Oneindia in Other Languages BBC iD प्रकृति के अजूबे मोदी सरकार की महत्वकांक्षी प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना या सौभाग्य योजना के तहत गरीब घरों को मुफ्त में बिजली का कनेक्शन दिया जाना था लेकिन बिजली की खपत जितना मीटर में उठे उसके हिसाब से देना था. इससे आर्थिक रुप से कमजोर घर शायद ही बिजली की खपत कर पाते. अटलजी के गांववासी दर्शन के बगैर लौटे Next Next post: अंतिम अद्यतन तिथि: Aug 16, 2018 टूल्स और टेक्निक घर के सबसे बड़े बच्चे का हाल-ए-दिल, झेलनी ही पड़ती है ये मुसीबतें यूपी में बिजली दर बढ़ाने की प्रक्रिया 15 से शुरू दूसरा सवाल – परिवारों को अंतिम छोर तक बिजली कनेक्शन प्रदान करने के लिए क्या किया गया है? Read More: Lakhisarai Bihar Hindi News Jagran Newsविद्युत योजनासात हजारग्रामीण उपभोक्ता www.bhaskar.com 28 जून 2016, 04:38 AM മലയാളം NRC पर मायावती ने किया कहा, तुरंत यह काम करें मोदी सरकार नगर तथा मण्‍डल रिपोर्ट कांग्रेस को Follow Us On: सार्वजनिक छुट्टियाँ राफेल डील पर केंद्र सरकार को घेरने की बनेगी रणनीति, राहुल गांधी ने... केरल : बाढ़ बारिश से 9 दिनों में 324 लोगों की मौत,2 लाख से ज्यादा राहत शिविरों में, मोदी ने किया दौरा। Asian games 2018: तस्‍वीरों में देखिए, भारतीय एथलीट्स ने टूर्नामेंट शुरू होने से एक दिन पहले क्‍या किया Sitamarhi - 30% संयुक्त राष्ट्र + 15% संयुक्त राष्ट्र दीवार में अनुभूति के रंग भरकर “बाघ और जंगल की दुनिया” दिखाने वाले स्टूडेंट्स हुए पुरुस्कृत  1661 Online Services शेयर     A | B | C | D | E | F | G | H | I | J | K | L | M | N | O | P | Q | R | S | T | U | V | W | X | Y | Z | अन्य ऋषिकेश अदरक (Ginger) नोकिया 6.1 2018 64 जीबी (ब्लू-गोल्ड, 4 जीबी रैम) VIDEO : ओवैसी के पार्षद ने वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने का किया विरोध, भाजपा पार् प्रकृति के अजूबे भारत से बांग्लादेश को किये जाने वाले विद्युत निर्यात में उस समय वृद्धि हुई, जब सितम्बर, 2013 में 400 केवी क्षमता का पहला सीमापार इंटरकनेक्शन चालू हुआ। इसी तरह भारत में सुर्जामणिनगर (त्रिपुरा) और बांग्लादेश में दक्षिण कोमिल्ला के बीच दूसरा सीमापार इंटर-कनेक्शन चालू होने के बाद भारत के निर्यात में और बढ़ोतरी हुई। 132 केवी काटिया (बिहार)-कुसाहा (नेपाल) और 132 केवी रक्सौल (बिहार)-पार्वाणीपुर (नेपाल) सीमापार इंटरकनेक्शन चालू हो जाने के बाद नेपाल को किये जाने वाले विद्युत निर्यात में करीब 145 मेगावाट की वृद्धि होने का अनुमान है। - 201 से 600 यूनिट की दर 5.40 से घटाकर 5.30 और 600 यूनिट से ऊपर का टैरिफ 7.45 से घटाकर 7.35 रुपए किया गया है। कोई उपभोक्ता महीने में 1000 यूनिट की बिजली खपत करता है तो पहले उनका बिल 5906 रुपए आता था। यह अब 5806 रुपए आएगा। उत्तर प्रदेश में नगर निकाय चुनाव खत्म होते ही नई बिजली की दरों में बढ़ोतरी कर दी गई है। बिजली दरों की बढ़ोतरी ग्रामीण और शहरी दोनों जगह हुई हैं। बिजली दरों में बढ़ोतरी के लिए गुरुवार को लखनऊ में की प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी दी गई । इसमें आयोग के चेयरमैन एसके अग्रवाल ने बिजली की बढ़ी दरों के बारे में बताया। मध्य-प्रदेश जनता मजदूर संघ सिंदरी अध्यक्ष सौंदर्य ************************************************************************************ कैसे पहुंचें बिगनर्स के लिये सुझाव Chinese (Traditional) 繁 चास : NH 32 अतिक्रमण मुक्त, सड़क चौड़ीकरण को लेकर... DW.COM पर्यावरण इस घटना से दो माह पूर्व कनिष्ठ यंत्री पावसे ने उनसे अपने फोन से उनके भाई से तीस हजार रुपए रिश्वत की मांग की थी। उनके भाई मनोज उस बातचीत को अपने फोन में रिकॉर्ड कर लिया था जिसमें बातचीत में कनिष्ठ यंत्री द्वारा 20 हजार पर मामला तय कर लिया गया था। इसके बात इस रिकॉर्डिंग के आधार पर लोकायुक्त में शिकायत दर्ज कराई गई जिस पर लोकायुक्त ने आवेदक से कहा कि वह कनिष्ठ यंत्री को रिश्वत की राशि लेने कमलाराजा चिकित्सालय के पीछे बुलाए जहां उसने बुलाया तथा लोकायुक्त टीम ने उसे रंगे हाथों 20 हजार रुपए की रिश्वत लेते दबोच लिया था। बदायूं उत्तरप्रदेश प्रधान मंत्री आवास योजना (PMAY ) ऑनलाइन आवेदन फार्म pmaymis.gov.in डीलर संघ रत्न Cashback on offer price: 3000 Date: July 19, 2018 List name मराठी बिजली कंपनियों के घाटे की पड़ताल नहीं की गई और हर साल कंपनियां अपने घाटे को कानूनी जामा पहनाती जा रही हैं, लेकिन सरकार की लापरवाही की वजह से उनका दावा कानूनी तौर पर पुख्ता हो रहा है, क्योंकि सरकार ने घाटे को लेकर कंपनियों से न तो कोई पूछताछ की और न ही इस बारे में कोई जानकारी ही जुटाई गई, नतीजा ये हुआ कि साल दर साल कंपनियों के घाटे की फाइलें सरकार के पास जमा हो रही है और एक तरह से सरकार की मौन स्वीकृति इस घाटे को मिल रही है, अब अगर मामला कोर्ट में भी जाता है, तो यहां सरकार की लापरवाही से खुद उसका पक्ष कम हो रहा है, ऐसे में दिल्ली में टैरिफ बढ़ने की आशंका मजूबत हो रही है. झामुमो नेता 0 लेनदारों में कमी करनी चाहिए। लघु सिचाई योजनाएं   कृषियंत्रीकरण ऋण योजना कमल किशोर प्रतिनिधिमंडल के साथ मुजफ्फरपुर जा रहे तेजस्वी यादव, देखेंगे सही जांच हो रही या नहीं Delete All Cookies त्योहारों के मौसम में फ्लिपकार्ट और अमेजॉन लेकर आ रही बिग सेल धनबाद : प्रेस क्लब में मिले 21 रसेल वाइपर सांप, इनका काटा पानी भी नहीं... मैनुअल-3 & 4 Team Deutsche Welle सर्च जंजगीर-चम्पा प्रदूषण प्रयोगशाला गाज़ियाबाद यूएचवीआरएल, हैदराबाद बाजार में गिरावट, सेंसेक्स 184 अंक गिरा और निफ्टी.. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने ट्विट कर कहा है कि सरकार सब्सिडी के माध्यम से जनता पर बिजली बिल के रूप में पड़ने वाला बोझ कम करेगी.  गरीब, मजदूर, किसान और लघु व्यापारियों को सब्सिडी दी जायेगी. सब्सिडी की घोषणा जल्द की जायेगी. # Haryana Top UTI PSA Leave a comment July 8, 2018 अपनी बात GO इसरो नैनो उपग्रह बनाने के लिए क्षमता विकास कार्यक्रम शुरू करेगा घरों में बिजली कनेक्शन देने के कार्य में निकटतम विद्युत खंभे से सर्विस केबल घर तक लाना, एलटी लाइन से यदि घर की दूरी 45 मीटर से अधिक है तो नए खंभे लगाना, बिजली मीटर लगाना, एलईडी बल्ब और एक मोबाईल चार्जिंग प्वाइंट के साथ एकल विद्युत प्वाइंट के लिए तार डालना शामिल है। यदि सर्विस केबल लाने के लिए संबंधित घर के पास विद्युत खंबा नहीं है, तो खंबा लगाया जाना भी इस योजना में शामिल है। , , , , , , , , , , , , , , , 11 12 2016 , 3 , ... सौभाग्य योजना (सहज बिजली हर घर योजना) उत्तर प्रदेश के लोए यहाँ क्लिक करें॥ PUBLIC SERVICE COMMISSION SCREENING TEST RESULTS पुनःसंरचित एपीडीआरपी शनिवार, अगस्त 18, 2018 Health + साप्ताहिक निबंध प्रतियोगिता up news in hindi uttar pradesh news electricity prices in uttar pradesh Joined August 2010 इंटरनेट संसाधन 120V 60Hz और 220V, 230V, 240V Photos for Class – Search for School-Safe, Creative Commons Photos (It Even Cites for You!) 15 अगस्त की ड्रेस रिहर्सल, कई रूट बदले और स्कूल 10 बजे से 200-400 यूनिट टेस्ला के शेयर में 9% गिरावट, शॉर्ट-सेलर्स ने कमाए 7000 करोड़ रुपए; इलोन मस्क के इंटरव्यू के बाद टूटा शेयर 55 mins बहन प्रियंका की सगाई अटेंड करने शूटिंग बीच में छोड़ मुंबई लौंटी परिणीति चोपड़ा English Settings निर्मल सिंह दिल्ली आज तक केरल : बाढ़ बारिश से 9 दिनों में 324 लोगों की मौत,2 लाख से ज्यादा राहत शिविरों में, मोदी ने किया दौरा। Ludhiana हाईकोर्ट के आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में विशेष अनुमति याचिका दायर कर दी गई है। इसमें आरोप लगाया गया है कि आगामी विधानसभा चुनाव से पूर्व मौजूदा शिवराज सिंह चौहान सरकार ने भाजपा का वोटबैंक को साधने के लिए यह योजना शुरू की गई है|  इस मामले में अधिवक्ता अक्षत श्रीवास्तव पैरवी करेंगे। मामले की सुनवाई एक सप्ताह के अंदर होने की संभावना है। विशेष अनुमति याचिकाकर्ता नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच के प्रांताध्यक्ष डॉ.पीजी नाजपांडे व डॉ.एमए खान ने प्रेस कॉफ्रेंस में आरोप लगाया कि राज्य शासन का बिजली बिल माफी का निर्णय मनमाना है। EXAMS दानिश रिज़वान ने की पटना जंक्शन का नाम अटल बिहारी वाजपेयी जंक्शन करने की मांग यह भी पढ़ें- भारत में छह परमाणु रिएक्टर लगाएगा फ्रांस, 36 राफेल लड़ाकू विमान खरीदेगा भारत रेट करें संत कबीर दास के दोहों में छुपा है जीवन को सफल बनाने का सूत्र 42 mins दुनिया की सबसे बड़ी बिजली कंपनी ईडीएफ द्वारा छह न्‍यूक्लियर प्‍लांट्स का समझौता करने के बाद भारत में परमाणु ऊर्जा कार्यक्रम फि‍र शुरू होगा। फेसबुक मसाला नवभारत टाइम्स | Updated:Mar 16, 2018, 08:00AM IST Ireland 51210 Vodafone, O2 बांसवाड़ा : देश को आजाद हुए हो गए 71 साल, फिर भी आशियाने रोशन करने की कछुआ चाल हज़ारीबाग़ बिजली कंपनी जुलाई महीने से २०० रुपए प्रतिमाह में मिलने वाली बिजली योजना (सस्ती बिजली बिल स्कीम) योजना भी लागू कर रही है। इसमें उपभोक्ता १०० यूनिट तक पंखा, टीवी व ट्यूबलाइट जला सकेंगे। बिल की गणना टैरिफ आधार पर होगी। उपभोक्ताओं की शेष राशि राशि राज्य सरकार सब्सिडी के रूप में विद्युत कंपनी को देगी। सचिव, अधिवक्ता संघ बेरमो, तेनुघाट फ्राइबुर्ग की सौर कॉलोनी सोशल मीडिया के पोस्ट-लाइक-कमेंट-शेयर पर पुलिस की नजर, लगेगा 'रासुका' (बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) बिगनर्स के लिये सुझाव Coconut Grove’s single-family neighborhoods are under assault. Tree canopy is shrinking, architectural variety is disappearing, lot sizes are being diminished, homes are being demolished and the… Read more हम आपके लिए अपने कंटेंट को बेहतर बनाने के लिए कूकीज का इस्तेमाल करते हैं. अधिक जानकारी डाटा सुरक्षा पेज पर उपलब्ध है. ग्रेटर नोएडा Google मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य सरकार की अोर से वर्ष 2017-18 में बिजली उपभोक्ताओं को कुल 2952 करोड़ रुपये सब्सिडी के रूप में दी जायेगी. वित्तीय वर्ष 2016-17 में सरकार ने 2704 करोड़ की सब्सिडी  दी गयी. इस तरह इसमें कुल 248 करोड़ की वृद्धि की गयी है. वित्तीय वर्ष 2016-17 में राज्य में विद्युत उपलब्धता करीब 24,905 मिलियन यूनिट है, जबकि नये वित्तीय वर्ष में यह बढ़ कर 30740 मिलियन यूनिट हो गयी है, जो पिछले वर्ष से 23% अधिक है.  # state मेघालय इन्ट्रानेट Buxar सघन गन्ना विकास योजना also availabe on: जागरण संवाददाता, मोहाली : चंडीगढ़ के बाद अब मोहाली में भी सस्ते बिजली उपकरण मिलेंगे। जिनमें बल्ब से लेकर ट्यूबलाइट और पंखे शामिल हैं। यह योजना एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड (ईईएसएल) और पंजाब स्टेट पावर सप्लाई लिमिटेड (पीएसपीसीएल) की ओर से आयोजित कार्यक्रम के तहत शुरू की गई है। अधिकारियों का कहना है कि ये सभी एलईडी उपकरण बहुत कम बिजली की खपत करते हैं। स्कीम को लांच करने का उद्देश्य पंजाब की बिजली की खपत कम करना है। जल्द ही शहर में जगह-जगह कैंप लगाकर उजाला स्कीम के तहत लोगों को किफायती कीमत पर ये एलईडी बिजली उपकरण मुहैया कराए जाएंगे। इससे न सिर्फ लोगों को सस्ते बिजली उपकरण मिलेंगे बल्कि बिजली की खपत कम होगी। बिजली विभाग के अधिकारियों का कहना है कि बिजली के यूनिट कम खर्च होने से विभाग को सरपल्स बिजली तो मिलेगी ही। इसके साथ-साथ लोगों के बिजली के बिल भी कम आएंगे। विभाग की ओर से लोगों को इनके इस्तेमाल के प्रति जागरूक करने के लिए अब जगह-जगह पर शिविर लगाए जाएंगे। उपभोक्ताओं को जो बल्ब और ट्यूबलाइट्स मुहैया करवाई जाएगी, उसकी तीन साल की वारंटी होगी। वहीं, साधारण बल्बों के मुकाबले एलईडी बल्ब 10 फीसद ज्यादा असरदार हैं। योजना के तहत दिए जाने वाले सीलिंग फैन पारंपरिक पंखों के मुकाबले ऊर्जा में 30 फीसद ज्यादा बेहतर होंते हैं। पेंशनरों के बारे में नई दिल्ली, 28 मार्च 2018, अपडेटेड 17:13 IST बिजली कनेक्शन होगा सस्ता Show — उपयोगी कड़ियाँ Hide — उपयोगी कड़ियाँ पारस HMRI में लिगामेंट सर्जरी का बढ़ा क्रेज, दो फुटबाॅलरों का हुआ सफल ऑपरेशन BIHAR विद्युत प्रदायक बदलें - ऊर्जा कंपनी विद्युत प्रदायक बदलें - ऊर्जा कंपनियों की तुलना करें विद्युत प्रदायक बदलें - ऊर्जा स्विच करें
Legal | Sitemap