Search query Search Twitter ई-पेपर▼ देऊंघाट में पहाड़ी दरकने से 3 मकानों पर मंडराया खतरा गली क्रिकेट खेला है तो हंसा देंगे ये नियम वाजपेयी के प्रयासों से उनके गांव बटेश्वर को मिली ट्रेन की सुविधा श्याम किशोर सिंह HAMIRPUR YUKAN WORKER AND POLICE SCRIMMAGE विद्युत योजना के लिए चार लाख रुपये मंजूर गुड़गांव फरीदाबाद चंडीगढ़ अंबाला रेवाड़ी कुरुक्षेत्र पलवल जींद हिसार अन्य Cricket News तमिलनाडु दिसंबर 21, 2017 देखें मंथन का खास पेज.. 03.10.2012 परामर्शसेवाऍं इंग्लैंड ने भारत को एक पारी और 159 रनों से हराया श्रीलंका306/7(39.0) सी टी , 1600 केवी, 6ऐ स्मार्टफोन - टैब 1800-121-6260 NCR उच्‍च धारा लघु पथन परीक्षण सुविधा बताया जाता है कि बिजली दरें बढ़ाने की मांग बिजली कंपनियां काफी दिनों से कर रही थीं, और संभवना 5 से 10 फीसदी तक बिजली दरें बढ़ाने की जताई जा रही थीं. लेकिन इसके विपरीत दरें कम कर दी गई हैं. पौड़ी 200 यूनिट तक की बिजली की कीमत में एक रुपये प्रति यूनिट की दर से कटौती की गई है, जबकि 201-400 यूनिट तक की बिजली की कीमत में 1.45 रुपये प्रति यूनिट की दर से कटौती की गई है. इसके अलावा 401-800 यूनिट तक की कीमत दर में 80 पैसे प्रति यूनिट की दर से कमी की गई है. बिजली की यूनिट की कीमत दर में कमी का फायदा सभी घरेलू ग्राहकों को मिलेगा. हालांकि फिक्स चार्ज में वृद्धि से लोगों को झटका लगा है. इस तरह 201-400 यूनिट तक बिजली का इस्तेमाल करने वाले ग्राहकों को सबसे ज्यादा फायदा मिलेगा. 2018-07-19 17:00:33.0 0.50                 2.65 भोपाल|   चुनावी साल में गरीबों और असंगठित क्षेत्र के मजदूरों को सस्ती बिजली और बिल माफ़ी का तोहफा देने वाली सरकार की यह योजना अब सुप्रीम कोर्ट पहुँच गई हैं| प्रदेश में सरकार ने 1 जुलाई से सरल बिजली बिल और बकाया बिजली बिल माफी योजना को लागू किया है| जिसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की  गई है, इसके पूर्व इस संबंध में दायर जनहित याचिका को मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया था। हाईकोर्ट का कहना था कि यह सरकार और बिजली कंपनी के बीच का मामला है। यदि बिजली कंपनी को कोई आपत्ति है तो वो सामने आए।  नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच के डॉ पीजी नाजपाण्डे ने याचिका दायर की थी|  संपादकीय मंदसौर जिले की प्रमुख खबरे मुख्य परीक्षा 2018 गया प्रदेश महासचिव महिला कांग्रेस सह जिला अध्यक्ष बुद्धि जीवी मंच विचार विभाग VIDEO: गाजीपुर जेल में बंद कैदियों ने सीसीटीवी कैमरे लगाने का किया विरोध मीन राशि वालों आज आप संघर्ष एवं कार्य शक्ति से अपने कार्यों को पूरा करेंगे। आज आपकी अर्थव्यवस्था......Read more निगमों का घाटा घटा, लेकिन उपभोक्‍ताओं को राहत में बिजली चोरी अड़ंगा * 12 जानिए ऐसा क्या करेंगे कि मिलेगा सस्ती ब्याज दर पर लोन 01 Apr 2018 | Aajtak 1999917847खरीदे डिजीज एंड कंडीशन्‍स Mumbai News in Hindi गैजेट्सनया चक्रधरपुर (पश्चिमी सिंहभूम) । श्रावण महीना के अवसर पर कराईकेला पंचायत स्थित आहारबाबा शिवालय में उरके कावरिया संघ 64 मौजा कराईकेला द्वारा बालक भोजन आयोजित किया गया। जिसमें सेकड़ों बच्चों तथा शिव भक्तों ने भगवान का प्रसाद ग्रहण किया। इस कार्यक्रम का उद्घाटन कराईकेला के मुखिया राजेन्द्र मेलगांडी  तथा हुडंगदा मुखिया विजय नाग ने की। State Govt Schemes दिसम्बर 7, 2017 Md. Saheb Ali BIHAR, आपका प्रदेश, इकॉनमी, ट्रेंडिंग 0 Bangla News च) डाटा बस आउटपुट के लिए ऑप्टिकल पोर्ट 02018-07-17T12:10:12 प्राइवेसी पॉलिसी नई दिल्ली खूंखार शेरों से मालिक को बचा लाया कुत्ता आपका संदेश   वजन: 700 ग्राम IAS टॉपर टीना डाबी का हसबैंड संग 'लुंगी डांस', बिग बी के गाने पर लगाए ... उत्तम कुमार महतो Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 13, 2018, 02:15 AM IST Right to Information महंगी बिजली की शक्ल में दिल्ली वाले भुगतेंगे खामियाज़ा: विजेंद्र गुप्ता जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन! 301--500--5.60--6.20 अटल बिहारी वाजपेई के निधन पर शोक में डूबा शहर कई पार्टियों ने शोक सभा का आयोजन कर दिया श्रद्धांजलि जरूर पढ़ें सीतामढ़ी रांची Show — Footer Menu Hide — Footer Menu उपयोग की शर्तें समाजसेवी बड़कागांव, निवेदक प्रखंड अध्यक्ष नन्दलाल राणा सह प्रखंड कमेटी सदस्य बड़कागांव पेट्रोल पंपों पर चोरी रोकने के लिए एचपीसीएल ने उठाया यह बड़ा कदम Pin वाजपेयी ने चीन-भारत रिश्तों में अहम भूमिका निभाई : चीन समय समय पर लगने वाले सहज बिजली केंप मे संपर्क करें… श्रीलंका99/7(16.0) Video संबधित अधिकारी से शिकायत करें…. विद्युत सर्वेक्षण एवं भार पूर्वानुमान प्रभाग भोजपुरी 13 सार्वजनिक छुट्टियाँ #एशियन गेम्स 2018 दुमका : इंडोर स्टेडियम दुमका में अरविन्द प्रसाद की अध्यक्षता में झारखंड राज्य विद्य्नुत नियामक आयोग के द्वारा झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड का वर्ष 2011- 12 से वर्ष 2015 -16 तक वर्ष 2016-17 का 2017-18 एवं वर्ष 2018-19 एवं वर्ष 2017-18 तथा 2018-19 का विद्य्नुत वितरण दर निर्धारण हेतु जन-सुनवाई कार्यक्रम आयोजित की गई। उन्होंने कहा कि उपभोक्ता को ध्यान में रखते हुए बिजली दर उतना ही निर्धारित की जायेगी जिससे की उन पर भार ना पड़े और बिजली कम्पनी को भी घटा ना हो। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए चेयर मेन अरविन्द प्रसाद ने कहा कि कम्पनी को बिजली खरीदने के लिए पैसे की जरुरत पड़ती है। बिजली के खरीद एवं उपभोक्ताओं के बिजली विपत्र के विरुद प्राप्त राशि में समन्ता होना आवश्यक है। अप्रैल माह से सरकार अब कम्पनी रिसोर्स गेप (सबसीडी) नही देगी। इसी कारण से बिजली दर में कुछ ना कुछ बढ़ौतरी होनी आवश्यक है। बिजली स्विच करें - और अधिक जानकारी प्राप्त करें बिजली स्विच करें - कम लागत बिजली प्रदाता बिजली स्विच करें - बिजली कंपनियों स्विच करें
Legal | Sitemap