गल्फ 5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र   Previous Storyई-कॉमर्स कंपनी अमेजन का नेट प्रॉफि‍ट घटा, एक रात में CEO जेफ बेजोस ने गंवाएं 6 अरब डॉलर Next StoryEPFO के लिए UAN जरूरी, जानिए इससे जुड़ी 3 अहम बातें   Recipes ग्रामीण क्षेत्र      पूर्व पावर सेक्रेटरी पी उमाशंकर का कहना है कि दिल्ली सरकार के बिजली सस्ती करने से पावर कंपनियों के ऊपर कोई असर नहीं होगा। इससे डिस्ट्रीब्यूशन कंपनियों के फाइनेंस पर कोई असर नहीं होगा क्योंकि राज्य सरकार को इसपर सब्सिडी देनी होगी। 0 लेनदारों में कमी करनी चाहिए। इस पोस्ट को शेयर करें WhatsApp Kishanaram Aug 10, 2018 09:59 AM वाराणसी गाँधी होते तो कहलाते एंटी-नेशनल Be the first to comment बेदाग और चमकदार त्वचा पाना हैं तो करें नीबू का इस्तेमाल झारखण्ड सामाजिक कल्याण समिति जन्मदिन विशेष : भोजपुरी सिनेमा को पहचान दिलाने वाले रवि किशन… साइंस & टेक Include media तराजू में एक तरफ नमक तो दूसरी तरफ मेवा महानगर जिला अध्यक्ष भारतीय जनता पार्टी 6 माह में कार्य पूरा करने वाली इन योजनाओं को शुरु हुए एक साल से अधिक समय हो चुका है, लेकिन किसी भी योजना के कार्य अभी तक 50 प्रतिशत का आंकड़ा भी नहीं छू पाए हैं। हालांकि दीनदयाल योजना में 55 प्रतिशत कार्य होने का दावा किया जा रहा है। सौभाग्य योजना की बात करें तो एक वर्ष में केवल 22 प्रतिशत कार्य ही पूरा हो पाया है। इसके अलावा आईपीडीएस का 35 प्रतिशत कार्य हुआ है। इनोवेशंस गिरिडीह समेत तमाम राज्य वासियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं इंटरव्यू की रणनीति निसान का केरल में बाढ़ प्रभावित ग्राहकों के लिए सर्विस स्पोर्ट कंप्रेस्ड एयर प्लांट बनाने से इलाके के लैंडस्केप में कोई बदलाव नहीं दिखता. पहाड़ के अंदर होने वाला बदलाव भी ज्यादा नहीं होता. गिव जंगानेह के मुताबिक, "यहां पांच मीटर मोटा कंक्रीट का गेट है जो गुफा में जमा हवा के दबाव को नियंत्रण में रखता है. पहाड़ एयरटाइट है. पहाड़ में पानी का निरंतर प्रवाह रहता है जिससे अंदर की हवा बाहर नहीं निकलती." कार्तिक और नायरा की जिंदगी में एक नए रिश्तेदार की होंगी… पंकज शर्मा বাংলা Feb 16 2018 9:06AM 'प्रारम्भिक शिक्षा में सामान्य मुल्याकंन परीक्षा के लिए बच्चो को ना किया जाए मजबूर' लाइव सिटीज डेस्कः बिहार के लिए एक बुरी खबर है. बताया जा रहा है कि तेलंगाना के मेदक में समस्तीपुर के तीन मजदूरों की मौत हो गई है. हादसा सिलिंडर फटने से हुआ है. सभी […] टैग: बिहार में बिजली दर यूपी,पश्चिम बंगाल से कम, अप्रैल से शहरी क्षेत्रोें में प्रति युनिट 10 पैसे की होगी बढ़ोतरी रघुनाथ टुडु बिजली पर जारी रहेगी सब्सिडी, 1720 करोड़ खर्च करेगी राज्य सरकार 'दृष्टि द विज़न' संस्थान FACEBOOK पूरक परीक्षण सुविधा ग्राम दिल्ली में बिजली की दरों में बढोतरी की आहट सुनाई दे रही है. निजी बिजली कंपनियों ने घाटे का हवाला देकर बिजली की दरें बढ़ाने की मांग की है और दिल्ली इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी अथॉरिटी के पास अपनी अर्जी भी लगा दी है. Entertainment News 7- एस्टर पावर प्राइवेट लिमिटेड, हैदराबाद गणेश महाली लाइफस्टाइल अक्षय कुमार दुनिया में सबसे ज्यादा कमाई करने... प्रवासी भारतीय Quick links ऊर्जा अंकेक्षण सेवाऍं Ireland 51210 Vodafone, O2 कुंभ Source: Comments आवेग धारा प्रयोगशाला @AamAadmiParty @DrKumarVishwas अरे बन्द करो नाटक। सरकार तेरी है । है औकात तो कुछ करो । जनता को चुतिया बनाना बन्द नही करोगे??? 1-100        4.27 रुपए    ¯6.15 रुपए गिरिडीह फुटपाथ पर हारमोनि‍यम बजाने वाले को नेहा कक्कड़ ने दिए 1 लाख रुपये RSS Feed नवीनगर3.98 3.84 कार्यक्रम को संबोधित करते हुए झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक राहुल पुरवार ने कहा कि झारखंड के सभी ठच्स् एवं ।च्स् परिवार के घरों तक बिजली दिसंबर तक पहुंचा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि संथाल परगना के सभी 6 जिले दुमका, देवघर, साहेबगंज, जामताड़ा, पाकुड़ एवं गोड्डा में से दुमका एवं देवघर जिला में सभी घरों तक जुलाई तक बिजली पहुंचा दी जाएगी तथा शेष बचे 4 जिलो साहेबगंज, जामताड़ा, पाकुड़ एवं गोड्डा के सभी घरो तक बिजली अक्टूबर महीने तक पहुंचा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि पूरे झारखंड में 500 सब स्टेशन बनाने का लक्ष्य है। जिनमें से 150 सब स्टेशन बनाया जा चुका है। बचे हुए लक्ष्य को बहुत जल्द पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पूरे झारखंड राज्य में 1.50 लाख ट्रांसफर्मर लगाना है जिनमें से 30 हजार ट्रांसफर्मर लगा दिया गया है। उन्होंने कहा कि अरबन ग्रामीण क्षेत्रों में रिंग सिस्टम को लगाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मार्च 2020 तक 15 प्रतिशत बिजली लॉस पर कामयाबी प्राप्त कर ली जाएगी । उन्होंने कहा कि आप सभी अपना बिजली बिल प्रज्ञा केंद्र के माध्यम से जमा कर सकते हैं, पूरे झारखंड में 4000 प्रज्ञा केंद्र है, जिनमें से 2000 प्रज्ञा केंद्र एक्टिव मोड में कार्य कर रही है। बचे हुए प्रज्ञा केंद्र को भी बहुत जल्दी एक्टिव मोड में लाने की दिशा में कार्य चल रही है। इस प्रज्ञा केंद्र के माध्यम से आप सभी अपना बिजली बिल आसानी से जमा कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि कंज्यूमर को शिकायत दर्ज करने में परेशानी होती था जिसे ध्यान में रखते हुए सरकार ने कंज्यूमर कॉल सेंटर की स्थापना की। इस कंज्यूमर कॉल सेंटर के माध्यम से आप अपनी शिकायत दर्ज कर पाएंगे। सोशल मीडिया के माध्यम से भी आप अपनी शिकायत दर्ज करने में किसी प्रकार की परेशानी नही होगी। इस प्रकार की प्रक्रिया हम लोगों ने बनाए हैं अब कंज्यूमर को अपने शिकायत दर्ज करने में किसी प्रकार की परेशानी नहीं होगा । © copyright reserved National Dastak. All right reserved CONNECT WITH US कार्यक्रम जिब्राल्टर स्टॉक एक्सचेंज को बिटकॉइन इनवेस्टमेंट प्रोडक्ट की सूची मानक फीडर रिनोवेशन प्रोजेक्ट हुआ फेल  यह ईपीसी मोड के तहत पूरी तरह सरकारी प्रोजेक्ट हैं। इसके अलावा 9 मेगावाट के हानू और 9 के मेगावाट के दाह प्रोजेक्ट के लिए निगम द्वारा पूरी की गई निविदा प्रक्रिया के आधार पर पात्र बोलीदाता को ठेका देने की अनुमति दे दी गई है। पुग लेह 5 मेगावाट की भू-तापीय परियोजना आईपीपी मोड पर विकसित करने का भी निर्णय किया गया। प्रवक्ता ने बताया कि सबसे महत्वपूर्ण 1,856 मेगावाट क्षमता के स्वालकोट एचईपी प्रोजेक्ट के लिए बोर्ड ने जल्द विस्तृत रिपोर्ट पूरी करने और सीईए से टेक्नो प्रदेश की बिजली वितरण निगमों में अब भी बिजली छीजत का ग्राफ 25 से 35 फीसदी तक बना हुआ है वहीं बिजली चोरी मामले में कई जिलों में छीजत 35 फीसदी तक रही है। राज्य सरकार के निर्देशों के बावजूद बिजली कंपनियां चोरी व छीजत रोकने में प्रभावी कार्रवाई करने में नाकाम रही हैं। इसके उलट बिजली कंपनियों ने चोरी छीजत पर लगाम कसने के लिए संबंधित क्षेत्र के अभियंताओं के वेतन भत्ते में कटौती की तलवार भी लटकाई लेकिन नतीजा सिफर रहा है।  बस्ती PRINTING जानिए किसने दी बाजपेयी को मुखाग्नि posted on August 18, 2018 Apologies, but the page you requested could not be found. Perhaps searching will help. वो 11 बातें जो मोदी ने जीएसटी के लिए कहीं भाजपा नेता के आरक्षक पुत्र पर यौन शोषण का आरोप ईंधन प्रबंधन अमेरिका की तुर्की को धमकी, पादरी को नहीं छोड़ा तो लगेंगे और प्रतिबंध योजना घरेलू उपभोक्ताओं के लिए ही है वो भी घरेलू फ्रीज, बल्ब, टीवी, पंखे के लिए हैं। एसी, हीटर योजना में ग्राहक नहीं चला सकेंगे। यदि ऐसा किया गया तो ग्राहक बिजली कनेक्शन के दायरे से बाहर हो जाएंगे और वे सरल बिल योजना का लाभ नहीं ले पाएंगे। वहीं यदि यूनिट खर्च भी सौ से ज्यादा आया तो सौ यूनिट के ऊपर के सारे खर्च का भुगतान भी बिजली ग्राहकों की ओर से किया जाएगा, यानि सात सौ के कुल बिल के बाद की पूरी रकम ग्राहकों से वसूल की जाएगी। परीक्षा उपयोगी पुस्तकें (सामान्य अध्ययन) (यदि दी गई विषय सामग्री पर आपके पास कोई सुझाव/टिप्पणी है तो कृपया उसे यहां लिखें ।) नीतू कुमारी Portuguese Português do Brasil जल्द ही ‘नागिन 3’ में होगी प्रिंस नरुला की एंट्री - बिजली कंपनी ने घरेलू उपभोक्ताओं के लिए खपत यूनिट का अलग-अलग ग्रुप तय किया है। हर ग्रुप में टैरिफ कम हुआ है। जैसे 40 यूनिट तक टैरिफ 3.80 रुपए है। इसे अब 3.70 रुपए किया गया है। इसी तरह 41 से 200 यूनिट पर टैरिफ 3.90 रुपए था। इसे घटाकर 3.80 रुपए किया गया है। धनबाद नगर निगम वार्ड पार्षद - 55 वार्ड सिंदरी यूपी : विद्युत नियामक आयोग के नवनिर्मित भवन की छत गिरी, हादसा टला विजेंद्र गुप्ता June 2018 टुण्डी विधानसभा क्षेत्र के लोगो को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं 6 अप्रैल 2018 200 बड़े ऋण खातों की निगरानी करेगा आरबीआई सस्ता ऊर्जा - कम लागत बिजली प्रदाता सस्ता ऊर्जा - बिजली कंपनियों स्विच करें सस्ता ऊर्जा - इलेक्ट्रिक यूटिलिटी कंपनी
Legal | Sitemap