‘रेस 3’ के गाने में साथ नजर आएंगे सलमान-सोनाक्षी … आरती सामद RC Desk2, November 08,2017 09:10:04 AM अरुण कुमार सोनी विजय हांसदा सरायकेला- खरसावां भाजपा जिला महामंत्री  Local News Bagha Asian games 2018: उद्घाटन समारोह में दिखेगी इंडोनेशिया की खूबसूरती Search Site DISTRIBUTION About Us | Terms of Service | Privacy Policy | Newsletters | Apps | RSS | Advertise with Us | Work for Us | Contact Us | Feedback | Sitemap | Cookie Policy अदरक (Ginger) पुलिसवाले देखते रहे, कांवड़िए कार तोड़ते रहे खेलकूद हमारे बारे में : सीएचसी चंदनकियारी वजीरगंज : बस के चपेट में आने से युवक की… रंजन सिंह Cookies Policy Uttar Pradesh News बच्चे की तरकीब के मुरीद हुए आनंद महिंद्रा, करना चाहते हैं हा... संन्यासी के पास इतना सोना कहां से आया? कॉर्पोरेट electric bills नईदुनिया विशेष The page you requested could not be found. Use your browsers Back button to navigate to the page you have previously come from Or you could just press this neat little button: स्पेशल स्टोरी Kannada जयपुर में देर रात झमाझम बारिश, मौसम हुआ ठंडा, सड़कों पर जगह-जगह भरा पानी दक्षिण अफ्रीका187/9(21.0) फोटो अम्बेडकरनगर साहित्य अकेडमी, नई दिल्ली में 3 पद electricity electricity news patrika shahdol Shahdol जेवर हवाई अड्डे पर संकट के बादल, सरकार ने निकाला ये फॉर्मूला By admin October 10, 2016 "https://www.PunjabKesari.in:443" के लिए Allow चुनें। भाजपा मंडल अध्यक्ष मेरा टीवी भागलपुर के पीरपैंती व लखीसराय के कजरा में 1320-1320 मेगावाट का थर्मल पावर प्लांट लगना था लेकिन अब राज्य सरकार ने दोनों जगहों पर सोलर पावर प्लांट लगाने का निर्णय लिया है.राज्य कैबिनेट ने इसे मंजूरी भी दे दी है. दोनों जगहों पर ढाई-ढाई सौ मेगावाट का सोलर पावर प्लांट लगना है.  हमारी दूसरी साइट्स शहरी क्षेत्र काश, प्रधानमंत्री 15 अगस्त के अपने ‘आखिरी भाषण’ में सच बोलते: कांग्रेस बब्लू झा Cricket News कारखाना भ्रमण झामुमो नेता राज्य विद्युत उपभोक्ता परिषद के अध्यक्ष अवधेश कुमार वर्मा ने लाइन लॉस का पूरा भार बिजली उपभोक्ताओं पर न डालने की वकालत की। उन्होंने ओडिशा का उदाहरण देते हुए कहा कि बिजली कंपनियों के घाटे के आधार पर जो रेग्युलेटरी सरचार्ज लगाया जाता है। उसका 50 प्रतिशत हिस्सा उपभोक्ताओं और 50 प्रतिशत हिस्सा बिजली कंपनियों को देना चाहिए। ताकि बिजली कंपनियों की लापरवाही का खामियाजा ईमानदार उपभोक्ताओं पर न पड़े। ईडीएफ यह प्रोजेक्‍ट अरेवा से टेक ओवर करेगी। अरेवा ने यह कॉन्‍ट्रैक्‍ट 2009 में हासिल किया था। ईडीएफ, इसमें 84 फीसदी हिस्‍सेदारी फ्रांस सरकार की है, ने जुलाई 2015 में अरेवा में नियंत्रण हिस्‍सेदारी हासिल करने के बाद इस प्रोजेक्‍ट को अपने हाथ में लिया है। अरेवा, इसमें भी फ्रांस सरकार की बड़ी हिस्‍सेदारी है, इस प्रोजेक्‍ट को शुरू नहीं कर पाई, क्‍योंकि एनपीसीआईएल के साथ प्रोजेक्‍ट कॉस्‍ट को लेकर कुछ विवाद था और स्‍थानीय लोगों भी इस प्रोजेक्‍ट का विरोध कर रहे हैं। जैतापुर भूकंप की दृष्टि से सक्रिय क्षेत्र में स्थित है, इसलिए पर्यावरणविद इससे भारी नुकसान की आंशका जता रहे हैं। GOVT. SPONSORED SCHEMES तापमान सीमा संचालित करना विद्युत रोधन प्रभाग एवं ताप प्रचाल परीक्षण प्रयोगशाला (आई डी एच आर टी) Business Resources – All Business Resources • Product Development • Negotiation • Business Frameworks • Business Terms • Video Marketing • Create for Work लखनऊ। वस्तु व सेवा कर (जीएसटी) के एक जुलाई से कार्यान्वयन के बाद सामान्य उपभोग का सामान मसलन केश तेल, साबुन और टूथपेस्ट सस्ते हो जाएंगे, साथ ही बिजली की दरें भी घटेंगी। जीएसटी परिषद ने कल अनाज को जीएसटी के दायरे से बाहर रखने का फैसला किया है। Update Saturday 18 August 2018 पुस्तकें Business News शहरी उपभोक्ताओं को 500 यूनिट से ऊपर के लिए 6.30 रुपये निर्धारित किया गया है। बिटकॉइन मूल्य: तरल स्थिरता राहुल द्वारा मोदी को गले लगाने पर स्मृति ईरानी ने कसा तंज iOS बाघ के हमले में तेंदूपत्ता श्रमिक की मौत PRIVACY POLICY Okay ट्रंप के मीडिया पर हमलों के खिलाफ खड़े हुए अमेरिका के… अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त भविष्यवक्ता एवं वाममार्गी तांत्रिक, तंत्र सम्राट डबल गोल्ड मेडलिस्ट, स् 300 यूनिट से ऊपर घरेलू बिजली को 4 पैसे प्रति यूनिट सस्ता किया गया है. ← पिछला पेज बाजार में तेजी, सैंसेक्स 284 अंक चढ़ा और निफ्टी 11470 के पार बंद Create a new list सिल्लीगुडी पृष्ठ अंतिम अपडेट किया गया: 16-08-2018 04:36 PM इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में कृषि और गैर-कृषि उपभोक्ताओं को विवेकपूर्ण तरीके से विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करना सुलभ बनाने के लिए कृषि और गैर–कृषि फीडर सुविधाओं को अलग–अलग किया जाएगा। इसके साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में वितरण और उप - पारेषण प्रणाली को मजबूत किया जाएगा जिसमें वितरण ट्रांसफार्मर, फीडर और उपभोक्‍ताओं के लिए मीटर लगाना सम्मिलित होगा। गिरिडीह समेत तमाम राज्य वासियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं सूचना सेनिटेशन Latest Live TV और जानें:विद्युत नियामक आयोग|यूपी ब‍िजली की दरें|Uttar Pradesh Power Corporation|up new bijali bill|Electrical regulatory commission Samsung AC Technologies in India – Review गॉसिप ये तकनीक इस तरह काम करता है कि गुफा के अंदर एक खाली कमरे में हवा को अतिरिक्त बिजली की मदद से कंप्रेस किया जाता है. जरूरत पड़ने पर कंप्रेस की हुई हवा को बाहर छोड़ने पर वह इलेक्ट्रिक जेनरेटर को चला सकती है और बिजली पैदा कर सकती है. दुनिया में बिजली बनाने के तो कई साधन हैं लेकिन उन्हें जमा रखने की तकनीक खोजी जा रही है. पवन बिजली हवा चलने पर ही काम करती है और सौर बिजली धूप रहने पर. अब तक पंप स्टोरेज प्लांट बिजली के उत्पादन में उतार चढ़ाव की भरपाई करती रही है. लेकिन कंप्रेस्ड एयर स्टोरेज के अपने फायदे हैं. घर में नहीं रहेगा चूहों का नामोनिशान अगर अपनाएंगे ये जबरदस्त घरेलू नुस्खे Whatsappसब्सक्राइब शासकीय विभाग अनुसूचित जाति/ जनजाति अधिकार मंच ने किया अजमेर कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन nuclear energy मोबाइल शासन विघापतिनगर की साधना बिहार फुटबॉल टीम में चयनित ,खेलप्रेमियों में खुशी Jammu & Kashmir चकल्लस ऊर्जा मंत्रालय के सर्कुलर अनुसार यदि किसी परिवार में पांच सदस्य है और मुखिया के नाम से बिल कनेक्शन है। यदि वह मुखिया असंगठित श्रमिक योजना के तहत पंजीकृत नहीं है और उसके परिवार का अन्य कोई एक भी सदस्य पंजीकृत है तथा इन दोनों के नाम समग्र आईडी परिवार की प्रोफाइल में एक साथ सम्मिलित है तो योजना का लाभ मिलेगा। ग्रामीण नवाचार Fropky संगीता तिवारी वनकर्मियों की हड़ताल:- बिगड़े हालात, मचने लगी हाहाकार विदेशी अखबारों से कंपनी ने कुल खर्च के लिए 16,900 करोड़ की मांग की है. इसमें नॉर्थ बिहार कंपनी ने 7200 करोड़ तो साउथ बिहार कंपनी लिमिटेड ने 9700 करोड़ की मांग की है. कंपनी ने अपने प्रस्ताव में दो तरह की टैरिफ सौंपी है. एक में कंपनी ने कहा है कि राज्य सरकार के अनुदान के बिना अगर शत-प्रतिशत खर्च की बात है तो उसमें 51 फीसदी से लेकर 120 फीसदी तक बिजली दर में वृद्धि की आवश्यकता होगी. लेकिन कंपनी ने कहा है कि मौजूदा वित्तीय वर्ष 2017-18 में राज्य सरकार ने 2952 करोड़ का अनुदान दिया है. मुंबई वालों ध्यान से सुन लो! बिहार में उत्पादित बिजली से दौड़ती हैं मुंबई की लोकल ट्रेनें एमडीएस-1 रूरल( बिना मीटर) 444 रुपये किलोमीटर लंबी लाइन जीवन शैली Views सम्पर्क करने का विवरण अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के चलते IGMC में लटके मरीजों के ऑप्रेशन SENSEX राकेश पाल सिंह को सड़क पर हार्मोनियम बजाता है ये शख्स, 'इंडियन आइडल 10' के जज नेहा-विशाल ने दान किए 1-1 लाख रुपये अंतर्कलह से जूझ रही भाजपा-कांग्रेस को चुनाव में झटका दे सकती है ये तीसरी पार्टी आदेश और परिपत्र Hindi News »Madhya Pradesh »Shivpuri» अब बिजली कंपनी में अनुकंपा नियुक्ति शुरू रीवा यह है मामला Best Ceiling Fans in India साहित्य अकेडमी, नई दिल्ली में 3 पद news18 hindi Partner with us Menu विद्युत प्रणाली प्रभाग जब इमरान खान की चुनौती ने बदलवा दी गावस्कर के रिटायरमेंट की तारीख... एमडीएस-1 रूरल( मीटर)  प्रकाश पासवान गिरिडीह RC Desk2, November 08,2017 09:10:04 AM सीतामढी Firkee चक्रधरपुर इस्पात उद्योग समाचार बिजली कंपनी के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक प्रत्यय अमृत व एनटीपीसी के सीएमडी गुरदीप सिंह ने संयुक्त प्रेस वार्ता में कहा कि 17 अप्रैल को कैबिनेट ने इन बिजली घरों को एनटीपीसी को देने पर सहमति दी थी। एमओयू पर हस्ताक्षर एनटीपीसी के डायरेक्टर कॉमर्शियल एके गुप्ता व कंपनी के प्रबंध निदेशक आर लक्ष्मणन ने किया। करार होने के बाद बरौनी से 684 करोड़ , कांटी से 54.69 करोड़ और नवीनगर से 136 करोड़ कुल 865 करोड़ सालाना बचत होगी। करार के समय मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह, सीएम के प्रधान सचिव चंचल कुमार, सचिव अतीश चंद्रा व मनीष कुमार वर्मा, विशेष सचिव अनुपम कुमार सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे। होमबिहार सिल्लीगुडी पृष्ठभूमि पश्चिमांचल को 10 फीसदी अतिरिक्त बिजली सप्लाई का तोहफा अटल जी की अंतिम यात्रा ! सस्ता बिजली प्रदाता - सस्ता बिजली बिल सस्ता बिजली प्रदाता - ऊर्जा योजनाओं की तुलना करें सस्ता बिजली प्रदाता - और जानने के लिए यहां क्लिक करे
Legal | Sitemap