इवेंट्स CompareIndia खास बात यह है कि नवंबर में यूपीसीएल ने नए टैरिफ का जो प्रस्ताव भेजा था, उसके अनुसार बिजली दरें 15 फीसदी तक बढ़ाई जानी थी. करीब तीन महीने तक प्रदेश में जनसुनवाई के बाद आयोग ने बिजली की नई दरों को मंज़ूरी दे दी है. Ukrainian Українська भविष्यफल घरेलू (ग्रामीण) डीएस वन(0-200 यूनिट) 1.60  4.75 कॉरपोरेट दुमका : इंडोर स्टेडियम दुमका में अरविन्द प्रसाद की अध्यक्षता में झारखंड राज्य विद्य्नुत नियामक... अटल जी को श्रद्धांजलि देने उमड़ा हिमाचल बीबीसी लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें #KeralaFlood: बाढ़ से अब तक 324 की मौत Sports एक तरफ घरेलू उपभोक्ताओं के लिए बिजली के दाम बढ़ाए गए हैं, वहीं पीथमपुर सेज के उद्योगों को इससे राहत दी गई है। सेज के उद्योगों को लगातार तीन साल से केवल 3 रुपए 35 पैसे प्रति यूनिट की दर से बिजली मिल रही है जो जारी रहेगी। कांग्रेस बिजली की दरें बढ़ाने का लगातार विरोध कर रही है। अध्यक्ष भारतीय जनता युवा मोर्चा शाहरुख और अनुष्का के साथ डेट पर जाने का मिलेगा मौका, जानने के लिए पढ़ें ये खबर   विषय Nokia 6.1 PriceJioRealme 2TamilRockers WebsiteIRCTC PhonepeRedmi 5A PriceVajpayee DeadAyushman Bharat YojnaOppo R17 ProNarendra ModiRRB ALP Admit Card 2018Google Person FinderKerala Floods NewsRahul GandhiMK StalinSBI Q1 Results 2018ITR Filing StatusIdukki Dam Water LevelPriyanka Chopra PhotosHow to File ITRKatrina Kaif Hot PhotosTeen Talaq BillAarushi Hemraj CaseTravel News in HindiWhatsapp NewsAaj Ka RashifalBejan DaruwallaIncome Tax in HindiMutual Funds in Hindi2018 RashifalGadgets News in HindiRains In MumbaiTech News in HindiHindi NewsAssembly Elections 2018Kolkata NewsLucknow NewsTV News in HindiLive Cricket ScoreMumbai NewsPunjab NewsKashmir NewsEducation News in HindiVasthu Tips in HindiDelhi NewsUP NewsBihar NewsHealth News in HindiMovie News in HindiSports News in Hindi इब्ने सफी: खटक रहा था जिसके दिल में एक गुलाब का जख्म Block विज्ञान और तकनीक राज्य सरकार की नीतियाँ दीवार में अनुभूति के रंग भरकर “बाघ और जंगल की दुनिया” दिखाने वाले स्टूडेंट्स हुए पुरुस्कृत  उपविधि केन्द्रीय ऊर्जा राज्यमंत्री ने मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत व राज्य सरकार के कार्यो की तारीफ की. कहा, मुख्यमंत्री राज्य हित की परियोजनाओं की केन्द्र सरकार से लगातार प्रभावी पैरवी करते हैं. ऐसे में राज्य सरकार का कोई काम केन्द्र स्तर पर नहीं रुक सकता. कहा, राज्य में बिजली की उपलब्धता बढ़ी है. ऊर्जा विभाग ने अपना घाटा दूर किया है. विभाग ने करीब 200 करोड़ की आय भी अर्जित की है. सूचक: नेतृत्व में सटीकता: कक्षा 1 एस price hike आइए जानते हैं बिजली की दरों में बढोतरी को लेकर किन मुद्दों पर गुप्ता ने सरकार को घेरा सरकार ने निजी कंपनियों के उस हिसाब किताब को लेकर कोई पड़ताल नहीं की, जो कंपनियों ने सरकार के पास जमा कराया. हर साल कंपनियां फर्जी घाटा सरकार के सामने पेश करती हैं और सरकार चुपचाप उसे अपने पास रख लेती है, इसका मतलब है कि सरकार की मौन स्वीकृति है. अब कंपनियों ने इसी घाटे को आधार बनाकर बिजली की बढ़ी हुई दरें डीईआरसी के सामने पेश कर दी हैं. सरकार तो (सीएजी) आडिट कराने की बात करती थी, लेकिन अब उस मामले पर चुप है, केजरीवाल जी को जवाब देना चाहिए कि आखिर दिल्ली वालों को सस्ती बिजली के सपने दिखाकर बिजली महंगी करने की तैयारी क्यों की जा रही है. सरकार हर साल दो हज़ार करोड़ रुपए निजी बिजली कंपनियों को सब्सि़डी के तौर पर दे रही है, दिल्ली की जनता की कमाई का पैसा कंपनियों को दिया जा रहा है और अब दिल्ली की जनता पर ही टैरिफ का बोझ बढाने की तैयारी हो रही है. लोन लेने में मदद करता है 'क्रेडिट स्कोर',जानिए हर जरूरी बात चंपारण (प) मध्य प्रदेश पी.सी.एस. इंस्पेक्टर ने बताया कि तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी। वहीं टोरंट पीआरओ भूपेंद्र सिंह का कहना था कि गाड़ी ठेकेदार की थी। ठेकेदार की ओर से पीड़ित परिवार को आर्थिक मदद दिलाई जाएगी।  अब तक लगे टॉवर रोग और उपचार Live Stock Market News Hindi News Marathi News Kids education and games site History India MTV India in.com कॉरपोरेट यह ईपीसी मोड के तहत पूरी तरह सरकारी प्रोजेक्ट हैं। इसके अलावा 9 मेगावाट के हानू और 9 के मेगावाट के दाह प्रोजेक्ट के लिए निगम द्वारा पूरी की गई निविदा प्रक्रिया के आधार पर पात्र बोलीदाता को ठेका देने की अनुमति दे दी गई है। पुग लेह 5 मेगावाट की भू-तापीय परियोजना आईपीपी मोड पर विकसित करने का भी निर्णय किया गया। प्रवक्ता ने बताया कि सबसे महत्वपूर्ण 1,856 मेगावाट क्षमता के स्वालकोट एचईपी प्रोजेक्ट के लिए बोर्ड ने जल्द विस्तृत रिपोर्ट पूरी करने और सीईए से टेक्नो 9 वाट का बल्ब सिर्फ 65 रुपये में Latest Govt Jobs तेज रफ्तार कार पेड़ और खंबे से टकराने के बाद... उत्तर प्रदेश आय, जाति निवास प्रमाणपत्र ऑनलाइन सत्यापन कैसे करें सदा नुसरत इंग्लैंड बिज़नेस एक्सपर्ट के टिप्स यहां पुलिसकर्मियों ने टॉस उछालकर किया महिला की गिरफ्तारी का फैसला पावर टैरिफ सब्सिडी प्रदान करने की यह योजना 15 अगस्त, 2015 से प्रभावी होगी तथा 5 वर्ष तक की अवधि के लिए जारी रहेगी। जिन इकाइयों को उद्यम प्रोत्साहन नीति 2015 की अधिसूचना अर्थात 15 अगस्त,2015 को या उसके बाद बिजली कनेक्शन जारी किया गया है, वे 14 अगस्त, 2020 तक पावर टैरिफ सब्सिडी के लिए पात्र होंगी। ऊर्जा उत्पादक संघ के क्षमता प्रोडक्शन के प्रबंध निदेशक अशोक खुराना के मुताबिक, अगर गवर्नमेंट सभी पक्षकारों की राय के मुताबिक आगे बढ़ती है, तो उपभोक्ताओं को सीधे तौर पर लाभ मिलेगा . केंद्रीय ग्रिड तंत्र सीमित नहीं रहेगी व सभी संयंत्रों में एकरूपता आएगी . स्वर कोकिला लता मंगेशकर ने अटल जी की कविता 'मौत से ठन गई' गाकर दी श्रद्धांजलि 0 विभिन्न् प्रशासनिक और तकनीकी उपायों के माध्यम से बिलिंग दक्षता में सुार किया जाना चाहिए। 0 घटा लाइन लॉस 31.75 से 26.64 फीसद। नागौर स‍िनेमा गोपनीयता नीतिविकिपीडिया के बारे मेंअस्वीकरणडेवेलपर्सकुकी का वर्णनमोबाइल दृश्य dainikbhaskar.com | Last Modified - Mar 26, 2018, 05:50 PM IST Moradabad बीजेपी मुख्यालय के बाहर अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर लोग नारे लगा रहे है साड्डा हक Bihar News संघ की विचारधारा से दूध में शक्कर की तरह घुले मिले थे वाजपेयी: शिवसेना पुस्‍तकालय एवं सूचना केंद्र बिजली विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि जिले में कई ऐसी सोसायटी हैं जिनका बिजली बिल बकाया है और उनके कनेक्शन काटे जाएंगे। जबकि वहां रहने वाले लोगों का कहना है कि उन्होंने समय से बिल्डर को बिल के पैसे दे दिए हैं। उन्होंने बताया कि सोसायटी के आर.डब्लू.ए को इसकी जानकारी दी जा रही है और यदि समय से बिल का भुगतान नहीं किया गया तो सोसायटी की बिजली काट दी जाएगी। Privacy policy 500 मेगावाट के लिए 30 कंपनियों ने लगाई बोली बाढ़ के कहर से केरल में 300 से अधिक लोगों की मौत, केजरीवाल सरकार देगी 10 करोड़ रुपये विद्युत प्रणाली प्रभाग देश भर में सुहागिनों ने मनाया हरियाली तीज का पर्व लाइव सिटीज डेस्कः बिहार के लिए एक बुरी खबर है. बताया जा रहा है कि तेलंगाना के मेदक में समस्तीपुर के तीन मजदूरों की मौत हो गई है. हादसा सिलिंडर फटने से हुआ है. सभी […] मार्च में राजस्व संग्रह 1300 करोड़ पर पहुंचा : बिहार स्टेट पावर होल्डिंग कंपनी के अधिकारी वर्तमान वित्तीय वर्ष के आखिरी दिन लगातार राजस्व संग्रह से जुड़े आंकड़े को इकट्ठा करने में लगे थे। देर शाम तक उपलब्ध आंकड़े के अनुसार अकेले मार्च 2018 में यह लगभग 1300 करोड़ पर पहुंचने की उम्मीद है। वहीं मार्च 2017 में यह राशि 830 करोड़ रुपए थी। देर शाम तक इस वर्ष मार्च में साउथ बिहार पावर होल्डिंग कंपनी का योगदान 850 करोड़ तथा नार्थ बिहार पावर होल्डिंग कंपनी का योगदान 450 करोड़ दर्ज हुआ। उन्होंने बताया कि पावर टैरिफ सब्सिडी प्राप्त करने के लिए आवेदन आवश्यक दस्तावेजों के साथ निर्धारित फॉर्म पर विभाग के वेब पोर्टल पर उद्योग और वाणिज्य निदेशक को भेजना होगा। आवेदन की जांच की जाएगी और कमियां, यदि कोई है तो उस बारे 10 कार्य दिवसों के भीतर आवेदक को लिखित में सूचित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि आवेदक को इन कमियों को दूर करने के लिए दो सप्ताह का समय दिया जाएगा। © 2018 Patrika Group लाइव Top-News POPULAR POSTS जल शब्दकोश फूड एंड ड्रिंक Mi A2 खरीदने वालों के लिए खुशखबरी, Xiaomi ने जारी किया सिक्योरिटी पैच और कैमरा अपग्रेड 19 mins हमें लिंक बनाएं आई.एम.एस. आवेग वोल्टेज की प्रतिरक्षा केस्को को अंतरिम आदेश का मिला लाभ स्वतंत्रता दिवस पर जिले के समस्त पदाधिकारी एवं आम जनता को हार्दिक शुभकामनाएं उत्पादन by: Sanjay Srivastava सूचना का अधिकार अधिनियम Greek Ελληνικά Latest NewsView All पूर्व क्षेत्र कंपनी अंतर्गत विभिन्न जिलों में काम लेने वाली नौ कंपनियों को टर्मिनेट कर दिया गया है। इन कंपनियों द्वारा काम नहीं किया जा रहा था। आगे नियमानुसार इनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। Subscribe राशिफल 2018 दीनदयाल अंत्योदय योजना Circulars जेएमएम, जिलाध्यछ इस भाग में केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गयी दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के बारे में अधिक जानकारी दी गयी है| Email this article to a friend मीटर निरंतर एशियन गेम्स 2018: भारतीय टीमें इंचियोन पहुंची, आज से होगा आ social links दरसअल करीब 72 घण्टे से गायघाट में बिजली नही रहने के कारण लोगो ने किया सड़क जाम, मुज़फ़्फ़रपुर-दरभंगा मार्ग पर करीब 2-3 घण्टे रहा आवागमन ठप. लोगो का कहना है कि एस्सेल बिजली की कटौती करता है, एस्सेल अपनी मनमानी करता है, एस्सेल के कर्मचारी को जब बिजली नही रहने पर सूचना दी जाती है तो वो लोग बात को इधर उधर कर घुमा देते है और कोई जवाब नही देते बिजली का कोई समय नही है कि कब कँहा कैसे बिजली कट जाए और अगर कँही बिजली की तार आँधी तूफान में गिर जाए तो उसके लिए 2-3 दिन बिजली को बाधित कर के रखते है. Refrigerator 'अटल' हो गई महाकवि गोपाल दास नीरज की भविष्यवाणी! Hindi NewsMetroDelhiPower Road And Water Delhi 2 Hours Ago आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने जब गुरु 'महाबली' सतपाल को दी थी बादाम की बोरी July 21, 2018 ईडीएफ यह प्रोजेक्‍ट अरेवा से टेक ओवर करेगी। अरेवा ने यह कॉन्‍ट्रैक्‍ट 2009 में हासिल किया था। ईडीएफ, इसमें 84 फीसदी हिस्‍सेदारी फ्रांस सरकार की है, ने जुलाई 2015 में अरेवा में नियंत्रण हिस्‍सेदारी हासिल करने के बाद इस प्रोजेक्‍ट को अपने हाथ में लिया है। अरेवा, इसमें भी फ्रांस सरकार की बड़ी हिस्‍सेदारी है, इस प्रोजेक्‍ट को शुरू नहीं कर पाई, क्‍योंकि एनपीसीआईएल के साथ प्रोजेक्‍ट कॉस्‍ट को लेकर कुछ विवाद था और स्‍थानीय लोगों भी इस प्रोजेक्‍ट का विरोध कर रहे हैं। जैतापुर भूकंप की दृष्टि से सक्रिय क्षेत्र में स्थित है, इसलिए पर्यावरणविद इससे भारी नुकसान की आंशका जता रहे हैं। जिले की अब तक की सबसे बड़ी विद्युत प्रसारण योजना वन क्षेत्र पदाधिकारी (RFO) बेरमो जालंधर: 3 अज्ञात हमलावरों ने प्रवासी मजदूर का किया बेरहमी से कत्ल ताजा ओपिनियन उपयोगी अंग्रेज़ी लेखों के अनुवाद Share Facebook Twitter अटलजी नकारात्मक सोच से हमेशा दूर रहे, उनके व्यंग्य पर लोग तिलमिलाते तो जरूर थे, पर आहत नहीं होते: लालकृष्ण आडवाणी 15 mins बिजली स्विच करें - सस्ता बिजली डलास TX बिजली स्विच करें - ऊर्जा तुलना साइटें बिजली स्विच करें - बिजली पर पैसा बचाओ
Legal | Sitemap