजीपतियों के लिए जीएसटी कांवड़ियों से भरी बस डिवाइडर पर चढ़ी, हादसे में 35 लोग घायल आसाम ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि लोगों ने बेकार हो गए 500 और 1000 के नोट को अपने बैंक खातों में जमा करवाया था. इसके बाद इन खातों में जमा राशि में गिरावट आ गई और मार्च 2017 के बाद से फिर से इसमें बढ़ोतरी शुरू हुई. मनसा वाचा कर्मणा Google + अटलजी के नाम पर मोदी सरकार ने शुरू की थी ये योजना, हर महीने 210 रुपए देकर पा सकते हैं 5,000 तक की गारंटीड पेंशन अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के चलते IGMC में लटके मरीजों के ऑप्रेशन बेंगलूर 560 080, भारत टेली फैक्स: +91- 80-2360 0942 स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण JB E-Paper वाजपेयी को संघी और फासिस्ट बताने वाले प्रोफेसर पर हमला, अस्पताल में भर्ती रुपये में ऐतिहासिक गिरावट के बाद डैमेज कंट्रोल मोड में सरकार... × पतंजलि की सेल्स ग्रोथ में आई नरमी, विदेशी कंपनियां दे रही हैं टक्कर! जीएसटी में पेट्रोलियम, बिजली, शराब और और रियल एस्टेट को शामिल नहीं किया गया है. आख़िर इन अहम चीज़ों को जीएसटी से बाहर क्यों रखा गया? इसी को लेकर हमने अर्थशास्त्री अरुण कुमार और अर्थशास्त्र के प्रोफ़ेसर डीएम दिवाकर से बात की. Retweet सरकारी कंपनियों को तरजीह देने से पावर सेक्टर में दिक्कत: RBI अंतर्राष्ट्रीय Leo (सिंह) सहरसा - अनमीटर्ड ग्रामीण घरेलू उपभोक्ताओं की 180 व 200 रुपये प्रति किलोवाट के स्थान पर अब 300 रुपये प्रति किलोवाट की दर से भुगतान करना पड़ेगा। 1 अप्रैल से इन उपभोक्ताओं की दर 100 रुपये प्रति किलोवाट और बढ़ जाएगी और इन्हें 400 रुपये प्रति किलोवाट के हिसाब से बिल चुकाना होगा। शासकीय योजनाएं पिछड़ा वर्ग कल्याण Concept Talk Hausa Hausa जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय सौर मिशन उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव निवेशक Comment: Online payment मापयंत्रण प्रभाग बुजुर्ग की मदद को दौड़े कुत्ते, इंसान नहीं झामुमो नेता जल्द ही ‘नागिन 3’ में होगी प्रिंस नरुला की एंट्री इन कंपनियों ने जबलपुर सहित पूर्व क्षेत्र बिजली कंपनी अंतर्गत कई जिलों में फीडर सेपरेशन, सिस्टम स्टेबलिंग, राजीव गांधी ग्रामीण विद्युत योजना (आरजीजीवीवाय) के अरबों के काम लिए थे। कंपनियों द्वारा काम समेट लिए जाने से सभी जगह काम ठप पड़े हैं। कहीं फीडर सेपरेशन का काम आधा हुआ है तो कहीं ग्रामीण विद्युत योजना का काम अटक गया है। सिंहभूम (प) जानकारों का दावा है कि बिजली कंपनियों का मुनाफा बढ़ा है. जबकि दिल्ली की तीनों बिजली कंपनियों का कहना है कि उन्हें 21000 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है जिसकी भरपाई बिजली की दरों में करीब बीस से तीस फीसदी वृद्धि करके की जा सकती है. How Does an Air Conditioner Work – A layman’s explanation ...जब अटल बिहारी ने ली चुटकी, कहा- अब तो इंदिरा मुझे बड़े प्यार से देखती हैं 14 जुलाई 2018 गोपनीयता सरकारी कंपनियों को तरजीह देने से पावर सेक्टर में दिक्कत: RBI घरेलू 2 (शहरी) 6.48 1.48 5.00 5.02 5.28 ज्यादा बिजली खर्च करने पर लगेगा करंट अन्त्योदय राशन कार्ड ​ प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) कुंभ XII योजना के अंतर्गत सीपीआरआई की पूँजी परियोजनाएँ प्रदेश मंत्री,भाजपा पिछड़ा जाति मोर्चा झारखण्ड के पेयजल एवं स्वच्छता विभाग में केंद्रीय एवं राज्य योजनाओं की विवरणी MENU ADVERTISE WITH US कृषि नीतियां और योजनाएं इस प्रभाग के प्रायोजित और अनुसंधान परियोजनाएँ केंद्र सरकार ने सभी गांवों के विद्युतीकरण के लिए प्रधान मंत्री सहज बिजली हर घर योजना शुरू की है, यह उन लोगो के लिए है जो अभी भी बिना बिजली के रह रहे हैं। सौभाग्य योजना के कार्यान्वयन के लिए अगले दो वर्षों में सरकार 17,000 करोड़ रु की राशि का उपयोग करेगी इस योजना का उद्देश्य देश के सभी ग्रामीण और शहरी परिवारों को फ्री बिजली कनेक्टिविटी प्रदान करना है। शराब पार्टी करते दारोगा समेत चार लोग स्कूल कैंपस से… संपादकीय: हादसे और सबक वित्त और कर by: Sanjay Srivastava अशोक रजक बीकानेर विमर्श पावर कॉरपोरेशन की चारों बिजली कंपनियों के उपभोक्ताओं पर रेग्युलेटरी सरचार्ज प्रथम अलग-अलग लागू है। पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम में सबसे ज्यादा 2.84 फीसदी। एक हजार रुपये पर करीब 28 रुपये, दक्षिणांचल में 1.14 फीसदी। एक हजार पर 11 रुपये, पूर्वाचल के 1.03 फीसदी। Don't have an account? Sign up » हमारा मंदसौर गुजरात                             100                 4.24 रुपए गैस और इलेक्ट्रिक बिल - बिजली कंपनी गैस और इलेक्ट्रिक बिल - ऊर्जा प्रदाता चुनें गैस और इलेक्ट्रिक बिल - यहां अधिक जानकारी
Legal | Sitemap