नई दिल्ली। भारत में अब सोलर पावर की कीमतें रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंच सकती हैं। अमेरिका की कंपनी सन एडिसन ने भारत में सबसे कम कीमत पर सोलर बिजली बनाने का प्रोजेक्ट हासिल किया है। मिनिस्ट्री ऑफ न्यू एंड रिन्युएबिल एनर्जी (एमएनआरई) ने आंध्र प्रदेश में 500 मेगावाट के सोलर पार्क के लिए बोलियां मंगवाई थी, जिसमें सन एडिसन ने 4.63 रुपए प्रति यूनिट की बोली लगाकर प्रोजेक्ट हासिल किया है, जो कि देश में सबसे कम है। इससे सस्ती बिजली मिलने की उम्मीद है, वहीं सोलर पावर कंपनियों के बीच प्राइस वार छिड़ सकती है। मासूम को सिगरेट से दागा  पेचकस घोंपकर मार डाला पृष्ठ मूल्यांकन (82 वोट) World Theatre Day: इन सेलेब्रिटीज की गवाह रही संस्कारधानी   09:42 बुंदिया में मिला रहा था घटिया रंग जांच में गयी टीम को बनाया बंधक बिजली कंपनी को लेकर विरोध हर तबके का है विपक्ष से लेकर पक्ष कोटा के जनप्रतिनिधि तक बिजली कंपनी का विरोध जता चुके है हर इलाके से बिजली कंपनी को वापस भेजने की मांग शहर में की जा रही है इसको लेकर शहर में 10 अगस्त को कोटा बंद का आव्हान भी किया गया है. Copyright @ 2016 Drishti The Vision Foundation, India. All rights reserved June, 2016 जरा हट के अविनाश कुमार खाने पीने के शौकीन अटल बिहारी वाजपेयी को मिल-बांट कर खाने में आता था मजा nuclear energy एयरकंडीशनर 24 डिग्री सेल्सियस की डिफॉल्ट सेटिंग पर रखे जाने का प्रस्ताव है. सरकार ने निर्माता कंपनियों के साथ बैठक की है. 24 से 26 डिग्री सेल्सियस की डिफॉल्ट सेटिंग को आने वाले समय में अनिवार्य भी किया जा सकता है. राष्ट्र में थर्मल ऊर्जा उत्पादन 344 गीगावाट व अक्षय ऊर्जा क्षमता 70 गीगावाट है. इसमें अधिकतम मांग वाले समय में उपलब्धता 173 गीगावाट रहती है. ऊर्जा खरीद समझौता नहीं होने के कारण एक एरिया से दूसरे एरिया में बिजली की आपूर्ति संभव नहीं हो पाती है. ऐसे में महंगी बिजली खरीदनी पड़ती है, जिसका सीधा प्रभाव उपभोक्ता पर भी पड़ता है . इंस्पेक्टर ताजगंज और टोरंट अधिकारी पहुंच गए। ग्रामीण मुआवजे को लेकर हंगामा करते रहे। शाम पांच बजे समझौता होने पर शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा सका।  CAREER NOTICES AePs Your email address काशिझरिया पंचायत समिति सदस्य नवीकरणीय ऊर्जा की स्थापित क्षमता में वृद्धि कर इसके लिये 2022 तक 175 गीगावाट का  लक्ष्य रखा गया है। सिंचाई उत्तम कुमार महतो Go to a person's profile योजना घरेलू उपभोक्ताओं के लिए ही है वो भी घरेलू फ्रीज, बल्ब, टीवी, पंखे के लिए हैं। एसी, हीटर योजना में ग्राहक नहीं चला सकेंगे। यदि ऐसा किया गया तो ग्राहक बिजली कनेक्शन के दायरे से बाहर हो जाएंगे और वे सरल बिल योजना का लाभ नहीं ले पाएंगे। वहीं यदि यूनिट खर्च भी सौ से ज्यादा आया तो सौ यूनिट के ऊपर के सारे खर्च का भुगतान भी बिजली ग्राहकों की ओर से किया जाएगा, यानि सात सौ के कुल बिल के बाद की पूरी रकम ग्राहकों से वसूल की जाएगी। साहब कुछ नज़र कोम्मेरसीयल मीटर पे भी दे। वेयपरी दो नो तरफ़ से मर रहा हे वुमन पॉवर मीटर निरंतर निजीकरण को बढ़ावा मिलेगा? World News in Hindi Published: Friday, August 10, 2018 12:19 PM    भोपाल राज्य से और उत्तर प्रदेश में बिजली हुई महंगी(फोटो: BloombergQuint) गोवा विश्‍व की अन्‍य खबरें  What's Trending - प्रत्यय अमृत, प्रधान सचिव, ऊर्जा विभाग  Last updated on: Aug 13, 2018 Latest Articles एस्सेल बिजली कंपनी की मनमानी के खिलाफ राष्ट्रीय मार्ग पर लोगों ने जमकर किया प्रदर्शन रेडियो, टेलीविजन, मोबाइल आदि के माध्यम से बढ़ी हुई संपर्क इस वेबसाइट की अंतर्वस्‍तु केन्‍द्रीय विद्युत अनुसंधान संस्‍थान, विद्युत मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा प्रकाशित एवं व्‍यवस्थित है। VIDEO: भाजपा पार्षद को नेतागिरी करना पड़ा महंगा, महिलाओं ने जमकर की धुनाई न्यूज निचोड़ At 11 AM : अमर रहेंगे अटल! Neon वास्तु Q to Z ये भी पढ़ें- गांव कनेक्शन विशेष : हरिद्वार से गंगासागर तक गंगा में सिर्फ गंदगी गिरती है share Poll वार्षिक अचल संपत्ति रिटर्न 97 मेगपुर, मनिया, धौलपुर निवासी अमन पुत्र अजमेरी की बहन सुष्मिता पत्नी ललित ताजगंज के कुआंखेड़ा में रहती है। अमन कुछ दिन पहले बहन के यहां आया था।  नया हरियाणा : 14 अगस्त 2018 342 Rate Card उन्होंने कहा कि बैठक के पहले दिन 1211 में से छह को छोड़कर बाकी सभी वस्तुओं के लिए जीएसटी दर तय कर ली गई। परिषद कल सोना, फुटवियर, ब्रांडेड आइटम व बीड़ी के लिए कर की दर तय करेगी। उन्होंने कहा,' बाकी के लिए दरों को अंतिम रुप दे दिया गया है।' इसी तरह पैकेज्ड खाद्य वस्तुओं के लिए जीएसटी अभी तय की जानी है। उन्होंने कहा कि कल की बैठक में सेवाओं पर कर की दर भी तय की जाएगी। आरएसओपी फार्मों की सूची Settings Go to a person's profile जमुई कमिशन के अनुसार 2522.62 करोड़ रुपए का घाटा पूरा करने के लिए तीन साल बाद यह वृद्धि की गई है। अब इसके अनुसार पंजाब में घरेलू उपभोक्ताओं को 0.48 रुपए से 0.96 रुपए प्रति यूनिट, जबकि कमॢशयल उपभोक्ताओं को 0.70 रुपए से 0.85 रुपए प्रति यूनिट अधिक अदायगी करनी होगी। इस वृद्धि से पंजाब उत्तरी भारत में सर्वाधिक बिजली दरों वाला राज्य बन गया है। ​ मनरेगा यों हो सकती है दिल्ली में बिजली सस्ती अध्यक्ष ने साफ किया कि राज्य सरकार चाहे तो अनुदान देकर आयोग की ओर से निर्धारित बिजली दर के बोझ को कम कर सकती है। वृद्धि के तर्क में कहा कि राज्य सरकार की ओर से अनुदान देने का कोई पत्र नहीं आया। साथ ही इस साल के अंत तक सभी को कनेक्शन देने की योजना के कारण बिजली नेटवर्क विस्तार में कंपनी के खर्च में वृद्धि हो गई है। दोनों कंपनियों ने अप्रैल 2017 से मार्च 2019 तक 36 लाख 19 हजार 683 उपभोक्ता बनाने का लक्ष्य दिया है।  http://mpcmsolarpump.com बुंदेलखण्ड सेहतमंद जिंदगी प्रदेश में बिजली उपभोक्ताओं की अनुदानित श्रेणी कृषि व घरेलू है और इनका हिस्सा क्रमश: 42 व 21 फीसदी है, वहीं देश में यह 23 व 24 फीसदी है जिसके चलते विद्युत लागत और राजस्व में अंतर ज्यादा रहा है। वहीं वर्ष 2005 में पड़ोसी राज्यों से? बिजली खरीद जहां 2.09 रुपए प्रति यूनिट रही, वहीं बिजली कंपनियों ने वर्ष 2008 में 8.83 रुपए प्रति यूनिट से बिजली खरीद कर कम दरों पर बिजली सप्लाई कर घाटे को बढ़ाया है।  खेल जगत भाजपा मंडल अध्यक्ष 400-800 यूनिट VIDEO: कानपुर में लोगों ने अटल जी को दी नम आंखों से विदाई தமிழ் विजय बरनवाल 1.3 किलो August 9, 2018 मप्र पश्चिम क्षेत्र बिजली वितरण कंपनी एमडी आकाश त्रिपाठी ने बताया कि अंसगठित क्षेत्र के मजदूरों के कार्ड नंबर के आधार पर घरों के बिजली खाते जोड़े जाएंगे। 100 यूनिट तक के खर्च एवं एक किलो वाट तक के कनेक्शन पर सिर्फ 200 रुपए की वसूली ग्राहकों से की जाना हैं। शेष रकम कंपनी को राज्य शासन से प्राप्त होगी, सरल बिल योजना के विभागीय काम में तेजी अगले सप्ताह से ही आएगी। जुलाई के बिल से योजना का लाभ मिलने लगेगा। इसके लिए कंपनी के सभी अधिकारियों को आदेश जारी कर दिए है। गैस और इलेक्ट्रिक बिल - सस्ते व्यापार बिजली गैस और इलेक्ट्रिक बिल - बिजली कंपनी गैस और इलेक्ट्रिक बिल - ऊर्जा प्रदाता चुनें
Legal | Sitemap