इस वर्ष सबसे अधिक बारिश तराना तहसील में 675 मिमी हुई, सबसे कम बारिश महिदपुर तहसील में 308 मिमी 16/08/2018 जमशेदपुर सहित समस्त झारखण्ड वासियो को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक सुभकामना Delhi News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए NBT के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें #Ind Vs Eng UP में भारी बारिश का कहर जारी, अब तक इतने लोगों की हुई मौत By Prabhat Khabar | Updated Date: Aug 31 2017 9:32AM अटल बिहारी के सम्मान में मॉरीशस ने उठाया ऐसा कदम की जान करेंगे गर्व # Dehradun News Headlines Undo प्रमुख कमोडिटी इसमें कैरेज और कंटेट (वितरण नेटवर्क और बिजली आपूर्ति) कारोबार को अलग करने का भी प्रावधान होगा। जिस प्रकार हमने उत्पादन और वितरण को अलग किया, अब आपूर्ति और वितरण कारोबार को अलग-अलग करना है। मसौदा मेरे पास अगले चार-पांच दिन में आ जाएगा। हम संसद के बजट सत्र में इसे पारित कराने की कोशिश करेंगे। वितरण और आपूर्ति कारोबार को अलग करने से नई व्यवस्था आएगी। इससे ग्राहकों के पास बिजली खरीदने के लिए अपने क्षेत्र में बिजली की अपूर्ति करने वाली एक से अधिक कंपनियों के बीच चुनाव करने का विकल्प उपलब्ध होगा। यह उसी प्रकार होगा जैसा कि दूरसंचार सेवा क्षेत्र में है। 0 0 6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग ऊर्जा मीटर परीक्षण प्रयोगशाला 1. गैर घरेलू सेवा (एनडीएस-एक) और राजकीय सिंचाई नलकूप (आईएएस-दो) में बिना मीटर वाले उपभोक्ता श्रेणी को समाप्त कर दिया गया है। एक अप्रैल से इस श्रेणी के उपभोक्ताओं को मीटर से ही बिजली बिल दिया जाए।  अजमेर में मंगलवार को कांग्रेस ने बिजली के बिलों में बेतहाशा वृद्धि को लेकर टाटा पावर के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया. सैकड़ों कांग्रेसी कार्यकर्ता रैली के रूप में सिटी पावर हाउस पहुंचे जहां उन्होंने पहले तो जमकर नारेबाजी की और बाद में विरोध जताते हुए रास्ता जाम कर दिया. प्रदर्शन कर रहे कांग्रेसियों और पुलिस के बीच टकराव की स्थिति भी पैदा हुई. लेकिन बाद में माहौल को शांत किया गया. प्रदर्शकारियों ने कहा कि जब से टाटा पावर ने शहर की बिजली व्यवस्था को संभाला है तब से लगातार बिजली के बिलों में बढ़ोतरी की जा रही है जिससे आम आदमी परेशान हो चुका है. (अजमेर से अभिजीत दवे की रिपोर्ट) रामगढ़ भारी बारिश से कर्नाटक के कोडगू में हो रहे भूस्खलन, बाढ़ जैसे... सस्ती बिजली देनेवाली कंपनी को ही तरजीह देगी बिहार सरकार नेविगेशन की ओर Firkee September 14,2017 05:24:23 PM पृष्ठभूमि वृश्चिक देवगढ़ Tags:#Jharkhand#Ranchi#costlier domestic electricity up to 98%#applicable from May#unit#electricity   |  2018-03-27 00:00:00.0 1. आधार होगा और सुरक्षित, अब देनी होगी 'वर्चुअल आईडी' कुलदीप यादव को प्लेइंग इलेवन में शामिल करना गलती : रवि… चाइबासा राजौरी SUBSCRIBE NOW! Cookie Policy| पोर्टल के बारे में Latest Refrigerator Technologies in India – Review परंपरा एवं संस्कृति उत्तराखंड में बिजली। @AamAadmiParty ya 2 अगली कहानी Google News in Hindi सिद्धार्थनगर आदि प्रकार टॉवर परीक्षण स्टेशन (पी टी टी एस) आधार को लेकर UIDAI जल्‍द जारी करेगी क्‍या करें-क्‍या न करें की लिस्‍ट, ट्राई चीफ के चैलेंज के बाद उठाया कदम रांची। झारखण्ड में विद्युत नियामक आयोग द्वारा घोषित नई विद्युत टैरिफ पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुबोध कांत सहाय ने कहा कि रघुवर सरकार संवेदनहीन हो गई है। बिजली बिल में अप्रत्याशित वृद्धी का जनविरोधी निर्णय लेकर जनता पर अतिरिक्त बोझ डाल दिया गया है। बेगूसराय में हैवानियत, विक्षिप्त महिला से रेप कर फरार हुआ बदमाश आपका ज़िला डाक बम सेवा समिति, अध्यक्ष दूरभाष निदेशिका सामान्य अध्ययन प्रश्नपत्र III © Copyright 2017 NewsCode - All Rights Reserved. Astrology Predictions महानगर टाइम्स - August 18, 2018 जिला इस लिंक को कॉपी करें श्रीलंका ने दक्षिण अफ्रीका को 3 विकटों से हराया FOLLOW US उत्पाद का नाम: सिंगल चरण इलेक्ट्रिक प्रीपेड मीटर कार्टून Sitamau news @कहर बनकर गिरी आकाशीय बिजली से एक वृद्ध व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि दो महिलाओं सहित तीन घायल हो गए बसपा दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने केजरीवाल सरकार पर राजधानी में बिजली संकट उत्पन्न करने का आरोप लगाया है. साथ ही में एलजी से राजघाट पावर प्लांट को फिर से शुरू करवाने की अपील की है. तिवारी ने आरोप लगाया है कि बिजली की ज्यादा मांग के दौरान नेशनल ग्रिड से निजी बिजली कंपनियों द्वारा खरीदी गई बिजली दिल्ली के लिए अपर्याप्त होती है. इसकी कमी को लोकल थर्मल पावर स्टेशन से पूरा करना पड़ता है, लेकिन दिल्ली में थर्मल पावर प्रोडक्शन की लागत नेशनल ग्रिड या दूसरे राज्यों से खरीदी गई बिजली से बहुत ज्यादा होती है. इसलिए निजी बिजली कंपनियां थर्मल पावर प्रोडक्शन में रुचि नहीं लेती हैं. Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें और ट्विटर पर फॉलो करें नीतियाँ और कानून (लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) आयुष प्रदेश में बिजली उपभोक्ताओं की अनुदानित श्रेणी कृषि व घरेलू है और इनका हिस्सा क्रमश: 42 व 21 फीसदी है, वहीं देश में यह 23 व 24 फीसदी है जिसके चलते विद्युत लागत और राजस्व में अंतर ज्यादा रहा है। वहीं वर्ष 2005 में पड़ोसी राज्यों से? बिजली खरीद जहां 2.09 रुपए प्रति यूनिट रही, वहीं बिजली कंपनियों ने वर्ष 2008 में 8.83 रुपए प्रति यूनिट से बिजली खरीद कर कम दरों पर बिजली सप्लाई कर घाटे को बढ़ाया है।  परीक्षा विज्ञप्ति फ़ाइल अपलोड करें February 2018 एच ई आर सी प्रतीकात्मक फोटो. मुखिया चपुवाडीह पंचायत, बेंगाबाद AAP NRC पर मायावती ने किया कहा, तुरंत यह काम करें मोदी सरकार August 11, 2018 at 6:28 pm पैन कार्ड 392 Views Rate Card Intellect : महादेवी के ज्ञान में थी जबलपुर की खुशबू Partner sites : WELFARE मुखिया, निचितपुर 2 पंचायत जिंदगानी #KeralaFlood: बाढ़ से अब तक 324 की मौत लोहरदगा First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! बिजली June 1, 2018 विनोबा भावे विस्वविद्यालय छात्र अध्यक्ष बखरी / बेगूसराय : बखरी प्रखंड के बगरस में बूढ़ी गंडक नदी पर बने पुराने स्लूईस गेट में शुक्रवार की देर रात रिसाव शुरू हो गया. शनिवार की सुबह रिसाव का पानी बखरी की ओर […] सस्ता बिजली प्रदाता - मुफ्त बिजली सस्ता बिजली प्रदाता - बिजली की कीमत सस्ता बिजली प्रदाता - नवीकरणीय ऊर्जा
Legal | Sitemap