all sections राम अवतार सिंह मेमोरियल चैरिटेबल सोसाइटी May 2018 www.bhaskar.com 25 दिसम्बर 2016, 01:39 AM Government Schemes india > सरकारी योजना > प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना सौभाग्य योजना देखें 'सौ बात की एक बात' में आज दिनभर की सबसे बड़ी ख़बरें सरकार की ओर से जारी आधिकारिक बयान में कहा गया है कि सबसिडी की राशि बिजली कंपनियों के खाते में भेज दी जाएगी। इसे बिजली कंपनियां उपभोक्ताओं के बिल से समायोजित कर लेंगी। साथ ही, बिजली कंपनियों को सूचित कर दिया गया है कि उपभोक्ताओं को सबसिडी का वास्तविक लाभ मिलने की बात पुष्ट करने के लिए सरकार बिजली कंपनियों का किसी स्वतंत्र एजेंसी से विशेष ऑडिट करा सकती है। VIDEO: चयनित अभ्यर्थियों ने सड़क पर लेटकर की नियुक्ति के देने की मांग अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें। इस पोस्ट को शेयर करें Messenger 400 फीट ऊंचे टाॅवर से पहली बार यह विशेष तस्वीर नीदरलैंड में जल्द शुरू होगा दुनिया का पहला समुद्र में तैरता डेयरी फार्म, रोबोट निकालेंगे गायों का दूध 17 mins Drop the Immigration Charges Against Marco Senghor, Community Leader and Bay Area Icon लोकसभा चुनाव Pin के ई आर सी http://mpcmsolarpump.com मुद्दा Hariom nagar सरसों (Mustard) भूमाफिया ने बेच दी आईपीएस अफसर की जमीन पीएम मोदी के साथ चल रही भीड़ में शामिल थे आईबी के 600 लोग, 50 शार्पशूटरों की थी नजर योजना रिपोर्ट इस खबर को शेयर करें शेयरिंग के बारे में Web Title: Paytm से भरेंगे बिजली बिल तो मिलेगी 200 रुपए तक की छूट सोसायटी भी बिजली विभाग के निशाने पर सरसों (Mustard) Português (Brasil) Quick Rubric – Easily Make and Share Great-Looking Rubrics सिटिजन Q गुड़गांव Order कक्षा सूचकांक सुपौल: एक बार फिर बीरपुर मे गोलियों की तऱतराहट से सदमें मे है शहरवासी – पुलिस कर रही है छानबीन !! 428 Views स्टार्ट-स्टॉप बिहार विद्युत विनियामक आयोग ने एक अप्रैल से पांच फीसदी महंगी बिजली दर का फैसला सुनाया है। केवल एक श्रेणी बड़े उद्योग में यह वृद्धि दर 9.92 फीसदी है। बिजली कंपनी ने 44 फीसदी बिजली दर बढ़ाने का प्रस्ताव दिया था। आयोग के इस फैसले के बाद राज्य सरकार ने बिजली दर की समीक्षा कर अनुदान देने की बात कही है।  जर्मन सिखाना बिहार उपभोक्ताओं की संख्या 1.12 करोड़ तक पहुंची : बिजली कंपनी के राजस्व में अप्रत्याशित तौर पर राजस्व संग्रह में बड़े उछाल की वजह उपभोक्ताओं की बढ़ी संख्या को भी माना जा रहा है। भाजपा मुख्यालय पहुंचा अटल बिहारी वाजपेयी का पार्थिव शरीर TERMS OF USE 5 हजार करोड़ रूपए जमा करने के बाद लागू करें योजना www.jagran.com 14 जुलाई 2016, 12:19 AM jharkhand सोनिया के खिलाफ लेख पर जब अटल ने दी नसीहत मो शामिम चौकीदार की चाकू से गोदकर हत्या, खाली प्लॉट... ललिता देवी ऊर्चा मंत्री के निर्देश पर शुरु हुआ बिजली काटो, बिल वसूलो अभियान ख़बरें ज़रा हटके प्रियंका चोपड़ा से मिलने मॉम-डैड के साथ इंडिया पहुंचे निक जोनास, देखें तस्वीरें इमेज कॉपीरइट PTI 5 किलोवाट से अधिक और 50 किलोवाट या 56 केवीए तक के लोड के लिए 300 रुपये प्रति किलोवाट सिस्टम लोडिंग चार्ज जमा कराया जाता था। अब 5 किलोवाट तक कोई सिस्टम लोडिंग चार्ज नहीं देना होगा। अलबत्ता 5 किलोवाट से ऊपर के कनेक्शन के लिए पहले की ही तरह 300 रुपये प्रति किलोवाट के हिसाब से सिस्टम लोडिंग चार्ज जमा कराया जाएगा। राज्य शासन की ओर से बीपीएल उपभोक्तओं के बिल माफ करने की घोषणा से ही जून माह में बड़ी संख्या में उपभोक्ताओं ने बिल जमा नहीं किए हैं। माफी योजना का लाभ लेने के लिए उपभोक्ता बिल जमा नहीं कर रहे हैं। Mid-Day सुल्तानपुर फीडबैक राज्यों के बिजली वितरण की उपयोगिता की यह छठवीं रिपोर्ट ऊर्जा मंत्रालय ने इसी महीने जारी की है। यह रैकिंग कंपनी के कामकाज, आर्थिक, पारदर्शिता व सरकारी मदद आदि के आधार पर जारी की जाती है। इससे पहले मंत्रालय ने मई 2017 में रैंकिंग जारी की थी। Hindi मलेशिया में सरकार के खिलाफ बोलने की आजादी मिली; पहले 6 साल जेल और 85 लाख रु जुर्माना होता था 3 mins ArchiveNews संधारित्र Filipino MTV India जर्मन सीखिये विंडएनर्जी एक्सपर्ट ओपी तनेजा कहते हैं कि इससे पहले भी विंड एनर्जी का रेट 3.46 रुपए प्रति यूनिट से घटकर 2.64 रुपए प्रति यूनिट हो गया था। फिर भी बिजली कंपनियों ने बिजली खरीद में रुचि नहीं ली। Public Notices मुखिया कांडतरि पंचायत, बड़कागांव पिछले साल के मुकाबले पूरे उत्तर भारत में बेहतर... जगत महतो आज के समाचार ऑटो न्यूज़ जिले की अब तक की सबसे बड़ी विद्युत प्रसारण योजना झारखंड पी.सी.एस. 02018-07-17T12:11:03 स्कूल में छड़ी से पीटते थे मौलवी साहब, जब मंत्री बना तो... किस्सा सुनाते हुए भावुक हुए राजनाथ सिंह आत्मघाती हमलावर ने छात्रों को बनाया निशाना , 48 की मौत फाइनेंस पिछले वर्ष विनियामक आयोग की अनुशंसा के बाद राज्य सरकार ने अलग-अलग स्लैब में सब्सिडी की घोषणा की थी लिहाजा इस बार भी विभाग के मुखिया ने सब्सिडी देने की बात कही है। हालांकि सरकार संबंधित उपभोक्ताओं को उसके बिजली बिल पर कितने रुपये की सब्सिडी देगी इसका खुलासा नहीं हुआ है। लेकिन, बिजली की शुल्क में बढ़ोतरी के तुरंत बाद ही विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने सब्सिडी देने की बात कही है। मैनुअल-3 & 4 मायावती का बीजेपी पर जोरदार हमला, कहा बीजेपी को सिर्फ धन्नासेठों की ही परवाह 7- एस्टर पावर प्राइवेट लिमिटेड, हैदराबाद Hits: 18276  कंपनी ने घोषित किया डिफॉल्टर, जब्त होगी बैंक गारंटी, 154 करोड़ का काम लेकर यूबी कंपनी पहले ही दे चुकी है झटका भागलपुर प्रोफाइल सुबोध कुमार Personal tools परियोजनाओं को अनुमति देने की प्रक्रिया शीघ्र ही प्रारम्‍भ होगी। अनुमति मिलने के बाद परियोजनाओं को पूरा करने के लिए राज्‍यों की वितरण कंपनियों और वितरण विभाग को ठेके दिए जाएंगे। ठेके देने की अवधि से 24 महीने के भीतर परियोजनाओं को पूरी किया जाना चाहिए। दूरस्थ शिक्षा कार्यक्रम हिमाचल प्रदेश पी.सी.एस. एक ही पत्थर की चट्टान से बने इस मंदिर का पांडवों ने करवाया था... कूपन कोड से मिलेगा कैशबैक एसएमई कॉर्नर: एसएमई जगत की अहम खबरें   अटलजी ने संकट में भारत को बनाया था चमत्कारी अर्थव्यवस्था बीच चौराहे शरीर से निकाला जा रहा था जहर, बुजुर्ग की… By अंकित राज बाड़मेर सिटिजन Q पुस्‍तकालय के नियम Oops! That page can’t be found. International News VIDEO: चयनित अभ्यर्थियों ने मुर्गा बनकर किया प्रदर्शन, नियुक्ति देने की मांग Go to a person's profile पॉल्यूशन फ्री है विंड एनर्जी हरखू रविदास बिजली कंपनी में अब फिर से अनुकंपा नियुक्ति शुरू होने जा रही है। इससे नियुक्ति का इंतजार कर रहे कर्मचारियों के... पशुपालन शहर कानून एवं न्याय News18 States इमरान खान ने पाकिस्तान के 18वें प्रधानमंत्री के तौर पर शपथ ली, पहले दिन से कर्ज की दरकार 2 mins पीसीबी यों का नियंत्रण विनियम Nov 29, 2017 11:47 PM इसे स्थानीय निकाय चुनावों की तैयारी कहें या गैरसैंण में चल रहे विधानसभा सत्र का असर, उत्तराखंड में 17 साल में पहली बार बिजली की दरें कम हुई हैं. उत्तराखंड विद्युत नियामक आयोग ने राज्य में बिजली की नई दरों को मंज़ूरी दे दी है. नई दिल्ली। भारत में अब सोलर पावर की कीमतें रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंच सकती हैं। अमेरिका की कंपनी सन एडिसन ने भारत में सबसे कम कीमत पर सोलर बिजली बनाने का प्रोजेक्ट हासिल किया है। मिनिस्ट्री ऑफ न्यू एंड रिन्युएबिल एनर्जी (एमएनआरई) ने आंध्र प्रदेश में 500 मेगावाट के सोलर पार्क के लिए बोलियां मंगवाई थी, जिसमें सन एडिसन ने 4.63 रुपए प्रति यूनिट की बोली लगाकर प्रोजेक्ट हासिल किया है, जो कि देश में सबसे कम है। इससे सस्ती बिजली मिलने की उम्मीद है, वहीं सोलर पावर कंपनियों के बीच प्राइस वार छिड़ सकती है। भारतीय राजनीति का ध्रुवतारा थे अटल, इन दुर्लभ तस्वीरों में देखें उनके जीवन के कुछ यादगार पल काउंसिलिंग की तारीख बदली उत्पाद का नाम: दीन रेल एकल चरण एसटीएस प्रीपेड मीटर अटल ने आडवाणी से मतभेदों पर लखनऊ में दी थी सफाई, कही थी ये बातें सीएम योगी के मंत्री का बयान, 'मदरसों में राष्ट्रगान नहीं गाया जाएगा तो होगी कार्रवाई' स्मार्ट बनिए आ रही DIWALI में, अपने Love Bird को दीजिए Diamond Jewelry सिरोही प्रधानमंत्री जनधन योजना Find More Information By Selecting a Category Below 1800-121-6260 Copyright © 2015 Bhopal Samachar | No 1 hindi news portal of central india (madhya pradesh) इधर बिजली का बड़ा उपभोक्ता रेलवे है, जिसका कहना है कि उद्योग जगत में लागत घटाने के लिए, बाज़ार में बने रहने के लिए बड़े उपभोक्ताओं को सस्ती बिजली देनी चाहिए। आपको बता दें कि पश्चिम मध्य रेल्वे विद्युत वितरण कंपनी से बिजली 7 से 8 रुपए प्रति यूनिट पर बिजली खरीद रही थी। लेकिन खुले बाज़ार में उसे ये सिर्फ 4 से 5 रुपए प्रति यूनिट की कीमत पर खरीदी की। जिससे उसे वित्तीय वर्ष में दो सौ करोड़ रुपयों से ज्यादा का फायदा हुआ है। सेब (Apple) Facebook © 2018 తెలుగు Tue, 14 Aug 2018 07:00 PM IST पंचांग-पुराण जवाब – बिजली मिलने पर निश्चित रूप से दैनिक घरेलू कार्यों और मानव विकास के सभी पहलुओं में लोगों के जीवन की गुणवत्ता पर सकारात्मक प्रभाव डालती है। सबसे पहले, बिजली मिलने पर उजाले के लिए मिटटी तेल का इश्तेमाल नहीं होगा, जिसके परिणामस्वरूप घरों में प्रदूषण में कमी आएगी जिससे लोगों को स्वास्थ्य संबंधी खतरों से बचाया जा सकेगा। इसके अलावा, बिजली मिलने से देश के सभी भागों में कुशल और आधुनिक स्वास्थ्य सेवाएं स्थापित करने में मदद मिलेगी। सूर्यास्त के बाद प्रकाश विशेष रूप से महिलाओं के लिए व्यक्तिगत सुरक्षा का भाव प्रदान करता है। सामाजिक और साथ ही आर्थिक गतिविधियों में भी वृद्धि करता है। बिजली की उपलब्धता से सभी क्षेत्रों में शिक्षा सेवाओं को बढ़ावा मिलेगा और सूर्यास्त के बाद गुणवत्ता वाले प्रकाश में बच्चों को पढ़ाई के लिए अधिक समय बिताने और संभावित कैरियर में आगे बढ़ने में सुविधा होगी। घरेलू विद्युतीकरण होने से महिलाओं के अध्ययन करने की संभावना भी बढ़ जाती है और इससे उनकी कमाई भी होगी। बीससूत्री जिला उपाध्यक्ष सह जीप सदस्य बलियापुर अध्यक्ष, मुखिया संघ पेटरवार VIDEO: गोरबंद में देखिए राजस्थानी लोक गीत 'जोगी रे दीवाना' आदेश और परिपत्र सिद्धार्थनगर यूपी नोएडा का डॉली: तीन महिलाओं से शादी कर की बड़ी ठगी, गर्लफ्रेंड समेत अरेस्ट खेल जगत पंचतत्व में विलीन हुए “अटल बिहारी” | दत्तक पुत्री नमिता ने दी मुखाग्नि हेल्थ न्यूज़ Polish Polski भारत के पीसी मार्केट में 28 फीसदी की ग्रोथ, अल्ट्रा स्लिम नोटबुक ने बढ़ाई मांग 49 mins jharkhand इलेक्ट्रिक कंपनी प्रदाता - गैस और बिजली की कीमतों की तुलना करें इलेक्ट्रिक कंपनी प्रदाता - मेरे क्षेत्र में विद्युत आपूर्तिकर्ता इलेक्ट्रिक कंपनी प्रदाता - सबसे कम बिजली दरों
Legal | Sitemap