मदर उन्होंने बताया कि स्वैच्छिक भार वृद्धि घोषणा के तहत कृषि उपभोक्ता एक वर्ष से अधिक अवधि के कृषि कनेक्शनों कोे बिना पैनल्टी के मात्र 30 रुपए प्रति हार्स पावर धरोहर राशि (15 रुपए प्रति हार्स पावर प्रति माह की दर से दो माह के लिए) जमा करवा कर भार को नियमित करवा सकते है और जिन उपभोक्ताओं के कनेक्शन को एक वर्ष नहीं हुआ है उनको बढ़े हुए भार पर धरोहर राशि के अतिरिक्त कृषि नीति के अनुसार नियमितिकरण शुल्क भी जमा कराना होगा। उन्होंने बताया कि वीसीआर निस्तारण की विशेष योजना अब 31 दिसम्बर 2017 तक की लम्बित वीसीआर पर भी लागू होगी। पूर्व में यह योजना 30 जून 2016 तक लम्बित वीसीआर के निस्तारण के लिए ही लागू थी। इस सरल व विशेष योजना के तहत 50 हजार रुपए तक की वीसीआर राशि पर 50 प्रतिशत एवं वीसीआर की राशि 50 हजार रुपए से अधिक होने पर 50 हजार रुपए का 50 प्रतिशत व 50 हजार से अधिक राशि पर 10 प्रतिशत राशि जमा करवाकर वीसीआर का आगामी 30 जून तक अंतिम निस्तारण करवाया जा सकता है। electricity charges rajasthan electricity hike electricity rates in rajasthan Power tariff comparison of electricity rates in India बिजली कंपनियों को मिलेगा सस्ता कर्ज आयाम: 255x120x52mm वजन: 600 ग्राम धन्यधरा : गोठ एप में जानिए कोरिया जिले में राम वनगमन पथ के बारे में जानकारी प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना "सौभाग्य" 248 करोड़ बढ़ी सब्सिडी  साइट का नक्शा प्रोफाइल प्रिंट करें यह पेज प्रिंट करें बिजली बिल भरने पर ये कंपनी दे रही इनाम, 31 दिसंबर तक है समय Cricket News प्रकृति एवं प्रक्रिया 20 21 22 23 24 25 26 फिलहाल इस योजना के लिये 12 हजार 320 करोड़ रुपए का बजटीय आवंटन किया गया है। 0 घटा लाइन लॉस 31.75 से 26.64 फीसद। होम | दिल्ली-एनसीआर | Jarnail SinghVerified account  Loading ... शामली पुनर्नवीकरणीय ऊर्जा उत्पाद Jaipur,India Vastu Tips हिन्दीENGLISHবাংলাमराठीગુજરાતીاردوಕನ್ನಡ 2:28 त्वरितवार्ता (आई॰आर॰सी चैनल) Magyar May 20, 2018 28 C गैजेट गायों की सौंदर्य प्रतियोगिता वरिष्ठता सूची of India 02018-07-17T12:11:32 कुमार विजय www.jagran.com 08 सितम्बर 2016, 02:01 AM साझा करें: दाऊदी बोहरा समाज ने मनाई ईद, समाज के लोगों ने पढ़ी सामूहिक नमाज By Hussain Kanchwala on January 5, 2018 सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 2022 तक पांच करोड़ नए घर बनाने का लक्ष्य रखा है जिनमें से तीन करोड़ ग्रामीण और शहर के बाहरी इलाकों में बनाए जाएंगे. × जी ई आर सी टॉपर्स के निबंध उपयोग की शर्तें ENGvsIND: विराट कोहली बोले - जीत के अलावा हम कुछ और सोच ही नहीं सकते Solar Energy पोल करें इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा है कि अगर किसी बिजली कंपनी को विलफुल डिफॉल्टर घोषित नहीं किया गया है तो लोन नहीं चुकाने पर उसे दिवालिया अदालत में नहीं ले जाया जा सकता। पावर सेक्टर जिन मुश्किलों का सामना कर रहा है, उसे मानते हुए हाईकोर्ट ने यह फैसला सुनाया है। उसने वित्त सचिव को जून में बिजली कंपनियों से मिलकर उनकी वित्तीय मुश्किलों के बारे में बातचीत करने का भी निर्देश दिया है। जहां मन करता है उड़ जाता है ये जोड़ा नकली गद्दे बनाने वाली फैक्ट्री का पर्दाफाश, पुलिस... हरियाणा अणु विद्युत योजना के तहत होगा विकास: शरण A समस्‍तीपुर शासकीय योजनाएं शेयर बाज़ार HSSC QUESTION PAPER SMARTPHONE YOUTUBE बुजुर्ग की मदद को दौड़े कुत्ते, इंसान नहीं चिंतपूर्णी में दंडवत होकर पहुँच रहे श्रद्धालु अमेरिका: इंग्लिश टीचर ने 2500 महिला कैदियों को कविता लिखना सिखाया ताकि उनका आत्मविश्वास बढ़े 18 mins aajtak.in [Edited by: नंदलाल शर्मा] शिमला में बारिश का कहर: कहीं भूस्खलन, कहीं मलबे में दबी गाड़ियां... बीटीसीसीहिना, हूबी, ओकाइन् फेस एडमिनिस्टिक सज़ा ... diesel gang‏ @Arun_jsingh 18 Aug 2015 छ) 4x3 विन्यास के साथ कीपैड पानी के लोग पेयजल समर्थनकारी एवं संप्रेषण कार्यनीति सम्बन्धी रुपरेखा 2013-2022 Newer Post Older Post Home Jaipur,India up news in hindi uttar pradesh news electricity prices in uttar pradesh केन्द्रीय विद्युत अनुसंधान संस्थान चन्दन जयसवाल जागरण संवाददाता, मोहाली : चंडीगढ़ के बाद अब मोहाली में भी सस्ते बिजली उपकरण मिलेंगे। जिनमें बल्ब से लेकर ट्यूबलाइट और पंखे शामिल हैं। यह योजना एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड (ईईएसएल) और पंजाब स्टेट पावर सप्लाई लिमिटेड (पीएसपीसीएल) की ओर से आयोजित कार्यक्रम के तहत शुरू की गई है। अधिकारियों का कहना है कि ये सभी एलईडी उपकरण बहुत कम बिजली की खपत करते हैं। स्कीम को लांच करने का उद्देश्य पंजाब की बिजली की खपत कम करना है। जल्द ही शहर में जगह-जगह कैंप लगाकर उजाला स्कीम के तहत लोगों को किफायती कीमत पर ये एलईडी बिजली उपकरण मुहैया कराए जाएंगे। इससे न सिर्फ लोगों को सस्ते बिजली उपकरण मिलेंगे बल्कि बिजली की खपत कम होगी। बिजली विभाग के अधिकारियों का कहना है कि बिजली के यूनिट कम खर्च होने से विभाग को सरपल्स बिजली तो मिलेगी ही। इसके साथ-साथ लोगों के बिजली के बिल भी कम आएंगे। विभाग की ओर से लोगों को इनके इस्तेमाल के प्रति जागरूक करने के लिए अब जगह-जगह पर शिविर लगाए जाएंगे। उपभोक्ताओं को जो बल्ब और ट्यूबलाइट्स मुहैया करवाई जाएगी, उसकी तीन साल की वारंटी होगी। वहीं, साधारण बल्बों के मुकाबले एलईडी बल्ब 10 फीसद ज्यादा असरदार हैं। योजना के तहत दिए जाने वाले सीलिंग फैन पारंपरिक पंखों के मुकाबले ऊर्जा में 30 फीसद ज्यादा बेहतर होंते हैं। स्वीट हार्ट डील: काकरिया के मुताबिक डायल सहित कुछ एजेंसियों के साथ बिजली कंपनियों की स्वीट हार्ट डील है। इन्हें पब्लिक यूटिलिटी के नाम पर सस्ते में बिजली दी जाती है जबकि वहां शोरूम, पब, रेस्टोरेंट चल रहे हैं जो जरूरत से ज्यादा बिजली यूज करते हैं। इनका बोझ भी आम कंज्यूमर की जेब पर पड़ता है। इसलिए स्वीट हार्ट डील खत्म होनी चाहिए। होम अतिरिक्‍त परीक्षण सुविधा 한국어 व्यावसायिक (ग्रामीण) (0-100 यूनिट)  2.20  5.25 पर्दे के पीछे बाल अधिकार अजमेर05:59 PM IST Jul 03, 2018 डायबिटीज, ब्‍लड प्रेशर और कैंसर की दवाओं के तय होंगे दाम   /  रायपुर Joined August 2010 This site is best viewed with Internet Explorer 6.0 or higher Firefox 2.0 or higher at a minimum screen resolution of 1024x768 जानें, बढ़ती उम्र के बच्चों पर किन ग्रहों का होता है कैसा असर? मैगज़ीन निबंध टेस्ट कीर्ति आज़ाद के निलंबन के बाद बीजेपी नेताओं में मची… ************************************************************************************ डॉक्टर से पूछें Delhi News आंकड़े बताते हैं कि नेशनल स्किल डेवलपमेंट काउंसिल ने सितंबर 2017 तक सिर्फ छह लाख युवाओं को प्रशिक्षित किया है और सिर्फ 72,858 प्रशिक्षित युवाओं को 12 फीसदी की दर से काम दे सका है. प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (पहला चरण) के तहत रोजगार देने की दर सिर्फ 18 फीसदी रही है. July 21, 2018 घरों को बहुत अच्छे से इंसुलेट किया गया है, इसमें बड़े बड़े कांच लगाए गए हैं जिससे सूरज की रोशनी अंदर आए. इस्तेमाल की गई हवा ताजी हवा को गर्म करती है और छत पर पैनल बिजली बनाते हैं. साल 2000 में यह कॉलोनी बनाई गई थी. इमरान ने पाक के पीएम पद की ली शपथ, नवजोत सिंह सिद्धू भी रहे मौजूद Next Next post: पावर प्लांट लगाने के लिए सरकार निविदा निकालेगी. बताया जाता है कि तीन-चार कंपनियां ने इस सिलसिले में ऊर्जा विभाग और राज्य पावर जेनरेशन बिजली कंपनी से संपर्क भी किया है. कंपनी सूत्रों के अनुसार जो कंपनी राज्य को सस्ती बिजली देगी उसे सोलर पावर प्लांट लगाने में प्राथमिकता मिलेगी. पीरपैंती व कजरा में जमीन उपलब्ध है.  इलेक्ट्रिक कंपनी प्रदाता - सस्ता बिजली प्रदाता खोजें इलेक्ट्रिक कंपनी प्रदाता - मेरे पास ऊर्जा प्रदाता इलेक्ट्रिक कंपनी प्रदाता - इलेक्ट्रिक सेवा प्रदाता
Legal | Sitemap